अंकल ने मा को रंडी बना कर चोदा और मैने भी चोदा

मेरा नाम अभी है. मैं 19 साल का हू. मेरे परिवार में टीन लोग है, मेरे पापा, मेरी मम्मी और मैं. मेरे पापा का नाम दिवाकर है. उनकी आगे 48 है. मेरी मा का नाम सीमा है, और उनकी आगे 38 है.

मेरी मा दिखने में 30 की लगती है. मा काफ़ी सुंदर है, और उनका आकर्षक शरीर है. बोले तो पताका माल. मेरी मम्मी एक खूबसूरत घरेलू औरत है. उनके नरम, गोरे, और फूले हुए माममे है, जो 38द ब्रा में फिट हो जाते है.

मम्मी की कमर 36″ की है, और कूल्हे (बूँद/हिप्स/गांद) 39″ के है. उनका बदन गोरा और काले बाल कमर तक है. इसके साथ खूबसूरत चेहरा है. अब मैं सीधा स्टोरी पर आता हू.

ये घटना बिल्कुल सॅकी है. बात 6 महीने पहले की है, जब पापा को काम से दुबई जाना था.वो 2 साल का कांट्रॅक्ट था. पापा के दुबई जाने के बाद मैं और मा घर पर बच गये.

एक दिन मैं रात को सो रहा था. राज को जब मैं उठा कुछ काम से, तो मैने मा के रूम में देखा. मैने देखा रूम की लाइट जल रही थी, तो मैने खिड़की से देखा. मैं अंदर देख कर डांग रह गया, क्यूंकी मा बिल्कुल न्यूड सो रही थी, और कृत्रिम(आर्टिफिशियल) लंड अपनी छूट में डाल रही थी.

वो आ आ करके आवाज़े निकाल रही थी. ये देख कर मेरा भी लंड 9 इंच का खड़ा हो गया. मॅन किया की अभी जेया कर छोड़ डू. लेकिन मैं क्या कर सकता था. आख़िर मैं वाहा से हॅट कर अपने बातरूम में चला गया, और वाहा पहली बार मा के नाम की 2 बार मूठ मारी.

सुबा जब मैं उठा तो मेरा मा को देखने का नज़रिया बदल गया. जब मैं लंच कर रहा था, तब मा जब झुकी, तो उनका पल्लू गिर गया. उनके बड़े-बड़े बूब्स देख कर मज़ा आ गया.

फिर मैं कॉलेज गया, और शाम 4 बजे आया. तब मा ने कहा-

मा: बेटा उपर किरायेदार को खाना खाने के लिए बुला लो.

क्यूंकी उन्होने खाने के लिए बोला था मा को. फिर मैं अंकल को बुलाने गया. अंकल के बारे में बताता हू. ये हमारे किरायेदार है. इनका नाम रामा है. इनकी आगे 58 है, लेकिन शरीर बिल्कुल हटता-कटता है, और लूंबा भी. इनके कोई भी बच्चे नही है, और इनकी वाइफ की डेत 20 साल पहले हो गयी थी.

ये अपनी बीवी से इतना प्यार करते थे, की आज तक दूसरी शादी भी नही की. लेकिन रंडी छोड़ते है डेली. अब इसको प्यार कहे क्या, या औरतों की हवस?

जब मैं और अंकल खाना खाने बैठे, तो मा हम दोनो को खाना देने लगी. तभी मा का पल्लू गिर गया, और मा के बूब्स सॉफ दिख रहे थे. क्यूंकी मा के बूब्स बड़े थे, और भरे हुए थे, तो ये सब देख कर अंकल की आँखें चमक उठाई.

फिर मा ने पल्लू ठीक किया, और मा भी अंकल को देख कर शर्मा गयी. वो हल्का सा मुस्कुराइ भी. हम दोनो ने लंच किया. फिर मैं और रामा अंकल उनके रूम में गये, और हम दोनो का बातों का प्लान था. क्यूंकी हम दोनो एक फ्रेंड की तरह रहते थे. फिर दोनो ने बातें करना स्टार्ट किया

मैं: और अंकल क्या चल रहा है? आज कोई रंडी बुलाई की नही?

अंकल: नही यार.

मैं: क्यूँ?

अंकल: चाहता हू एक परमाणेंट रंडी ही रख लू.

मैं: रख लो, इसमे क्या करना है? बस महीने का अड्वान्स देते रहना.

अंकल: वो तो मैं दे दूँगा. महीने का 2 लाख दूँगा. लेकिन 2 लाख के जैसा काम भी तो करूँगा.

मैं: वो तो है, लेकिन माल उस टाइप का होना भी तो चाहिए.

अंकल: एक है मेरी नज़र में.

मैं: कों है खुशनसीब?

अंकल: बुरा तो नही मानोगे?

मैं: मैं आपका फ्रेंड हू, बेझीजक आप कहिए, मैं बुरा नही मानूँगा.

अंकल: तुम्हारी मा.

मैं: अछा? मुझे भी कोई दिक्कत नही है, क्यूंकी पापा के ना होने पर वो रात को बस उंगली और कृत्रिम लंड से ही काम चलती है. अगर आप छोड़ोगे तो वो भी खुश और मैं भी खुश पैसों से.

अंकल: तो काम करा दो मेरा जल्दी से.

मैं: करा दूँगा जल्द ही.

अंकल: ओक दोस्त.

मैं सीधा घर आया, और मैं सोने लगा. फिर 12 बजे मैं उठा, और मा के रूम में जाने लगा. मैने खिड़की से देखा की मा सारी के उपर से अपने बूब्स मसल रही थी, और छूट को रग़ाद रही थी.

तभी मैं मा के रूम में आ गया, और सीधा मा के पास आ कर बैठ गया. मा मुझे देख कर चौंक गयी, और बैठ गयी. फिर मा ने मुझसे पूछा-

मा: इतनी रात को मेरे रूम में क्या कर रहे हो?

मैने मा से पूछा: तुम क्या कर रही हो?

मा शर्मा गयी, और कुछ बोली नही. फिर से पूछने पर बोली-

मा: तू नही समझेगा एक औरत का सुख क्या होता है.

मैं बोला: आज मैने देखी आपकी रामा अंकल से शैतानी वाली हस्सी.

मा ने सर झुका लिया.

फिर मैने कहा: आप चाहे तो अंकल से ये सुख ले सकती है.

मा खुश हो गयी, और मुझे किस किया. फिर मैने कहा-

मैं: लेकिन एक शर्त है.

मा ने पूछा: क्या शर्त है?

तो मैने कहा: आपको शारीरिक सुख मिलेगा. लेकिन आपको अंकल की रखैल बन कर रहना होगा. क्यूंकी इससे 1 महीने में मुझे 2 लाख मिलेगा.

मा ने कहा: अपनी मा को सौदा किया है? मतलब मुझे उनकी रंडी बन कर रहना होगा.

मैं: हा बिल्कुल.

मा: ओक.

फिर मा हासणे लगी. मैने मा को बोला-

मैं: शाम को तैयार रहना मेरी प्यारी मा.

मा ने कहा: ओक.

सुबा मैने रामा अंकल को बता दिया, और उन्होने भी मुझे 2 लाख दे दिए, और कहा-

अंकल: रात को अवँगा.

मैने अंकल से कहा: ओक.

फिर मा रात को तैयार होकर आई ब्लू सारी पहन कर ट्रॅन्स्परेंट वाली. कसम से एक नंबर की रंडी लग रही थी वो. फिर हम तीनो ने खाना खाया, और मैं लंच करके अपने रूम में जाने लगा.

मा से मैने कहा: ऑल थे बेस्ट.

अंकल हासणे लगे. फिर वो मा को रूम में ले गये, और मा को पकड़ा, और भूखे शेर की तरह टूट पड़े. उन्होने मा की सारी खोल दी, और ब्लाउस को भी फाड़ दिया. फिर मा के पेटिकोट का नाडा खोल दिया.

अब मा सिर्फ़ ब्लॅक कलर की ब्रा और पनटी में थी. फिर रामा अंकल ने मा की ब्रा भी खोल दी. अब मा ने सिर्फ़ पनटी ही पहनी थी.

फिर रामा अंकल ने मा के बूब्स को खेलने के लिए हाथ लगाया, तो मा ने अपने दोनो हाथो से बूब्स धक लिए. उसके बाद रामा अंकल ने मा को 3-4 थप्पड़ मारे. फिर वो मा को गाली देने लगे.

वो कहने लगे: साली रंडी, तू मुझे रोकेगी? मैने तुझे खरीदा है तेरे बेटे से. आज से मेरी रखैल है तू. मैं जो बोलूँगा तुझे, वो करना.

मा ने अपना हाथ हटा दिया.

फिर मा ने कहा: मैं आपकी रंडी हू. आज से आप जो कहेंगे मैं वो करूँगी, आप जो चाहे वो.

रामा अंकल ने मा से कहा: शाबाश साली रंडी.

फिर वो मा के बूब्स से खेलने लगे, और लाल भी कर दिए. वो भूखे शेरॉन की तरह नोच रहे थे मा के बूब्स को. फिर उन्होने मा की पनटी को भी उतार दिया, और उंगली डालना शुरू किया.

अब अंकल भी नंगे हो गये थे. फिर उन्होने अपना लंड 8 इंच का मा को दिया. मा उनका लंड देख कर चौंक गयी. फिर रामा अंकल ने लंड मा के मूह में दिया, और चुस्वाया अपना लंड. फिर 10 मिनिट्स तक लंड चुसवाने के बाद अपना पानी मा के मूह में डाल दिया.

कुछ देर बार रामा अंकल ने फिर अपने लंड को चुस्वाया, और तैयार कराया. फिर वो मा की छूट में लंड रगड़ने लगे.

मा कहने लगी: जल्दी डाल दो ना.

रामा अंकल ने कहा: डाल रहा हू साली रॅंड.

फिर अंकल ने मा की छूट में अपना लंड डाला, और धक्का मारा.

मा ने कहा: मॅट छोड़ो, मुझे दर्द हो रहा है.

अंकल ने कहा: साली रंडी, अभी तो डालना स्टार्ट किया है. फिल्म तो अभी बाकी है.

फिर अंकल ने दोबारा धक्का मारा, और रामा अंकल का लंड मा की छूट में पूरा चला गया. अंकल ने अब मा को छोड़ना चालू कर दिया.

मा के मूह से आह आह आ की आवाज़ आ रही थी. 20 मिनिट में अंकल ने मा की छूट का भरता बना दिया, और सारा माल मा की छूट में डाल दिया. फिर रामा अंकल ने अपना लंड तैयार किया, और मा की गांद को मारने के लिए कहा. मा माना करने लगी.

फिर रामा अंकल ने 3-4 थप्पड़ मारे, और मा तैयार हो गयी. रामा अंकल ने मा की खूब गांद मारी, और मा भी रोने लगी. 25 मिनिट्स मा की गांद मारने के बाद रामा अंकल ने अपना सारा पानी मा के मूह में छ्चोढ़ दिया, और मा को पीने को कहा.

मा भी सारा माल पी गयी, और वो दोनो तक गये थे. फिर दोनो सो गये. सुबा दोनो उठे, और फिर से 2 मॅच खेले. फिर अंकल ने कपड़े पहन लिए. मा ने भी ब्रा और पनटी पहन ली थी. तभी मा ब्लाउस पहने जेया रही थी, और रामा अंकल ने उन्हे रोक दिया.

अंकल ने कहा: तुम अब एक रंडी हो आज से. तुम्हे ब्रा और पनटी में ही रहना है.

मा ने कहा: लेकिन बेटे के सामने कैसे?

अंकल ने कहा: तुम्हारे बेटे ने ही तुम्हे मुझे बेचा है. वो अब तेरा बेटा नही डीलर है.

फिर मा ब्रा और पनटी पहन कर जब आई, तो मैं उनको देखता रह गया. क्या माल लग रही थी मा. वो मुझे देख कर शर्मा गयी. फिर हम तीनो ने टी पी, और हॉल में मैने कल की वीडियो रेकॉर्डिंग दिखाई अंकल और मा को.

मा ने कहा: हम दोनो का रेकॉर्डिंग कब की?

मैं: रूम में पहले से ही कॅमरा लगा दिया था.

फिर हम तीनो ने कल ही सेक्स वीडियो देखा. मा शर्मा रही थी. फिर हमने लंच किया, और रामा अंकल और सीमा यानी मेरी मा, फिर से सेक्स करने लगे.

अब आयेज की स्टोरी में बतौँगा की मैने कैसे मा को रंडी बनाया अपनी.

प्लीज़ मेरी एमाइल ई’द पर कॉमेंट करके बताए, की स्टोरी कैसी लगी

नेक्स्ट स्टोरी में बतौँगा मैं, की आगे क्या हुआ.

यह कहानी भी पड़े  सोई हुई मा को चोद कर बेटे ने दिया नया एक्सपीरियेन्स


error: Content is protected !!