Dost Ki Bivi Ki Pyari Chut Ka Nasha- Part 1

मेरा नाम जयदीप है, मैं अहमदाबाद का रहने वाला हूँ। मैं 25 साल का नौजवान हूँ, बॉडी थोड़ी मध्यम है।
वैसे तो यहाँ पर शराब पर प्रतिबंध है.. पर शराब ने ही मुझे प्यार दिलाया।

शराब पीना हानिकारक है.. यह याद रखिएगा।

अब मैं अपने साथ घटी हकीकत पर आता हूँ।

मेरा एक दोस्त है, उसका नाम राजेश है। वो मेरे साथ ही आईटी कंपनी में जॉब करता है। उसकी शादी 2 साल पहले हो चुकी है।
पर उसे शराब पीने की आदत है।
मैं भी पीता हूँ पर थोड़ी ही।
हम दोनों अक्सर उसके घर शराब पीते हैं।

दोस्त की सेक्सी और प्यारी बीवी
उसकी बीवी का नाम तनु है.. दिखने में वो माल लगती है, उसका फिगर 36-26-36 का है। उसे कोई भी एक बार देख ले तो उसी दिन मुठ मारेगा.. यह मेरा दावा है।

मैंने कभी उसे बुरी नजर से नहीं देखा.. पर धीरे-धीरे मेरा नजरिया बदल गया क्योंकि मैं हफ्ते में 3 या 4 बार उनके घर पीने जाता था। लेकिन वो एक पतिव्रता थी।

एक दिन मैं उसके घर रोज की तरह शराब पीने गया। पर उस दिन मेरे दोस्त की उसकी बीवी से अनबन चल रही थी।

मैं बोला- क्या हाल है दोस्त.. आज तेरी क्यों लग रही है।
तनु बोली- पूरा दिन काम और रात को शराब पीते हैं।

राजेश- क्या यार, रोज-रोज एक ही बात पर शोर मचाती हो। अब दोस्त के सामने भी मेरी बेइज्जती करने लगी। मैं पीता हूँ.. तो तेरा क्या जाता है।
तनु- तुमको जो करना है करो.. मैं तो काम निपटा कर सोने जाती हूँ.. तुम नहीं सुधरोगे।

यह कहानी भी पड़े  अनजान युवा लड़की की ट्रेन में चुदाई

जब वो वहाँ से उठ कर गई तो काफी सेक्सी लग रही थी। उसने ब्लू कलर की साड़ी पहनी थी। मुझे ऐसा लगा कि कोई जन्नत की हूर आ गई हो।

वो काम करने लग गई और मेरे दिमाग में तभी एक शैतानी आईडिया आया। हम दोनों शराब पीने लगे और राजेश गुस्से में ज्यादा शराब पीने लगा। मैं थोड़ी-थोड़ी करके कम पीता रहा और उसे ज्यादा पिलाता गया।

वो नशे में आ गया और अनाप-शनाप बोलने लगा।

तभी मैंने देखा कि तनु सोने चली गई।

मैंने एक बड़ा पैग बनाया और बोला- ले ये पी ले.. ऐसा तो चलता रहता है।
वो पैग पीते ही नशे में धुत्त होकर टेबल पर ही गिर पड़ा और सो गया।

फिर मैं तनु के कमरे में गया.. वो सो रही थी और दरवाजा खुला ही था, शायद उसने राजेश के लिए खुला रखा था।
कमरे की लाइट ऑन थी।

सोते हुए वो बहुत मस्त लग रही थी।

भाभी को चोदने की अभिलाषा
मैं उसके पास गया और लेट गया.. लेकिन उसने मुझे देखा नहीं.. क्योंकि उसका मुँह उस तरफ था। मैंने उसके खुले पेट के उपर हाथ रख दिया.. तो मानो मेरे अन्दर करंट लग गया।

इतने में तनु जग गई और चौंक गई और बोली- यह आप क्या कर रहे हैं.. शर्म नहीं आती आपको?
मैं बोला- भाभी, आपका पति आपको जो नहीं देता वो मैं दे देता हूँ। रोज वो शराब पी कर आप जैसी सुन्दर और सेक्सी बीवी को प्यार न करे.. तो वो किस काम का।

फिर मैं उसके पेट पर हाथ फेरने लगा.. पर उसने मेरा हाथ हटा दिया और बोली- यह गलत है.. मैं ऐसा नहीं कर सकती।

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की चुदासी चूत की कहानी

मैं बोला- इसमें कुछ गलत नहीं है। मैं आपसे प्यार करता हूँ भाभी और आपको संतुष्ट करूँगा। जो राजेश नहीं दे पाया.. वो मैं आपको दूँगा।

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!