बीवी के हज़्बेंड को औरत बनाने की कहानी

हेलो दोस्तों,

जैसे की आपने पहले पार्ट में पढ़ा, की कैसे मेरी बीवी निशा और मैं क्लोज़ हो रहे थे. कैसे मेरी निशा को मैं होटेल में ले जाता था. और कैसे मेरी वाइफ ने मुझे टॅब्लेट्स दी, और मेरी बॉडी चेंज हो रही थी. अब मेरा बर्तडे आ रहा था.

मेडिसिन्स और वर्काउट से मेरी बॉडी स्लिम हो गयी थी. लेकिन गांद पीछे से मोटी हो गयी, और बूब्स आए थे. हॅंड्ज़ छ्होटे हो गये थे, हेर ऑलमोस्ट चले गये थे. मेरी वॉक भी बदल गयी थी.

बर्तडे से 3 दिन पहले सबको बताया मैने की ई आम गोयिंग तो उस फॉर 6 मंत्स काम से, और निशा यही रहेगी. मेरे बर्तडे के दिन से 2 दिन पहले मेरी वाइफ ने बोला-

निशा: रेशमा बेबी, चलो एक टेलर के पास जाना है. कुछ स्टिचिंग करनी है टुमरी.

मे: रेशमा बनू या आशीष डार्लिंग?

निशा: जो बनना है बनो, हो तो आप हिजड़े ही ना.

और वो हस्सी.

मे: नोट फेर निशा.

निशा (हेस्ट हुए): गुस्सा हो गयी मेरी डार्लिंग? चलो ना अब.

मैने जाके एक लूस त-शर्ट और पंत, और साथ में ब्रा और पनटी पहन ली. फिर हम टेलर की शॉप पर पहुँचे. वाहा पर एक बुद्धा माले टेलर था, जिसका नाम वेसिम था. उसके साथ 4 लॅडीस थी 30-35 साल की.

निशा: वेसिम चाचा कैसे है आप? ये देखो इनकी मेषर्मेंट्स लेनी है.

वेसिम चाचा हासणे लगे और बोले: ये आदमी है या औरत?

सब लॅडीस भी हासणे लगी. निशा भी हस्सी रोक नही पाई.

वो बोली: आप खुद ही देख लो. वेसिम चाचा: यहा आओ.

मैं उनके पास गया.

वेसिम: ये इतना लूस पहना है, इसको निकालो.

मे: नही-नही, मुहज़े शरम आ रही है.

निशा बोली: अर्रे क्या शरमाना? हम सब लॅडीस ही है.

फिर मैने शर्ट निकली. अंदर ब्रा और बूब्स देख के सब सर्प्राइज़ हुए, और स्माइल करने लगे. मैं नीचे देख रहा था. मुझे कुछ पता चलता उससे पहले वेसिम चाचा ने मेरी पंत और पनटी नीचे खींच दी.

मैने अपने हाथ से नून्न्ी छुपाने की कोशिश की. सब हस्स रहे थे, और बोले हाथ साइड करो जल्दी. वेसिम ने मेरा हाथ पुल किया, और सबको मेरी लुल्ली दिखने लगी. सब ज़ोर-ज़ोर से हासणे लगे. एक-दो लॅडीस पिक्स लेने लगी. ये सब देख कर मेरी लुल्ली लीक हो गयी.

मैने अपने हाथ च्चूधा के पंत उपर की, और शरम से नीचे देख रहा था.

वेसिम हेस्ट हुए बोला: क्या बोले ऐसे इंसान को?

लॅडीस हस्स रही थी. मैं रोने लगा, तो निशा बोली-

निशा: चलो आप मेषर्मेंट्स लो.

वेसिम ने बोला: ये तुम्हारा पति है ना?

निशा ने हेस्ट हुए हा बोला, और वेसिम ने मुझे थप्पड़ मारा, और मेषर्मेंट्स लेने लगा. ब्लाउस के लिए निशा ने बॅकलेस ब्लाउस बोला, और एक छ्होटी चोली और शॉर्ट घग्रा के लिए मेषर्मेंट्स लेने बोला.

वेसिम: एक-दूं मस्त माल बनेगी ये.

सब लॅडीस हस्स रही थी, और मेरी तरफ देख रही थी. मेषर्मेंट्स देने के बाद मैं गुस्से में घर पहुँच गया, और निशा शॉपिंग गयी. अब मेरा बर्तडे का दिन आया.

सुबा निशा ने बोला: चलो आज से तुम फुल टाइम रेशमा हो. आज से तुम आशीष कभी नही बनॉगे.

मैं शॉक्ड था.

निशा बोली: आज का फर्स्ट टेस्ट में बहुत मज़ा आएगा.

मैने पूछा: कैसा टेस्ट?

निशा के बोला: अची लग रही हो आज. वॅक्स कल किया इसलिए. पहले जाओ नहा के आओ रेशमा.

मैं नहा के आया तो पूरी बॉडी को क्रीम लगा दी. फिर निशा ने विग कॅप दिया. मैने पहना तो निशा बोली-

निशा: बहुत एक्सपेन्सिव विग लाई हू तुम्हारे लिए.

ई स्माइल्ड. फिर मैने बेड पे देखा ब्लाउस और सारी थी ब्रा पॅंटीस के साथ. मैं खुशी से स्माइल देने लगा. पिंक कलर की सारी थी, और लाइट क्रीम कलर का ब्लाउस डीप नेक वाला, और पीछे से बॅकलेस. मैं ब्रा पहनने लगी, तो निशा बोली-

निशा: अर्रे पगली, ये ब्लाउस में ब्रा नही पहनते. देखो कप है सामने.

मैं हस्सी, और ब्लाउस पहनने लगी. निशा मेरे पीछे गयी, और हुक लगा दिया. फिर मैने पनटी और पीटिकोआट पहना. उसने मुझे बिताया और मेरा मेकप किया. फिर उसने मुझे 24-24 चूड़ियाँ दी दोनो हाथो के लिए, और 1-1 गोल्ड बंगले भी दी दोनो हाथो के लिए.

उसके बाद उसने मुझे एक नेकलेस दिया, और साथ में लोंग इयररिंग्स भी दिए. वो सब पहनने के बाद उसने मुझे सारी पहनाई. मैं विश्वास नही कर पा रही थी, की मैं कैसे लग रही थी. मैं बहुत खुश थी. जब मैं खड़ी हुई तो निशा बोली-

निशा: देखो आज से तुम रेशमा हो, मेरी डोर की सिस्टर. कंप्यूटर प्रोग्रामिंग करती हो. तुमको सुनाई देता है, लेकिन बोल नही सकती. तो किसी के सामने तुमको कुछ नही बोलना है. समझी?

मे: मतलब मैं गूंगी हू, लेकिन बहरी नही.

निशा: हा बिल्कुल सही. आटिट्यूड में रहो, जैसे मैने बोला है. अब टेस्ट टाइम रेशमा.

मे: जी मेडम बताओ.

निशा: रेशमा आज तुम्हारा बर्तडे है. आशीष का और तुम्हारा बर्तडे सेम दे पे आता है, और आशीष हर बर्तडे अपनी मौसी का आशीर्वाद लेने जाता है. लेकिन वो तो नही है. पर तुम आशीर्वाद लो उनसे.

मे (शॉक्ड): अरे योउ क्रेज़ी निशा?

निशा: चलो, नही तो सब को बता दूँगी तुम कों हो.

मे: योउ अरे ब्लॅकमेलिंग मे. अब मुझे आना ही पड़ेगा.

निशा: अब तुम नही मानोगे तो क्या करूँगी.

और उसने स्माइल की. फिर हम नीचे आए, और निशा ने मुझे नेबर से मिलवाया आस रेशमा.

उसने कहा: बेचारी बोल नही सकती.

नेबर मे मुझे स्माइल दी, और बोला: सुंदर है आपकी बेहन.

फिर हम कार में बैठे, और वो मौसी के घर चल पड़ी. कार में मैं सोच रही थी, की मैं कितनी लकी थी, की मेरा सपना पूरा हो रहा था. अब मैं और निशा सिस्टर्स थे.

फिर हम मौसी के घर पहुँच गये. मुझे दर्र लग रहा था.

निशा ने कहा: लंबी साँस लो, और विश्वास बनाए रखो.

और उसने बेल बजाई. मौसी के पति ने दरवाज़ा खोला.

उन्होने कहा: अर्रे निशा, आओ-आओ.

मैं उसके पीछे गयी.

निशा: अंकल ये रेशमा है. मेरी सिस्टर है. बेचारी बोल नही सकती, लेकिन सब सुन सकती है. आज इसका भी बर्तडे है. मैने सोचा मौसी से आशीर्वाद लेलू.

मौसी आई और बोली: अछा किया. आओ रेशमा बेटी.

मैने मौसी के पैर छुए, और अंकल के भी. उन्होने आशीर्वाद दिया. मौसी बोल रही थी काफ़ी सुंदर है तुम्हारी सिस्टर. मैने शर्मा कर नीचे देखा, और हमने कुछ स्नॅक्स खाए.

वो लोग बातें कर रहे थे, और मैं सुन रही थी. वापस जाते हुए मौसी मे मुझे 500 रुपय दिए, और मेरे माथे पर कुमकुम का टीका लगा दिया.

वो बोली: आते रहना बेटी. इसके लिए रिश्ता ढूँढे क्या निशा?

निशा हासणे लगी, और बोली: देखेंगे मौसी.

और हम वाहा से निकल गये. मैं जैसे ही कार में बैठी, मेरे पसीने छ्छूट रहे थे. निशा ज़ोर-ज़ोर से हासणे लग गयी. हम घर पहुँचे, और लंच करके रेस्ट की.

4 बजे निशा ने कहा: चलो रेडी हो जाओ, हमे कही जाना है.

मैं कन्फ्यूज़ थी. फिर मैं नहाई, और आ गयी.

निशा: ये पहनो.

ये एक बिना बाजू की फ्रॉक थी, बार्बी डॉल टाइप. फिर उसने मेरा मेकप किया, और मुझे नचलसे और इयररिंग्स दिए. मैने फ्रॉक पहनी, तो वो मेरी नीस तक थी, और बहुत प्यारी लग रही थी.

मे: निशा बुत वेर अरे वी गोयिंग?

निशा: पेशियेन्स रखो बेबी.

फिर हम एक बड़े से क्लब पहुँच गये. हम अंदर गये, तो बेलून्स फूटने लगे, और तकरीब 20 लड़कियाँ बोली “हॅपी बर्तडे रेशमा!”

मैं बहुत खुश हो गयी. फिर 4 लड़कियाँ मुझे अंदर लेके गयी जहा केक था. वो केक लंड की शेप का था, और नीचे टटटे बने हुए थे. सब लोग मेरा नाम बोलने लगे. मैने निशा की तरफ देखा.

उसने कहा: मज़े करो.

फिर मैं झुकी, और उस लंड को चूसना शुरू कर दिया. मैने उस लंड को काटा जिससे सबको मज़ा आया. लड़कियाँ इसकी वीडियो बनाने लगी, और सब बड़े लंड के बारे में डिसकस करने लगी.

कुछ टाइम में 3 लड़कियाँ मेरे पास आई, और बोली: बर्तडे गर्ल ने रूल्स फॉलो नही किए.

मैं हैरान हो गयी, और मैने निशा की तरफ देखा. रूल ये था की पात्रती करने के टाइम पनटी नही पहँनी थी, और मुझे अब इसकी सज़ा मिलने वाली थी. मैं दर्र गयी.

फिर एक लड़की बोली: तुम्हे यहा पनटी उतारनी पड़ेगी. और फिर उसको बाहर खड़े वॉचमन को देना होगा. और क्यूंकी तुम बोल नही सकती, तो उसको लिख कर बोली, की तुम जाते वक़्त पनटी ले जाओगी.

ये बहुत ही बेइज़्ज़ती वाला काम था, लेकिन मैने किया. और वो वॉचमन हस्स रहा था. फिर सब डॅन्स करने लगे. वाहा पर कुछ सिंगल लड़के थे, जो डॅन्स कर रहे थे.

फिर एक लड़के ने मेरा हाथ पकड़ लिया. फिर उसने मेरे साथ डॅन्स किया, और मुझे बहुत किस किए. मैने देखा निशा भी लड़कों के साथ फ्लर्ट कर रही थी. बहुत मज़े की रात की. फिर हम लाते नाइट घर गये, और बाद में मैने 3 अजनाबीयों के लंड चूज़.

हमारी लाइफ ऐसे ही मज़े में चल रही थी, इससे पहले की निशा मेरा फाइनल टेस्ट लेने वाली थी. वो फाइनल टेस्ट आपको अगले पार्ट में पता चलेगा.

कहानी को लीके करे अगर अची लगी हो तो.

यह कहानी भी पड़े  पत्नी के दिल में दूसरे मर्द के लिए प्यार जगाने की कहानी

error: Content is protected !!