पड़ोस की भाभी के साथ संबंध बनाने की कहानी

ही फ्रेंड्स, मेरा नामे पीयूष है, और मैं हरयाणा का रहने वाला हू. पर अभी देल्ही में रहता हू. वैसे तो मैं काफ़ी चुदाई कर चुका हू, उनमे से ही मेरी ये स्पेशल चुदाई है.

अगर कोई भी लेडी सेक्स करना चाहती है, तो मुझे मैल कर सकती है. सारी इन्फर्मेशन सीक्रेट रखी जाएगी. अब आपको बोर ना करते हुए सीधा स्टोरी पर चलता हू.

ये बात कुछ महीने पहले की है. मैं जब देल्ही में रहता था, और जॉब करता था, वही पड़ोस में एक लेडी रहती थी. उसका नाम मंजू था. दिखने मैं 22 साल की लगती थी, पर उनकी आगे 35 की थी.

मैं उनको बहुत पसंद करता था. मेरा तो मॅन उनको देख के सिर्फ़ छोड़ने को करता था. जब भी मैं उनकी गांद और चूचियों को देखता था, तो मेरा 7 इंच का लंड खड़ा हो जाता था.

फिर एक दिन भगवान ने मेरी सुन ही ली. सनडे के दिन था. मैं बाल्कनी में खड़ा था तो उन्होने मुझे आवाज़ लगाई. फिर मैं उनके घर गया. शायद उनके घर कोई नही था, तो उन्होने मुझसे कुछ समान लाने को बोला. मैं फिर उनका समान ले आया, और फिर बाद में उन्होने मुझसे छाई के लिए पूछा.

अब मैं कैसे माना कर सकता था. मैं तो बस बहाना ढूँढ रहा था उन्हे छोड़ने के लिए. फिर वो मेरे लिए छाई बनाने गयी. जब वो चल रही थी, तो मैं उनकी मटकती हुई गांद को देख रहा था. मेरा तो लंड उनकी गांद को देखते ही खड़ा हो गया.

मॅन तो कर रहा था साली को अभी जाके पेल डू. पर कंट्रोल करा, क्यूंकी सबर का फल मीठा होता है.

फिर वो छाई बना के लाई, और जब झुकी थी तो उनके क्लेवगे के दर्शन हो गये. क्लीवेज देख के ही मूह में पानी आ गया. ये बात उन्हे भी पता चल गयी थी, की मैं उनके बूब्स देख रहा था. पर उन्होने कुछ नही कहा, और एक हल्की सी स्माइल पास कर दी.

मुझे लगा वो लंड की प्यासी थी. फिर बाद में उन्होने मेरे बारे मैं पूछा. मैने उनको अपने बारे में बताया. फिर उन्होने मेरी गफ़ के बारे में पूछा. वैसे तो मेरी गफ़ थी, फिर भी मैने उनको झूठ बोला. मैने उनको माना कर दिया, और कहा की मेरी कोई गफ़ नही थी.

उन्होने फिर मुझसे कहा: तुम इतने स्मार्ट हो, ऐसा तो हो ही नही सकता तुम्हारी गफ़ ही ना हो.

फिर मैने उनको बोला: मुझे तो सिर्फ़ आप जैसी भाभीया ही अची लगती है.

तो उन्होने मुझसे कहा: मेरी जैसी, मैं नही?

मैने उनको बोला: मेरा मतलब की मुझे आप ही बहुत अची लगती हो.

मेरी ये बात सुन कर उन्होने मुझे स्माइल दी.

फिर वो बोली: ओह अछा जी? ऐसा क्या देख लिया तुमने मुझमे, जो तुमको मैं अची लगी?

मैने उनको बोला: भाभी आप हो इतनी सुंदर की आपको देख के कोई भी आपका दीवाना हो जाए.

फिर उन्होने मुझसे कहा: रहने दो, झूठ मत बोलो. ऐसा होता तो तुम्हारे भैया बाहर मूह नही मारते.

फिर मैने उनको बोला: भाभी उनको तो आपकी कदर नही है. मैने तो आपको जब से देखा है, तो बस आपका ही दीवाना हू. पर कभी कहने की हिम्मत ही नही हुई.

फिर वो बोली: अछा ऐसा क्या देख लिया मुझमे, जो तुम मेरे दीवाने हो गये.

तो मैं बोला: रहने दो भाभी, आप बुरा मान जाओगी.

फिर वो बोली: अगर नही बताओगे तो भी मैं बुरा मान जौंगी.

इस्पे मैने उनको बताया: भाभी आपकी आँखें, और आपके लिप्स इतने पिंक है देख के ही इनको खा जाने को मॅन करता है. और भाभी आपकी कमर और भाभी…

वो: और क्या बताओ?

मैं: मुझे भाभी आपकी गांद और बूब्स बहुत पसंद है. इन्हे देख के ही आपको छोड़ने का मॅन करता है.

फिर भाभी मेरी ये बात सुन के शॉक हो जाती है, और अंदर ही अंदर स्माइल भी कर रही होती है. उसके बाद वो मुझसे कहती है-

वो: अगर ये तुम्हारे भैया को पता चलेगा, पता है वो तुम्हारा क्या हाल करेंगे?

फिर मैं तोड़ा सा डरते हुए बोला: अर्रे नही भाभी, मैने तो आपको अपने दिल की बात बता दी.

फिर भाभी खड़ी होके मेरे पास आई, और उन्होने मेरा खड़ा हुआ लंड भी देख लिया. ये देख कर उन्होने मुझे स्माइल दी, और बोली-

वो: अछा तो अभी तुम्हारे भैया अभी आने वाले है.

फिर हमने अपने नंबर एक्श्चनगे करे, और फिर मैं वाहा से आ गया. आते ही मैने दो बार भाभी के नामे के मूठ मारी, और फिर सो गया. शाम को उठा और बाहर घूमने चला गया. फिर रात को मैने उनको मेसेज करा. उधर से भी भाभी का रिप्लाइ आया.

फिर ऐसे ही हमारी बात होना शुरू हुई, और ऐसे ही फिर हम सेक्सी बातें भी करने लग गये.

उन्होने मुझे बताया: मुझे 6 महीने हो गये है चुदाई करे हुए.

फिर ऐसे ही और बातें होने लगी.

उन्होने मुझे बताया: कल तुम्हारे भैया एक हफ्ते के लिए बाहर जेया रहे है.

ये सुन के ही मेरी खुशी का कोई ठिकाना नही रहा. फिर भाभी ने मुझे गुड नाइट बोला, और मैं तो बस अब सुबा होने की वेट करने लगा.

मुझे पता ही नही चला कब मेरी आँख लग गयी. फिर सुबा 8 बजे आँख खुली. ऑफीस तो जाना ही नही था, बस भैया के जाने की वेट करने लग गया. थोड़ी देर बाद भैया बाहर की तरफ आए तो मैं समझ गया भैया जाने वाले थे.

फिर मैं तो बस भाभी की कॉल की वेट करने लग गया. तकरीबन आधे घंटे बाद भाभी की कॉल आई, और फिर मैं उनके घर चला गया. जब भाभी ने गाते खोला, तो कसम से यार साली ब्लॅक सूट में रंडी लग रही थी.

फिर उन्होने मुझसे पूछा: क्या लोगे?

मैने तो बस बोल दिया: भाभी मुझे बस आपकी चाहिए.

तो उन्होने बोला: मेरे राजा, अब तुम्हारी ही हू, सबर करो तोड़ा.

फिर मैने भाभी का हाथ पकड़ा, और उनको अपनी तरफ खींचा. मैं उन्हे किस करने लग गया. कसम से यार, क्या मज़े आ रहे थे उन्हे किस करने में. मैं तो बुरी तरह से किस करने लग गया. मैं उनके होंठो को खाने लग गया.

फिर मैं उनकी चूचियाँ दबाने लग गया, और फिर मैं उनकी गांद दबाने लग गया. उसके बाद बेडरूम में गये. जाते ही मैने भाभी को बेड पे पटका, और अपने कपड़े उतारने लग गया. जैसे ही मैने अंडरवेर उतरा, तो भाभी मेरा लंड देख के बोली-

वो: इतना बड़ा! तुम्हारे भैया का तो इससे छ्होटा है.

मैं बोला: अब तो ये आपका है.

फिर मैने भाभी को नंगा करा. क्या छूट थी उनकी, पूरी गुलाबी. मैं उनकी छूट को चाटने लग गया. क्या मज़े आ रहे थे उनकी छूट चाटने में. फिर मैं उनकी चूची दबाने लग गया. बाद में भाभी से मैने अपना लोड्‍ा चुस्वाया.

क्या लोड्‍ा चूस रही थी यार, पूरी रंडी की तरह. मुझे तो ऐसा ही लग रहा था, जैसे मैं जन्नत मैं था. फिर भाभी ने मुझे बोला-

वो: अब नही रुका जाता मुझसे. अपने लंड से इस प्यासी छूट की प्यास बुझा दो.

फिर मैने उनको सीधा करा, और ज़ोर से उनकी छूट में लंड घुसा दिया. छूट टाइट होने की वजह से आधा लंड उनकी छूट में ही गया और भाभी की ज़ोर से आ निकल गयी.

वो बोली: बाहर निकालो इसको, बहुत दर्द हो रहा है.

पर मैं उन्हे किस करने लग गया. फिर जब वो शांत हुई, तो पूरा लंड उनकी छूट में घुसा दिया. उनके आँसू आने लग गये. फिर इस बार मैं रुका नही, और उनको पूरी रंडी की तरह छोड़ने लग गया. बाद में भाभी को भी मज़े आने लग गये.

भाभी बोली: और ज़ोर से पीयूष, और ज़ोर से. फाड़ दो मेरी छूट को. बना दो इसका भोंसड़ा आज.

मैं: हा मेरी रंडी, आज तेरी छूट का भोंसड़ा बना दूँगा.

फिर मैने उनको 4 बार छोड़ा. एक हफ्ते तक मैं ऑफीस नही गया, और बस भाभी की ज़ोरदार चुदाई करी. मैने उनकी गांद भी मारी. आज भी हम चुदाई करते है जब भी मेरा मॅन होता है. भाभी को मैं फोन करके बुला लेता हू.

ई होप आपको मेरी स्टोरी पसंद आई होगी. कॉमेंट करके ज़रूर बताए, और जो भी लॅडीस सेक्स करना चाहती है, मुझे मैल कर सकती है. सारी जानकारी गुप्त रखी जाएगी.

यह कहानी भी पड़े  सेक्सी भाभी ने चुदाई करना सिखाया


error: Content is protected !!