ट्रेन में मिलिट्री के जवान से हुई चूत में ठुकाई

हाय फ्रेंड्स, आप लोगो का  में स्वागत है। मैं रोज ही इसकी सेक्सी स्टोरीज पढ़ती हूँ और आनन्द लेती हूँ। आप लोगो को भी यहाँ की सेक्सी और रसीली स्टोरीज पढने को बोलूंगी। आज फर्स्ट टाइम आप लोगो को अपनी कामुक स्टोरी सुना रही हूँ। कई दिन से मैं लिखने की सोच रही थी। अगर मेरे से कोई गलती हो तो माफ़ कर देना।

मेरा नाम आशिमा गुप्ता है। मैं 26 साल की हूँ और फिगर 36 30 36 का है। मैं काफी सेक्सी दिखती हूँ। कितने लोगो का लंड मुझे देखकर खड़ा हो जाता है। मैं एक बड़ी कम्पनी में जॉब करती हूँ। मेरा अक्सर बिजनेस टूर रहता है जिसमे मुझे कई जगह जाना पड़ता है। अभी मैं कानपूर में रह रही हूँ। मेरे जॉब में मुझे अच्छी सेलरी मिलती है पर इसमें यात्रा बहुत करनी होती है।

हर हफ्ते मेरा बिजेनस टूर रहता है। मैं कलकत्ता, मुंबई, बंगलौर जैसे बड़े बड़े शहरों में जाकर अपनी कम्पनी की बूक्स का प्रचार करती हूँ। देखने में मैं काफी हॉट और सेक्सी बंदी हूँ। मेरा बदन गद्दे जैसा मोल मटोल और सेक्सी है। अक्सर रात में ट्रेन से सफर करने के दौरान मैं साथी यात्रिओं से चुदवा लेती हूँ। फ्रेंड्स मेरी किस्मत भी इतनी तेज है की हर बिजनेस टूर पर किसी न किसी मर्द का जुगाड़ हो जाता है।
पिछले बार बंगलौर में मैं जिस होटल में रुकी थी उसके वेटर के साथ ही रात में मैं चुदवा लिया था।

मैं सेक्स और प्यार को जिन्दगी का सबसे अहम हिस्सा मानती हूँ। सेक्स और चुदाई के बिना जिन्दगी अधूरी है। अब स्टोरी पर आती हूँ। मेरे बोस ने मुझे रांची जाने को कहा। वहां पर कई नई प्राइवेट कोचिंग खुल गयी थी जो IIT की तैयारी करवाती थी। इसलिए मुझे अब रांची जाकर नई कोचिंग को अपनी IIT की तैयारी वाली बुक की बारे में प्रेजेंटेशन देना था। मेरे अस्सिस्टेंट ने मेरी टिकट्स बुक करवा दी। 3 दिन बाद को मैं कानपुर स्टेशन पर पहुच गयी और ट्रेन में बैठ गयी। जल्द ही सब लोग आ गये और ट्रेन चल दी।

यह कहानी भी पड़े  बेटे की बीवी के साथ सुहागरात

मेरी टिकट्स गरीब रथ के फर्स्ट क्लास में थी। मेरे सामने वाली बर्थ पर एक मिलिट्री का जवान बैठा था। वो आराम से 7 फुट तो होगा ही। उसके मर्दाना जिस्म पर मेरी नजर चली गयी। मैंने उसे मुस्कुराकर हाय बोला। उसने भी मुझे हेलो कहा। हम दोनों की बाते शुरू हो गयी। वो आर्मी की वर्दी में था। हम दोनों की बाते होने लगी। बार बार मेरी नजर उसकी उपर से हल्की खुली शर्ट पर जाती थी। ओह्ह ! वो मर्द बड़ा सेक्सी था। उसका चेहरा काफी सेक्सी था और लम्बी चौड़ी कद काठी बार बार मुझे याद दिला रही थी उसका लंड बड़ा मोटा ताजा होगा।

“आप कहाँ तक जा रही है??” आर्मी जवान बोला
“रांची तक जाउंगी और आप??” मैंने हँसकर पूछा
“मेरी पोस्टिंग भी रांची में है।

अभी तो हम जवानो का सामना आये दिन नक्सलवादियों से हो जाता है” वो बोला
मैं चौंक गयी। थोडा डर गयी। क्यूंकि मैं अखबार में रोज नक्सलवादियों के हमले के बारे में पढ़ती थी। वो लोग बड़े खतरनाक होते है। जवान मुझे बताने लगा की कैसे वो लोग उनका सामना करते है।

मिलिट्री जवान ने मुझे अपना पैर दिखाया। उसे 2 बार गोली लगी थी। पर फिर भी उसने नक्सलवादियों का सामना किया। उसकी बाते में मुझे बड़ा रोमांच आने लगा।
“आप तो बड़े डेरिंग हो। आप तो असली मर्द हो” मैंने उसकी तारीफ़ करते हुए कहा
वो हँसने लगा और उसके गालो पर डिम्पल पड़ गये।
“आप भी काफी खूबसूरत है” वो बोला
मैं भी हंस दी।

क्यूंकि मेरा मन भी उससे दोस्ती करने को कर रहा था। उसकी पर्सनाल्टी मुझे बहुत आकर्षक लग रही थी। उसने अपने बालो को महीन महीन करवा रखा था जैसे मिलिट्री वाले होते है। हम लोगो की बाते होने लगी और दोनों ही खुल गये। मैंने उसे आलू चिप्स ऑफर की तो वो खाने लगा। मैं उसे आज किसी तरह से पटाने के मूड में थी।

यह कहानी भी पड़े  kamukta भाजी वाला के साथ सेक्स किया

अगर वो पट जाए तो रात भर के लिए लंड का जुगाड़ हो जाए। वैसे भी दोस्तों रात होने की पता नही क्यों मेरा चुदने का दिल करने लग जाता है। हमारी बाते होने लगी और रात के 9 कब बज गये पता ही नही चला।
“आइये खाना खाइये” मैंने कहा और उसके सामने खाना रख दिया।

वो मेरी पूडी सब्जियां खाने लगा। मैंने लाल रंग की हाल्फ स्लीव्स टी शर्ट पहनी थी। मेरे 36″ के पुस्ट उभार जवान को साफ़ साफ़ दिख रहे थे। जब जब वो मेरी पूरी हाथ से उठाता था उसकी नजरे मेरे मस्त मस्त दूध पर चली जाती थी। कई बार मिलिट्री जवान खुद को रोक नही पाता था और कई कई देर तक मेरे सुडौल आकार वाले उभारो को घूर घूर के ताड़ता था। मैं भी ऐसा ही चाहती थी। उसे मेरी चूत चाइये थी और मुझे उसका लंड। मैंने हिसाब लगा लिया की अगर वो 7 फुट का है तो उनका लंड आराम से 8 9″ का होगा। मैं खूब हंस हंसकर बाते करने लगी।

Pages: 1 2 3 4

error: Content is protected !!