पति से सताई हुई लड़की की चूत

दोस्तो.. मैंने अन्तर्वासना पर प्रकाशित सबकी कहानियों को पढ़कर सोचा मैं भी अपने एक आपबीती लिखूँ।

यह कहानी मेरी यानि अमित और दिव्या की (नाम बदला हुआ) है। कहानी 3 साल पुरानी है।

मेरे ऑफिस में एक औरत ने ज्वाइन किया था उसका नाम दिव्या था।
सबमें बहुत चर्चा थी कि यह औरत बहुत तेज़ है।
कुछ ने कहा कि बहुत बड़ी चुदक्कड़ है।

मैं हैरान था कि क्या सही में ये ऐसी ही इतनी खुश मिजाज़ है.. सबसे बात करने वाली है.. या लोग सिर्फ़ अपनी हरकतों से बाज़ नहीं आते है, इसलिए इसके विषय में ऐसा कह रहे हैं।

खैर.. भगवान को शायद कुछ और मंजूर था, उसकी सीट मेरे पास हो गई, उससे मेरी बात शुरू हुई।
आम ऑफिस के अन्य सहकर्मियों की तरह थोड़ा छेड़छाड़ भी हुई।
वो इतना हँसती और ऐसे शरमाती थी.. जैसे सच में वो खुद को और छेड़ने का आमंत्रण दे रही हो।
उसकी बहुत अच्छी स्माइल थी। उसका शरमाना ऐसा कि उससे नाज़ुक और उससे ज़्यादा कमसिन कोई नहीं हो। वो 32 साल की होकर भी लड़कों से बहुत घुलमिल कर रहती थी।

एक दिन मैंने पूछा तो उसने बताया कि उसका पति साइंटिस्ट है और एक बेटी भी है।

शायद वो अपने पति से थोड़ी उखड़ी सी थी। जब उसकी तारीफ करो तो कहती शायद मेरा पति इस बात को समझता।
मुझे समझ आ गया कि इसका पति इसे परेशान करता होगा।

खैर कुछ दिन बीते.. एक दिन शाम को एक अंजान नंबर से फोन आया।
ये दिव्या ही थी.. वो बोली- मुझे तुमसे कुछ काम है।

यह कहानी भी पड़े  निशा की चुदक्कड़ चुचियाँ

मैंने फोन पर ही मदद की बात कही, तो उसने कहा- फोन पर थोड़ा समझ नहीं आ पाएगी।
मैंने कहा- चलो आकर मिलता हूँ।

वो नज़दीक ही रहती थी।

मैं उससे मिला, बात हुई.. आते हुए मैंने हाथ मिलाया.. तो वो थोड़ा झिझक रही थी।
मैंने पूछा तो कहती है- मैं ऐसे हाथ नहीं मिलाती.. अजीब लगता है।

पर उसने मुझसे हाथ मिलाया और कहा- तुम गर्म हो.. मतलब तुम अपनी गर्लफ्रेंड के लिए वफ़ादार रहोगे।
मैंने कहा- तो अच्छा है ना तुम्हारे लिए.
वो शर्मा गई।

फिर उससे मुलाकात होने लगी।

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!