पुरानी औथोर के नये औथोर से चुदने की कहानी

हेलो गाइस, मी नामे इस सिड आंड ई आम 28 यियर्ज़ ओल्ड. ई आम लिविंग इन मुंबई. मी हाइट इस 5’10” वित लीन आत्लेटिक बॉडी, आंड वित टोंड एबेस आंड आ मॉनस्ट्रस 7.5 इंचस कॉक. मैं फ्री टाइम में मेरे एक्सपीरियेन्सस लिखता हू.

लास्ट मे की बात है, जब यहा की एक ऑतर निश्ी मेहरा ने मुझे मेसेज किया. जो खुद हिन्दी सेक्स स्टोरीस की राइटर थी. काफ़ी सारी स्टोरीस उसकी यहा ड्के पे है. बुत ड्यू तो हेर मॅरेज आंड बिज़ी वर्किंग लाइफ, उसको टाइम नही मिलता था आयेज की स्टोरीस लिखने का. और फिर ये सब छ्छूट गया.

बुत मेरी स्टोरीस पढ़ने के बाद उसको उसके पुराने दीनो की याद आ गयी, जब वो एक हाइ क्लास रंडी की तरह चुड्ती थी. उसने मुझे ग पे मेसेज किया (ये स्टोरी उसकी पर्मिशन से शेर कर रहा हू. आप लोग उसकी पुरानी स्टोरीस “निश्ी मेहरा” से चेक करके उसको एमाइल कर सकते हो)

निश्ी: हेलो, आपने स्टोरी बहुत अची लिखी है. ई रियली एंजाय्ड इट.

मैं: थॅंक योउ. मुझे अछा लगा की आपको स्टोरी पसंद आई.

निश्ी: हा, मैने 3-4 साल पहले स्टोरीस लिखी थी. आप चेक कर सकते हो.

मैं: शुवर, चेक करूँगा निश्ी. आप क्या करते हो? और आगे क्या है तुम्हारी?

निश्ी: ई वर्क इन आन मंक. ई आम 27 यियर्ज़ ओल्ड और शादी के बाद मुंबई में रहती हू.

थोड़े दिन तक ऐसे ही हमारी जान-पहचान हुई. हम बातें करते रहे. मैं कभी-कभी बीच में फ्लर्टी बातें कर देता था. बुत वो शर्मा जाती थी. फिर एक दिन मैने बातों-बातों में सेक्स छत आंड रॉल्प्ले स्टार्ट कर दिया.

निश्ी भी मूड में आ गयी थी. हम दोनो ने एंजाय किया. फिर तो साली हर वीक हब्बी से च्छूप कर मुझसे सेक्स छत करने लगी. मानो की जैसे उसको आदत लग गयी थी जैसे एक भूखी रांड़ हो.

पर अब मैं सिर्फ़ छत से बोर हो गया था. मैने उसको कॉफी पे बुलाया. दोनो मुंबई से ही थे, तो वो अग्री हो गयी. हमने 2 बजे एक केफे में मिलने का प्लान किया.

नेक्स्ट दे, मैं आचे से रेडी होके शेव करके जगह पर 1:30 बजे पहुँच गया, और कॉल की उसको की कहा थी वो. उसने बोला की वो बस पहुँच रही थी. मैं केफे में कॉर्नर टेबल लेके बैठ गया, और उसकी वेट करने लगा. थोड़ी देर बाद निश्ी की कॉल आई.

शी साइड: सिड, आप कहा हो? केफे में आ गयी मैं.

जब मैने उसको देखा, तो दोस्तों मेरी गांद फटत गयी. आओ बंदी किसी भी आंगल से 27 की नही लग रही थी. वो ज़्यादा से ज़्यादा 23 साल की लग रही थी. मलाई जैसी गोरी थी वो. 34सी के चूचे थे, और 5’7″ की हाइट.

रेड ड्रेस और हील्स में कमाल लग रही थी. तभी से मेरा लंड खड़ा हो गया साली को नाचने के लिए. क्या सेक्सी क्लासी माल लग रही थी. फिर वो आई, आंड मैने उसकी चेर पीछे करी आंड उसको बिता कर खुद भी बैठा.

मैं: वाउ निश्ी! योउ लुक जस्ट रॅविशिंग इन तीस ड्रेस, आंड रियल में टोटली डिफरेंट लगती हो, क्वाइट यंग (शी वाज़ रिलक्टेंट तो शो हेर पिक्स, ओन्ली शेर्ड आ फ्यू).

निश्ी (शरमाते हुए): अवव थॅंक योउ! तुम भी काफ़ी क्यूट और चार्मिंग हो.

मैं: बोलो क्या लेंगी आप?

निश्ी: कुछ भी चलेगा.

मैं: मैं चलूँगा क्या?

निश्ी (शाइ, एट आ बीत कॉन्फिडेंट): हा बिल्कुल. बुत अभी, लेट’स ऑर्डर.

मैं: ठीक है मैं करता हू.

फिर मैने पास्ता, वोड्का शॉट्स, और सॅंग्रिया का एक ग्लास ऑर्डर किया. ऑर्डर आ गया आंड हमने खाना-पीना शुरू किया. 2-3 शॉट्स पीने के बाद निश्ी की शरम सारी ख़तम हो गयी थी.

फिर हम डॅन्स करने चले गये, और थोड़े क्लोज़ हुए. मैने डॅन्स करते हुए कस्स के उसको कमर से पकड़ लिया. आंड मैं कंटिन्यूवस्ली उसकी आँखों में देख रहा था. थोड़ी देर में मैने अपना एक हाथ बूब्स पे रखा.

उसकी आँखें बड़ी हो गयी. वाहा पे लाइट्स दीं थी. मैने दूसरा हाथ उसकी गोल सेक्सी गांद पे रख दिया. उसको कुछ समझ आता, उससे पहले मैने उसके रसीले होंठो पर अपने होंठ रख दिए.

2-3 सेकेंड्स का किस किया हमने, और फिर वो अलग हुई. फिर वो टेबल पर चली गयी. मुझे लगा उसको अछा नही लगा, और वो अनकंफर्टबल हो गयी. फिर मैं उसके पास गया और बोला-

मैं: सॉरी, अगर तुमको अछा नही लगा तो. तुम हो ही इतनी हॉट, की मुझसे रहा नही गया.

निश्ी: नही-नही, ऐसा कुछ नही है. चलो चलते है घर, काफ़ी लाते हो गया है.

मैने बिना आर्ग्यू करे बिल पे किया, और घर जाने के लिए कार लेके आ गया.

निश्ी: मैं खुद चली जौंगी. आप तकलीफ़ क्यू ले रहे हो?

मैं: मैं छ्चोढ़ दूँगा तुम्हे. ई मीन ड्रॉप कर दूँगा, कोई प्राब्लम नही है.

निश्ी (नॉटी स्माइल करते हुए): ओके.

फिर वो कार में आके बैठ गयी, आंड थोड़ी इधर-उधर की बातें करने के बाद हम ट्रॅफिक सिग्नल पे रुके हुए थे. उसने मेरा कॉलर पकड़ कर खीचा उसको और एक छ्होटा किस कर दिया. फिर वो शर्मा गयी.

मैने फिर उसकी थाइस पे हाथ रख दिया. धीरे-धीरे मैं उसकी थाइस को सहलाने लगा. उसकी छ्होटी ड्रेस उपर करके मैं छूट को पनटी के उपर से ही रब करने लगा. वो पागलों की तरह मचलने लगी. उसके टाइट पायंटी निपल्स दिख रहे थे ड्रेस के उपर से ही. तड़पति हुई वो मछली की तरह मोन करने लगी.

मैं: आहह गरम है तू. कितने दीनो की प्यासी है साली निश्ी रांड़.

निश्ी: एस (मैने उसका हाथ पकड़ कर मेरे खड़े लंड पर रख दिया. ) श फक, इतना बड़ा. मेरे हब्बी से काफ़ी बड़ा है तुम्हारा लंड ( और वो सहलाने लगी लंड को).

मैने कार एक छ्होटे माल के अंडरग्राउंड पार्किंग में ली. तब तक मेरा हाथ उसकी गीली छूट की फिंगर करने लगा था, और उसने भूखी शेरनी जैसे ही कार स्टॉप की. फिर वो मेरी जीन्स खोल के लंड चूसने लगी.

थोड़ी देर के लिए मुझे भी ऐसा लगने लगा, की साली सच में रंडी तो नही. क्या मज़े दे रही थी. इतनी हाइ क्लास माल एक सड़क छ्चाप कुटिया बन गयी थी. बस उसने कहा-

निश्ी: झड़ने से पहले बोल देना. मेरे कपड़े खराब नही होने चाहिए.

ऑलमोस्ट 20 मिनिट तक कुछ बोले बिना वो लंड चूस्टी रही. फिर मुझसे कंट्रोल छ्छूटने लगा. पर मैने उसको नही बताया. मैं उसके बाल पकड़ कर उसके मूह को छोड़ने लगा उसका. और एस, मैने पूरा कम उसके मूह में ही छ्चोढ़ दिया. फिर मैने कम उससे पूरा लंड चाट-चाट कर सॉफ करवाया.

फिर हम वाहा से निकल गये, और उसके घर तक कुछ बात नही हुई. वो अपार्टमेंट के गाते पे ही उतार गयी, और चली गयी, और मैं अपने घर आ गया. फिर मैने उसको मेसेज किया, पर उसका कोई रिप्लाइ नही आया. 2-3 दिन तक कोई बात नही हो पाई. मैने भी सोचा, चलो इतना ही है. बुत नेक्स्ट दे उसका मेसेज आया.

निश्ी: ही! योउ तेरे?

मैं: एस, वॉट हॅपंड?

निश्ी: हाउ अरे योउ?

मैं: ई आम गुड. आप तो भूल ही गये, रिप्लाइ तक नही किया.

निश्ी: सॉरी! मैं आक्च्युयली उस दिन जो हुआ, उसके बारे में बहुत सोच रही थी. आंड मुझे लगा मैने जो किया, वो बहुत ग़लत किया. तभी मैने बात नही करी.

मैं: कोई नही, अभी भी मत करो. मैं किसी को ग़लत नही फील करवाना चाहता हू. सॉरी अगर ऐसा हुआ है तो.

निश्ी: नही-नही! अभी ई आम फाइन. कॅन वी मीट?

मैं(आटिट्यूड में): वेर?

निश्ी: उम्म, कॅन योउ कम डाउन तो मी अपार्टमेंट?

मैं: ओके, वेन आंड अट वॉट टाइम?

निश्ी: वेनेवर योउ अरे फ्री. टाइम प्रिफरब्ली अट 9 पीयेम अट नाइट.

मैने हा कर दी, आंड उस दिन मैं काफ़ी एग्ज़ाइटेड हो गया था. फाइनली मुझे पता था, की आज कुछ होने वाला था. मैने 2 पॅकेट अलग-अलग कॉंडम खरीद लिए, और एक लूब्रिकॅंट भी खरीद लिया.

फिर मैने ब्लॅक शर्ट आंड ग्रे ट्राउज़र में रेडी हो कर, ठीक 9 बजे रात को उसके घर की बेल बजाई. मैं साथ में चॉक्लेट भी लेकर चला गया था.

निश्ी ने जब गाते खोला, तो उसको देख कर मेरी आँखें खुली की खुली रह गयी थी. ब्लॅक सारी में, और स्लीव्ले ब्लाउस में उसके चूचे बिल्कुल ब्लाउस फाड़ रहे थे.

निश्ी (हेस्ट हुए): क्या देख रहे हो?

मैं: काफ़ी सेक्सी लड़की को देख रहा हू.

फिर हमने हग किया. मुझसे रहा नही गया, और मैं उसको मसालने लगा. फिर अंदर जेया कर मैं सोफा पर बैठ गया, आंड वो डिन्नर आंड ऑल लेकर आ गयी. डिन्नर खाने के बाद मैने उसको वॉशरूम का पूछा. वाहा जेया कर मैने मूह सॉफ करके हाथ धो लिए.

फिर मैं वापस आ कर बैठ गया, आंड निश्ी मुझसे 10 मिनिट का टाइम लेकर अंदर अपने कमरे में चली गयी. मुझे तोड़ा अजीब लगा, की क्या हो गया था अब उसको (पिछली बार के एक्सपीरियेन्स की वजह से).

10 मिनिट बाद बंदी जब आई, तो बिल्कुल एक पोर्नस्तर की तरह लग रही थी. इतनी सेक्सी पिंक आंड ब्लॅक कलर की लाइनाये पहनी थी उसने. फिर वो बोली-

निश्ी: कैसा लगा मेरा सर्प्राइज़?

मैं बिना उसको जवाब दिए खड़ा हुआ, और उसके पास जेया कर उसको कमर से पकड़ लिया. फिर मैं उसको दीवार पर धक्का देते हुए, उसके रसीले जुवैसी होंठो को चूसने लगा.

थोड़ी देर में मैने अपनी जीभ उसके मूह में डाल दी, और उसकी जीभ के साथ सलाइवा एक्सचेंज करने लगा.

थोड़ी देर ऐसे ही चूमने के बाद, मैने उसको उठा कर बेड पर रख दिया. मैने बाथरूम में जेया कर उसका टब गरम पानी से भरने रख दिया. फिर वापस आ कर मैं उसके उपर ऐसे कूड़ा, जैसे कोई भूखा शेर हो.

मैं पुर जानवर की तरह उसकी गर्दन को चूमने लगा, और साथ ही साथ मैं उसके बूब्स को दबा रहा था. अब उसकी सिसकियाँ निकल रही थी. फिर उसने मेरी शर्ट उतार दी, आंड पंत भी उतार कर कच्चे के उपर से लंड को मसालने लगी. वो मुझे बोली-

निश्ी: यार, तेरी बॉडी कितनी सही है, जिम रेग्युलर जाता है क्या?

मैं: तेरा हू सेक्सी माल, जो करना है कर ले.

उसने फिर मेरा अंडरवेर उतरा, और मेरा 7.5 इंच का लॉडा उसके मूह पर लगा.

निश्ी (स्माइल करते हुए): फिरसे मुलाक़ात हो हो गयी हमारी!

फिर वो मेरे लंड को हाथ में पकड़ कर हिलने लगी, आंड एक बार में ही पूरा मूह में ले लिया.

मैं: आहह! (मज़ा ही आ गया था, उसके चूसना शुरू करते ही)

उसके मुलायम होंठ मेरे लंड को चूस रहे थे, और वो एक-दूं रंडी लग रही थी. अब मैं झड़ने वाला था. फिर 10 मिनिट तक लंड चुसवाने के बाद, मैने उसको लंड से हटा कर बेड पर लिटा दिया, और उसकी पूरी लाइनाये उतार दी.

मैं फिर धीरे-धीरे उसके 34 इंच के बूब्स के निपल्स को चूसने लगा, आंड एक हाथ से दूसरे बूब के निपल को मसालने लगा.

निश्ी: आउच मा! दर्द हो रहा है.

मैने उसको नही सुना, और ज़ोर से चूसने लगा. थोड़ी देर में मैने निपल को काटना शुरू कर दिया था, और वाइल्ड हो गया था. फिर मैं उसकी गीली छूट पर चला गया. उसकी छूट पूरी तरह से सॉफ थी. मैने उसको पहले ही सेक्षटिंग करते हुए बताया था, की मुझे सॉफ छूट कितनी पसंद है.

छूट पर जेया कर मैने अपने होंठ उसके प्यारे से छेड़ पर रख दिए, और अपनी जीभ से चाटने लगा. दोस्तों एक-दूं रसीली थी उसकी छूट, और मज़ा आ गया था एक-दूं.

निश्ी: आहह! कम ओं.

वो अपने हाथो से मेरे सर को अपनी छूट में घुसा रही थी. उसके ये करने से मैं और चार्ज हो गया, और अपनी उंगलिया उसकी छूट में घुसा दी. अब मैं उसकी छूट में फिंगरिंग करने लग गया था, और साथ में उसकी क्लिट को चाट रहा था.

निश्ी: करता रह, करता रह आहह! बीसी, इतना मज़ा आ रहा है बहुत समय बाद. इतना मज़ा तो मुझे मेरे पति ने भी नही दिया है. आअहह… मैं झड़ने वाली हू, मैं झड़ने वाली हू. चल तेरी रंडी को क्लाइमॅक्स दे आहह.

5 मिनिट के इस काम से निश्ी ने मेरे मूह पर अपनी छूट का पानी छोढ़ दिया, और मैने उसका सारा पानी पी लिया, जितना भी था.

निश्ी: छोड़ डाल मुझे, प्लीज़ छोड़ दे अब मुझे. मैं लंड की भूखी हो रही हू, छोड़ मुझे, और बना ले अपनी रंडी. छोड़ बेहन के लंड, छोड़. तेरी रखेल है ये निश्ी मेहरा.

मैं: रुक जेया रंडी! अभी ऐसे इतनी जल्दी थोड़ी दे दूँगा (उसको टीज़ करने के लिए).

फिर मैने अपना लंड उसकी छूट पर मारना शुरू कर दिया.

निश्ी: ये तुम्हारा लंड मेरे हब्बी से भी बड़ा है, डाल दे अंदर इसको डाल दे. छोड़ दे मुझे, भूखी कुटिया हू मैं बड़े लंड की.

मैने ये सुनने के बाद अपना पूरा का पूरा लंड उसकी छूट में एक बार में ही घुसा दिया.

निश्ी: आअहह कितना बड़ा है तेरा.

मैने फिर धीरे-धीरे लंड उसके अंदर-बाहर करना शुरू किया. हर धक्के के साथ वो और पागल हो रही थी. उसने मेरी गांद और पीठ को नोचना शुरू कर दिया था.

निश्ी: फक मे हार्डर! हार्डर! हार्डर!. और तेज़ कर, और तेज़ कर.

उसके हर हार्डर-हार्डर से मेरे धक्के तेज़ होने लगे. ज़ोर-ज़ोर से मेरा नाम चिल्लाने लगी. थोड़ी देर बाद मैने उसको कुटिया वाले पोज़ में बिता दिया, और उसके अंदर पीछे से धक्के मारने लगा. कुल 15 मिनिट बाद वो दोबारा से झाड़ गयी.

फिर मैं उसको उठा कर बातरूम में ले गया. वाहा जेया कर मैने उसको टब में रख दिया, और अपने उपर बिता कर लंड उसकी छूट में दोबारा डाल दिया. क्या उछाल रही थी वो मेरे लंड पर. 10-15 मिनिट ऐसे छोड़ने के बाद, मैं उसको बिस्तर पर ले गया.

वाहा जेया कर उसने कंट्रोल ले लिया, और मेरे लंड को चूसने लगी. वो मेरे लंड को ज़ोर-ज़ोर से चूस रही थी. मैने उसको उल्टा कर दिया, और 69 पोज़िशन में उसकी छूट चाटने लगा. अब उसने तीसरी बार मेरे मूह पर ऑर्गॅज़म कर दिया.

ऑर्गॅज़म के बाद मैं खड़ा हो गया, और वो घुटनो पर बैठ कर मेरा लंड चूसने लगी. अपने हाथो से मेरे लंड पे कॉंडम लगाया.

निश्ी: एक और बार हो जाए.

इतना बोल के खुद मेरा लंड अपनी छूट में गाइड किया, और लाउड्ली मोन करने लगी. एक-दूं देखने में पॉर्न वाली रांड़ लग रही थी वो. उसने एक और बार पानी छ्चोढ़ दिया, फिर भी लंड पे उछालती रही. मैने भी पूरा कम छ्चोढ़ दिया.

फिर सफाई वग़ैरा करके हम एक-दूसरे के साथ नंगे ही सो गये. सुबा तक हम 4 बार चुदाई कर चुके थे. सारे कमरे में मूठ आंड छूट के पानी की खुश्बू आ रही थी. इतनी चुदाई मैने बहुत टाइम बाद करी थी.

अब मैं फिरसे उसके पति की बिज़्नेस ट्रिप की वेट कर रहा हू. ये स्टोरी लिखने के बाद उसकी भेजी थी. ये स्टोरी पढ़ के वो रांड़ फिरसे मिलने की बात कर रही थी. ई होप योउ लाइक्ड मी स्टोरी.

यह कहानी भी पड़े  बच्चे के लिए क्या किया

error: Content is protected !!