एचआर राधिका की रंडी बना कर चुदाई की एंप्लायी ने

ही गाइस, मैं सलमान वापस आ गया हू अपनी कहानी के दूसरे पार्ट के साथ. अगर आपने पिछली कहानी पढ़ी है, तो आप जानते होंगे की मैने ओवरटाइम के दौरान अपनी ह्र को छूट रगड़ते देख लिया था अकेले में. फिर मैने उसका राज़ च्छुपाने के बदले छुट्टी माँगी, लेकिन उसने माना कर दिया. लेकिन वो मुझसे चूड़ने के लिए मान गयी. और ये सबसे बड़ा डिफरेन्स बन गया ओवरटाइम के दौरान.

उस घंटा के कीच दिन बाद, मैं अपने डेस्क पर बैठा काम कर रहा था. ये क्लियर था की उस दिन मुझे देर तक काम करना था. लेकिन अब एक डिफरेन्स था. मैने अपना फोन निकाला, और अपनी ह्र को टेक्स्ट किया.

मे: आज फिरसे देर तक काम होगा…

कुछ मिनिट बाद मुझे जवाब आया. ह्र राधिका ने मुझे एक जिफ भेजा था. उसकी शर्ट के बटन खुले हुए थे, और वो अपनी क्लीवेज को उपर करके उसमे जीभ डाल रही थी. फिर मैं शांति से काम करने लगा, और बाकी वर्कर्स के जाने की वेट करने लगा. ऑफीस क्लियर होने के बाद मैं उसके कॅबिन की तरफ चल पड़ा.

राधिका ने मुझे देख कर स्माइल की, और अपनी शर्ट के बाकी के बटन्स भी खोल दिए.

ह्र: बहुत टाइम लग गया तुम्हे?

मे: मुझे तुम्हे वेट करना पसंद है.

ह्र: और ऐसा क्यूँ?

मे: क्यूंकी मुझे अभी भी काम का ओवरलोड है.

ह्र: श… मुझे मदद करने दो.

फिर राधिका मेरे पास आई और मुझे किस किया. मैने उसके बाल पीछे खींचे, और उसकी गर्दन पर किस की. मैने उसकी गर्दन पर काट कर उसकी आ निकलवाई, और फिर उसको घुमा लिया. वो अपने डेस्क पर झुक कर लेट गयी, और मैं उसके साथ चिपक गया. मेरा लंड अब उसकी गांद पर रग़ाद रहा था.

मे: इस डेस्क की लड़की काफ़ी सख़्त है, हैईना?

ह्र: हा, लेकिन अभी मैं किसी और लकड़ी के बारे में सोच रही हू.

फिर राधिका घूम गयी, और मेरी पंत नीचे खींच दी. फिर वो अपने घुटनो पर आई, और मेरे लंड के टोपे को चाटने लगी. जब मेरा लंड उसके मूह के अंदर गया, तो उसने आ भारी. उसके मूह की थूक नीचे तपाक रही थी, जब वो मेरा लंड चूस रही थी. फिर मैने उसके बाल पकड़े, और लंड उसके मूह में तूस दिया. वो चोक हो गयी.

मे: मुझे लगता है की हमे रूमी को कॉल कर लेनी चाहिए, इससे पहले मेरा पानी तुम्हारे फेस पर फैल जाए.

ह्र (लंड चूस्टे हुए): ये एक अछा आइडिया है. लेकिन मैं बाद में रुक नही पौँगी (हेस्ट हुए).

फिर मैं उसके डेस्क पर बैठा, और डस्क्गिर्ल्स.लिव वेबसाइट ओपन की. लकिली रूमी फ्री थी उस वक़्त. वो हमे जाय्न करने के लिए एग्ज़ाइटेड थी. ह्र फिर मेरे सामने घुटनो पर बैठी, और लंड चूसने लगी. उसने अपना पर्स खोला, और मुझे डेबिट कार्ड दिया अपना.

मैने उसे क्रेडिट खरीदने के लिए इस्तेमाल किया. फिर मैने रूमी को नंगी होने को कहा. वो लोजीन करने से पहले से ही अपनी छूट में उंगली कर रही थी. मैने राधिका के बाल पकड़े, और उसकी थूक मेरे सख़्त लंड से बह रही थी.

मैं अपने लंड को उसके गले की दीवार से टकराता हुआ महसूस कर पा रहा था, और उसको चोक कर रहा था. उसने मुझे हैरान होके देखा. जब उसने बोलने की कोशिश की, तो थूक उसके मूह से बहने लगी.

ह्र: वाउ! तुमने तो मेरी साँस ही रोक दी! मुझे ये बहुत पसंद है!

फिर उसने दोबारा से अपना मूह खोला. मैने उसका मूह पकड़ा, और फिरसे लंड मूह में डाल कर उसकी साँस रोकने लगा बार-बार. तभी रूमी की वीडियो कॉल कनेक्ट हो गयी. वो धीरे-धीरे अपनी छूट में उंगली कर रही थी. लेकिन जब उसने मुझे राधिका को चोक करते देखा, तो उसने अपनी स्पीड बढ़ा ली.

रूमी ने मुझसे नज़रें मिलाई, और मैने आहह भारी क्यूंकी मैं राधिका के मूह की दीवारो को लंड को जकड़ते महसूस कर रहा था. मेरा माल निकालने वाला था, तो मैने उसका सर पकड़ कर लंड अंदर तक धकेल दिया. राधिका अपनी आँखों से मुझे उसको छ्चोड़ने की मिन्नटे कर रही थी. लेकिन मैने अपना माल उसके गले में निकाल दिया, और ये देखते हुए क्षकशकश कॅम मॉडेल रूमी अपनी छूट तेज़ी से रग़ाद रही थी.

रूमी स्क्रीन पर मोन कर रही थी. मैने अपना लंड बाहर निकाला, और मेरे लंड के मूह से माल की पिचकारी निकल कर राधिका के होंठो पर लग गयी. रूमी ने ज़ोर की आ भारी, और उसकी बॉडी हमे देख कर टाइट हो गयी. फिर मैने ह्र को अपनी तरफ खींचा, और वो मेरी बॉल्स को लीक करने लगी और मोन करने लगी. रूमी ने हमे देखते हुए आह भारी.

रूमी: आह फक! तुम दोनो बहुत बुरे हो. बहुत सेक्सी! आह, मेरा निकल रहा है.

उसकी बॉडी ज़ोर से काँपने लगी, और वो अपने बालों को अपने चेहरे से हटते हुए पीछे होके लेट गयी. इधर मेरी ह्र उसको देखते हुए लगातार मेरी बॉल्स चाट रही थी. राधिका मेरी बॉल्स छाते जेया रही थी, और रूमी मोन कर रही थी. हम दोनो उसके मेरी बॉल्स को चाटने का मज़ा ले रहे थे.

फिर मैने रूमी को देखा, जो हमे ध्यान से देख रही थी. उसने स्माइल की और अपनी छूट रगड़ते हुए मोन करने लगी. उसने मुझे एक तर्की लुक दी, और अपने लिप्स छाते छूट में दो उंगलियाँ डालते हुए. इससे मेरा निकालने वाला हो गया. मैं धीरे से खड़ा हुआ, और अपनी रंडी ह्र को नीचे से उठाया.

फिर मैने उसको किस करके अपनी बॉल्स का टेस्ट लिया. उसने हल्की आ भारी. फिर मैं उसके डेस्क पर बैठ गया, और उसकी टांगे खोल ली. फिर मैने उसकी जांघें पकड़ी, और लॅपटॉप की तरफ देखा. रूमी ने भी ये देख कर अपनी टांगे खोल ली, और मैने लंड ज़ोर से राधिका की छूट में डाल दिया. उसने ज़ोर की आ भारी, और अपने टेबल पर अपनी ज़बरदस्त चुदाई को फील करने लगी.

मे (धक्का मारते हुए): कल जब तुम काम करोगी, तुम इस डेस्क पर बैतोगी. तुम मेरे इस मांसल लंड से अपनी छूट की चुदाई के बारे में सोचोगी.

रूमी: ओह फक! ऐसे ही छोड़ते रहो उसको.

मे: क्या तुम्हे मेरा तुम्हारी चुदाई करना पसंद है? तुम चाहती हो की मैं ओवरटाइम करता राहु, और तुम्हारी चुदाई भी ऐसे ही करता राहु (ज़ोर से छोड़ते हुए)?

ह्र: हे भगवान! रुकना मत! करते रहो! आह! आह!

उसकी छूट से छाप-छाप की आवाज़े आ रही थी धक्के लगते हुए. उसकी छूट की दीवारे मेरे लंड से रग़ाद खा रही थी. लगातार चुदाई के चलते उसकी छूट से दूधिया माल निकालने लगा था. वो मेरे लंड से अपनी चुदाई का मज़ा ले रही थी, और रूमी को भी मज़ा आ रहा था. राधिका अपने होंठ काटने लगी, जब-जब मेरा लंड उसके अंदर जेया रहा था. मैने आ भारी, क्यूंकी वो और गीली हो रही थी.

फिर मैने उसको घुमाया, और उसके कंधो से उसको पकड़ा. उसने डेस्क को ज़ोर से पकड़ते हुए तेज़ साँस के साथ ज़ोर की आ भारी. उसकी लेग्स चौड़ी थी, और वो मोन करते हुए कॅमरा में देख रही थी. हमे चुदाई करते देख रूमी अपनी छूट को ज़ोर से रग़ाद रही थी.

मे: तुम्हे पसंद आया रूमी?

रूमी: ओह फक! ओह फक!

उसकी टाँगो ने उसके हाथ को दबोच लिया, और वो आँखें बंद करके मोन करने लगी. उसने तेज़ साँस ली, और मुझे देख कर स्माइल करने लगी.

ह्र: फक! ये बहुत हॉट था. ज़ोर से छोड़ो!

मैने राधिका को छोड़ते हुए आ भारी. राधिका ज़ोर-ज़ोर से आहें भर रही थी, क्यूंकी मैं ज़ोर से उसको आयेज-पीछे करके छोड़ रहा था. वो मोन करते हुए खुद को कॅमरा में चूड़ते देख रही थी. उसका मूह खुल गया, और उसका जिस्म सख़्त होने लगा. मैं रुका नही.

मैने उसके चूतड़ पकड़े, और अपना लंड अंदर तक डाल दिया, और उसके लोवे हॅंडल्स को मरोड़ दिया. वो चीखी और उसने अपना होंठ काटा. मैं उसको ज़ोर से और तेज़ छोड़ने लगा. राधिका की आँखें उपर चढ़ गयी, उसके हाथ टेबल से हॅट गये, और वो टेबल में धस्स गयी.

फिर उसने अपनी लेग्स चौड़ी की, और तक कर लेट गयी. मैने अपना लंड बाहर निकाला.

ह्र: नही! इसको अंदर डालो प्लीज़!

फिर मैने उसके साथ चिपक कर उसको किस किया, और फिरसे लंड उसकी छूट में डाल दिया. मैं उसकी कोख में अंदर तक लंड डाल रहा था, और वो आहें भरते हुए किस कर रही थी मुझे.

ह्र: इसी तरह छोड़ो मुझे.

मैं जितनी ज़ोर से छोड़ सकता था छोड़ा उसको. उसको छोड़ते हुए मेरा पसीना और तेज़ साँसे उस पर पद रही थी. राधिका की साँसे चढ़ रही थी, और वो ज़ोर-ज़ोर से मोन कर रही थी.

मैं जानता था की वो निकालने वाली थी. उसकी छूट ने मेरे लंड को जाकड़ लिया, और मेरा लंड मज़े से उछाले मार रहा था. उसकी टांगे मेरी कमर पर जकड़ी हुई थी. फिर मैने रूमी की तरफ देखा. वो खुद को टच करते हुए हमे ही देख रही थी.

मेरा भी शरीर अकड़ने लगा था, और मैं अपना लंड ह्र की छूट से बाहर नही निकालना चाहता था. मैं अपना माल उसके अंदर ही निकालना चाहता था.

ह्र: लंड बाहर मत निकालना बेबी. अपना माल मेरे अंदर भर दो.

फिर मैने अपना माल राधिका की छूट की गहराई में जाता हुआ फील हुआ. वो मोन करते हुए पीछे लेट गयी किस करते हुए. रूमी हस्सी और उसने अपनी छूट कॅमरा के पास की, ये दिखाने के लिए की वो कितनी गीली थी. मैने और ह्र ने किस करते हुए उसके गीले-पन्न पर स्माइल की.

रूमी ने लोग आउट किया जब मैं राधिका की छूट में थोड़ी उंगली कर रहा था. हम अभी भी रूमी के साथ मिल कर मज़ा करते है, जब . करता है. वो हमारी . मॉडेल है, और हमारी चुदाई . में उसको मज़ा आता है.

मैं कहानी का थर्ड पार्ट भी लिखूंगा अगर आप लोग जानना चाहते है की हमने और क्या-क्या किकी किया.

तब तक आप लोग भी सीस्क पर हॉट इंडियन मॉडेल्स को देख कर मज़ा ले सकते है. इन सेक्सी मॉडेल्स को देखने के लिए यहा क्लिक ..

यह कहानी भी पड़े  ऑफीस की गफ़ के साथ होटेल में चुदाई शुरू


error: Content is protected !!