नयी नवेली भाभी को चोदा लॉकडाउन मे

bhabhi ki chudai story हेलो फ्रेंड्स, मई आपका अपना ज़ीहाँ फिर से हाज़िर हू अपनी एक और चुदाई की दास्तान लेकर.

जो लोग फर्स्ट टाइम मिले है उन्हे बीटीये डू मई ज़ीहाँ लुक्स वाइज़ नॉर्मल हू. लंड का साइज़ भी नॉर्मल है. बुत उसके बावजूद भी अभी तक जिसकी चुदाई की है वो अभी भी चूड़ने को बेताब रहती है मुझसे.

वेसए जिन लोगो ने मुझे मैल सेंड किए उनका शुक्रिया और धन्यवाद इतना प्यार देने के लिए.

अब आते है इस स्टोरी पे.

लॉक्कडोवन् की वजह से सबकी हालत खराब हुई पड़ी है और मई भी उनमे से एक हू. अब एक ही छूट को कोई कितना छोड़ेगा. बस यही हाल मेरा भी था. मई भी एक ही छूट को छोड़ छोड़ कर बोर हो रहा था इस लॉक्कडोवन् मे.

फिर कुछ हफ्ते पहले मेरे बगल वेल मकान मे एक कपल रहने आया. जिसमे एक हज़्बेंड था और एक वाइफ बस. उमर भी ज़्यादा नही थी ,भैया जो थे वो 35 के आस पास होंगे और उनकी बीवी 32 के आस पास होगी.

तो जैसे ही वो लोग शिफ्ट हुए. तो भैया को कोविद मे ड्यूटी के चक्कर मे जाना पड़ा आउट ऑफ सिटी क्योकि वो डॉक्टर है. अब घर मे रह गयी भाभी जी अकेले.

अरे भाभी जी के बारे मे बताना ही भूल गया मई तो. भाभी जी का नामे है शीला (बदला हुआ नाम). उनका रंग वेसए ना सांवला है और ना ही ज़्यादा गोरा. बाल लंबे है जो उनके हिप्स तक आते है और फिगुर तो कसम से उम्म्म्ममहाआआआअ. गोल शेप मे बोबे वो भी टाइट पतली कमर और उनकी टाइट गंद. ये कहानी आप देसीकाहानी.नेट पर पद रहे है.

फिगुर देखने से लगता है जैसे अभी तक किसी ने मज़े नही लिए इनके.

अब कहानी पे वापस आता हू. तो जब वो लोग शिफ्ट हुए तो मेरी अम्मी ने बोला जेया कर हेल्प कर दे इनकी तो मई चला गया. समान शिफ्ट होने के बाद अम्मी ने उन्हे घर पे बुलाया कॉफी पीने.

फिर बाते स्टार्ट हुई तो पता चला के भैया डॉक्टर है और उनकी शादी अभी 3 दिन पहले ही हुई है. और शादी होते ही उनकी ड्यूटी हुमारी सिटी के बाहर वेल हॉस्पिटल मे लगी है.

तो भैया और भाभी यहा शिफ्ट हुए है और भैया को आज नाइट से ही वही जाय्न करना है और वही रहना है. तो अम्मी ने बोला के उनकी वाइफ आराम से यहा आ सकती है और उनका मॅन भी लगा रहेगा.

फिर नेक्स्ट मॉर्निंग मई च्चत पे था तो भाभी नहा कर आई. गीले बालो मे क्या सेक्सी लग रही थी वो. उसने सारी पहनी थी जो उसने नेवेल के नीचे बँधी थी.

मेरा तो देखते ही शॉर्ट मे लंड खड़ा हो गया. मैने ही बोला तो उसने ध्यान नही दिया फिर वो बोली-

भाभी- हेलो.

मई- ही, गये भैया हॉस्पिटल?

भाभी- (उदास होकर) – हा वो तो रात को ही चले गये थे मुझे अकेला छ्चोड़ कर. मुझे रात भर अकेले दर ल्गा.

मई- तो बोल देते या यहा आ जाते.

इन्ही बातो मे उसने मेरा खड़ा लंड देखना शुरू किया. और मैने इसे देखते हुए नोटीस कर लिया तो मई भी ऐसे ही खड़ा रहा.

भाभी- अभी इतनी जान पहचान नही हुई ना अपनी.

मई- (उसकी और अपने फोन मे नंबर टाइप कर के उसे दिखाते हुए) – ये लो मेरा नंबर जब भी ही बात कर लिया करना.

उसने नंबर सवे कर लिया अपने पास लेकिन पूरे दिन कोई म्स्ग नही किया. फिर नेक्स्ट मॉर्निंग वो वापस वेसए ही आई च्चत पे. बुत आज उसमे सिल्क वाली गाउन पहनी थी. जो उसके फिगुर पे चिपक रही थी. जिसमे हर शेप आसानी से दिख रही थी. मेरे तो आज फिर से लोड्‍ा उफ्फान पे आ गया.

मई- ही, क्या हाल है?

भाभी- (उदास हो कर) – बस ऐसे ही है.

मई- मुझे तो ल्गा कोई म्स्ग या कॉल आएगा.

भाभी- सॉरी बुत मुझे लगा तुम्हे अजीब लगेगा सो नही किया.

मई- ओक.

फिर वो नीचे जाते जाते मुझे स्माइल दे कर चली गयी. तभी मेरे फोन पे अननोन नंबर से व्हातसपप आया जिसमे दिल था. मैने रिप्लाइ किया तो उधर से म्स्ग आया मई शीला हू. मई समझ तो गया था की ये अब मेरे नीचे आना चाहती है बुत कॉंफरम कैसे करू.

मैने अम्मी को बोला की शीला लगता है चूड़ना चाहती है मुझसे बुत कन्फर्म करना है तो अम्मी बोली-

अम्मी- (मेरा लोड्‍ा दबाते हुए) – लगता है इसकी भूख मिट नही रही अब. चल मई करती हू फिर कुछ ट्राइ तेरे लिए.

फिर दिन मे अम्मी ने शीला को घर बुलाया. शीला मस्त रेड सारी मे आई. कसम से नयी नवेली भाभी को देखने से एसा लगता है मानो की छोड़ छोड़ कर रग़ाद डालो पूरा.

अम्मी ने मुझे रूम मे जाने का इशारा किया और बाते करने लगी शीला से.

अम्मी- क्या हाल है आपके?

शीला- आप मुझे आप ना बुलाओ. शीला ही बोलो.

अम्मी- अक्चा, शादी को कितना टाइम हुआ?

शीला- अभी लास्ट वीक ही हुई है और शादी होते ही यहा आ गये.

अम्मी- अक्चा, शादी के बाद कही हनिमून पे नही गये?

शीला (उदास सा चेहरा ले कर) – हनिमून… अभी तक तो वो रात वाला सीन भी नही हुआ.

अम्मी- फिर कैसे मॅनेज कर रही हो?

शीला- अपने फिंगर से तोड़ा तोड़ा.

फिर उन लोगो ने इधर उधर की बाते की और हम लोगो ने साथ मे लंच किया. रात को अम्मी ने बोला की लोहा तो गरम ही है और तड़प भी बहुत है. तू चाहे तो ट्राइ कर ले. फिर मैने शीला को व्हातसपप किया.

मई- क्या कर रही हो?

शीला – कुछ नही बस लेती हू.

मई- अकेले लेटने मे क्या मज़ा आता होगा यार.

शीला- वो तो है.

शीला- क्या मतलब?

मई- कुछ नही. अक्चा क्या पसंद है केला या बेनगन? (और सेक्सी स्माइल वाला एमोजी सेंड किया साथ मे.)

शीला- क्या?

मई- बोलो ना.

शीला- तुम्हारे पास क्या है?

मैने अपने लंड का पिक सेंड कर दिया उसे बिना देर किए.

शीला- अक्चा जी कोई शरम नही है क्या?

मई- है पेर तुम तो अपनी होना.

शीला- शादी शुदा हू मई.

मई- बुत हो तो अभी भी कुँवारी जैसी.

शीला- साद हो कर, यार क्या क्रू कुछ करते इससे पहले ही यहा आ गया और वो ड्यूटी पे गये.

मई- बोलो तो मई मज़े दे डू?

शीला- किसी को पता लग गया तो?

मई- तुम तो च्चत का गाते ओपन करो बस, बाकी मई देख लूँगा.

10 मिनिट्स बाद उसने च्चत का डोर खोला. मैने डॉली कूद कर उसके घ्र मे घुस गया. नीचे जाते ही मैने उसे खुद से चिपका लिया. उसने गाउन पहनी हुए थी जिसके आस्तीन नही थी और जो उसकी छूट से थोड़ी ही नीचे थी बस.

फिर मैने बिना देर करे उसे किस क्रना शुरू किया. वो भी मेरा पूरा साथ दे रही थी. कसम से उसके होंठ एक दूं सॉफ्ट थे. मॅन कर रहा था खा जौ उन्हे.

मई उसे किस करता हुआ उसके बेडरूम मे पहुँचा और उसे पलंग पे धक्का दे दिया. और सीधा उसकी चड्डी उतार कर उसकी छूट पे टूट पड़ा. उसकी छूट हल्की हल्की गीली तो थी ही बुत जैसे ही मैने चाटना स्ट्रॅट किया उससे सबर नही हुआ. और उसने अपने पानी का फुव्वारा छ्चोड़ दिया जो गर्म गरम मेरे मूह मे आया सारा.

मैने पूरा उसका पानी छाता और लगा हुआ उसकी छूट को अपनी जीभ से छोड़ने मे. 20 मिनिट्स बाद वो पूरी हाँफ चुकी रही छूट की चुसाई से. उसने मुझे उपर खींचा और बोली-

शीला- मा छोड़ दी तुमने तो यार एक ही बार मे मेरा पूरा पानी निकल दिया. इतनी मस्त छूट चाटते हो तुम कितनी लड़कियो को सेवा दी है अपनी?

मई – ( शरीफ बनते हुए) – सेवा की शुरुवत तुमसे की है, अब तुम देखो कितनियो की करवाती हो.

उसने मेरे बाल खींचे और बोला-

शीला- तू चाहे तो मुझे अपनी रंडी बना ले बुत अब छोड़ आज मुझे पूरी जान से.

मैने फिर उसकी गाउन खोली और उसकी ब्रा भी. कसम से पूरी नंगी करने के बाद तो वो और भी ज़्यादा मादक लगी मुझे. मई तो टूट पड़ा उसके टाइट बूब्स पे और उसने मुझे नंगा किया.

फिर मेरा लंड पकड़ कर बोली आज रात तो तेरे लंड की आक्ची कसरत करवा कर रहूंगी मई. उसके टाइट बोबे कसम से एक हाट से ठीक से डब भी नही रहे थे.

मैने पूरी जान लगा कर निचोड़ दिए उसके बोबे. तो उसको इतना पाईं हुआ की एक से दूध निकल गया उसके बोबो मे से. फिर मैने दोनो बोबो मे से उसके दूध निकाला.

अब आपको नेक्स्ट पार्टी मे बतौँगा की कैसे मैने उसे चोदा और उसके साथ नाहया भी.

यह कहानी भी पड़े  देसी चुदाई कहानी पड़ोस की सेक्सी भाभी की

कोई भाभी, आंटी, या गर्ल अगर सेक्स करना चाहती है तो मुझे कॉंटॅक्ट कर सकती है और आपके फीडबक भी मुझे सेंड करे. मेरी मैल ईद है [email protected] मुझे आपके मेल्स का वेट रहेगा.

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!