मेथ्स वाली मेडम ने मुझे बाप बनाया

दोस्तों हिंदी पोर्न स्टोरीज  के ऊपर ये मेरी पहली ही कहानी हे. बात आज से कुछ सालों पहले की हे जब मैं 12थ में था. मैं मेथ्स में कमजोर था तो पापा ने एक मेडम के घर मेथ्स की ट्यूशन लगवा दी थी. दिवाली के वेकेशन के बाद मैं अपने होम टाउन से सिटी गया जहाँ पर मैं पढता था.

मेडम से बता नहीं हुई लेकिन मैं पहले दिन ही ट्यूशन के लिए जा पहुंचा. अब उस ज़माने में मोबाइल कहा थे की पल पल की खबर हो आजतक वालो के जैसी! मेडम के घर का दरवाजा नोक किया. और वो जिस ड्रेस में बहार आई उसे देख के ही मैं समझ गया की आज छुट्टी हे! उसने एक वाइट नाइटी पहनी थी जिसके अन्दर वो प्रिया राय के जैसी सेक्सी पोर्नस्टार लग रही थी. मुझे देख के वो बोली, नवीन ट्यूशन तो परसों से चालु होने ने?

मैंने कहा, मुझे पता नहीं था मेडम.

कहा से पता होगा तुमने लास्ट दिन गुल्ली जो मारी थी. ये कह के वो हंस पड़ी.

वो बोली, चलो अब तुम आ ही गए हो तो घर में आओ और पढ़ लो अकेले ही.

वैसे मेडम के घर में स्टडी के लिए एक रूम बना हुआ हे. लेकिन उस दिन मेरे सिवा किसी और को पढ़ाना नहीं था इसलिए वो मुझे अपने शयन कक्ष में ले गई. मेडम इस नाइटी के अन्दर जैसे दिख रही थी वैसे मैंने उसे कभी नहीं देखा था. एकदम लंड खड़ा करनेवाली चीज थी वो अभी. मुर्दे और नपुंशक के लंड में भी जागृति ला दे वैसी थी आज उसकी हुस्न और जवानी की झलक!

मेडम की बूब्स बहार आने को बेताब सी दिखती थी. और उसे देख के लंड में जैसे दस्तक सी होने लगी थी. मेडम जब किताब उठाने के लिए निचे हुई तो उसकी नाइटी के नेक से उसकी एक चुन्ची देखने को मिली! वाऊ क्या मस्त फर्म चुन्ची थी मेरी मेडम की! मेथ्स को छोड़ के मेरा सब ध्यान मेडम को देखने में ही था. और वो भी गुरु थी मेरी, चेले के मन को भला कैसे ना भांपती!

यह कहानी भी पड़े  रिचा और अनीता की चुदाई

मेडम ने कहा तुम प्रेक्टिस करो अपने आप ही आज. और ऐसे कह के उसने टीवी एकदम कम वोल्यूम में चालु किया और वो बेड के ऊपर चली गई. टीवी के ऊपर कुछ ही देर में एक गंदा सिन आ गया, जिसमे एक लड़का एक लड़की को पकड के बहुत सब किस करता हे. वो लड़की उसे कुछ करने नहीं देना चाहती हे लेकिन वो कालिया उस लड़की का रेप कर देता हे!

मेडम एकदम बौखला के चेनल चेंज करना चाहती थी. मेरा ध्यान भी टीवी के ऊपर चला गया था. मेडम रिमोट ढूंढने में विफल रही तो उसने टीवी को बोर्ड की स्विच से बंद कर दिया. कुछ देर तक वो म्यूट हो गई. और मैं भी चुपचाप मेथ्स के सम करने लगा था/

फिर मेडम ने कहा: तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड हे की नहीं?

मैं कहा नहीं मेडम कोई भी नहीं हे.

मेडम के अन्दर भी वो रेप का सिन देख के जैसे अन्तर्वासना का कीड़ा जाग चूका था. वो बोली, किसी को कुछ बताना मत ओके. मैंने कहा जी मेडम!

फिर वो बोली, वैसे सोचो की तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड होती तो उसके साथ क्या करते तुम?

मैं मन ही मन में खुद को बोला, साली इस छिनाल को गर मेरा लंड लेना हे तो सीधे सीधे कह देना चाहिए ना. नाटक कर के लंड में आग लगा रही हे! लेकिन ऐसे कुछ उसे ना कहते हुए मैंने कहा, मुझे नहीं पता हे मेडम!

मेरे लंड में सुरसुराहट होने लगी थी. और मेरे लान का उभार मेडम से भी छिपा नहीं था. जब मैंने देखा की मेडम को भी गर्मी चढ़ रही हे तो मैंने कहा, वैसे क्या करते हे गर्लफ्रेंड के साथ?

वो हंस के बोली, तुम्हे सब पता होगा, आजकल के लड़के बड़े समझदार होते हे.

मैंने कहा नहीं मुझे नहीं पता हे मेडम!

वो बोली, संभोग करते हे!

मैंने कहा, मतलब की सेक्स!

यह कहानी भी पड़े  एक मज़बूर पति की सेक्स दास्तान

मेरे मुहं से सेक्स सुन के वो निचे देख के अपनी मुंडी को हिलाने लगी.

मैंने मेडम को कहा, आप को अच्छा लगता हे सेक्स!

वो मेरी तरफ देख रही थी. मैं उठ के खड़ा हुआ और मेडम के गाल के ऊपर किस कर दी. मेडम ने भी अपनी छाती को मेरी छाती से लगा के जादू की झप्पी दे दी! अब इस से ज्यादा क्या ग्रीन सिग्नल मिलना था सेक्स के लिए! मैंने अपने हाथ में उसके दोनों बड़े बूब्स पकड़ लिए और दबाने लगा. मेडम के मुहं से दर्द भरी सिसकियाँ निकल पड़ी. और मैं उसके दोनों बूब्स को खाने के स्टाइल में नाइटी के ऊपर से ही चूसने लगा. मेडम के भारीभरखम बूब्स को दबाने में बड़ा मजा आ रहा था मुझे.

अब मैंने मेडम जी की नाइटी को हटा दिया उसके बदन के ऊपर से. और उसके दोनों आमो को अपने हाथ में ले के मसलने लगा. मेडम भी गरम हो गई थी और उसकी एक्टिवनेस उसकी एक्शन में दिखने लगी थी. वो ऐसे आह्ह आह कर के उत्साह दिखा रही थी जैसे उसके बूब्स किसी ने आजतक चुसे ही नहीं थे!

मैंने उस बारे में पूछा तो मेडम ने कहा मेरे हसबंड का लंड एकदम स्माल हे और वो सेक्स के पहले फॉरप्ले भी नहीं करते हे! और यही वजह थी की मेडम को आज फॉरप्ले में इतना प्लीजर मिल रहा था. मैंने अपने हाथ को उसकी चूत के ऊपर रख दिया. वो गरम थी और उसके अन्दर का पानी भी छूटा हुआ था. फिर मैं अपने घुटनों के ऊपर बैठ गया. मेरे सामने मेडम की पेंटी थी उसके ऊपर अपने होंठो को लगा दिया और पेंटी के ऊपर से ही मेडम की चूत को किस देने लगा.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!