शादी-शुदा लड़के ने कुँवारी लड़की चोदी

ही फ्रेंड्स, मेरा नाम ईशा है. मैं 24 साल की हू, और बहुत सेक्सी हू. मेरा रंग गोरा है, और फिगर 36-30-36 है. मैं देल्ही में एक मंक में जॉब करती हू. ये बात 2 महीने पहले की है, जब एक हॅंडसम लड़का हमारे ऑफीस में अपायंट हुआ था. तो चलिए कहानी शुरू करते है.

रोज़ की तरह मैं उस दिन भी ऑफीस गयी थी. वाहा जाके देखा, तो एक नया चेहरा दिखाई दिया. मैने अपनी फ्रेंड दिव्या से पूछा-

मैं: दिव्या ये कों है?

दिव्या: नया रेक्रूट है. स्मार्ट है ना? मेरा अगर पहले से ही बाय्फ्रेंड ना होता, तो मैं तो आज ही इसको कॉफी के लिए पूच लेती. तू तो सिंगल है. मैं तो कहती हू तू इससे सेट्टिंग कर ले.

स्मार्ट तो वो मुझे भी बहुत लग रहा था, लेकिन मैने दिव्या के सामने ये शो नही किया. पर अंदर ही अंदर मेरा भी दिल कर रहा था, की मैं उससे बात शुरू करू.

उसी दिन मेरे डेस्क पर एक फाइल आई, जिसकी डीटेल्स मुझसे उससे लेनी थी. मैं बड़ी खुश हुई, की मुझे उससे बात करने का मौका मिल जाएगा. फिर मैं उसके डेस्क पर गयी.

मैं: ही, मेरा नाम ईशा है.

वो: ही, मैं रोहन हू.

मैं: नाइस तो मीट योउ रोहन. ये फाइल के रिलेटेड डीटेल्स चाहिए थी.

रोहन: ओक, मैं अभी देता हू.

मैं: वैसे इससे पहले कहा थे.

रोहन: मैं …… कंपनी में था.

मैं: ओक. तो वाहा से लीव क्यूँ किया. वो एक अची कंपनी है.

रोहन: एक ही जगह पर काम करने से लोगों को लगता है की हम वही के होके रह गये. और वैसे भी चेंज इस गुड.

मैं: बिल्कुल सही कहा तुमने. वैसे लंच टाइम में जाय्न कर सकते हो आप हमे.

रोहन: हा ज़रूर.

फिर मैने उससे अपना काम करवा कर वापस आ गयी अपने डेस्क पे. लंच टाइम पर वो मुझे कॅंटीन में मिला. मेरे साथ बाकी कॉलीग्स भी थे. मैने सब से रोहन को इंट्रोड्यूस किया. जब मैं रोहन को सब से इंट्रोड्यूस कारवाँ रही थी, तो उनमे से एक कोलीग ने कहा-

कोलीग: ये तुम्हारा बाय्फ्रेंड है ईशा?

मैं: अर्रे नही, हम आज ही मिले है.

कोलीग: मुझे लगा तुम इसको इंट्रोड्यूस करवा रही हो, तो शायद ये तुम्हारा बाय्फ्रेंड होगा. एनीवेस मी मिस्टेक.

मैं: नो प्राब्लम.

फिर मैने रोहन की तरफ देख कर स्माइल की, और उसने भी मुझे स्माइल पास की. लंच करके जब हम ऑफीस वापस जेया रहे थे, तब रोहन ने मुझे कॉफी के लिए पूच लिया.

मैं तो पहले से तैयार बैठी थी, और खुद उसको कॉफी के लिए पूछने वाली थी. लेकिन ये तो बहुत बढ़िया हो गया. तो मैने उसको झट से हा कह दी. फिर शाम को ऑफीस के बाद हम एक कॉफी शॉप पर बैठे. वाहा मेरी और रोहन की काफ़ी बातें हुई. वो काफ़ी शांत और समझ-बूझ वाला लड़का था. और मुझे वो पसंद आ गया था.

3-4 बार ऐसे ही हमने कॉफी पी, और फिर उसने मुझे मोविए के लिए पूच लिया. मैने तो हा बोलना ही था. फिर हम मोविए के लिए गये. उसने जीन्स और त-शर्ट पहनी हुई थी, और मैने जीन्स और शॉर्ट्स पहनी हुई थी. शॉर्ट्स में मेरी नंगी जांघें देख कर वो खुश हो गया. वो मुझे उपर से नीचे देख रहा था.

फिर हम तेरत्रे में गये, और मोविए शुरू हो गयी. रोहन बार-बार मेरी लेग्स को ही देखे जेया रहा था. मैने ये बात नोटीस कर ली थी, लेकिन भी अंजान बनी हुई थी. फिर फिल्म में एक रोमॅंटिक सीन आया, तो रोहन मेरी तरफ देखने लगा. मैने उससे पूछा-

मैं: क्या हुआ रोहन, ऐसे क्यूँ देख रहे हो?

रोहन: ई लोवे योउ ईशा.

ये सुन कर मैं हैरान और खुश दोनो हुई. मुझे नही लगा था की वो इतनी जल्दी मुझे ई लोवे योउ बोल देगा. फिर मैने भी उसको ई लोवे योउ टू बोल दिया. मेरे ये बोलते ही वो आयेज बढ़ा, और उसने अपने होंठ मेरे होंठो के साथ लगा दिए.

अब हम दोनो मज़े से किस कर रहे थे. वो मेरे मूह में जीभ डाल-डाल कर मेरी जीभ चूस रहा था. किस करते हुए उसने मेरी जाँघ पर हाथ रखा, और उसको दबाने लग गया. धीरे-धीरे वो हाथ मेरी छूट वेल एरिया पर ले आया, और मेरी छूट मसालने लगा.

मैं बहुत उत्तेजित हो चुकी थी. मैने भी अपना हाथ आयेज बढ़ाया, और उसके खड़े हुए लंड पर रख दिया. अब मोविए तो कों देखने वाला था, तो हम दोनो चलती मोविए में थियेटर से बाहर आ गये. बाहर आके हमने कॅब की, और रोहन मुझे एक होटेल में ले गया.

हमने रूम बुक किया, और रूम की तरफ चल पड़े. रूम के गाते पर पहुँचते ही रोहन ने मुझे बाहों में उठा लिया, और किस करने लगा. मैं भी उसका साथ देने लगी. किस करते-करते हम दोनो अंदर गये, और सीधे बेड पर पहुँच गये.

बेड पर जाते ही रोहन ने अपने कपड़े उतारने शुरू किए. मैं भी अपने कपड़े उतारने लगी. अब मैं सिर्फ़ ब्रा-पनटी में थी, और वो सिर्फ़ अंडरवेर में. हम दोनो एक दूसरे को चूमने लगे, और बिस्तर पर कड्ड्ल करने लगे.

फिर उसने मेरी पनटी उतार दी, और मेरी छूट पर मूह लगा लिया. अब वो मज़े से मेरी छूट चाट रहा था, और मुझे जन्नत का मज़ा दे रहा था. वो मेरी छूट की क्लिट को चूस रहा था.

कुछ देर छूट चुसाई के बाद उसने अपना अंडरवेर उतरा, और उसका बड़ा मोटा लंड मेरे सामने था. फिर उसने अपना लंड मेरी छूट पर रखा, और उसको रगड़ने लगा. मैं आहह आ कर रही थी, और उसको छोड़ने के लिए बोल रही थी.

तभी उसने ज़ोर का झटका लगा कर अपना लंड मेरी छूट में घुसा दिया. ऐसा नही था की मैने पहले सेक्स नही किया था, लेकिन उसका लंड ज़्यादा बड़ा और मोटा था. उसने मेरे लिप्स को अपने लिप्स से लॉक किया, और ज़ोर के धक्के मार कर मुझे छोड़ने लगा.

वो बड़ी ज़ोर के धक्के लगा रहा था, जिससे मुझे दर्द हो रहा था. धीरे-धीरे मेरा दर्द कम हो गया, और मुझे मज़ा आने लगा. अब मैं गांद उठा-उठा कर उससे चुड रही थी. 10 मिनिट उसने ऐसे ही मुझे छोड़ा. इस बीच उसने मेरे बूब्स लाल कर दिए, और गर्दन पर काई लोवे-बाइट्स दिए.

फिर वो आहह आ करते हुए मेरे अंदर ही झाड़ गया. मुझे उसके अंदर झड़ने में कोई प्राब्लम नही थी, क्यूंकी मैं उससे शादी करना चाहती थी. फिर हम दोनो लेट गये. तभी उसका फोन आया, और वो बोला-

रोहन: हा डार्लिंग मैं टाइम पर आ जौंगा.

फिर मैने उससे पूछा: कों है ये डार्लिंग?

रोहन: मेरी वाइफ है.

ये सुन कर मेरे पैरों के नीचे से ज़मीन निकल गयी. फिर मैं बोली-

मैं: तुम शादी-शुदा हो? तुमने बताया नही कभी.

रोहन: तुमने भी तो कभी नही पूछा. किसी के नीचे लेटने से पहले पता तो कर लिया करो की वो सिंगल है या नही. रंडी साली.

और वो हेस्ट हुए चला गया. मैं वही बैठी रही.

दोस्तों ये थी मेरी कहानी. अगर आपको कहानी पढ़ कर मज़ा आया हो, तो कॉमेंट ज़रूर करना.

यह कहानी भी पड़े  बाप और बेटी में पहले सेक्स की हॉट कहानी


error: Content is protected !!