Tag «Office»

जवान लंड से मरवाई अपनी गांद

मे: हन… मैं बहुत चुड़क्कड़ हूँ. मुझे रोज छुड़वाना पसंद है. अपने पति से भी खूब चुड़वति हूँ लेकिन मैं शांत नही होती ह्र: आज तुम्हारे बदन की आग को मैं शांत करूँगा. मे: अगर सच मे ऐसा हुआ ना तो मैं पूरी तरहा से तुम्हारी हो गयी. तुम जब चाहो जैसे चाहो मुझे छोड़ …

जवान लंड और मेरी हवस-1

हेलो दोस्तो मेरा नाम पूनम है. मैं काफ़ी सालो से देसी कहानी पर चुदाई की कहानियाँ पढ़ती हूँ. मेरी ज़िंदगी मे भी एक मजेदारी चुदाई हुई थी जिसका किस्सा मैं आपके साथ शेर करने वाली हूँ. ःओतBओय्णिल मेरा सबसे फॅवुरेट ऑतर है मैने इनकी लगभग सारी स्टोरीस पढ़ी है इसलिए मैं उन्हे थॅंक्स कहना चाहती …

वंदना – ऑफीस की सबसे हॉट लड़की

ही ऑल, तीस इस मी फर्स्ट स्टोरी सो प्लीज़ फर्गिव मे फॉर अन्य मिस्टेक. तो दोस्तो आते है स्टोरी पे मेरा नाम निखिल है आगे 32. मुंबई का रहने वाला हू. मुझे जिम जाना पसंद है आंड इसलिए मे हमेशा फिट रहता हू और मे दिखने मे अक्चा हू आंड एक प्राइवेट कंपनी मे जॉब …

मी रियल फॅंटेसी (ऑफीस सेक्स)

ही, मई संजय बहोट साल के बाद अपनी कहानी लिख रहा हू गलतो हुई तो माफ़ करना. आपको ज़्यादा बोर ना करके डाइरेक्ट्ली जंप करता हू कहानी पे. मुझे किसिको कुछ फीडबॅक देना हो तो, मी ईद – [email protected] पर मैल कर देना या हणगौट म्स्ग. यह कहानी है कुछ आज से 2 साल पहले …

मैने मेरे ऑफीस मे स्टाफ की लड़की को चोदा

ही ई’म कुणाल फ्रॉम जाईपुर. मई मेरे बारे मे बता डू की मेरी आगे 27 है, मेरी हाइट 6 फीट है और मे दिखने मे पतला हू. पर सेक्स मे किसी को भी सॅटिस्फाइ कर सकता हू. तो बात उन दीनो की है जब मे मेरे ऑफीस मे काम करता था. तब वाहा एक लड़की …

शिवानी की ज़िंदगी का सफ़र

हेलो फ्रेंड्स. यह कहानी शिवानी की ज़िंदगी की है और मई भी इसका एक छोटा सा हिस्सा हू. शिवानी के फॅमिली मे 7 लोग थे. मा बाप शिवानी 1 बड़ी 1 जीजा और 2 छोटी बाहेने. मा : वसन्ती बाप : विजय बड़ी बाहें : नेहा, आगे 23. जीजा : अशोक, आगे 29. छोटी बाहें …

गर्लफ्रेंड रूबी की कुँवारी चूत

हेलो दोस्तो, मेरा नाम रिषभ है. मेरी उमर 24 साल है और मैं अंबाला का रहने वाला हूँ. आज मैं अपने लिए अपनी एक कहानी ले कर आया हूँ जो की सबके दिल को बेचेन करके लंड और चूत का पानी निकाल देगी. पर मैं अपनी कहानी को बाद मे स्टार्ट करूँगा क्योकि ये मेरी …

कनाडा में दोबारा ग्रुप सेक्स की मस्ती-1

बात तब की है जब मुझे कनाडा से आये हुए एक वर्ष बीत चुका था और अब फ़िर कम्पनी के ही काम से पतिदेव ने कनाडा जाना था, पर मेरे घर वालों ने ही उन्हें रोक दिया किसी वजह से और मुझे जाने के लिए बोल दिया था। पर मेरा मेरे पतिदेव से बहुत ज्यादा …


error: Content is protected !!