एक मा के रंगे हाथ पकड़े जाने की सेक्सी कहानी

हेलो दोस्तों, आज मैं आप लोगों के लिए एक और नयी और मज़ेदार मा बेटे की चुदाई की स्ट्रॉय लेके आई हू. रीसेंट्ली मदर’स दे गया है. तो ये स्टोरी उन बिटो के लिए है, जो मा को छोड़ने के लिए तड़प रहे है.

आज मैं अपनी इंट्रो नही दूँगी क्यूंकी आज की स्टोरी मैं सिर्फ़ नॅरेट करूँगी. इस स्टोरी में मेरा कोई रोल नही है. तो इस कहानी के मैं कॅरेक्टर्स की इंट्रो से ही शुरू करती हू.

ये कहानी है अनुपमा और उसके बेटे राहुल की. अनुपमा एक हाउसवाइफ है आगे 40+, पर शरीर अभी भी मानो 35 का है. 34ब-28-36 फिगर है, हफ्ते में 3 दिन जिम जो जाती है, काफ़ी गोरा शरीर है. और फेस मानो जैसे उसका मूह सिर्फ़ लंड का रस्स माँगता है.

कुछ-कुछ तमिल आक्ट्रेस स्नेहा जैसी है. उसका बेटा राहुल 20 साल का है. उसका पति नीतीश एक इट फार्म में मॅनेजर है. अब आते है स्टोरी पर.

अनुपमा अपने 4 फ्रेंड्स रेणुका, सोनाली, सोहिनी और शिल्पा के साथ बैठी थी एक रिज़ॉर्ट में, स्विम्मिंग पूल के बगल में.

रेणुका: तुम लोगों को तो मैं पहले ही बता चुकी हू, की मेरा पति मेरी सेक्षुयल नीड्स को बिल्कुल भी पूरी नही कर पाता. तो कुछ दिन पहले सुबा उसके ऑफीस जाने के बाद मैं अपने नेबर के एक लड़के से छुड़वा रही थी. पर वो एक फाइल घर पे भूल गया था, तो लेने वापस आया था. और तब उसने हम दोनो को बेडरूम में सेक्स करते हुए पकड़ लिया.

सोनाली: ऑम्ग! उसने कुछ कहा नही तुम्हे?

रेणुका: वही तो असली बात है. थोड़ी देर पेशंट्ली सुनो मेरी बात.

अब मेरा पति तो बहुत ही गुस्सा हो गया. पर तुम लोग जानते ही हो वो मुझे कितना प्यार करता है. फिर हम बैठ के सारी बात डिसकस किए. और फिर वो समझ गया की मेरी भी सेक्षुयल नीड्स है, जो वो पूरी नही कर पाता.

शिल्पा: फिर?

रेणुका: फिर क्या, वो राज़ी हो गया. अब मैं जब चाहु जिससे चाहु अपनी सेक्षुयल नीड्स पूरी कर सकती हू. उसको कोई प्राब्लम नही है. बस मैं उसको छ्चोढ़ के ना जौ.

अनुपमा: तो अब तुम दोनो एक-दूसरे को पहले जैसा प्यार नही करते क्या?

रेणुका: लोवे और लस्ट अलग-अलग चीज़ है बेबी. हम एक-दूसरे को पहले जैसा ही प्यार करते है. पर मैं अपनी लस्ट कही और से पूरी करती हू.

अनुपमा: काफ़ी अची अंडरस्टॅंडिंग है तुम दोनो के बीच में.

रेणुका: हा. हे इस थे बेस्ट हज़्बेंड ई कुड एवर अस्क फॉर.

शिल्पा: काश मेरे पति इतने अंडरस्टॅंडिंग होते, तो मुझे चोरी च्छूपे अपनी नीड्स पूरी नही करनी पड़ती.

सोनाली: इसीलिए तो मैं सिंगल हू. जब जिससे चाहु सेक्स कर सकती हू.

तभी एक 24-25 साल का एक लड़का सोनाली के पास आया और उसके होंठो पे एक किस करते हुए बोला-

लड़का: अर्रे शुगर मम्मी, आप इधर? आंड हू अरे दीज़ ब्यूटिफुल लॅडीस?

सोनाली: अंकित तुम यहा. वॉट आ प्लेज़ेंट सर्प्राइज़. मैं तो अपनी फ्रेंड्स के साथ आई हू.

अंकित: प्लेषर इस ऑल मिने मेडम. मैं इस रिज़ॉर्ट में काम करता हू. ठीक है मेरी शिफ्ट का वक़्त हो रहा है. चलता हू. सॅड्ली पूल साइड में मेरी ड्यूटी नही है. और अंकित चला गया.

रेणुका: शुगर मम्मी ह्म!

सोनाली: ई टोल्ड योउ गाइस तट ई फक्ड आ यंगर गाइ. हे इस तट गाइ.

शिल्पा: तुम्हे तो यंग लड़के हमेशा ज़्यादा पसंद है. नॉटी गर्ल.

ऐसे ही इधर-उधर के बातें करते वो लोग अपना टाइम स्पेंड करने लगे. रात को अनुपमा अपने बेड पे बैठ के टीवी देख रही थी, की तभी कार की आवाज़ आई. कुछ देर बाद नीतीश रूम में आया. और आते ही अनुपमा ने जाके उसको एक हग किया, और बोली-

अनुपमा: ई’वे बिन वेटिंग फॉर योउ तो गेट होमे ऑल ईव्निंग.

नीतीश: ई नो, सॉरी हनी, मुझे कुछ इंपॉर्टेंट मीटिंग्स अटेंड करनी थी, इसलिए लाते हो गया.

अनुपमा एक पिंक शॉर्ट्स और एक पिंक सॅटिन कमी टॉप पहनी थी.

नीतीश: बाइ थे वे, योउ अरे लुकिंग गॉर्जियस बेब!

अनुपमा: रियली? आज ही खरीदा है,

नीतीश: ह्म, आज रात बहुत ही हसीन होने वाली है.

अनुपमा: बुत पहले तुम नहा लो, मैं डिन्नर सर्व करती हू.

ये बोल कर अनुपमा एक लोंग सॅटिन पुल ओवर चढ़ा कर निकल जाती है, और सीडी के सामने से आवाज़ लगती है क्यूंकी राहुल का रूम उपर 1स्ट्रीट फ्लोर में है.

अनुपमा: राहुल, डिन्नर लग चुका है, जल्दी आ जाओ.

फिर वो किचन में जाके फ्रिड्ज से खाना निकाल के गरम करने लगी. कुछ मिनिट्स बाद राहुल पीछे से आके अनुपमा को एक हग करता हुए बोला-

राहुल: आज डिन्नर में क्या है मम्मी?

अनुपमा: चिकन और रोटी. अब छ्चोढ़ मुझे खाना गरम करने दे. वरना ठंडा ही खाना पड़ेगा.

राहुल जाके डिन्निंग टेबल पे बैठ जाता है, और मॅन ही मॅन सोचता है-

राहुल (मॅन में): आपके टच से आपका अपना बेटा गरम हो जाता है, तो खाना क्या चीज़ है मम्मी.

हा, सही समझे आप लोग. आप लोगों की तरह राहुल भी मदारचोड़ बनने का सपना देखता है, और क्यूँ ना देखे, इतनी हॉट जो है अनुपमा. उसने तो अनुपमा के रूम और बातरूम में हिडन कॅमरा भी लगा रखा है. उसके फोन में प्राइवेट फोल्डर में अनुपमा के न्यूड्स भरे पड़े है, जो चोरी च्छूपे लिए गये है.

कुछ देर बाद नीतीश भी आके टेबल पे बैठ जाता है. फिर सब मिल के डिन्नर करते है, इधर-उधर के बातें करते हुए. थोड़ी देर बाद डिन्नर ख़तम करके नीतीश बेडरूम में था. तभी अनुपमा आके दरवाज़े पर सेक्सी स्टाइल में खड़ी हो जाती है, और अपना पुल ओवर उतार फेंकती है.

अनुपमा: मी पुसी इस बर्निंग बेब.

नीतीश एक नॉटी स्माइल देके अपना फोन साइड टेबल पे चार्जिंग पे लगा देता है.

अनुपमा आके नीतीश को धक्का देके नीतीश को बिस्तर पे लिटा देती है, और वो नीतीश के उपर बैठ के बोलती है

अनुपमा: अब अपना चारजर मेरी चार्जिंग पोर्ट में डाल दो डार्लिंग.

ये बोल के वो नीतीश का बॉक्सर निकाल देती है, और अपनी शॉर्ट्स भी. उसने पनटी नही पहनी थी. फिर अपनी छूट नीतीश के लंड पे रगड़ने लगती है.

अनुपमा: उउँंह डार्लिंग, और इंतेज़ार नही हो रहा.

ये बोल के उसने नीतीश का 5.3 इंच का लंड अपनी छूट में डाल लिया.

नीतीश: आअहह डार्लिंग, बहुत गरम है तुम्हारी छूट. आज बहुत ज़्यादा हॉर्नी हो.

अनुपमा: आआहह उउम्मह आह आअहह, हा बेबी, बहुत हॉर्नी हू आज मैं. सुबा से हमने सेक्स नही किया. उउउंम आह ह.

ऐसे ही 5 मिनिट नीतीश से छुड़वाने के बाद.

नीतीश: आअहह बेबी, मेरा होने वाला है.

अनुपमा: कुछ देर और हनी. बस कुछ मिनिट्स और आअहह आअहह.

नीतीश: आहह उउउंह.

और नीतीश झाड़ गया.

नीतीश: ई लोवे योउ बेबी

अनुपमा (उदास होते हुए): ई लोवे योउ टू बेबी.

नीतीश: इट वाज़ फन. आज बहुत मज़ा आया. हाउ अबौट योउ?

अनुपमा: हा मुझे भी बहुत मज़ा आया. गुड नाइट बेब.

नीतीश: गुड नाइट.

अनुपमा मॅन ही मॅन सोची आज फिर डिल्डो से ही काम चलना होगा, हा. फिर अनुपमा लाइट ऑफ करके सो गयी. और ये सब होते हुए देख रहा था राहुल अपने लॅपटॉप में. आधे घंटे में नीतीश खर्राटे लेने लगा, और अनुपमा उठ के किचन में गयी, और उपर वाले रॅक से एक ब्लॅक डिल्डो निकाल के काउच पे आके अपनी शॉर्ट्स उतार दी.

फिर वो अपनी छूट में एक हाथ से डिल्डो रगड़ने लगी, और साथ में दूसरे हाथ से अपने टॉप के उपर से ही बूब्स दबाने लगी. शी वाज़ वेरी हॉर्नी रिघ्त नाउ. वो अपनी छूट में डिल्डो डालने लगी और मोन करने लगी.

अनुपमा: अया आअहह उउउंम ऊऊहह अयाया.

वो ज़ोर-ज़ोर से अपनी छूट छुड़वा रही थी. तभी कुछ ऐसा हुआ जिसकी उसने उम्मीद नही की थी. अचानक लिविंग रूम की लाइट्स ओं हो गयी.

राहुल: मम्मी? वॉट थे हेल अरे योउ डूयिंग?

अनुपमा: राहुल तू यहा, इस वक़्त? तुझे तो अब तक सो जाना चाहिए था.

अनुपमा मॅन ही मान सोचने लगी: क्या उसने मुझे डिल्डो के साथ चुदाई करते देखा? अब मैं इसको, अपने ही बेटे को कैसे समझोउ. इट’स सो एंबॅरसिंग.

राहुल: मैं सो रहा था, लेकिन मुझे प्यास लग रही थी, और मेरा रूम का जुग खाली है, तो पानी लेने किचन में जेया रहा था. तभी मुझे आपकी मोनिंग की आवाज़ आई.

इतने में राहुल काउच के सामने आ चुका था, और वो पूरी तरह शॉक्ड था. क्यूंकी उसकी मा उसके सामने आधी नंगी बैठी थी, और उसकी छूट में एक डिल्डो था. भले ही उसने च्छूप-च्छूप के अपनी मा को नहाते हुए कपड़े बदलते हुए देखा हो, पर डिल्डो उसने एक्सपेक्ट नही किया था.

उसको पता ही नही था की अनुपमा डिल्डो उसे करती थी. इधर अनुपमा राहुल की आवाज़ से बहुत शॉक्ड हो गयी थी, इसलिए वो खुद को ढकना भूल गयी थी.

राहुल: आप नंगी क्यूँ हो? और क्या है डिल्डो है आपकी छूट में?

अनुपमा जल्दी से अपनी छूट को एक पिल्लो से कवर करते हुए बोली-

अनुपमा: इधर मत देख. तू जेया यहा से. मैं मा हू तेरी.

राहुल आज तक मौका ढूँढ रहा था अपनी मा को छोड़ने का. पर उसको कभी सही तरीके से चान्स ही नही मिला. पर आज उसने अपने मा को डिल्डो से चूड़ते हुए पकड़ा था. और ये मौका वो हाथ से जाने नही देने वाला.

तो क्या वो मदारचोड़ बनने में सफल हुआ? ये जानने के लिए पढ़िए नेक्स्ट पार्ट. जो बहुत ही जल्दी आने वाला है. स्टे ट्यूंड. और अपना ओपीनियन कॉमेंट्स में ज़रूर शेर करना.

यह कहानी भी पड़े  रंडी बीवी बायसेक्सुअल पति


error: Content is protected !!