टुटीओन की लड़की को सिड्यूस करने की सेक्सी स्टोरी

ही फ्रेंड्स, मेरा नाम सम है, और प्यार से लोग मुझे किंग बुलाते है. मेरी आगे 25 यियर्ज़ है. ये स्टोरी मेरी और मेरे एक किरायेदार की बेटी के बीच हुई चुदाई की कहानी है. ई होप आपको पसंद आएँगी. ज़्यादा वक़्त खराब ना करते हुए सीधा स्टोरी पर आता हू.

बात आज से कुछ 2 साल पहले की है. लॉक्कडोवन् का वक़्त था. सब अपने अपने घर पर ही थे. कोई बाहर नही जेया सकता था. हमारे घर में किरायेदार रहते थे, पति-पत्नी और उनके 2 बच्चे. एक बेटी जिसका नाम अनु था, और एक बेटा था.

अनु लगभग 19 साल की हो गयी थी, और ब्बा कर रही थी. पर लॉक्कडोवन् के कारण उसका कॉलेज भी बंद था, और टुटीओन भी. ऑनलाइन क्लासस चालू हो गयी थी, पर उसे समझ नही आता था कुछ. तो उसके पापा ने मुझसे रिक्वेस्ट की के मैं अनु की हेल्प करू. मेरा म्बा हो गया था, तो मैं भी रेडी हो गया.

मेरा रूम उपर अलग था, तो अनु दोपहर के वक़्त मुझसे पढ़ने आने लगी. कुछ दिन तो सब कुछ ठीक था, पर एक दिन की बात है. अनु जब पढ़ने आई, तो उसने एक टाइट सी कुरती और नीचे लेगैंग्स पहनी हुई थी, और दुपट्टा भी नही लिया था.

तब मेरी नज़र उसके बूब्स और गांद पर पड़ी (अनु के बारे में बता डू. वो 19 यियर्ज़ की है, पर उसका फिगर बिल्कुल पर्फेक्ट और सेक्सी है). उसके बूब्स कुरती में से मानो बाहर आने को तड़प रहे हो, और गांद तो पूरी शेप में. माल लग रही थी वो पूरी. मैं तो देखता ही रह गया उसको.

तब उसने मुझे आवाज़ दी: सम भैया, क्या हुआ?

तब मुझे होश आया और मैं उसे पढ़ने लगा. पर उस दिन से मेरा ध्यान बार-बार उसके बूब्स पर ही जेया रहा था.

अब मेरी नीयत उसको लेकर खराब होने लगी. मैं अब हर दिन उसके बूब्स और गांद को देखता रहता, और उसे कुछ ना कुछ बहाने से टच करता रहता. ये बात वो भी नोटीस करती थी. बुत कुछ बोल नही पाती थी.

एक दिन की बात है, दोपहर में जब वो आई तो घर में सब आराम कर रहे थे. उस दिन उसने लूस वाली त-शर्ट पहनी थी. मैं बेड पर लेता था, और पॉर्न वीडियो देख रहा था. अचानक वो रूम में आ गयी. मैं एक-दूं से खड़ा हो गया.

मैने उस वक़्त ढीला पाजामा पहना हुआ था. उसमे से मेरा खड़ा लंड जो की 7 इंच लंबा है, वो सॉफ-सॉफ दिख रहा था. उसकी नज़र मेरे लंड पर ही थी. जैसे उसने मुझे देखा तो उसने अपनी नज़र साइड में कर दी, और बैठ गयी बेड पर..

फिर बुक ओपन करके बुक में देखने लग गयी. मैं भी बाजू में बैठ गया. वो नज़र नही मिला रही थी, और मैं उसके बूब्स को देख रहा था. आज उसकी क्लीवेज सॉफ दिख रही थी, क्यूंकी त-शर्ट बड़ी होने के कारण गला भी बड़ा था.

मेरा लंड और तंन गया. वो चुपके-चुपके मेरे लंड को देख रही थी. मुझसे रहा नही गया. दिल तो कर रहा था की अभी छोड़ डू उसको, पर वो शोर मचा देती तो घर वाले सब जाग जाते. इसलिए मैने कंट्रोल किया, और पढ़ने लगा.

पर आज उसका भी मॅन नही था शायद. उसके ख़याल में मेरा लंड चल रहा था. फिर मैने हिम्मत करके उससे पूछा-

मैं: अनु बुरा ना मानो तो एक बात पूचु?

अनु: हा पूछो.

मैं: तुमने कभी ब्फ देखी है?

अनु: क्या?

मैं: मेरा मतलब है कभी सेक्सी वीडियोस देखी है?

अनु: नही कभी नही.

मैं: देखनी है.

अनु: क्या रहता है उसमे?

मैं: तुम चाहो तो मैं दिखा सकता हू.

अनु: ठीक है, पर मुझे अछा नही लगा तो मैं बंद कर दूँगी.

मौका अछा था. मैं उसके पास गया, और अपने मोबाइल में एक रोमॅंटिक सीन चालू कर दिया. वो देखने लगी और मैं धीरे-धीरे उसको टच करने लगा. उसका ध्यान पूरा वीडियो में था. मैने उसका फ़ायदा उठाया, और उसके कंधे पर हाथ रख कर उसे करीब ले आया.

तब अचानक उसमे सेक्स सीन शुरू हो गया, और वो मोबाइल बंद करके मुझसे डोर हो गयी.

मैने पूछा: क्या हुआ अनु?

अनु: मुझे नही देखना ये सब.

मैं: क्या हुआ, बताओ ना?

अनु: कितना गंदा है सब, मुझे नही देखना.

मैं: एक बार देखो तो. अभी इतना शर्मा रही हो तो शादी के बाद कैसे करोगी?

अनु: शादी के बाद ये सब करना पड़ता है क्या?

मैं: हा, और भी बहुत कुछ करना पढ़ता है.

अनु: क्या करना पड़ता है?

मैं: इधर आओ मैं दिखता हू. पर प्रॉमिस करो इस बार बंद नही करोगी मोबाइल.

अनु: नही सम भैया, मुझे शरम आती है.

मैं: देखो कोई नही देखेगा. तुम और मैं ही है यहा. शरमाओ मत, आओ इधर.

अनु: ओक, बुत किसी को बताना मत प्लीज़, की मैने ये सब देखा.

मैं: ओक.

फिर मैने उसे अपने पास बुलाया, और उससे चिपक गया, और उसे पूरा वीडियो दिखाने लगा. वो एक तक देख रही थी. वीडियो में एक किस्सिंग सीन आया. मैने अपना हाथ उसके कंधे पर रखा, और उसके बालों में फिरने लगा.

उसको भी कुछ फील हो रहा था. फिर मैने धीरे से उसके फेस को अपनी और किया. उसने आँखें बंद कर दी. मैने उसके होंठो पर अपने होंठ रख दिए, और उसे किस करने लगा. वो तोड़ा डोर होने लगी, पर मैं रुका नही.

थोड़ी देर बाद वो भी साथ देने लगी. फिर मैने उसके बूब्स को हाथ में लिया, तो उसने मेरा हाथ पकड़ लिया, और माना करने लगी. तब मैने उसे किस करते हुए अपने बेड पर लिटा दिया, और किस करता रहा. जब वो थोड़ी देर बाद शांत हुई, तो मैने फिर उसके बूब्स को दबाना स्टार्ट किया.

पर अब वो पूरी गरम हो गयी थी. उसने माना नही किया. मैने उसकी त-शर्ट को उपर किया, और ब्रा के उपर से उसके बूब्स दबाने लगा. अब उसे भी मज़ा आने लगा, और वो आँखें बंद करके आहें भरने लगी. मैं और गरम हो गया और मैने उसकी ब्रा को तोड़ा नीचे किया, और उसके निपल को मूह में भर लिया.

वो झटपटाने लगी, और आह उहह आह करने लगी. उतने में नीचे से उसकी मम्मी की आवाज़ आई, और उसने मुझसे अलग होके कपड़े ठीक किए, और नीचे भाग गयी.

इसके आयेज क्या हुआ? कैसे मैने उसकी छूट की सील तोड़ी? अगले भाग में बतौँगा.

आपको स्टोरी पसंद आए तो मुझे एमाइल करे किंग्सक01019@गमाल.कॉम

पे.

आपकी फीडबॅक का इंतेज़ार रहेगा.

यह कहानी भी पड़े  माँ का गरम दूध और नंगी चूत


error: Content is protected !!