Tag «desi sex story»

मोम के साथ जंगल मे रास्ता भटक गया-1

मेरा नाम राज है, मई गोआ का रहने वाला हूँ. मेरे परिवार मे मों, दाद और मई हूँ. हम एक मिड्ल क्लास फॅमिली से है. दाद प्राइवेट कंपनी मे काम करता है और मों हाउस वाइफ है. ये स्टोरी मेरी और मम्मी के बीच हुवी एक घटना के आधार पर है. तो चलिए दोस्तो बिना …

मोविए थियेटर मे चुदाई

दोस्तो जिनको मेरे बारे मई नही पता उनको ज़रा मेरे इंट्रो देता हू तो मेरा नाम सचिन है, और मैं हयदेराबाद से हूँ. मैं एक कंपनी मई जॉब कर रहा हूँ, मेरी उमर 24 साल है और मेरे लंड का साइज़ 6.5 इंच लंबा और 2 इंच मोटा है. तो ये था मेरा इंट्रो अब …

बूढ़े पड़ोसी ने ली मेरी मम्मी की चूत

तो अपने पिछली स्टोरी (मम्मी की चुदाई बुड्ढे ने की-1) मे देखा किस तरह मेरी मम्मी अजनबी बुड्ढे से चूड़ी और चुदाई के मज़े लिए. लेकिन वो बुद्धा अब मम्मी को जब चाहे तब छोड़ सकता था. मम्मी ने लास्ट देखा की हमारे गंदे से देखने वाले पड़ोसी ने उनके चुदाई देख ली है. फिर …

गोकुलधाम सोसाइटी की चुदाई भारी दास्तान

हेलो मी नामे इस राजन आंड मैं तारक मेहता सीरियल के बहोट बड़ा फन हू आंड बहोट ही अछा लगता है मुझे यह शो… इसलिए मैं आपको इस शो की रेग्युलर अपडेट्स दिया करूँगा, अब कहानी पर आता हू.. गोकुलधाम सोसाइटी का तो आपको पता ही है पाउडर गली गोरेगाओं ईस्ट मुंबई मेी है. अब …

व्हातसपप से बेडरूम तक-1

ही फ्रेंड्स, इस स्टोरी में अकपको मैं वो कहानी बताने जेया रहा हू, जो मेरे साथ बीत चुकी है. इस स्टोरी का हीरो भी मैं ही हूँ और विलेन भी. पर इसकी हेरोइनस अलग अलग है जो आपको वक़्त आने पर पता चल जाएगा. सबसे पहले मैं अपने बारे मे बतौ तो, मेरा नाम रॉनी …

मम्मी के चुदाई बुड्ढे ने की-1

ये खानी है 1 साल फले के जब मई कॉलेज मे था. मेरी मम्मी एक हाउसवाइफ उनका नाम मधु है है. उनके बूब्स और गांद का शेप इतना आछा है के अगर वो एक बार बोल दे मुझे छोड़ दो तो वो 24 घंटे उसे छोड़ते रहेगा. अब चलो शीधा कहानी पे आता हू. एक …

एक माँ की चुदाई की दास्तान उसी की ज़ुबानी

फिर उन्होने खाना खाया, और फिर मैने पूछा- मैं: अंकल आप रात की ड्यूटी करके आए है. नहाए है या नही? वो बोले: नही. फिर मैने उनसे कहा: आप नहा लीजिए. और अंकल को बातरूम तक छोढ़ के आई और बोली- मैं: आप अभी होश में नही लग रहे अंकल. तब तक मैं आपके लिए …

बेटे ने सुनी माँ के सम्बन्धो की दास्तान

फिर थोड़ी देर तक हम दोनों नंगे लेते रहे. फिर माँ ब्लाउज पेटीकोट पहन के खाना बनाने चली गयी. क्युकी खाना खाने का टाइम होने वाला था और मोनू भी घर आने वाला था स्कूल से. मैं कमरे में लेते-लेते भो लगा के देख रहा था और अपने लुंड को फिर हिला रहा था. मुझे …


error: Content is protected !!