सुहागरात मे बीवी की जगह मॉं चुद गयी

हेलो फ्रेंड्स, मई राघव, वडिषा से हू और मई एक सेक्स स्टोरी लवर हू. आंड डेली सेक्स स्टोरी पढ़ के मज़े से मेरी लंड का पानी निकलता हू. बहोट सोचने के बाद मई भी तन लिया की मेरी जैसे लंड धरी दोस्तो और भाई. आंड छूट धरी भाभी, बेहन को लिए सेक्स स्टोरी लिखना शुरू करू.

आज स्टोरी बताने जा रहा हू ये मेरी लाइफ भी बीती साची घटना पे आधारित है. इसमे सारे कॅरक्टर का नाम बदला हुआ है बुत काम बिल्कुल सही है. तो अब आपको बोर ना करते हुए कहानी पे आता हू. चलिए शुरू करते है.

मेरी कहानी मे 3 चर्कतेर है, एक मेरी मा बिंला आगे 46, मई 25 & मेरी बीवी रखी 23. पहले मा के बारे मई बताता हू. वो देखने मई एक दूं विद्या बालन लगती है. उसके बूब्स 36 की और गांद 34 की और कमर 30 की है. इतनी उमर होने के बाद भी बिल्कुल कम देवी लगती है. और मेरा बीवी का क्या कहना मेरा 8 इंच लंड को संभालने के लिए बिल्कुल पर्फेक्ट वित साइज़ 34-28-34.

सो गाइस, ये कहानी मेरी सुहग्रात की है. मेरी शादी से पहले हमारे घर मे, मई और मेरी मा रहते थे. पिताजी का देहांत बहोट फ्ले हो चुका था. पिताजी एक गूव्ट जॉब करते थे इसीलिए मा को उनके जगह पे नौकरी मीलगयइ थी. और हम लोग भुबनेस्वर शिफ्ट हो गये थे.

जब से मई कल्ग गया था तब दोस्तो के साथ मिल के सेक्स के बारे मई पता चला. और धीरे सेक्स स्टोरी और ब्लू फिल्म का लत लग गया. मुझे उसमे मा बेटे, भाई बहें का स्टोरी सब से अछा ल्गता था.

धीरे धीरे मेरी नज़र मई मेरी मा भी सेक्स की देवी जैसे लगने लगी. बुत कुछ करने को हिम्मत नही होता ता कभी. बस उसके बूब्स, गांद को देख के मूठ मरता था. और कभी आधा नंगी देखने को मौका भी मिलता था. कई बार मा को सारी चेंज करते देखता ता और कभी कभी नहाते बकता चुप के से देखता था.

ऐसे ही दिन चलते गये. और मेरा पढ़ाई ख़तम हो के मई एक प्राइवेट कंपनी जाय्न किया भुबनेस्वर मे. जब मेरा नकारी लग गया तब से मा मेरी शादी करने को चाहा.

मई उसको बोल दिया की जो उस से पसंद आएगी मई शादी कर लूँगा. क्यूकी मुझे प्यार मे कोई इंटेरेस्ट नही था मुझे बस छूट से मतलब था. कल्ग टाइम पे बहोट सारे भाबी और लड़कीो के छूट शांत किया हू. पेर अब सब छोड़ दिया था जब से नौकरी लगी है.

एक दिन मा हमारे दूर की एक रिस्त्ेदार के एक लड़की की फोटो दिखाई और बोली के तेरी शादी मई इसकी साथ करूँगी. मई जब पिक देखा उसकी मई ख़ुसी से झूम उठा क्यूकी वो बेहेड खूबसूरत थी. मैने हन कर दिया.

फिर मा हमारी एंगेज्मेंट करवा दी. धीरे धीरे हमारे बार शुरू हुई फोन पे. मिलना जुलना भी शुरू हुआ शादी के शॉपिंग के लिए. और ठीक दो महीने बाद शादी की डटे फिक्स हुई.

धीरे धीरे हमरे बीच मई चूमा छाती आंड रोमॅंटिक बाते शुरू हुई. एक दिन मई होने वेल बीवी के सामने सारीफ़ बनते हुए उसको बोल रहा था की मुझे सुहग्रत के बारे मई कुछ नही पता और उसने भी बोला मुझे भी नही पता. ऐसे बार हो रहा था शायद मा मेरी बार सुन लिया.

फिर उस दिन रत को खाना खाते टाइम पे मेरी को बोली के बेटा मेरी को जल्दी दादी बना देना. मई आ बार सुन के हैरान हो गया. मई कुछ बोला नही. फिर उसने पूछा की पता है ना शादी के बाद क्या करना होता है? मई भोला बनते हुए उसको बोला की क्या होता है मुझे नही पता.

फिर वो मेरी को बोली की अपने दोस्तो से पता कर के आना कल. मई ह्म भर के सोने के लिए चला गया. और रत को मा के बारे मई सोच के दो बार मूठ मारा और सो गया.

नेक्स्ट दे रत को टीवी देख रहा था मा पास मई आके बैठ गयी. और फिर वोही बार शुरू कर दी. मई उसको बोल दिया मेरी को किसी को पूछना अछा नही लगता जो होगा देखा जाएगा. फिर वो बोली तेरे कोई गफ़ नही थी फ्ले. मैने माना कर दिया.

फिर वो तोरा टेन्षन मई आ गयी. मेरी को बोली की शादी से फ्ले तेरे को कुछ जान ने का ज़रूरत है. तभी तू तेरे बीवी को खुस कर पाएगा. मई भोला बनते हुए उसको पूछा की क्या सीखना होगा?

वो बोली की अब सब कुछ मेरी से ही सीखेगा या किसी दोस्त को भी पूछेगा? तो मई ज़िद कर बैठा की तुम भी तो मेरी दोस्त हो तुम सीखा दो. फिर वो बोली ठीक है, मई तुम्हे कल रत को सीखा दूँगी.

कल रत को सॅटर्डे नाइट था और परसो सनडे का छूटी. मा का भी छूटी था और मेरा भी. मई बेसब्री से इंतेज़ार कर रहा था की कल क्या होगा. ऐसे सोचते सोचते सो गया.

फिर सुबह उठ के मई ऑफीस निकल गया और मा भी. ऑफीस आज कम करने का बिल्कुल मान नही था तो जल्दी आ गया हाफ दे लेके. फिर सम हो गया और हम लोग खाना क्गा रहे थे. तब मा बोली की आज तू मेरी कमरे मई सो जाना.

मई ओक बोला और मई एक शॉर्ट्स आंड त शर्ट नई सोने के लिए आ गया. तब मेरी मा कम ख़तम कर के नहाने गयी थी. थोड़ी देर बाद नाहके निकली.

जब वो निकली वो एक सफेद टवल लपेटी हुई थी बिल्कुल कयामत लग रही थी. फिर वो एक स्लीवलेशस ब्लॅक निघट्य पहने के आई मई देख के पागल हो जा रहा था.

फिर मई भोला बनते हुए सोने के नाटक करने लगा. मा मेरी को जगाई और वॉली की उठ टीवी देखते है और कुछ बार करनी है. मई उठा और टीवी ओं किया. उस टाइम सेट मॅक्स पे मस्तिज़्यदा मोविए आ रहा था. आप को पता ही होगा की कैसा मोविए है वो. इसीलिए मैने चॅनेल चेंज कर दिया.

मा मेरी को देख के मुस्कुरई और पूछी की क्यू चेंज किया. मई बोला की अची मोविए नही है इसीलिए. फिर वो पूछी को इसमे क्या खराब है? मई उसको बोला की न्यूड सीन बहोट है और ऐसे मुझे अछा नही ल्गता.

फिर मा मेरी से रिमोट लेके टीवी बंद कर दिया. और बोला की बेटा अब जो बताने जा रही हू ध्यान से सुनना, तेरे शादी शुदा जिंदेगी मे बहोट काम आएगा.

मेरी को डाइरेक्ट पूछने लगी की तेरा सेक्स का एक्सपीरियेन्स कैसा है? मई सुन के हैरान हो गया और मूह नीचे जर दिया. सो वो बोली की बेटा तेरे को शादी से फ्ले ये जानना ज़रूरी है, नही तो तू तेरे बीवी को कभी खुस नही रख पाएगा.

फिर मैने उसको बोला की मुझे इसके बार कुछ भी आइडिया नही है. फिर वो मुस्कुराते हुए वॉली की तभी आज मई तेरा ट्रैनिंग कार्ओौनगी.

ये सुन के मेरी होश उड़ गया. अंदर ही अंदर नई सातवे आसमान पहुच गया था. क्यू की आज मुझे वो मिलने जा रहा था जिसका मई शादियो से इंतेज़ार कर रहा था.

फिर नई नाटक करते हुए बोला की वो कैसे. तो वो मुझसे बोली की तू जो तेरे बीवी के साथ करेगा बाद मे आज मई तेरे को वो बतौँगी. सो जो मई कहूँगी उसको करते रहना और ध्यान से देखना. मई हन्म मई सर हिलाया.

उसने मेरी को पास बुलाया और एक पेन ड्राइव दी और बोली की इसमे जो मोविए है उसको प्ले करो. फिर मई टीवी मई लगा के प्ले किया. देखते देखते एक पॉर्न मोविए स्टार्ट हो गया और उसमे एक लड़का एक औरत को छोड़ रहा था.

मई देख के नीचर सर झुका दिया. मा ने मेरी को बोला बेटे देख मई तेरा दोस्त हू और तुझे अब सब बताना मेरा फ़र्ज़ है. सो तू अभी इसको देख और तेरे को मई धीरे धीरे समझौँगी.

फिर मई देखने लगा और धीरे धीरे मेरा 8 इंच का लंड मोटा होता गया और पंत मे टेंट बना दिया. और मुझे लगा की मा को भी इसका असर हो रहा है सयद.

वो भी तिरछी नज़र से मेरी पंत को देख रही थी. अभी वो टीवी ऑफ कर दी. और बोली की तेरे को मई दूर से कुछ दिखौँगी धान से देखना.

फिर वो खड़ी हो गयी और अपनी नाइट उतार दी. और मेरी सामने सिर्फ़ ब्रा और पनटी मई खड़ी थी. मई देख के पागल हो रहा था बुत कंट्रोल किया. उसके दोनो बूब्स बाहर निकलने के लिए जैसे उतावले हो रेज थे, जैसे मेरी लंड का हालत था.

वो बेड पे लेट गयी और वॉली सेक्स हमएसा प्यार से शुरू होता है. सो तू तेरे बीवी को डाइरेक्ट छोड़ना नही फ्ले किस से शुरू करना. ऐसे बाते सुन के मई पागल हो रहा था.

फिर बोली की किस फ्ले माथे पे करना देन कन पे देन गर्दन पे ऐसे धीरे धीरे नीचे ताक़ करते आना. ऐसे कहते कहते उसके हाथ अंजाने मई उसके बूब के उपर आ गयी.

वो धीरे से अपनी ब्रा का हुक खोलके दोनो चुचि को मुक्त किया. फ्ले बार मई अपनी मा की चुचि को इस हालत मई देख रहा था. और मेरा लंड अब पंत के अंदर से बाहर आने के लिए बेताब था.

तो मा ने इस चीज़ को नोटीस किया और बोली की मई जब नंगी हो रही हू तू भी हो जा, इसमे क्या सर्मना. नही तो फिर तेरे बीवी के सामने कैसे कपड़े उतरेगा. ये बोल के मेरी पास आई और मेरी पंत खिच ली.

पंत खिचते ही मेरी मूसल लंड फन फंते हुए खड़ा हो गया. जब उसने देखा तो उसकी मूह से आहह निकल गयी. फ्ले बार मेरी लंड को इस हालत मई देखी सयद. देखने के बाद उसने बोली की तेरे बीवी तेरे को बहोट प्यार करेगी क्यूकी उसको इतनी अची लंड जो मिलने वाली है. ऐसे लंड किस्मत वाली को ही मिलती है.

फिर वो अपनी निपल पे उंगली फेरेट हुई बोली की. जब भी लड़की की बूब्स चूसना ह्म तब फ्ले निपल से ही शुरू करो, इससे लड़की की सेक्स इचा जल्दी जागती है और वो ज़्यादा सेक्सी हो जाती है. उसको धीरे धीरे बीते करते रहो और चूस्ते रहो और दूसरे बूब को एक हाथ मई धीरे धीरे दबाते रहो. ऐसे बोल ते हुए वो खुद ही अपनी बूब्स को दबा रही थी.

उसके बाद वो बोली की नेक्स्ट तुम अपनी बीवी की पेट को हमएसा धीरे धीरे काटना. क्यू की ऐसे करोगे तो वो बहोट जल्दी सेक्स के लिए राज़ी हो जाएगी. अब धीरे से वो अपनी पनटी निकलते हुए उसको नीचे फेग दिया.

फ्ले बार मेरी सामने मेरी सपनो की सेक्स देवी पूरी नंगी लेती हुई थी. और उसकी छूट बिल्कुल साफ थी एक भी बाल नही थी उसमे. ये नज़र देखते देखते मेरी हट मेरी खड़े हुए लंड पे पता नही कब चला गया.

फिर वो बताई की छूट मे लंड डालने से फ्ले छूट मे उंगली डालना नही तो छूट को छत के तोरा पानी पानी कर देना. नही तो उसको ज़्यादा दर्द होगा तो दोनो ठीक से मज़े नही ले पऊगे. क्यूकी सेक्स मई संत्ुस्ती बहोट मैने रखता है. ऐसे कहेते हुए वो उसकी एक उंगली छूट मे डाल दी और आवाज़े करने लगी.

देखते देखते मई भी अपनी हाथो से नज़र देखते हुए मूठ मरता रहा. वो भी अब आँख बंद जारके फुल जोश मई उंगली बाहर अंदर कर रही थी.

करीब 10-15 मीं के बाद उसकी पानी निकल गयी. और जब वो आँख खुली तो देखी की मई लंड को ज़ोर से हिला रहा हू, बुत निकला नही है अभी तक.

सो वो मेरी पास आई और बोली की चल बैठ जा मई कुछ मदद कर देती हू.

और ये कहके मेरी लंड को अपनी हाथ मई लेके मूठ मारने लगी. तब मुझे इतना मज़ा आ रहा था की मई कह नही पौँगा. फिर कुछ देर बाद मेरा लावा निकल गया और सीधा उसके मूह पे गिरा. वो भाग के बातरूम मई जा ने सॉफ करके आई तब मई ऐसे ही लेता हुआ था.

फिर मई मा से पूछी मा पापा के डेत के बाद आज तक तूँ कभी सेक्स किए हो किसी के साथ?

वो हास के बोली आज जो देखा वोही करती हू जब मॅन करता है. फिर मुझे लगा की मा को सेक्स की ज़रूरत है. तो फिर मैने बोला की तुम्हे भी सेक्स की ज़रूरत है. तो तुम किसी को पता के सेक्स कर सकती हो. मई कुछ नही बोलूँगा.

बुत उसने माना कर दिया और बोली की इससे बदनामी होगी. ऐसे बात करते करते कब सो गया पता नही चला.

अगले पार्ट मई बतौँगा की मेरी सुहग्रत मई क्या हुआ? और आप लोग प्लीज़ अपना व्यू & कॉमेंट्स देना मैल पे.

और कोई आंटी, भाभी, & बेहन चूड़ना चाहती है तो मेरी को मेरी मैल ईद पे मैल कर सकते हो.

यह कहानी भी पड़े  छोटी बहन की चुदाई

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published.


error: Content is protected !!