Tag «chudai ki kahani»

बाय्फ्रेंड के साथ होटेल मे चुदाई की

हेल्लो फ्रेंड्स, मेरा नाम स्वाती है. मैं अपनी एक कहानी लेकर आई हू और मुझे उमीद है की आपको मेरी कहानी बहुत पसंद आएगी. मैं ज़यादा देर ना करते हुए आपको अपनी कहानी बताती हू. ये बात कुछ दिन पहले की है. मैं एक अच्छी सी कंपनी मे जॉब करती हू और मैं कभी कभी …

ऑफीस वाली मस्त रीना

मैं सलमान देल्ही से आज एक बहुत मस्त कहानी आपके लिए ले कर आया हूँ. ये कहानी मेरे और मेरे साथ ऑफीस मे काम करने वाली रीना के बीच उसके साथ मेरे पहले सेक्स की है. ये कहानी एक दम सच्ची है, तो अब अपना लंड हाथ मे ले कर मज़ा लीजिए. मेरी उम्र 21 …

मेरी बीवी और सलहज

मैं अपने बीवी से सन्तुष्ट हूँ और वह मुझसे सन्तुष्ट है, हम लोगों का यौन जीवन पूर्ण रूप से सफल है, अर्थात मेरा लन्ड लगभग आठ इन्च का है और जब मैं अपनी बीवी की चुदाई करता हूँ तो जब तक वह न झड़े मेरा लन्ड अपना पानी नहीं छोड़ता है, इस वजह से वह …

एक अनोखा संयोग

मैं एक बार एक गोरखपुर से दिल्ली ट्रेन का रिजेरवेशन न मिलने के कारण स्लीपर बस से यात्रा कर रहा था। मुझे सीट भी आखिरी, अपर स्लीपर, मिली जो दो लोगों के सोने की थी लेकिन शायद कोई सवारी न होने के कारण ही देर होने के बाद भी रुकी हुई थी। मेरे बैठने के …

मस्त राम सेक्स कहानी – वफ़ा या हवस

इस कहानी के माध्यम से आप लोगों को जरूर कुछ न कुछ एहसास होगा कि इस दुनिया में औरतें कैसी कैसी होती हैं ! खैर पहले मैं आपको अपने बारे में बताता हूँ ! मेरा नाम नब्बू है, उम्र 28 साल है और मैं आजाद जिन्दगी जीने वाला हूँ, नागपुर में रहता हूँ, मैं एक …

रानी मेरे दोस्त की सेक्सी वाइफ – 1

जब काम पूरा हो गया तो मैं अब रानी के साथ मस्ती के मूड में था पर कोई सिग्नल रानी ने नहीं दिया तो मैं उसे एम्ब्रस नहीं करना चाहता था। रानी से मैने पूछा आज जब अनिल तुमको छोड़ कर गये तो उसने ये क्यों बोला की राजु शरीफ़ आदमी है। तब रानी बोली …

सौतेले बाप के संग बिस्तर पर

मेरा नाम डौली है, मैं मुंबई की एक बेहद कमसिन हसीना हूँ, मैं भरे हुए यौवन की पिटारी हूँ जिसको हर मर्द अपने नीचे लिटाना चाहता है, पांच फ़ुट पांच इंच लंबी, जलेबी जैसा बदन, किसी को भी अपनी ओर खींचने वाला वक्ष, पतली सी कमर, मस्त गद्देदार गांड, गुलाबी होंठ, गोरा रंग ! अपने …

नंगा देखा किसी और को चोदा किसी और को !

मेरा नाम अनुज/गीतू है ! मैं 23 वर्ष का युवक हूँ। मैं बचपन से ही बहुत शर्मीला हूँ। मेरे मन में लड़कियों के लिए बहुत इज्ज़त है। मैंने 12 के बाद से मुठ मारना सीखा है और अभी भी कोशिश करता हूँ कि किसी लड़की को सोच कर ना मारूँ ! पता नहीं मेरा मन …

error: Content is protected !!