आइब्राउस बनवाकर बुआ की चुदाई

ही फ्रेंड्स मेरा नाम सन्नी है और मारी आगे 21 यियर्ज़ है आंड मैं एक हेर्डरेसर हू. अब मैं आपको ज़्यादा बोर ना करते हू अपनी स्टोरी पेर आता हू.

मेरी एक बुआ है जिनका नाम सीमा है, और वो 35-36 के फिगर वाली 45 साल की मस्त सेक्सी शादीशुदा औरत है.

ये बात करीब 3 साल पहले की है जब मई हेर्डरेसर का कोर्स सिख रहा था. और उस समय मुझे सिर्फ़ थ्रीडिंग करना ही भोथ आचे तरीके से आता था.

मेरे घर मे जीतने भी लॅडीस है, उन सब की आइब्राउस भी मैं ही बनता था और इसी कारण से वो कही बाहर पार्लर मे अपनी आइब्राउस बनवाने नही जाया करते थे. और अगर कही पार्लर चले भी गये तो सिर्फ़ वॅक्सिंग फेशियल ही करने जाते थे. उनकी थ्रीडिंग बनवाना मुझसे ही पदंड था.

इसी कारण से मेरी बुआ जी को भी मेरे ही हाथो से अपनी आइब्राउस थ्रीडिंग आंड फुल फेस थ्रीडिंग बनवाना पसंद था. मेरी बुआ जी के दो घर है और हमारे घर से 5 केयेम मे है.

तो जब मैं शाम को क्लासस से आया तो आते ही मुझे मेरी बुआ जी का कॉल आया, उन्होने कहा-

बुआ जी: हेलो सन्नी बेटा.

मैं : हन बुआ जी बोलिए?

बुआ जी: क्या तुम अभी अर्जेंट मेरे घर मे आ सकते हो?

मैं: क्यू बुआ जी क्या हुआ?

बुआ जी: बेटा बात ये है की कल ना मुझे मेरे फ्रेंड के यहा शादी मे जाना है तो मेरे आइब्राउस की ग्रोत काफ़ी बढ़ गयी है और मुझे आइब्राउस बनाना था.

मैं: ओक बुआ जी आता हू.

फिर मैने कॉल कट किया और फ्रेश हो कर अपनी गाड़ी से बुआ जी के घर के लिए निकला. और कुछ ही देर मे मैं अपने बुआ जी के घर मे जेया पहुचा. मैने डोरबेल बजाई फिर थोड़ी देर मे बुआ जी ने आके दरवाजा खोला.

जैसे ही उन्होने दरवाजा खोला, मैं तो बस बुआ जी को देखता ही रह गया. क्या मस्त लग रही थी उस दिन बुआ जी. उन्होने पिंक कलर की हाफ गौण भी पहन रखी थी जिसमे उनके बूब्स गांद और बगल के बाल सॉफ सॉफ दिख र्हे थे. शायद उन्होने अंदर ब्रा और पनटी नही पहनी थी. और उनके घर मे उस दिन कोई भी नही था.

तो मुझे देखते ही बुआ जी ने मुझे गले से लगाया. और मैं उनके बूब्स को अपने छाती मे महसूस कर रा था. फिर हम अंदर गये और यहा वाहा की बाते की फिर बुआ जी ने कहा की चलो अभी थ्रीडिंग करना स्टार्ट करते है.

फिर बुआ जी मुझे सबसे अंदर के रूम के लेकर गयी और वाहा वो चेर मे बैठ गयी. मैने अपनी बाग खोली और उसमे से तेल्लकोमे पाउडर निकाला और बुआ जी के आइब्राउस मे लगाया और थ्रीडिंग करना स्टार्ट किया.

मैने बुआ जी उनकी आइब्राउस स्ट्रेच करने के लिए कहा तो उन्होने वैसा ही किया. और उनके दोनो हाथ उपेर होने के वजह से उनके बगल के बाल और उनके बूब्स आचे तरहा से दिख र्हे थे. तो मेरा लंड एकद्ूम से खड़ा हो गया और शायद उन्होने इस बात को नोटीस कर लिया था.

उसके बाद वो जान बुझ कर गर्मी का बहाना कर के अपने बूब्स दिखा रही थी. और मेरे पेंट के अंदर का खड़ा लंड देख रही थी. अब बातो ही बातो मे उनकी आइब्राउस बन के तैयार हो गयी. उनकी आइब्राउस बनाने के बाद उनका चेहरा काफ़ी सेक्सी ल्ग रा था.

फिर उन्होने कहा की सन्नी बेटा ज़रा अप्पर लिप्स भी थ्रीडिंग कर दो ना. तो मैने हन कह कर काम चालू कर दिया और बुआ मुझसे बात कर रही थी. और मुझे बुआ के मूह की बाज़ भी आ रही थी. तो मैने उन्हे इस बारे मे कुछ नही कहा क्यू की वो बुरा मान जाएगी इसलिए.

उसके बाद उनके अप्पर भी बन गये. अब बुआ जी बोली के सन्नी बेटा मैं कल शादी मे हाफ़ ब्लाउस और सॅडी पहन के जाौगी. तो मेरे बगल के बाल भी काफ़ी बढ़ गये है तो इसे भी निकल्डो प्लीज़…

मैने हन कह के अपने बेग से शेविंग कीट निकली और उनके बगल मे क्रीम लगाना स्टार्ट किया. बगल मे से भी भोथ गंदी बदबू आ रही थी.

फिर मैने जैसे तैसे कर के की बगल शेविंग करी और अब मुझे उनके बगल और चेहरा पूरा चिकना लगने लगा. और मेरा लंड तो खड़ा ही था. ये सब देख कर बुआ जी ने मौके फयडा उठाया. और कहा बेटा एक बात काहु बुरा तो नही मानेंगा ना?

मैने कला नही बुआ जी आप कहिए.

बुआ जी: सन्नी प्लीज़ मेरी छूट के बाल भी निकल दो प्लीज़.

इतना कह के इन्होने अपनी गौण उपर कराई और अपनी छूट दिखाई. और मुझसे भी रहा नही गया. मैने तुरंत ही बुआ जी को गोद मे उठाया और बेड पे लिटाया. फिर उनका गौण उपर कर दी और शेविंग करना स्टार्ट कर दी.

अब बुआ जी की सेक्सी छूट मेरे सामने थी और पूरी क्लीन चका चक थी. तो मुझसे रा नही गया और मैने उन्हे सॉरी कहते हुए उनके उपर चाड गया. और अपना मूह उनके मूह मे डालते हुए किस करने ल्गा.

उनके मूह की बदबू भी आ रही थी. फिर मैने अपना लंड निकाला और बुआ जी की छूट मे तोड़ा थूक ल्गा कर डाल दिया. उतने मे बुआ जी चीलाई और बोली सेयेल तर्की इतनी ज़ोर से कोई छूट मे लंड डालता है क्या! तोड़ा आराम से छोड़ सेयेल तर्की!

मैने उनकी एक ना सुनी और छोड़े ही जेया रा था. इतने मे बुआ जी की छूट से ब्लड निकला और सफेद पानी निकाला और वो झाड़ गयी. पर मैने भी हार नही मानी और बुआ जी को उठाया और पेट के बाल लिटाया और उनको डॉगी स्टाइल मे होने को कहा. वो भी मेरा फुल सपोर्ट कर रही थी और झट से कुटिया बन गयी.

फिर मैने अपने हाथ से बुआ जी की गांद मे थप्पड़ मार मार के लाल कर दिया और बुआ जी रो रही थी. उसके बाद मैने अपना लंड का सूपड़ा बुआ जी की गांद मे सेट किया. और मेरा 8 इंच का लंड बुआ जी की गांद मे तेज़ी से डाला जििसे वो ज़ोर से चीलाई.

मैने और रफ़्तार से उनकी गांद मारना चालू किया. फिर मैं झड़ने ही वाला था और उतने मे ही झाड़ गया. और जब मैने बुआ जी की गांद से अपना लंड नीलक़ा तो देखा की मेरा लंड गू से पूरा भरा हुआ है.

वो देख कर मुझे गुस्सा आया और मैं बुआ जी के उपर छिललने ल्गा. इतने मे बुआ जी ने मुझसे कहा की तुमने मेरी गांद के उपर इतने ज़ोरो से थप्पड़ मारा की मुझे संडास आ गई थी. और तुमने मेरी एक ना सुनी और गांद मारने लग गये.

फिर मैने उसे झुकाया और उसके बाल पकड़ के अपना गू से भरा लंड उसके मूह मे डाल दिया. वो निकालने की कोशिश करने ल्गी और मैने उसके मूह को छोड़ना स्टार्ट किया और मैं उसके मूह के अंदर ही झाड़ गया.

उसके बाद बुआ जी बाथरूम मे गयी और फ्रेश हो कर आई. फिर मुझसे कहने लगी की सन्नी बेटा थॅंक योउ मेरी प्यास बुझाने के लिए. क्यू की तुम्हारे फूफा जी का तो अभी उठता भी नही.

मैने उसको कहा की आप टेन्षन मत लो अब मैं आपकी हर बार चुदाई करूँगा. अब उस समय के बाद सीमा बुआ जी भोथ बदल गयी है और मुझसे बहोट फ्रॅंक है.

अब मैने उनका नाम सीमा तर्की रा है. जब भी माओका मिलता है मैं सीमा तर्की की चुदाई बड़े इतमीनान से कर के आता हू.

यह कहानी भी पड़े  चेन्नई एक्सप्रेस में चूत से मुलाकात

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!