वाइफ स्वाप की मंज़ूरी लेके चुदाई का आरंभ

आपने पिछले पार्ट में पढ़ा कैसे मैं और सेजल हमारे हज़्बेंड के सामने एक-दूसरे को किस करते है, और हम दोनो ब्रा और सारी में सेक्सी आउटफिट में आ जाते है. मैं ग्रीन सारी के साथ ग्रीन सेक्सी ब्रा में प्रतीक के सामने खड़ी थी, और सेजल ब्लॅक ब्रा और सारी में अनुज के सामने. प्रतीक मेरी आँखों में देख रहा था, और मैं भी प्यार से उसकी आँखों में देख रही थी.

प्रतीक मेरी खूबसूरती देख कर मेरा दीवाना बन रहा था. मैने प्रतीक को और सिड्यूस करने के लिए पल्लू साइड में किया, और मेरी ब्रा में से मेरे 34 साइज़ रौंद बूब्स दिखाने लगी. फिर धीरे-धीरे मेरा हाथ मेरे बूब्स से लेकर मेरे पेट और नेवेल के पास घुमा रही थी. प्रतीक उसका लंड पंत के उपर से चू रहा था, जो काफ़ी सख़्त लग रहा था.

सेजल के 36″ साइज़ बिग बूब्स ब्लॅक ट्रॅन्स्परेंट सारी में ब्लॅक ब्रा में दिख रहे थे. वो साइड व्यूस से अपने कर्वी फिगर से अनुज को सिड्यूस कर रही थी, और उसको नॉटी स्माइल कर रही थी. अब मैं सेजल के पास गयी, और उसको लीप-किस किया, और अनुज और प्रतीक से बात की.

काव्या: बोलो तुम दोनो का क्या इरादा है? लगता है तुम दोनो हम दोनो को देख कर कुछ सोच रहे हो.

अनुज: हा बेबी, आप दोनो इतनी सेक्सी लग रही हो. सेजल तुम बहुत ब्यूटिफुल हो. तुम्हारा फिगर अफ.

प्रतीक: हा अनुज, काव्या को तो देखो. उसका फिगर क्या काहु यार. देख कर मज़ा आ गया.

सेजल: हा तो हम दोनो तो सेक्सी बॉम्ब है ही. आप दोनो को शक था?

प्रतीक: मुझे नही पता था तुम दोनो का कंबो इतना सेक्सी होगा.

काव्या: अब बातें ही करेंगे या कुछ और भी करेंगे. क्या सोचा है आप डन ने?

अनुज: प्रतीक क्या करना है यार? मेरे से अब कंट्रोल नही हो रहा.

प्रतीक: अनुज तुम्हे कोई प्राब्लम ना हो तो हम दोनो स्विच कर ले.

अनुज: तुमने तो मेरे मूह की बात चीन ली. ये दोनो रेडी है, तो मुझे कोई प्राब्लम नही. तुम दोनो हो तो मैं कंफर्टबल हू.

काव्या: तुम्हे क्या स्विच करना है?

सेजल: आप दोनो हम दोनो?

प्रतीक: एस डार्लिंग तुम दोनो.

सेजल: हॅव योउ लॉस्ट युवर माइंड? ये क्या बोल रहे हो तुम्हे पता है? मैं ये कभी नही करूँगी. किसी को पता चले तो क्या सोचेगा मेरे बारे में. मैं तो किसी को मूह ना दिखा पौ.

मैने सोचा ये क्या आक्टिंग कर रही थी. सच में अनुज और प्रतीक की गांद फटत गयी थी.

प्रतीक: अगर काव्या रेडी है तो तुम्हे क्या प्राब्लम है?

काव्या: मैं नही कर सकती ऐसा कुछ. कोई क्या सोचेगा?

अब हम दोनो हमारे पति के पास बैठ गयी. पर हमारी नज़र एक-दूसरे के हज़्बेंड पर थी. अब मैने प्रतीक को आँख मारी और अनुज को लीप-किस करना स्टार्ट कर दिया. सेजल ने भी प्रतीक को किस करना स्टार्ट कर दिया. हम चारो आउट ऑफ कंट्रोल हो रहे थे. मुझे तो एक अलग ही जोश आ रहा था. हम दोनो ने एक-दूसरे के हज़्बेंड को सिड्यूस करना चालू रखा.

अनुज: यार प्लीज़ काव्या मान जाओ ना. हम चारो के अलावा ये बात किसी को पता नही चलेगी.

प्रतीक: हा आप दोनो मान जाओ. हम दोनो को कोई प्राब्लम नही है.

काव्या: ठीक है पर एक शर्त पर.

अनुज: कों सी शर्त?

काव्या: मेरी और सेजल की इक्चा होगी तो ही हम स्वाप करेंगे. और आप दोनो को हमारी रेस्पेक्ट करनी पड़ेगी. हमे आचे से ट्रीट करना होगा.

सेजल: और आप दोनो आक्सेप्ट कर सकते हो की आपकी बीवी दूसरे के साथ चुदाई करवाने जेया रही है, तो ही हम रेडी है.

प्रतीक: ठीक है मैं रेडी हू. सेजल मैं तुम्हे प्रॉमिस करता हू मैं इश्स काम के लिए तुझे कभी फोर्स नही करूँगा, ना ही तुझे ग़लत समझूंगा.

अनुज: काव्या मैं तुमसे बहुत प्यार करता हू. ये हम अपनी मर्ज़ी से करेंगे, और कभी भी ये टॉपिक पर तुम को मैं ग़लत नही बोलूँगा.

अब मैं अनुज के पास से खड़ी हो कर प्रतीक के पास चली गयी और उसकी गोदी में बैठ गयी. मैने प्रतीक के लिप्स पर किस किया, और अनुज की और नॉटी स्माइल से देखा.

काव्या तो अनुज: आपको चलेगा आपकी बीवी आपके पड़ोसी से चूड़ेगी?

अब अनुज ने सेजल का हाथ पकड़ कर अपनी गोदी में बिता दिया, और उसके लिप्स पर किस किया.

अनुज: हा क्यूंकी मेरे पड़ोसी की बीवी मेरे साथ है. मैं तो ये मोमेंट एंजाय कर रहा हू.

सेजल: हा मुझे भी प्राब्लम नही है अनुज के साथ.

अब मैं खड़ी हुई और प्रतीक का हाथ पकड़ कर बेडरूम में ले गयी. मैं अपनी गांद मटका-मटका कर चल रही थी, और अनुज को चिढ़ा रही थी. फिर जाते-जाते प्रतीक से चिपक गयी, और सेजल और अनुज की और देख कर आँख मारी. बेडरूम में एंटर होते ही प्रतीक ने मेरे लिप्स पर किस करना स्टार्ट कर दिया. वो तो भूखा लग रहा था. साथ में वो मेरी गांद दबा रहा था.

मैने उसके लिप्स पर बीते कर दिया, और तोड़ा खून निकल गया. मैने प्रतीक को बेड पर धक्का मार दिया, और उसके सामने सेक्सी पोज़ में डॅन्स करने लगी. मुझे आज की रात प्रतीक को मेरे प्यार में पागल बनाना था.

काव्या: कैसा लग रहा है, अपनी बीवी को दोस्त के पास छुड़वाने छ्चोढ़ कर उसकी बीवी के साथ मज़े करने में?

प्रतीक: बहुत मज़ा आ रहा है.

काव्या: पर मुझे नही आ रहा मज़ा.

प्रतीक: क्या हुआ डियर? तुम खुश नही हो मेरे साथ?

काव्या: तुम्हे क्या लगता है मैं ऐसी औरत हू?

प्रतीक: नही बेबी. मैं ऐसा नही सोच रहा तुम्हारे बारे में. तुम बहुत अची हो, और मुझे पता है तुमने हमारी खुशी के लिए हा की है.

काव्या: नही. मैं आपके पास इसलिए हू, क्यूंकी मैं आप से प्यार करती हू. मुझे आप बहुत पसंद हो. ई रियली लोवे योउ. पर तुम मुझे ऐसे औरत समझ रहे हो (मेरी आँखों में आँसू थे).

प्रतीक ( मेरे आँसू पोंछते हुए एमोशनल हो गया): नही बेबी, मैं भी तुमसे सक्चा प्यार करता हू.

काव्या: सच आप मुझसे प्यार करते है? या मेरा उसे कर रहे है? मैं आप से प्यार करती हू, इसलिए ये सब करने को रेडी हू.

प्रतीक: मैं भी तुमसे प्यार करता हू, इसलिए तो सेजल को अनुज के पास छ्चोढ़ दिया.

काव्या: कभी मुझसे दागा मत करना? मुझे ब्लॅकमेल मत करना. और हमे छ्चोढ़ कर मत जाना. चाहे कुछ भी हो जाए, हमारी दोस्ती टूटनी नही चाहिए. मैं आपके बिना नही रह पौँगी.

प्रतीक: हा बेबी. अब से मैं तुम्हारा भी हू. मेरे पे तुम्हारा पूरा हक है, ई लोवे योउ.

काव्या: ई लोवे योउ टू.

अब मैने उसके लिप्स कर किस करना स्टार्ट कर दिया. और उसकी गोदी में बैठ गयी. हम जो किस कर रहे थे, उसमे हवस से ज़्यादा प्यार था. और वो मैं प्रतीक की आँखों में देख रही थी. वो मुझे बहुत आचे से ट्रीट कर रहा था. प्रतीक अब मेरी नेक पर किस कर रहा था. साथ में मेरी कमर पर हाथ घुमा रही थी.

मेरे अंदर तो करेंट दौड़ गया. मेरी छूट ने पानी छ्चोढना स्टार्ट कर दिया. अब वो धीरे-धीरे मेरे बूब्स दबाने लगा. उसका हर एक मूव मुझे अछा लगने लगा. मैने उसके एअर पे बीते कर दिया. अब उसने मेरा सारी का पल्लू साइड में किया, और मेरी ब्रा के उपर से बूब्स पर किस करने लगा. और फिर मेरी नेवेल पे किस करने लगा.

उसने उसकी ज़ुबान मेरी नेवेल में डाली, जिससे मेरे अंदर आग लग गयी. वो पल मैं प्रतीक के लिए थी. मेरा सब कुछ मैने उसको सौंप दिया था.

काव्या: प्रतीक आप मुझे हमेशा ऐसे प्यार दोगे?

प्रतीक: हा जानू. अब तेरा जब मॅन कर मुझे बोल देना. हम स्वाप करेंगे.

काव्या: सॅकी? प्रतीक मैं आपके बिना नही रह सकती.

अब मैं खड़ी हुई, और मैने सारी और पेटिकोट उतार दिया. अब मैं सिर्फ़ ग्रीन ब्रा-पनटी में थी. मेरा फिगर बहुत ही सेक्सी लग रहा था. प्रतीक मुझे 2 मिनिट देखता ही रहा. मैं उसकी गोदी में फिर से बैठ गयी, और उसकी शर्ट के बटन खोल दिए, और उसकी चेस्ट पर किस कर रही थी. मैं उसके निपल को चूस रही थी. उसके अंडरआर्म्स से आती हुई स्मेल मुझे पागल बना रही थी.

प्रतीक ने पीछे हाथ डाल कर मेरी ब्रा का हुक खोल दिया, और साइड से ब्रा खींच कर निकाल दी. और अब मेरे 34″ साइज़ रौंद बूब्स को दबा रहा था.

प्रतीक: वाउ, युवर बूब्स अरे सो हार्ड बेबी. ई लोवे इट. कितने दीनो से इसके लिए तड़प रहा था. मुझे यकीन नही हो रहा, तुम मेरे सामने हो.

आयेज क्या होता है, अगले पार्ट में.

यह कहानी भी पड़े  कामुक औरत और चुदक्कड़ मर्द की चुदाई की शुरुआत


error: Content is protected !!