गढ़वालन की चुदाई

मुझ देख के मुस्कुराने लगी मुझे कुछ समझ नही आया मेने भी उसकी तरफ मुस्कुरा दिया मगर मे कुछ समझ नही पाया जब वो दूसरी बार मुस्कुराइ तो मेने उसे पूछ लिया कि आपको क्या मे जोकर दिख रहा हूँ जो

आप मुझे देख के मुस्कुरा रहे हो तो उसने कहा नही तो मेने पूछा कि फिर क्या बात हे तो वो बोली कि आपने मेरा बाथरूम गंदा किया इसी लिए मुस्कुरा रही हूँ ये सुन के मेरे होश उड़ गये ओर मुझे पसीने आने लग गये

मुझे लगा की आज तो मेरी गांद मर गयी ये अपने पेरेंट्स ये कहेगी ओर इसके पेरेंट्स भाई साब से ओर भाई साब ने मेरी फॅमिली को बता देना हे मे डर गया तो वो मुझे देख के बोली कि क्या हुआ तुम इतने सहमे सहमे से क्यू हो

तो मे कुछ नही बोला उसने फिर से पूछा कि बोलो ना क्या हुआ मेने कहा कि कुछ नही सॉरी वो कंट्रोल नही हुआ इसी लिए ऐसा किया तो उसने किया कोई बात नही नॅचुरल हे मगर ये तो बताओ कि तुमने ऐसा क्या देखा कि तुम कंट्रोल न

नही कर पाए पहले तो मे चुप रहा फिर उसने जब दुबारा पूछा तो मेने उसे सब सच बता दिया वो चुप चाप वहाँ से चली गयी ओर कुछ नही बोली . अगले 3 – 4 दिन वो मुझसे थोड़ी दूर दूर रही ओर मुझसे बात भी नही की ,

मुझे बहुत बुरा लगता था मेने भी उस क्वॉर्टर मे जाना छोड़ दिया था , मगर 4 -5 दिन बाद मुझे लेबर ने कहा कि आपको क्वॉर्टर की मेडम बुला रही हे , मे चला गया ओर वहाँ जाके मेने रीना से पूछा क्या हुआ तो

उसने मुझे कुछ एक्सट्रा काम करने को कहे जो मेरे लिए पासिबल नही थे लाइक किचेन सेल्फ़ ग्रनाइट मार्बल एट्सेटरा मेने उसे मना कर दिया ओर कहा कि ये काम नही हो सकते मेरे अग्रीमेंट मे नही हे तो उसने मुझसे बड़े

यह कहानी भी पड़े  सिस्टर की फ्रेंड को चोदा

प्यार से रिक्वेस्ट करी तो मुझसे मना नही किया गया तो मेने भाई साब से कहा किसी भी तरह उस लेडी का काम करवा दो वो बहुत शिकायत कर रही हे हमारे काम की तो उन्होने भी उसके लिए हां कर दी ओर मेने”यह कहानी आप हिंदी सेक्सी कहानियाँ पर पढ़ रहे हैं”

उसका काम करवा दिया लास्ट दिन जब उसका काम ख़तम हो रहा था तब में लेबर से कह रहा था कि अपना समान सारा निकालो ओर कुछ भी मत छोड़ना हमे आज के बाद इस क्वॉर्टर मे नही आना कहते हे ना दोस्तो कि

अगर तुम किसी भी लड़की को या औरत को बहुत भाव दो ओर उसके बाद उसे एक दम से इग्नोर कर दो तो वो ज़रूर फसेगि ओर मेरे साथ भी वही हुआ रीमा ने मुझसे कहा कि मुझे आपसे पर्सनल कुछ काम हे शाम के टाइम आएगा

मे ये सुन कर वहाँ से चुप चाप चला गया शाम को जब उसके घर पहुँचा तो उसने मुझे अंदर बुलाया ओर गेट बंद कर लिया मे उसे देख के बोलने लगा कि देखो रीमा जी आप मेरी कमज़ोरी का ग़लत फ़ायदा उठा रही हे मेने आपका पहला काम केसे केसे करवाया हे ये मे ही जानता हूँ ओर अब

आप दूसरा काम बता रही हे सॉरी रीमा जी मे नही करवा सकूँगा ओर मे जा रहा हूँ इतना बोल के मे खड़ा हो गया ओर जाने लगा उसने तुर्रंत मेरा हाथ पकड़ा ओर मुझे अपनी तरफ खेचा तो मे जाके उसके ऊपेर सोफे पे गिर

यह कहानी भी पड़े  नीलम रांड ने चुदवाई मेरी गांड

गया ओर उसकी चुचियाँ मेरे सीने मे गढ़ गयी मे थोड़ी देर उसके ऊपेर ही पड़ा रहा वो कुछ नही बोली बस हम दोनो की साँसे तेज चल रही थी मेने उसे किस किया तो उसने कुछ नही कहा तो बस दोस्तो फिर क्या था निकल पड़ी मेरी तो ओर में जानवरो की तरह उसपे टूट पड़ा ओर उसके ऊपेर मेने

किस्सस की बारिश कर दी ओर वो भी मेरा भरपूर साथ देने लगी ओर 15 मिनिट तक हम एक दूसरे को किस करते रहे कभी वो मेरे होंठ चुस्ती तो कभी मे उसके ओर मेने उसकी चुचियों और चूत सब को चॅटा तो वो बहुत गरम हो गयी . उसके बाद उसने मेरा अंडरवेर छोड़ के बाकी सारे कपड़े उतार दिए अब

मेरी बॉडी पे ज़्यादा बालों को देख के वो पागल हो गयी ओर कहने लगी कि मुझे खूब सारे बलों वाली मर्दो की बॉडी बहुत पसंद हे ओर वो मेरे चेस्ट पे ओर निपल पे किस्सस करने लगी , उसने मुझे पागल बना दिया था कहते हे दोस्तो कि अगर पहाड़ की लड़की पट जाए तो उससे अच्छे मज़े ओर कोई नही

दे सकती ओर वो हुआ भी मेने उसे दीवाल के सहारे खड़ा किया ओर ऊपर से उसकी गाउन के बटन तोड़ दिए ओर उसकी चुचियो को अपने मूह मे डाल लिए क्या पिंक निपल थे ओर खूब चूसने लगा ओर दूसरा निपल हाथ से छेड़ने लगा , वो बुरी तरह मचलने लगी ओर उसने अपनी दोनो टांगे मेरी कमर मे डाल

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!