बीवी की मदद से थ्रीसम सेक्स किया

मैं काम पर तो गया लेकिन सच कहूँ तो जरा भी मन नहीं लग रहा था काम के अन्दर. मैं बस घडी की सुई को इधर से उधर होते हुए देख रहा था. कब मुझे घर जा के मीना और रौशनी को साथ चोदने को मिले बस वही मन में चल रहा था. शाम के 5 बजे रौशनी का कॉल आया की तुम्हारी बर्थ डे गिफ्ट का प्रबंध करने निकली हूँ. मैं समझ गया की वो कार में मीना को पिक करने के लिए गई थी.

मैं जितना जल्दी हो सकता था उतना जल्दी घर पहुँच गया उस दिन ऑफिस से. मीना के सेंडल बहार पड़े हुए थे इसलिए मैं समझ गया की वो घर आ चुकी थी. घर में घुस के देखा तो रौशनी और मीना दोनों बैठ के टीवी देख रही थी. मैंने रौशनी को देखा तो उसने आँख मारी और मीना को आँखों से दिखाया. मीना को देखा तो उसने मुझे विश किया.

दोनों ने हाई स्कर्ट पहनी हुई थी और उनकी फिगर सेक्सी लग रही थी. मैं उन दोनों के बिच में बैठ गया औरथोड़ी देर के लिए हमने बातें की. रौशनी ने जो स्पेशल डिनर बनाया था वो हमने खा लिया और फिर हम एक इंग्लिश मूवी देखने के लिए बैठे. लेकिन मेरा ध्यान मूवी में जरा भी नहीं था. मैं तो मीना के सेक्सी बूब्स ही देख रहा था. और मेरी वाइफ ने ये देखा तो वो मुझे स्माइल देने लगी. मूवी ख़त्म होने पर हमारे प्लान के मुताबिक़ ही रौशनी मीना को अपने कमरे में सोने के लिए ले गई.

रात के करीब पौने 12 बजे थे और मैं बेताबी से रौशनी के मेसेज की वेट कर रहा था. कुछ देर में रौशनी का मेसेज आया की मीना सो चुकी हैं. और ये पढ़ के मेरा दिल जोर जोर से धडक रहा था.

यह कहानी भी पड़े  हरामी अंकल ने बहन की सिल कार में तोड़ी

मैं जब बेडरूम में घुसा तो मैंने अपनी दोनों सेक्स की गुडियाओं को बिस्तर में लेटे देखा. मेरी वाइफ रौशनी मेरे 7 इंच के लंड से चुदने को बेताब सी लग रही थी. मैं सीधे ही रौशनी के पास गया और उसे किस करने लगा. पागल के जैसे मैं उसके पुरे बदन के ऊपर किस दे रहा था. फिर मैंने रौशनी का टॉप उतार दिया और फिर ब्रा को भी. अब मैं उसके बूब्स को चूसने लगा. मैंने उसके स्कर्ट को ऊपर उठाया और उसकी पेंटी को निचे की तरफ खिंच ली.

अब हम दोनों एकदम होर्नी थे और उसने जल्दी से मेरे टी शर्ट और बॉक्सर को उतार फेंका. उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ के थोडा हिलाया और फिर मुहं में भर के चूसने लगी. और साथ में मैं उसके बूब्स को दबा रहा था. वो मोअन कर रही थी. फिर मैंने लंड मुहं से निकाला और रौशनी को ऊपर कर के उसके बूब्स को जोर जोर से सक करने लगा और गांड को पकड़ के दबा दिया. रौशनी जानबूझ के एकदम जोर जोर से मोअन कर रही थी, अह्ह्ह्ह आअह्ह्ह्ह डार्लिंग सक मी अह्ह्ह्ह कम ओन सक माय बुब्स! मेरे दुसरे निपल को भी मुहं में लो.

हम दोनों मीना के सामने नंगे पुंगे मस्ती में थे. और मीना के बूब्स मेरे सामने ही थे. उन्हें डेक के अब मेरे से रहा नहीं जा रहा था. मैंने बिना उसके रिएकशन की परवाह किये उसकी एक चूची को पकड़ लिया. वो हिली नहीं तो मैं उसके बूब्स को दबाने लगा. लेकिन फिर भी कोई रिस्पोंस नहीं था. मैंने रौशनी को देखा तो वो स्माइल कर रही थी. फिर उसने अपने माथे को हिला के मुझे आगे बढ़ने के लिए कहा. मैंने मीना के बूब्स को दबाये और रौशनी के बूब्स को चाटने और चूसने लगा.

यह कहानी भी पड़े  कॉलेज फ्रेंड से चुदाई की कहानी

अब रौशनी ने अपनी चूत को फैला दिया और मेरे लंड को अपनी गर्म छेद में ले लिया. मैं धीरे धीरे कर के लंड को रौशनी की चूत में घुसाने लगा. वो मोअन कर रही थी. मैं अपनी कजिन के सामने खुले में बीवी की चूत मार रहा था. मैंने मीना को देखा लेकिन वो अभी भी सोने की एक्टिंग कर रही थी. मैं जानता था की वो जाग रही हैं और मेरा और रौशनी का शो एन्जॉय कर रही हैं. मैंने अब धीरे से मीना का स्कर्ट उठाया और उसकी पेंटी एकदम गीली हो चुकी थी.

रौशनी को चोदते हुए मैं मीना की चूत के ऊपर हलके से हाथ फेरने लगा. तभी रौशनी का चरम बिंदु आ चूका था. वो मेरे से लिपट के बोली, अह्ह्ह्ह फक मी हार्ड अह्ह्ह अह्ह्ह्हह. मैंने मीना को छोड़ा और रौशनी को बाहों में जकड़ के उसकी खूब धुनाई की अपने लंड से. वो पागलों की तरह मुझे किस करते हुए मेरे लंड को ले रही थी. हम दोनों एक साथ झड़ गए और वो मेरे ऊपर ही गिर पड़ी.

कुछ देर के बाद हम होश में आये. रौशनी ने मीना को कहा, कम ओं मीना हमें पता हैं की तुम जाग रही हो और तुमने सब कुछ देखा हैं. मीना ने अपनी आँखे खोली लेकिन वो शरमा रही थी. और रौशनी ने उसे पूछा, तुम हमारे साथ मजे करना चाहती हो? मीना ने शर्म के साथ ही हां में सर हिलाया.

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!