मा को नया लॅंड मिला

हेलो दोस्तो, मेरा नाम प्रीतम चव्हान है और ये स्टोरी मे मेरी मा की है जो एक दम सीधी-साधी थी पर आप सब को पता है जब किसी औरत को नये लॅंड का पानी लगता है तो वो रंडी बन जाती है और कुछ ऐसा ही मेरी मा के साथ हुआ, मेरी मा देखने मे ज़्यादा खूबसूरत तो नही पर देखने मे ठीक कोई उसको मज़े से चोद सके इतनी अछी है और फिगर 36,30,44 का है, ये मैने मेझर तो नही किया पर आइडिया ज़रूर लगा सकता हूँ की इतना फिगर होगा, तो मैं स्टोरी पे आता हूँ हमारे कॉंप्लेक्स का प्रोफेसर मेरी मा पे बहुत गंदी नज़र रखता था और मेरी मा को अकेले मे बुलाता था, ये मुझे तब पता चला जब मेरी मा अपनी सहेली को बता रही की प्रोफेसर अकेले मे मिलने को बुलाता है और मा ने मेरे पापा से भी कहा पर पापा ने ज़्यादा ध्यान नही दिया, मुझे भी लगता था की प्रोफेसर कभी मेरी मा को चोद नही पाएगा और हमारे 2 घर है एक बार कुछ रेंट वालो ने लफडा कर दिया तो मा पोलीस स्टेशन गयी.

वैसे 5-6 दिन लगातार पोलीस स्टेशन जाती और 3 मिनट मे घर आ जाती और एक दिन मा ने मुझे पेपर देने पोलीस स्टेशन भेजा तो मैने मना कर दिया और वही ग़लती कर दी, उस दिन मा खुद पेपर लेके स्टेशन गयी पर 3 घंटे हो गये पर मा आई नही और जब मा आई तो थकि हुई लग रही थी मुझे शक हुआ लेकिन मुझे मेरी मा पे पूरा भरोसा था, फिर कुछ दिन बाद मा का नेचर कुछ बदल गया और मा मुझे घर से जाने को बोलती जा ज़रा घूम फिर के आ और मैं बाहर जाता और तब पोलीस वाले के साथ फोन सेक्स करती थी, मैं जब घर आता तो चुपके से मॉम का फोन चेक करता था और मा पोलीस वाले को मिस्ड कॉल करती थी और वाहा से फोन आता था, हान और इम्पोर्टेंट बात मेरी मा लेज़्बीयन है और मेरी चाची के साथ लेज़्बीयन करती थी तो मा ने चाची को पोलीस वाले के बारे मे बता दिया और जब चाची हमारे घर आई गाओं से तो उस दिन पोलीस वाला भी आया और बेडरूम मे था.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोसन भाभी की चुदाई

तो मॉम ने मुझे डाइरेक्ट बोला तू बाहर जा मुझे काम है और उस पोलीस वाले को बेडरूम मे ले जा रही थी तो मैने मना कर दिया और फिर वो लोग हॉल मे बैठे रहे, मॉम और पोलीस एक साइड बैठे थे और चाची सीधी सामने बैठी और जब भी मैं बेडरूम से बाहर आता चाची मा को इशारा कर देती तो मुझे लगा शायद वो मॉम को किस कर रहा होगा और बूब्स दबा रहा होगा, जब मा वॉश बेसिन मे मूह सॉफ कर रही थी तो पता चला की मा उसका लॅंड चूस रही थी और फिर एक वीक बाद पोलीस वाले ने चाची और मेरी मा को एक साथ चोदा और पोलीस वाले ने कैसे-कैसे मेरी मा और चाची की चुदाई की ये सब मुझे चाची ने बताया और मेरी मा खुद प्रोफेसर से चुदवाने कैसे चली गयी ये भी चाची ने बताई और अब चाची की ज़ुबानी चाची – बेटा तेरी मा बहुत सीधी साधी औरत थी पर तेरे बाप का लॅंड भी ठीक था ज़्यादा बड़ा नही ज़्यादा छोटा नही, इस लिए तेरी मा तेरे पापा के साथ खुश थी.

पर तेरी मा ने कभी नये लंडो का स्वाद चका नही था क्योकि जब पहली बार उसकी चुदाई पोलीस स्टेशन मे हुई तो उसे भी बहुत ज़्यादा मज़ा आया, फिर चुदने के बाद वो रोने लगी की उसे बहुत गंदा लगने लगा की किसी और मर्द से कैसे चुदने को तैयार हो गयी और पूरा दिन वो सदमे मे थी की ऐसी ग़लती दुबारा नही करेगी, पर जब रात हुई तेरे पापा तेरी मा को चोद रहे थे और तब उसे बार-बार पोलीस वाले का लॅंड याद आ रहा था और तेरी मा से रहा नही जा रहा था और पूरी रात वो नये लॅंड के लिए तड़पति रही उससे बर्दाश्त नही हो पा रहा था, उसे पोलीस वाले का लॅंड किसी भी हालत मे चाहिए था तो तेरी मा खुद दूसरे दिन पोलीस स्टेशन गयी और जब पोलीस ने रूम मे जाने बोला तो तेरी मा खुद चली गयी, फिर तेरी मा के कपड़े उतारने को बोला तो तेरी मा ने उतार दिए और मा को लॅंड चूसने को बोला तो उसने चूसा और पूरी ज़िंदगी मे तेरी मा ने तेरे बाप का लॅंड चूसा नही होगा पर उसका चूस रही थी और पहली बार जब तेरी मा को चोदा तो थोड़ी ज़बरदस्ती की थी.

यह कहानी भी पड़े  बॉस ने माँ को खड़ा किया और जमकर चुदाई की

वो बोला अगर तू चुदने को तैयार नही हुई तो तेरे पति और बेटे को अंदर कर दूँगा और सबसे अंदर वाली जैल मे मॉम को ले जाके चोदा, उसकी सामने वाले जैल मे ही 3 बड़े क्रिमिनल थे और मा को वाहा ज़बरदस्ती चोदा था और जब दूसरे दिन तेरी मा खुद गयी तब भी वो क्रिमिनल वाहा थे और बोल रहे थे पोलीस वाले का लॅंड इतना पसंद आया है हमारा भी लॅंड ले एक बार, तो पोलीस वाले ने उन सबको बहुत मारा और बोला ये मेरी रंडी है और उनके सामने ही मॉम को बहुत चोदा और उसने मा के मूह मे लॅंड देके मूह मे चोदने लगा और गॅंड तो बहुत बुरी तरह से मारी थी, फिर जब हम लॉड्ज मे एक साथ गये तो उसने मुझे भी बहुत चोदा और जब मुझे चोदा तो तेरी मा के बूब्स चूस्ता या चुत और जब तेरी मा को चोदा तो मेरी चुत चूस्ता और बूब्स बहुत मज़ा दिया उसने, उसका लॅंड 9” का था और मोटा ऐसा था की बस पूरी प्यास भुज जाती है और तेरी मा ने सोचा जब रंडियो की तरह चुदवा ही रहे है तो प्रोफेसर को क्यो तड़पाए.

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

error: Content is protected !!