अपनी मोम के साथ मस्ती ओर चुदाई

ये मेरी फर्स्ट और साची स्टोरी है कुछ ग़लतिया हो तो माफ़ करना. ये कहानी थोड़ी लंबी है तो अपना लंड और छूट सम्हल लो.

नोट: इश्स कहानी मे जीतने भी नाम उसे हुआ है सब चेंज्ड है.

ही गाइस, स्टोरी स्टार्ट करने से पहले अपना इंट्रोडक्षन दे देता हूँ…

ई आम आराव सिंग फ्रॉम झारखंड. मई 25 साल का हूँ, मैं दिखने मे सावला आंड ठीक तक हूँ हाइट 5’9. आंड मैं डेली एक्सररसाइज़ करता हूँ तो बॉडी भी अची शेप मे है. सॉफ्टवेर इंजिनियर वर्किंग इन आन मंक. मेरे घर में 4 लोग हैं, मों, दाद, सिस्टर आंड मैं.

एल्डर सिस्टर: प्रियंका (26 यियर्ज़), उसकी शादी हो चुकी है.

मी दाद: चंद्रन (52 यियर्ज़), वो भी एक मंक में है.

मी मों: जनवी(42 यियर्ज़),जो एक इंटीरियर डिज़ाइनर है.

अपनी मों के बारे मे बीटीये डू…

मेरी मों की शादी मे बहुत कम आगे मे होगी थी. वैसे अपने मों के बारे मे क्या बतौ बहुत गोरी है उनकी फिगर एक दूं मधुरी डिक्सिट जैसी ह और सबसे बड़ी बात 3 बचे होने के बावजूद भी आज वो 35 आगे की लगती है. इंटीरियर डिज़ाइनर मे अछा लुक्स भी होना चाहिए, शायद इस वजह से. मों ने अपने आप को जबरदस्त मेनटेन और एक्सररसाइज़ भी करती है…

मेरे दाद की जॉब कोलकाता मे है, इस वजह से मों-दाद कोलकाता में रहते है आंड सिस्टर अपने पति के साथ उप मे.

अब सीधा स्टोरी पे आता हूँ.

हमरे कंपनी से प्रॉजेक्ट के लिए वन वीक के लिए किसी को कोलकाता भेजना था, तो मैने चान्स ले लिया, सोचा फॅमिली के साथ रह लूँगा पूरा वीक. तो मैने मों-दाद को बताया की मैं कोलकाता आ रहा हूँ, तो दोनो खुश हुए.

मैं फ्लाइट लेके कोलकाता पोहच्ा, मुझे देख के मों बड़ी खुश थी आंड दाद भी, फिर थोड़ी इधर की बाते की आंड ऑल आंड डिन्नर कर के सो गये.

नेक्स्ट दे मुझे एक मीटिंग अटेंड करनी थी तो मई सूभ जल्दी उठ के मीटिंग के लिए चला गया आंड 5 बजे तक रिटर्न आ गया. अभी तक सब खुच नॉर्मल ही चल रहा था.

फिर मों से थोड़ी बातें की, फिर दाद ऑफीस से आने के बाद डिन्नर कर के अपने-अपने रूम मे चले गये. नेक्स्ट दे, मूज़े आफ्टरनून को मीटिंग मे जाना था तो मैं लाते उठ गया आराम से. ब्रेकफास्ट काइया आंड छाई लेके टीवी देख रहा था तब डोर बेल बाज गयी तो मैने खोला तो कंवली बाई थी, जो बर्तन आंड पोछा करती है.

तो वो सीधा किचन चली गई, मों ने बोला की पोछा कर लो बाद मे बर्तन कर लेना, तो उनसे पोछा सुरू किया. जब वो पोछा करते हुए हॉल मे आई तो मेरा ध्यान उसपे गया.

उसने अपना पल्लू पूरा कम्र पे ही लपेट लिए था तो उसके बूब्स आराम से दिख रहे थे. श्यद उसे विसे पोछा लगाने की आदत होगी, क्यूकी घर में मों के अलावा कोई नही रहता था तो भूल गयी होगी की मई घर मे हूँ.

लेकिन मैं मोके का पूरा उसे कर रहा था उसके बूब्स देखे जा रहा था. उसके बूब्स मस्त थे, साइज़ 36 होगी आंड पोछा लगते हुए पूरे मटक रहे थे, ये देख कर मेरा खड़ा हो गया तो मैने ढकने के लिए पिल्लो रख दिया.

जब वो पोछा लगते मेरे पास आई तो समझ नही आ रहा था क्या करू ऐसे बूब्स देख के तो मेरी हॉल्ट खराब हो गई थी आंड उसका ध्यान मेरी तरफ़ बिल्कुल ही नही था, वो अपने कम मे व्यस्त थी.

फाइनली पोछा ख़त्म हुआ आंड वो फिर किचन मे चली गई तो मई झट से बातरूम गया आंड मास्टरबेट किया. फिर आके टीवी देखने बैठ गया. कंवली बर्तन कर के चली गयी आंड मैं भी अपनी मीटिंग जाने के लिए रेडी होने की टायारी में लग गया बुत वो नज़ारा मेरी आँखो के सामने से नही जा रहा था, तो फिर एक बार मैने मूठ मार ली आंड मीटिंग के लिए चला गया.

ऐसा ही और दो दिन चलता रहा, मई कंवली के बूब्स देख लेता आंड मूठ मार लेता. अब तक मेरी और मों की रीलेशन भी नॉर्मल ही थी.अगले दिन मुझे ऑफीस की मीटिंग 3 बजे थी, तो मैं रेडी ही था बूब शो के लिए पर वो आज आई ही नही तो मैने मों से इनडाइरेक्ट्ली पूछ लिया.

मई: मों आज मुझे 3 बजे जाना है.

मों: अक्चा.

मई: मों वो कंवली आज नही आने वाली क्या?

मों: नही, आज उसके यहा कुछ मेहमान आए है तो वो नही आने वाली. तुम क्यू पूछ रहे हो?

साँझ नही आया खा जवाब दूं, तो मैने बोला ऐसे ही.

मों: ठीक है मई नःने जा रही हूँ, बोलके मों नःने चली गयी.

करीब 30 मिनिट्स बाद मुझे मों की बेडरूम से आवाज़ आई, “आराव.”
मों मुझे बुला रही थी.

मई: बोलो मों.

मों: इधर आओ.

मई बेडरूम की तरफ़ गया, मों अभी भी टवल मे ही थी आंड नीचे लेगैंग्स पहनी हुई थी.

मई: बोलो मों.

मों: मेरा ब्रा का हुक निकल नही रहा है. निकल दोगे?

ऐसे बोल के मों ने टवल हटा दिया और दूसरी तरफ़ देखनी लगी. मैने पहले ऐसे मों को कभी नही देखा तो उसकी गोरी पीठ आंड उसपे उसके गीले बाल और उसकी पूरी फिगर, पीछे से दिख रही थी, क्या कम्र थी उसकी मैं देखता ही रह गया. मों ने फिर पूछा, “क्या हुआ?”

मई: कुछ नही मों.

मों: तो निकल दो….ना.

हुक निकालने के लिए मैं आयेज हो गया, मा की पीठ को टच किया तो एक करेंट सा हो गया आंड मेरा लंड खड़ा हो गया. अक्चा था की मों दूसरी टरफ़ देख रही थी. पर आयेज शीसे से उसके बड़े बूब्स दिख रहे थे.

ब्रा गीला हुआ था इसके वजह से वो पीठ से चिपका हुआ था.

मई: मों आपकी ब्रा तो भीग चुकी है.

मों: मैने ब्रा निकल ने की कोशिश की पर निकल नही रही थी तो मैने वैसे ही ना लिया.

मेरे अंदर की हवस जाग रही थी आंड मान मे ख़याल भी था की ये मेरी मों है तो मई कंट्रोल कर रहा था फीलिंग्स. मैने कोशिश की पर हुक नही निकल रहा था आंड मों के बाल भी बीच मे आ रहे थे, तो मों को बोला,

मई: मों आपके बाल बीच मे आ रहे है, आप आगे लोगे क्या?

तो मों ने अपने बाल आयेज कर लिए. अब तो मेरी हालत पूरी खराब होई गई, मेरी मों की पूरी गोरी नंगी पीठ मेरे सामने थी, मई भूल गया की वो मेरी मों है मुझे पीठ पर किस करने ही इक्चा होनी लगी तो मई ब्रा मौत से खोलने की रीज़न से मों को पीठ पे किस कर ली.

मों: क्या कर रहा है?

मई: मों मौत से खोलने का ट्राइ कर रहा हूँ.

मों: अक्चा.

मई: मों हुक पूरा कपड़े मे फस गया है आप त-शर्ट निकलते हो वैसे निकालने का ट्राइ करो.

मों: मैने ट्राइ किया बुत वैसे उपर से नही निकलेगा उतना एलास्टिक नही है इसका.

मई: मैं ट्राइ करू क्या एक बार?

मों: ठीक है.

जैसे मों ने ठीक है बोला, मैने झट से पीछे से हट डालकर ब्रा आयेज से उपर उठाने की कोशिश कर रहा, इसे मेरे हाट का मों के बूब्स को टच हो रहा था आंड उससे मेरा लंड और टाइट हो रहा था. मई कोशिश कर रहा था की मेरा लंड मों को टच ना हो पर मुझे लगा की मेरा खड़ा लंड मों शीशे से देख पा रही थी. बहोट कोशिश के बाद-

मई: मों उपर से नही निकलेगा, आपके बूब्स बहोट बड़े है.

मों: कुछ भी मत बोलो.

मई: हन मों, सच तो है. फिर मों ने कुछ नही बोला.

मई: मों क्यू ना हम नीचे से निकल ने का ट्राइ करे?

मों: वाहा से भी नही निकलेगा.

ऐसे बोलते ही मैने मों की आस की तरफ़ डेका और मान मे ही बोला, इतनी बड़ी आस से कैसे निकलेगा,

मई: मों अब एक ही रास्ता है.

मों: क्या?

मई: ब्रा को काटना पड़ेगा.

मों: ठीक है, ज़रा आराम से काट ना.

तो मैने ब्रा को काट दिया आंड बेडरूम से बाहर आके, सीधा बातरूम चला गया आंड मूठ मार दी. इश्स इन्सिडेंट के बाद मेरी मों को देखनी की नाराज़ बदल गयी. अब मों में मुझे एक सेक्सी औरत दिख रही थी…
तो बे कंटिन्यूड…

तो फ्रेंड्स, कैसा लगा ये पार्ट. अगले पार्ट मैं हम पढ़ेंगे की क्या मों अपने बेटे के साथ क्या क्या करती ह…

इस स्टोरी को लीके, और कॉमेंट्स ज़रूर कीजिएगा.

आप अगर यहा मेरी जगह होते तो क्या करते..?

किसी भी लड़की या औरत को मुझसे छुड़वाने या सेक्स छत करने के लिए कॉंटॅक्ट करे :-
[email protected]

यह कहानी भी पड़े  सुहागरात मे बीवी की जगह मॉं चुद गयी

error: Content is protected !!