जिम में मिली लड़की की कार में चुदाई की कहानी

हेलो दोस्तों, ये मेरी पहली कहानी है, जिसमे मैं मेरी जिम की लड़की रिया के बारे में बताने वाला हू आपको. तो टाइम ना वेस्ट करते हुए सीधा स्टोरी पर आते है.

मैं देल्ही का रहने वाला हू. मेरा नाम सौरव है, और मेरी आगे 22 है, और मैं एक अची ख़ासी फिज़ीक वाला बंदा हू. सो कहानी शुरू होती है यहा से.

मैं नॉर्मली मेरे घर के ही पास एक जिम में रोज़ शाम में वर्काउट करता था. बुत कुछ टाइम बाद कुछ रीज़न्स की वजह से मैं मॉर्निंग शिफ्ट में जाने लगा. नॉर्मल वर्काउट चल ही रहा था, की एक दिन एक नयी लड़की आई जिसका नाम रिया था.

वो दिखने में उस वक़्त इतनिया कुछ ख़ास नही लगी, क्यूंकी बहुत ओवर साइज़्ड क्लोद्स और फेस पर मास्क लगा कर आती थी. उसको आते हुए हफ़्ता भर बीट गया, और उसकी एक दोस्त भी बन गयी थी, जिसका नाम साक्षी था, और जो पहले से इसी जिम में थी.

ये दोनो साथ में वर्काउट करने लगे आंड देखते ही देखते 2-3 हफ्ते बीट गये. इस बीच मैं कुछ टाइम ऑफ लेकर बैठा था. फिर जब मैने जाय्न किया वापस, तो मुझे रिया दिखी.

तब मैने बस एक स्माइल कर दी आंड मुझे सीरियस्ली नही पता था की इतना बड़ा इंपॅक्ट होगा उस स्माइल का उसके उपर. बिकॉज़ उस दिन के बाद से अगले दो दिन तक वो बहुत घूर्ने लगी मेरे को.

बाद में मुझे एक जिम के ट्रेनर से पता लगा की वो मेरे बारे में उससे पूच रही थी. बुत उस टाइम मेरी गफ़ थी, तो जिम ट्रेनर ने कह दिया की मेरी गफ़ है तो वो मुझ पर लाइन ना मारे. बुत रिया ने कहा, “कोई नही, मुझे बस जानना है उसको”.

उसके अगले दिन से वो तोड़ा आचे आउटफिट में आने लगी, एक क्रॉप टॉप और टाइट जिम लोवर में. उस दिन मैने बहुत गौर से देखा तो उसकी गांद बहुत मस्त लगी मेरे को. जिस तरह वो बैठी थी, बहुत सेक्सी लग रही थी बेंच पर. उसके अगले ही दिन मेरे पास उसकी रिक्वेस्ट आई.

रिया: हे पहचाना मेरे को?

मे: नही (जस्ट प्रिटेंडिंग).

रिया: अर्रे मैं वो हू, जिसको देख कर आप बहुत मुस्कुराया करते है.

मे: मैने फिर भी नही पहचाना आपको, सॉरी.

रिया: अर्रे पागल, मैं जिम वाली, जो आज आई थी सुबा बॅच में. हमने आज सेम बेंच भी शेर की थी चेस्ट वर्काउट में.

मे: ओह अछा-अछा आप हो. सॉरी पहचाना नही. ड्प में आप बहुत अलग लग रही हो.

रिया: अछा जी?

मे: जी. तो कैसे पता चली मेरी ईद?

रिया: अर्रे वो ना पूछिए, बहुत परेशन किया आपने बस.

मे: अर्रे मैने क्या किया भाई?

रिया: आपका नाम पता करने में 3 दिन लगे. फिर ईद पता चली तो टेक्स्ट किया. रोज़ यही दर्र रहता था की कही लॉक्कडोवन् ना लग जाए, और आपके बारे में पता ना चला फिर.

मे: अर्रे-अर्रे मैने ऐसा क्या किया यार?

रिया: नही किया तो कुछ नही, बस आपकी स्माइल बड़ी पसंद है हमे.

मे: अछा, हाहाहा थॅंक योउ.

फिर यहा से बातें शुरू हुई. इत्तेफ़ाक़ से कुछ दिन बाद मेरा और मेरी गफ़ का बहुत झगड़ा हो गया काफ़ी गहरा. सो वी डिसाइडेड तो टके आ ब्रेक. देन रिया से इस बीच बात हुई. मेबी 2 दिन ही हुई होगी, की उसने नंबर शेर कर दिया आंड स्नप्चत भी.

तो मेरी उससे वीडियो कॉल चल रही थी. रात थी, तो कुछ दिख नही रहा था.

तो मैने कहा: चलो बाद में करते है. क्यूंकी कुछ दिख नही रहा. मैं भूतों से बात नही करता.

फिर उसने बोला: अर्रे मेरी मुम्मा बगल में है ना, इसलिए लाइट नही खोल रही.

मैने कहा: ओके.

फिर मैने पूछा: तुमने क्या पहना है अभी?

तो उसका टेक्स्ट नही आया. मैने सोचा बुरा मान गयी कुछ. आफ्टर 1-2 मिनिट उसकी स्नॅप आई जिसमे उसने ब्लॅक टांक टॉप पहना था.

मैने कहा: नाइस.

और इसके अंदर तुरंत उसने टॉप नीचे करके ब्रा दिखाई जो बहुत सेक्सी रेड कलर की थी. मैं शॉक हो गया की इतनी जल्दी, और वो भी उसने खुद ही भेज दी.

मैने कहा: यार तुमने तो हालत खराब कर दी एक-दूं से.

तो उसने कहा: क्यूँ आपका छ्होटा भाई जाग गया क्या?

मैं समझ नही पाया, तो मैने पूछा: क्या?

तो उसने कहा: अर्रे नीचे.

और मैं शर्मा गया.

फिर मैने कहा: ब्रा आचे से दिखाओ.

तो उसने एक और भेजी, जिसमे बूब्स आचे बाहर थे थोड़े.

मैने कहा: और नीचे करो.

आंड उसने करा भी.

फर मैने कहा: निपल्स दिख रहे है थोड़े. बहुत प्यारे है. तो उसने एक और पिक भेजी जिसमे निपल्स थे.

मैं परेशन हो गया की अभी उस लड़की से बात किए हुए 2 दिन हुए थे, और ये सब दिखा भी दिया था उसने.

तो मैने कहा: यार बहुत मॅन कर रहा है.

फिर उसका मेसेज नही आया. वो सो गयी थी. सुबा उठ कर उसने बहुत सॉरी बोला. मैने सोचा क्या यार बहुत अजीब लड़की है ये तो. फिर अगले दिन जिम आए सुबा तो मैं क्या पूरा जिम उसको देखता रह गया.

वो एक सेक्सी सी ब्लॅक स्पोर्ट्स ब्रा और एक-दूं टाइट ब्लॅक लेगैंग्स में आई. उसके बाद वर्काउट किया हमने साथ में पूरा पहली बार. देन एरोबिक्स रूम में हम जेया कर बैठे. उस वक़्त वो रूम बिल्कुल खाली था, और वाहा के ग्लासस में ब्लर है तो बाहर से कुछ नही दिखता. और वाहा एक पिल्लर के पीछे हम बैठे थे.

तभी वो मुझे एक किस करने वाली थी गाल पर. बुत मैने लिप्स पर कर ली. इससे वो बहुत शॉक हो गयी. फिर हम घर आ गये. उसके बाद हमने बहुत बातें की किस के बारे में, आंड उसके आउटफिट के बारे में. देन अगले दिन लॉक्कडोवन् लग गया. वो तो मानो पागल हो गयी.

वो कह रही थी: यार अभी मिले है हम, और ये शुरू हो गया.

मैने कहा: कोई नही, कभी मिलेंगे बाहर.

तो वो मान गयी. नेक्स्ट दे वो उसकी मुम्मा को ड्र. के पास चेकिंग करवाने ले गयी आंड मुझे वही बुलाया. मैं बिके से और वो कार से आई, और अपनी मुम्मा को भाई के साथ हॉस्पिटल में छ्चोढ़ कर बाहर आई.

क्या बतौ मैं, क्या माल लग रही थी ब्लू कलर की स्पगेटी और जीन्स में स्कार्फ के साथ. मैं उसकी कार में बैठा, और उसने एक शॉर्ट ड्राइव दी. फिर मैने कहा-

मैं: यार रिया, एक किस तो बनती है.

तो हम दोनो एक सुनसान से रास्ते में रुके. और उसने मुझे एक किस दी. फिर मैने उससे बहुत सारी किस्सस दी, लिप्स बीते किए, देन उसके टॉप के उपर से उसके बूब्स मसले तो वो सिसकारियाँ लेने लगी.

मेरा लंड खड़ा हो गया था. फिर उसका हाथ मैने लंड पर रखा, और वो सहलाने लगी. देन मैने उसके टॉप में हाथ डाला, और उसके बूब्स खूब दबाए. तब तक वाहा कार आ गयी एक, और हमे जाना पड़ा.

जाने से पहले उसने चॉक्लेट्स दी मुझे, आंड चली गयी. फिर 4-5 दिन बातें हुई रात को. सेक्स छत भी हुई एक बार. देन एक बार फिर किसी काम से वो बाहर आई शाम में. आधेरा था, और मैं उसकी कार में बैठा था, और हम फिरसे उसी जगह गये.

वो बहुत जल्दी में थी, तो मैने कहा: चलो बॅक सीट पर चले. देन हमने किस्सस की बहुत सारी. और मैने उसकी लोवर में हाथ डाला और छूट सहलाई. उसने मेरा लंड पकड़ा. फिर उसने कहा “लेट्स हॅव आ क़ुककी बेबी”.

और मैने तुरंत उसकी लोवर उतरी. उसने एक मस्त सेक्सी पनटी पहनी थी. मैने लंड बाहर निकाला, उसके मूह में दे दिया, और उसने चूसना शुरू किया.

फिर मैने कहा: लेट जाओ.

वो सीट पर लेती, बुत बात सी बन नही रही थी, और लंड अंदर नही जेया रहा था स्पेस की वजह से. उसने तोड़ा और चूसा, और मैने उसको सीट पर बिताया, और खुद सामने आ गया. फिर लंड छूट पर रखा और झटका दिया, जिससे तोड़ा लंड अंदर घुसा. वो बहुत ज़ोर से चिल्लाई.

फिर मैने झटका दिया जिससे तोड़ा अंदर घुसा. और उसके बाद चुदाई शुरू. उसी की कार में उसको छोड़ना शुरू किया मैने. जिस लड़की को मैं सिर्फ़ 15-20 दिन से जानता था, वो आज नंगी हो कर छूट दे रही थी.

क्या मज़ा था दोस्तों, मैं ही जानता हू. इतनी सेक्सी लड़की, और उसकी छूट इतनी गरम. फिर चुदाई चल ही रही थी की वाहा पोलीस की कार आई, और हमे भागना पड़ा वाहा से. फिर उसने मुझे छ्चोढा, और घर चली गयी.

यह कहानी भी पड़े  मेरा ब्रिथड़े गिफ्ट


error: Content is protected !!