सगी सास को चोदकर गर्भवती किया

free xxx kahaniya दोस्तों मैं मनोज 21 साल का एक बहुत ही आर्कषक लड़का हूँ। मेरा कद 5′ 6″ है। मेरा बदन बहुत ही कसरती है। मैं देखने में बहुत हैडसम और जवां मर्द लगता हूँ। मुझ पर कई लड़कियाँ मरती है और मुझसे चुदाना चाहती थी। मेरा रंग गोरा है और मैं दिखने में ऋतिक जैसा लगता हूँ। मुझे जवान खूबसूरत लड़कियों की चूची और चूत पीना बहुत पसंद है। मुझे सेक्स करना बहुत अच्छा लगता है। रोज ही मैं किसी ना किसी लड़की के साथ चुदाई कर लेता हूँ। मेरा लंड 7″ का है और 2″ मोटा है। मैंने इस मोटे लंड से कई जवान लड़कियों की चूत की सील तोड़ी है और उसकी रसीली चूत को चोदा है। मेरा सेक्स करने का स्टैमिना बहुत जादा है। मैं एक साथ 3 -3 लड़कियों की चूत मार सकता हूँ। मेरे बदन में काफी ताकत है।

मैं रोज जिम जाता हूँ और मुझे अपनी बॉडी बनाना बहुत पसंद है। मुझे फिट और चुस्त दुरुस्त रहना बहुत पसंद है। मैं नियमित व्यायाम भी करता हूँ। मुझे नई नई सेक्स स्टोरी पढने की लत है। कई बार मैं अपनी गर्लफ्रेंड को सेक्स स्टोरी पढ़ाकर गर्म कर देता हूँ। उसके बाद उनको नंगा करके कुतिया बनाकर चोदता हूँ। मुझे चुदाई फिल्मे देखना भी अच्छा लगता है। मेरी वाइफ को अपनी माँ की बहुत याद आ रही थी। इसलिए मैं ससुराल चला गया था। मेरी शादी को अभी 1 साल ही हुआ था। मेरी ससुराल में मेरी 2 जवान सालियाँ -अम्बिका और वर्षा थी। उनकी चूत मैं चोद चुका था पर अब मेरी नजर धीरे धीरे अपनी सास पर आ गयी थी। जैसे ही मैं अपनी वाईफ को लेकर ससुराल पंहुचा मेरी सास निकल आई और मुझसे नमस्ते करने लगी। वो बहुत खुश लग रही थी।
“आओ आओं दमाद जी!! आज पुरे 1 साल के बाद तुम घर आये हो” मेरी सास बोली।
वो बहुत खुश लग रही थी। फिर हम अंदर चले गये। मेरी सालियाँ. अम्बिका और वर्षा मेरी बीबी को अपने साथ दूसरे कमरे में ले गयी। मैं अपने कमरे में चला गया। मैं काफी थक गया था क्यूंकि मैं और पत्नी बस से 8 घंटे की यात्रा के बाद ससुराल पहुचे थे। मैं अपने कपड़े निकाल कर पलंग पर लेट गया था। मैंने एक नींद भी ले ली। कुछ देर में मेरी सास मेरे कमरे में चली आई और मुझसे बिलकुल चिपक कर पलंग पर बैठ गयी। मैं सो रहा था। सास मुझे घूर घूर के देख रही थी। शायद वो मुझसे प्यार करने लगी थी। मैं फर्स्ट फ्लोर वाले कमरे में था। सास ने दरवाजे की कुण्डी अंदर से लगा ली और मेरे बगल लेट गयी। धीरे धीरे वो मेरे लंड को छूने लगी। पर मुझे इसके बारे में कुछ नही मालूम हुआ। क्यूंकि मैं गहरी नींद में सो रहा था

यह कहानी भी पड़े  सहेली और मुझे उसके भाई ने चोदा

सास ने मेरे अंडरवियर में हाथ डाल दिया था और जल्दी जल्दी मेरे 7″ लम्बे लौड़े को फेटने लगी। दोस्तों मेरी सास बहुत खूबसूरत और जवान माल थी। वो अब 45 साल की हो गयी थी। 3 -3 लडकियाँ ससुर जी से चुदवाकर पैदा कर चुकी थी पर अब भी जवान थी। उनका जिस्म गोरा था और काफी कसा था। उनका फिगर 40 32 34 का था। उनके मम्मे बहुत खूबसूरत थे। सास कई दिनों से मुझे लाइन दे रही थी पर मैं उनको कोई भाव नही दे रहा था। पर आज उनको अच्छा मौका मिल गया था। कुछ देर बाद मेरी नींद टूट गयी। मैंने देखा की मेरी चुदासी साँस मेरे बगल की पलंग पर लेती है।
“मम्मी जी..ये ये सब क्या है???” मैंने हैरान होकर पूछा
“श श श श.. दमाद जी मुझे एक बच्चा और पैदा करना है पर तुम्हारे ससुर जी अब मुझे चोद ही नही पाते है। उनकी उम्र 55 साल की हो गयी है। उनका लौड़ा अब खड़ा नही होता है। इसलिए प्लीस! आज तुम मुझे चोदकर एक लड़का दे दो” सासु माँ बोली
उनकी बात सुनकर मैं हैरान रह गया था। पर मेरा भी उनको भोगने का मन था इसलिए मैं मान गया।
“बोलो दमाद जी मुझे चोदकर एक सुंदर सा लड़का दोगे???” सासु माँ पूछने लगी
“ठीक है” मैंने कहा
उसके बाद सासू माँ जल्दी जल्दी मेरा लंड फेटने लगी। कुछ देर बाद मैंने उनको पकड़ लिया और उनके उपर आ गया। हम दोनों किस करने लगे। दोस्तों मेरी सास आज भी काफी हॉट और सेक्सी माल थी। मैं तो उनके गुलाबी होठ चूस रहा था। वो भी मुंह चलाकर मेरे होठ पी रही थी। धीरे धीरे मेरे हाथ उनके बूब्स पर आ गये। मैंने उनके रसीले बूब्स दबाने लगा। सासू माँ ने साड़ी पहन रखी थी। मैं उनके ब्लाउस के उपर से उनकी बड़ी बड़ी चूचियों को सहलाने लगा। कुछ ही देर में सासू माँ गर्म हो गयी। फिर उन्होंने अपने ब्लाउस की बटन खोल दी और ब्लाउस निकाल दिया। फिर अपनी ब्रा खोल दी और निकाल दी। अब वो मेरे सामने नंगी थी और बहुत हॉट माल लग रही थी।
मैंने उनकी चूची को पकड़ लिया और सहलाने लगा। सासू माँ “अई…अई..अई. अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा.” बोलने लगी। उफफ्फ्फ्फ़ उनकी चूचियां तो इतनी कसी थी की किसी जवान लड़की की चूची की तरह दिख रही थी। मेरे हाथ उनकी दोनों चूची पर नाचने लगे। कितनी बड़ी बड़ी खूबसूरत चूची थी उनकी। मेरा लंड एक सेकंड में खड़ा हो गया था। उसके बाद मैं उनके 40″ के बूब्स दबाने लगा। मुझे भरपूर आनंद मिल रहा था। क्या मस्त छलकती चूचियां थी उनकी।

यह कहानी भी पड़े  बंध मकान में कजिन बहन का सिल तोडा

Pages: 1 2

error: Content is protected !!