मेरी पड़ोसन भाभी की चुदाई

हेलो एवेरिवन, मेरा नाम सुमित है और मैं देल्ही का रहनेवाला हूँ तो सीधा कहानी पर आता हू, ये मेरे और मेरे पड़ोस वाली भाभी के बारे मे है जो की बहुत ही सुंदर है उनका फिगर 36,34,36 होगा और बूब्स तो पक्का 36 है क्यूंकी मैने कई बार उनके ब्रा देखी है पर गॅंड का अंदाज़ लगा रहा हूँ और एक दम गोरा रंग और हसीन आँखे और सॉफ्ट सी स्किन, भाभी अक्सर सारी मे ही हुआ करती थी और उनके क्लीवेज काफ़ी डीप दिखता था उनके ब्लाउस से और मुझे नही पता था की भाभी भी सेक्स की तलाश मे है पर मैं अक्सर उनके बूब्स को झाँकने की कोशिश करता रहता था तो एक दिन भाभी घर आई तो कोई नही था मेरे अलावा तो भाभी और मैं बैठ कर बाते करने लगे और इतने मे वो झुकी और उनका पल्लू क्या खिसका और मेरी तो नज़र वहीं रुक गयी, वो बड़े बड़े बूब्स मेरे लॅंड जैसे सलामी के लिए तैइय्यार ही हो गया और भाभी ने मुझे देख लिया और वो अजीब सी स्माइल देकर किचन की तरफ चली गयी और जब मैं उनके पीछे गया.

तो वो धीरे से बोली लगता है जवानी सम्भल नही रही है आपसे और बस फिर क्या रुकना था मैने पीछे से उन्हे पकड़ा उनकी कमर से होते हुए उनके बूब्स तक हाथ बढ़ाए और पीछे से उनकी गर्दन चूमने लगा, फिर मैं और भाभी वापस सोफे पे आए और मैं उनके लिप्स पर किस करने लगा पागलों की तरह और उसके बाद मैं उनकी गर्दन उनके पूरे चहरे को चाटने लगा और भाभी मधहोश होकर आवाज़े कर रही थी “आ सुमित वाउ यू आर सो गुड लाइक माय बेबी मैं और पागल होकर ब्लाउस के उपर से उनके बूब्स दबाते हुए उनका बटन्स को खोला और उनकी ब्लाउस को उतार कर फेंक दिया और क्या सीन था गोरे बूब्स पर पतली सी रेड ब्रा ये देख कर मैं भूके कुत्ते की तरह उनके बूब्स दबाने लगा और चाटने लगा, उनके निपल्स को सक करने लगा और वो कह रही थी दबाओ इन्हे सुमित आज इनसे दूध निकाल दो आज मेरे निपल्स पर अपने दाँतों के निशान छोड़ देना बेबी ईट देम बाइट देम बेबी.

यह कहानी भी पड़े  रीना की नई शादीशुदा जिन्दगी

और मैं पूरे जोश मे उनकी पूरी बॉडी को लीक कर रहा था, उनका नेक उनके बूब्स उनकी आर्म्स उनकी पीठ को भी पूरा चाटने के बाद मैं उनके पैरों की तरफ बढ़ा, इतने मे तो भाभी मेरे लॅंड को मेरी बॉक्सर के उपर से दबा रही थी और चूसने के लिए बेताब थी पर मैं उसे तडपा रहा था मैने धीरे धीरे उनके पैरों को उनकी थाइस को चाटा और उनकी पैंटी के उपर से उनकी चुत के अरोमा को फील किया और टीज़ करके छोढ़ दिया, भाभी तड़प रही थी प्लीज़ सुमित प्लीज़ फक मी लेट मी सक युवर डिक प्लीज़ और मैने फिर उन्हे खड़ा किया और उन्हे ज़ोर से किस किया और उनके बूब्स को मसला और निप्पल को पिंच किया और उन्हे नीचे बिठाया तो वो मेरे लॅंड पर हवासी कुतिया की तरह टूट पड़ी और ज़ोर ज़ोर से चूसने लगी और वो बोहोत गालियाँ भी दे रही थी और वाह क्या लॅंड है तेरा सूट आज मैं इसकी मालकिन हुउऊँ आज तू मुझे रंडी की तरह चोदेन्गा और वो सक कर रही थी.

मैने उन्हे फिर से किस किया और अपना लॅंड उनके बूब्स के बीच मे डालकर चोदने लगा और उनके बूब्स पर मेरा प्रेशर लग गया था और आवाज़ आ रही थी ये करने के बाद मैने उन्हे उठाया और बेड पर लिटाया और टांगे फेला कर उनकी पैंटी को फाड़ दिया और क्या शेव्ड चूत थी एक दम पिंक मैं पागलों की तरह चाटने लगा और भाभी और एग्ज़ाइटेड हो गयी और वो नाख़ून लगाने लगी और मेरा मूह अपनी चुत मे घुसाने लगी तो मैं उसे तडपा रहा था और उसका नमकीन पानी मेरे मूह को मज़े दे रहा था और उन्हे मस्त होकर चाटने लगा, भाभी थोड़ी वेट थी और मेरी टंग टच होते ही चिल्ल्लाने लगी आआआआअ आआआअ कमोन सुमित फक मी सुमित लीक मी हार्डर चाटू मुझे और ज़ोर से चाटो और चोदो प्लीज़ फक मी!, बहुत तड़पाने के बाद मैने अपना लॅंड चुत पर रखा चुत पर स्लाइड किया और जब तक भाभी रांड़ की तरह भीक नही माँगने लगी मैं स्लाइड ही करता रहा.

यह कहानी भी पड़े  मस्त पुंजबन की चुदाई जाईपुर मे

और फिर उसके उपर लेट कर उसके बूब्स को मसला और झटके देना शुरू किया आआआआआअ सुमित चोदो मुझे मेरी चुत को चोदो फक दट पुसी सुमित फक इट हार्डर भाभी मुझे बाइट कर रही थी और मैं उसे चाट रहा था चोद रहा था, मैं ज़ोर ज़ोर से शॉट्स लगा रहा था और वो ज़ोर ज़ोर से चिल्ला रही आ आ आ चोदो और गालिया दे रही थी बहुत बड़ा लॅंड है ये तेरा चोद मुझे बेहन्चोद, आज अपनी रंडी बना ले मुझे आज से मैं तेरी हूँ तू जब चाहे मुझे आके चोद सकता है चोद और मैं भी रिटर्न मे और एग्ज़ाइटेड होकर उसे चोद रहा था और मज़े ले रहा था, मैने फिर भाभी को कुतिया बनाया और चोदना शुरू किया आआ आ क्या मज़ा आ रहा था वो मेरे सामने कुतिया बनी हुई थी और मैं उसके बाल पकड़ कर मस्त होकर उसे चोद रहा था और चोदने के बाद मैने अपना सारा कम भाभी के बुब्स पर छोड़ दिया जो की उसने पूरा का पूरा चाट लिया और वही मैं उसके मस्त सॉफ्ट बूब्स के उपर ही थक कर सो गया.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!