मेरी सास की चुदाई कर दी

ही दोस्तो इस कहानी मे बटुंगा कैसे मैने अपनी सास को बुरी तरह से छोड़ा. इतना बुरी तरह मैने आज तक किसिको नही छोड़ा होगा, फुल स्टास्तीफाकतिओं मिला मुझे सास की छूट, गांद और मूह छोड़ कर.

तो कहानी पे आता हू, मेरी शादी को 2 साल हो गये और मुझे सेक्स बहुत हार्ड पसंद है. मई भौत ज़ोरो से चुदाई करता हू लेकिन मेरी बीवी वीक होने के कारण वो मुझे झेल नही पाती और ना ही मई भी उसके साथ कोई जबर्ड्सती करता हू. पर मुझे स्तसिफाकतिओं नही मिलता.

शादी से फेले मैने अपनी स्कूल फ़र्ड और दोस्त की गफ़ को बहुत बुरी तरह से छोड़ा था. उसके बाद से बुरी तरह चुदाई करने का मौका नही मिला.

अब आता हू मैं कहानी पर, मई शादी के कुछ मंत्स बाद ससुराल गया, गर्मी का मौसम था. बहुत गर्मी थी और मुझे रात मे पिसाब 3 4 बार आती है. मई रात 3 बजे उठा तो देखा मेरी सास सोई हुई है. लेकिन उसका ब्लाउस पूरा ओपन था बिना ब्रा का और बूब्स पर्फेक्ट शेप के गोल और टाइट देख मेरा लंड वही पे टाइट हो गया.

मई कुछ देर देखता रहा और बाहर पिसाब करने गे. वाहा सास के बूब्स को इमॅजिन करके हिल्या जिसमे बहुत मज़ा आया था. बहुत पानी निकला और वैसे भी मेरा पानी बहुत ज़्यादा निकलता है दूसरो से और मेरा पानी निकालने मे 1ह्र या उससे भी ज़्यादा टाइम लगता है. लेकिन उस दिन मूठ जल्दी मार दी, बाहर कोई आ जाता इश्स दर से.

फिर वापस अंदर गया तो देखा तो भी सास के बूब्स ओपन एकद्ूम मस्त थे. किसका भी लंड टाइट हो जाता उसे देख कर. आंड एक बात बताना भूल गया, मेरी सास की आगे 46 है और स्लिम टाइप बॉडी मतल्ब फिट बॉडी बोल सकते हो.

फिर दूसरे दिन रात को सास ने सारी निकल दी और पेट के बाल सोई हुई. पेटिकोट से गांद का पूरा शेप दिख रहा था. बता नही सकता इतनी पर्फेक्ट गांद और शेप साइज़ था की मेरा लंड फिर से टाइट हो गया. सोचो स्लिम बॉडी, बूब्स बड़े, गोल और गांद बड़ी शेप मे.. क्या मस्त जिस्म था! उस दिन पहली बार पता चला मेरी सास का जिस्म इतना मस्त है. फिर भर जाकर तोड़ा हिलाया और सो गया.

कुछ दीनो बात मई और वाइफ साथ मे घर आ गये और मुझे एक शादी मे जाना था. वो जगह मेरे ससुराल के पास था तो मई ससुराल गया. गर्मियो मे शादी का सेसाओं होता तो मेरे ससुर और साली भी दूसरे गाव शादी मे गये थे और घर मे सिर्फ़ सास थी.

मई भी शादी अटेंड करके आ गया और रात को मुझे लगा की शायद मुझे कुछ देखने मिलेगा. तो बार बार उठ कर देख रहा था की सास कुछ ओपन नही किया.

फिर 3 बजे फिर पिसाब आई तो देखा सास के बूब्स ओपन है, मेरा वही टाइट हो गया और मई हिलने लगा. सोचा जाकर सीधा चुदाई कर डू फिर सोचा कुछ प्राब्लम हो गयी तो.

5 मिन्स हिलने के बाद कंट्रोल नही हुआ और मई सास के पास जाकर सोया और बूब्स के निपल को ज़ुबान से चाटने लगा. फिर लिप्स से निपल को किस करने लगा. अब बर्दस्त नही हुआ तो बूब्स को मूह स्लो स्लो लेकर चूसने लगा और दूसरे बूब्स को हाथ से स्लो स्लो रग़ाद रहा था.

अब सास का पेट देखा तो फ्लॅट था और नेवेल देखी तो पेट पे किस करते करते नेवेल मे ज़ुबान डाल दी और धीरे धीरे किस करते छूट और नेवेल के बीच वेल
पोर्षन को किस करने लगा. जिससे सास अब जाग रही जो मुझे पता चला और उसकी सासे तेज़ हो गयी और पेट विब्रात हो रहा था.

फिर मैने सारी उठा कर छूट को टच किया तो पूरी गीली थी. मई सारी उतार कर छूट चाटने लगा, सास से बर्ड्सत नही हुआ और ह्म ह्म करने लगी. लेकिन आँखे नही ओपन की और दोस्तो सास ने पनटी नही पहनी थी!

मई उपर चाड गया और लंड बाहर निकाला और छूट पे रख दिया और बूब्स मसल कर सास की नेक को किस करने लगा. मई लेफ्ट साइड की नेक को किस करता तो सास रिघ्त साइड मे फेस कर देती ताकि आचे से किस हो. रिघ्त मे करता तो वो लेफ्ट मे हो जाती, और बूब्स मसल कर चूस रहा था.

मेरा लंड अब कंट्रोल नही हो रहा था तो मैने एक ही झटके मे पूरा छूट मे घुसा दिया. इतना सूखन मिला क्या बतौ, छूट भी टाइट थी और सास के मूह से ह हल्की आवाज़ आई. लेकिन फिर भी सोने का नाटक किया.

फिर मैने सास की कमर के नीचे तकिया रखा और बहुत बुरी तरह से चुदाई करने लगा. सास पूरी हिल रही थी और पूरे कमरे मे ताप ताप की आवाज़ आ रही थी. साथ मे मई सास के बूब्स पे किस, नेक पे किस और जैसे ही लिप्स तो लिप्स किस किया. सास ने अपने हाथ मेरे पीट पर रख दिया और पैरो से मेरी कमर पकड़ ली.

अब रियल खेल शुरू हुआ, फिर सास ने आँखे खोली और आह ह्म चिल्ला कर मेरा पूरा साथ देने लगी. हम पागलो जैसे एक दूसरे को किस कर रहे थे. मई तो जैसे मेरी सास का जिस्म निचोड़ रहा था, बूब्स बुरी तरह से मसल रहा था, निपल भी और लिप्स को पूरा मूह मे लेके चूस रहा था.

एक दूसरे के लिप्स को चबा चबा कर किस कर रहे थे और नीचे से पूरी ज़ोरो से चुदाई चालू थी. सास भी अपनी कमर हिला कर मेरा पूरा लंड छूट मे ले रही थी.

25 मीं के बाद सास का निकल गया और पूरा जिस्म उसका पसीना पसीना था. मैने पूरा नंगा करके फिर सास पे चाड गया और उसके पसीने भरे जिस्म को टेस्ट करने लगा.

अब सास को तोड़ा दर्द होने लगा तो मैने उसकी छूट चाटना सुरू कर दिया. वो 5 मिन्स मे फिर से रेडी हो गयी और खुद मुझे पकड़ कर उपर ली और इशारे से बोली ‘छोड़ो’.

मैने तुरंत लंड उनकी चूत मे डाल दिया और छोड़ना शुरू किया. कसम से मेरी सास का जिस्म पर्फेक्ट बॉडी ह सेक्स प्लेषर के लिए. उपर से पूरा जिस्म पसीना था, क्या मस्त टेस्ट आ रहा उसके जिस्म का.

फिर मैने डॉग स्टाइल मे छोड़ना शुरू किया तो तोड़ा दर्द हुआ उसे लेकिन छोड़ने दे रही थी. मई भौत ही ज़ोरो से छूट मार रहा था और मेरी सास की वो बस आह ह कर रही थी.

लगबग 30 मिन्स बाद मैने सारा पानी सास की छूट मे निकल दिया. और वैसे ही वो बेड पे गिर कर और हाफ़ रही थी. फिर एक बार और छोड़ कर यूयेसेस रात हम सो गये. दूसरे दिन सास पुर दिन मेरी बीवी बन कर चूड़ी.

आयेज बटुंगा सास की गांद मे कैसे लंड घुसाया जो वर्जिन गांद थी और कैसे मैने अपनी सास को मेरे लंड का पानी पिलाया.

यह कहानी भी पड़े  मा की गांद चोदी बेटे ने

error: Content is protected !!