Tag «padosan»

सेठी साब की दमदार चुदाई

मैंने फ़ौरन भाभी का सर अपनी छाती पर लगा कर मेरा एक स्तन भाभी के मुंह में दिया और बोली, “भाभी सा, यह सच है की मैं सेठी साहब के वीर्य से माँ बनना चाहती हूँ। सेठी साहब की पत्नी सुषमाजी को सेठी साहब के वीर्य से बच्चा नहीं हो रहा। सुषमा जी को कैसे …

भाभी के संग चूसा सेठी साब का लंड

मैं तो पहले से ही जानती थी की सेठी साहब मुझे कपडे पहनने नहीं देंगे। इस लिए मैं वैसी ही नंगी बिस्तरे पर बैठी थी। भाभी ने मजबूरी में कुछ शर्माते हुए सबसे नजरें चुराते हुए चाय बनायी और हमें दी। मुझे यह मानना पड़ेगा की भाभी नंगी चलती हुई इतनी खूबसूरत लग रही थी …

गैर मर्द के साथ सारी रात

आगे की कहानी टीना की जुबानी रात की चाय पिने के बाद सेठी साहब ने मुझे फिर अपनी बाँहों में उठा कर पलंग पर लिटाया और खुद मेरी टांगें अपने कंधे पर रख कर फिर उसके बाद उस रात उन्होंने मुझे ऐसे चोदा ऐसे चोदा की बिना रुके और बिना रेस्ट किये रेलवे के स्टीम …

टीना की भाभी और सेठी साब

अंजू ने फ़ोन उठाते ही हँसी मजाक के लहजे में पूछा, “जीजू सा, प्रणाम! ननद सा से बात किये बगैर चैन नहीं पड़ता क्या आपको? ननदसा अभी बाथरूम में है। जीजू, एक बात तो माननी पड़ेगी। आपके और दीदी के बिच में जो अंडरस्टैंडिंग है उसका जवाब नहीं। आप यहां की बिलकुल फ़िक्र मत करना। …

सुषमा की जोरदार ठुकाई पड़ोसी से

मैंने सुषमा की गाँड़ पर अपनी हथेली फिराते हुए उसकी गाँड़ के गालों को दबाकर उनसे खेलते हुए उसकी गांड के बिच की दरार में उंगली डाली। सुषमा की गाँड़ सेठी साहब कई बार मार चुके होंगे। इसके कारण वह उतनी टाइट नहीं थी जितनी की टीना की थी। सुषमा ने पीछे मुड़कर देखा और …

चाची की चूत मे मेरा लंड

नमस्कार दोस्तो मई कोकीन आपके लिए नेक्स्ट पार्ट लेकर आया हू. जिन दोस्तो ने पिछली स्टोरी नही पढ़ी है वो ज़रूर पढ़ ले. ये मेरी चाची के साथ सेक्स की कहानी है. स्टोरी पर आने से पहले बता देता हू की मेरी चाची एक बहुत ही गजब का माल है. अब स्टोरी पर आते है, …

राज और शूस्मा की दूरिया हुई ख़तम

मैंने झुक कर सुषमा की चूत को चूमते हुए कहा, “सुषमा तुम्हारी बात बिलकुल सही है। प्यार में सम्मान अन्तर्निहित होता है। सम्मान ख़ास रूप से देने की जरुरत नहीं होती। मुझे तुम्हारी चूत और तुम्हारे स्तन मंडल को खूब चूमना है और प्यार जताना है।” अनायास ही सुषमा का हाथ मेरे पाजामे के नाड़े …

सुषमा और राज की बढ़ती नज़दीकिया

इधर सुषमाजी और राज की कहानी को भी पनपना ही था। चलिए सुनते हैं क्या हुआ सुषमाजी और मेरे पति के बिच। सुषमा और राज की कहानी राज की जुबानी जब सेठी साहब टीना को लेकर कार में निकले थे उस समय मैं ऑफिस में था। शाम को घर लौटते समय कुछ सब्जी फल इत्यादि …


error: Content is protected !!