आंटी ने खिलाई आइस क्रीम

हाय दोस्तो मेरा नाम रोहन है मैं जमशेदपुर का रहने वाला हू मैं 22 साल का हू दिखने में एवरेज बट हा मेरा लॅंड 6′ का लंड है जो बहुत मोटा है एंड यह मेरी सच्ची सेक्स स्टोरीस इन हिन्दी है जो मेरे साथ हुई है, एक बात तो है आंटी और भाभी को चोदने में जो मज़ा है वो लड़कियों में नही.

चलो मैं अब सीधे कहानी पे आता हू, हमारे घर के बगल में एक आंटी रहती थी उनका नाम कविता था और उनकी उमर उनकी कमर जितनी थी आई मीन वो 35 साल की थी दिखने में एकदम माल थी.

और जब वो ब्लॅक सारी पहनती थी वो एकदम सोनाक्षी सिन्हा लगती थी मन करता था अभी चोद दू, उनका फिगर 36-34-37 उन्होने मुझे बाद में बताया.

गर्मी का मौसम था और मैं छुट्टियों में घर आया हुआ था, पापा ऑफीस गये हुए थे और मम्मी बाज़ार गई हुई थी और मैं घर पर अकेला था, दोपहर का समय था और मैने देखा कविता आंटी अपने घर पर कपड़े धो कर उन्हे सूखा रही है वो पूरी गिल्ली है और उनकी चुचियाँ और गॅंड देख कर मुझे मन कर रहा था उन्हे पटक कर चोद दू.

मैने मन बना लिया था की आज तो उन्हे चोदुन्गा, मगर कैसे, ??? तो मैने सोचा चलो आंटी के घर जाते है तो मैने वैसे ही बॉक्सर्स और वेस्ट में आंटी के घर चला गया और बेल बजाई, आंटी ने दरवाजा खोला और बोली रोहन तू है बोल क्या हुआ??

मैने बोला आंटी घर में कोई नई है और हमारे घर का टीवी भी खराब है और मुझे बोर मार रहा है क्या में आपके यहा टीवी देख लू, तो आंटी ने बोला अरे अच्छा हुआ तू आ गया मैं भी अकेली हू मेरा भी टाइम पास हो जाएगा, तू देख टीवी मैं नहा कर आती हू और वो नहाने चले गयी.

मैं टीवी देखने लग गया और आंटी नहाने चले गयी, मैने देखे की आंटी की ब्रा डाइनिंग टेबल के वाहा रखी हुई है मेने वो उठा कर उन्हे सुंगने लग गया और अपना लंड निकाल कर उसमे रब करने लग गया और उसी में मैने मूठ मार दिया में भुला उसके खुश्बूह में इतना खो गया था की मैं भूल गया की वो आंटी की ब्रा है, फिर मैने मूठ को एक पेपर से साफ किया और वैसे ही रख दिया और वापस आ कर टीवी देखने लग गया.

यह कहानी भी पड़े  मेरी पड़ोसन भाभी की चुदाई

आंटी नहा के आई उन्होने रेड कलर की सारी पहनी थी और उनके बाल पूरे गीले थे वो एकदम सेक्स गॉडेस लग रही थी उन्होने ब्रा उठाई और चली गयी, मुझे डर लग रहा था की आंटी को पता चल गया तो.

आंटी वापस आई और मेरे बगल में बैठ गयी और हम टीवी देखने लग गये और बीच में आइस क्रीम लेके आई हमारे दोनो के लिए और मुझे एक विकेड स्माइल भी दी, अचानक टीवी में एक सेक्स सीन आया तो आंटी मेरे पास आई और बोली मेरी ब्रा में तूने क्या किया???

मैं डर गया पर अंदर खुशी भी बहुत थी, मैने आंटी को सॉरी बोलने लगा बट आंटी ने मेरा एक हाथ अपने बूब्स में रखा.

मैं समझ गया की अब यह चुदेगि.

मैने आइस क्रीम साइड की और आंटी को किस करने लगा आंटी भी मुझे किस कर रही थी, कम से कम 5 मीं किस करने के बाद मैने आंटी के ब्लाउज़ खोलना चालू किया मैने देखा आंटी ने आइस क्रीम खाया और मुझे बोला अब मुझे किस कर, क्या बतौ दोस्तो क्या जन्नत थी वो आइस क्रीम खा कर किस करना हमारे पूरे लिप्स में आइस क्रीम लगी हुई थी, मैने फिर आइस क्रीम उनके गले में डाल कर उसे चाटा फिर ब्लाउस खोल दिया अब वो सिर्फ़ ब्रा में थी उन्होने रेड ब्रा पहनी थी.

उनके बूब्स के उपर आइस क्रीम डाल कर उसे अब चाट रहा था, फिर ब्रा भी खोल दी अब उनके बूब्स भी चूसे और वो मोन करने लगी, आआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह रोहन ज़ोर से दबाओ मैने अपनी सारी आइस क्रीम उनके उपर डाल दी और चाटने लगा आइस क्रीम का टेस्ट और भी बढ़ गया था, एंड उनको और भी मज़ा आ रहा था.

फिर मैने उनकी सारी खोली और उन्होने मेरे बॉक्सर खोल दिए और लंड को हाथ से खेलने लगी, मेरे लॅंड पर भी उन्होने आइस क्रीम डाल कर चूसने लगे क्या बतौ दोस्तो कितना मज़ा आ रहा था.

यह कहानी भी पड़े  सविता भाभी : जुड़वां चक्कर- दोहरी मस्ती दोहरा मजा

अब मैं पूरा नंगा था और वो बस रेड पैंटी में थी फिर मैने उनको सोफा में लेटाया और पैंटी के उपर से उनके चुत को चाटने लगा, वो छटपटाने लगी ऐसा लग रहा था वो चोदने के लिए बेताब है.

मैने फिर उनकी पैंटी उतारी और फ्रिड्ज से बची आइस क्रीम ला के उनके चुत में डाल दी और सारी की सारी आइस क्रीम चाट ली उन्हे भी मज़ा आ रहा था वो पूरे समय “आआह्ह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह लीक इट हार्डर बेबी मेक माय पुसी कम बेबी” यह सब मोआर्न कर रही थी.
फिर अपनी 2 उंगली उनकी चुत पर डाल दी और अंदर बाहर करने लगा वो बस बोलने लगी रोहन प्लीज़ मुझे चोद दो अब मुझसे बर्दाश नई हो रहा है,
तो मैने अपना लंड उनके चुत पर रगड़ने लगा वो बोलने लगी अब तडपा मत डाल दे इसे मेरी प्यासी चुत में.

मैने अब एक झटके में अपना 6′ का लॅंड उनके चुत में डाल दिया और वो चिल्ला उठी, आराम से मेरी जान मैं मर जौंगी और मैने अब उसे किस कर दिया और एक हाथ से चुचि दबाते रहा और फिर उन्हे चोदने लगा आगे पीछे.

जैसे मेरा लंड आगे पीछे हो रहा था वो मोआर्न कर रही थी, आह्ह्ह्ह्ह्ह्ह फक मी ज़ोर से चोदो, मेरी सारी प्यास बुझा दो आज, गर्मी में पसीना उनके शरीर से गिर रहा था मैं वो भी चाट गया.

कहानी पढ़ने के बाद अपने विचार नीचे कॉमेंट सेक्षन मे ज़रूर लिखे, ताकि देसीकाहानी पर कहानियों का ये दौर आपके लिए यूँ ही चलता रहे.

फिर उनको घोड़ी बना कर भी चोदा और उनकी गॅंड में तपद भी मारा इससे भी उसे मज़ा आ रहा था और 15 मीं के बात मैं उनके अंदर ही झड़ गया और फिर मैने उन्हे किस किया और हम वैसे ही सोफे में लेटे रहे और मैं उनके बूब्स से खेलता रहा.

error: Content is protected !!