पायल को सारी रात बजाया

हेलो दोस्तो, मैं राज आज फिर से आप के लिए अपनी जीवन की एक और मस्त चुदाई की हिन्दी सेक्शी स्टोरीस ले कर आया हूँ. जहा तक अब मुझे लगता है की मुझे खुद अपनी इंट्रोडक्शन देने की कोई ज़रूरत नही है क्योकि अब मुझे बहोत अच्छे से जान चुके है.

दोस्तो मैं इस चुदाई के लिए अपनी नेहा दोस्त का बहोत बहोत शुक्रिया कहना चाहता हूँ अगर वो नही होती तो मुझे एक 23 साल की कुवारि नयी नयी शादी शुदा पायल की चूत शायद कभी ना मिलती.

ये बात आज से एक महीने पुरानी ही है. इस लिए दोस्तो मैने कहानी मे कुछ नाम चेंज कर दिए है ताकि उसे और किसी और को कोई प्राब्लम ना हो. मेरी दोस्त नेहा ने मुझे एक दिन फोन कर के बताया की उसकी एक दोस्त है पायल जिसे मैने तुम्हारे बारे मे सब बता दिया है उसने तुमसे सेक्स करवाने के लिए मुझे 5000 रुपीज़ अभी अड्वान्स दे दिए है. मैने उससे पूछा की चुदाई कहाँ करनी है तो उसने मुझे कहा की तुम्हे उसके घर आना होगा.

जैसे ही मैने ये बात सुनी तो मैने कहा यार तुम भी ना मैं इतना रिस्क नही ले सकता अगर कोई आ गया तो पंगा ना पड़ जाए. तो नेहा ने मुझे बताया की पायल के हस्बैंड एक डॉक्टर है और वो सॅटर्डे को अपनी किसी काम से दो दिन के लिए दिल्ली जा रहे है. इस लिए तुम्हे डरने की कोई ज़रूरत नही है. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मुझे अब उसकी बात पर तोड़ा विश्वास हो गया क्योकि वो मेरी सब से अच्छी दोस्त थी जो मुझसे खुद की प्यास तो शांत तो करवाती ही थी और साथ साथ पैसो के लिए किसी और को भी मुझसे चुदवाति रहती थी. मैने अपनी इनकम मे से उसे भी कुछ हिस्सा दे देता था जिससे हम दोनो एक्सट्रा इनकम आराम से कर लेते थे.

यह कहानी भी पड़े  फिल्म में काम करने के चक्कर में सर से चुदवाया

तो मैने पायल से मिलने का पक्का कर दिया आज ट्यूसडे था इस लिए ना तो कोई मूठ मारी और ना ही किसी से सेक्स किया मैं चाहता था की अपनी सारी एनर्जी मैं सेव कर लूँ और सॅटर्डे को अपनी सारी ताक़त पायल के उप्पर यूज़ करूँ. आख़िर काफ़ी लंबे इंतेजार के बाद सॅटर्डे आ ही गया मैं उस दिन सुबह 7 बजे ही उठ गया और जल्दी से तैयार हो कर अपने ऑफीस चला गया मैं आज खुद को बहोत एक्टिव महसूस कर रहा था जो की मेरे लिए एक अच्छी बात थी. पायल ने मुझे रात को 10 बजे आने का टाइम दिया था.

पर मुझसे बर्दाश नही हो रहा था अब इसलिए मैने जल्दी से मार्केट से बहोत सेक्सी वाले कॉनडम्स लिए और 7 बजे ही पायल के घर पहोच गया. मुझे पता था की उसके पति सुबह ही दिल्ली के लिए निकल गये होंगे. जैसे ही पायल ने दरवाजा खोला तो वो मुझे देखते ही बोली – राज मैने आप को 10 बजे का टाइम दिया था और आप तो बहोत पहले ही आ गये.

मैं हैरान था की उसने मुझे कैसे पहचान लिया जब की मैने आज तक उसे देखा तक नही था फिर मैने उसे एक बार उप्पर से लेकर नीचे तक देखा और मैं बोला – जल्दी आने के लिए सॉरी पर मैं बहोत बेताब था आप से मिलने के लिए मैं देखना चाहता था की आख़िर वो कौन है जिसने मुझे बिना देखे ही मेरी 5000 रुपीज़ की बुकिंग एडवांस कर ली.

पायल मेरी तरफ मुस्कुराती हुई बोली – क्या करूँ आप की दोस्त ने आप के बारे मुझे बहोत कुछ पहले ही बता दिया था जिससे मैने आप को बुक करने के लिए मना नही कर सकी आप कुछ देर बेडरूम मे वेट करो मैं आती हूँ.

यह कहानी भी पड़े  Bhabhi Ki Chut Fad Kar Maa Banaya

पायल की बात सुन कर मैं बेडरूम मे चला गया. पायल देखने मे बहोत मस्त लग रही थी साली.. रंग एक दम गोरा पतली सी कमर और गोरे गोरे चेहरे पर गुलाबी होंठ बहोत ही सेक्सी लग र्हे थे. मैने बेड पर देखा की बेड पर वाइट कलर की चादर बिछी हुई थी और चादर पर लाल रंग के गुलाब के फूल थे जिससे पूरा बेड अच्छे से सजाया हुआ था. मुझे ऐसा लग रहा था मानो आज मेरी सुहग्रात हो.

करीब 20 मिनिट बाद कमरे मे आई उसके हाथ के एक दुद का ग्लास था और उसने रेड कलर का शादी का लहनगा और शादी के सारे गहने पहने हुए थे ये सब देख कर मैं बहोत हैरान था इस लिए मैं बोला – पायल ये सब क्या है मैं कुछ समझ नही पा रहा हूँ.

पायल – डरने वाली कोई बात नही है दरअसल मेरी शादी को 7 महीने हो गये है और मेरे पति ने अभी तक मेरे साथ एक बार भी सुहग्रात नही बनाई और तो और मुझे टच भी नही किया.

ये सुनते ही मैने उसे पकड़ कर अपने पास बिठा लिया और बोला – चलो कोई बात नही आज मैं कोशिश करूँगा की आप की ये रात आप की सुहग्रात से भी अच्छी रात बना दू.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!