घर घर खेलने में दीदी को चोदा

हेल्लो मेरा नाम निर्मल है, में इंदौर का रहने वाला हु। मेरा लंड 6 इंच का है। मै किसी भी औरत को अच्छे से संतुष्ट कर सकता हु। सीधा कहानी पर आता हु।
बात तब की है जब में क्लास 12 में था। में गर्मी की छुट्टिया मामा के यहाँ 3 महीने के लिए जाता था। मम्मी छोटे भाई को लेकर 10 दिन में ही वापस घर आ जाती थी। पर मैं वही रुक जाता था। मामा के घर पर नाना-नानी, 2 मामा और में ही रहते थे। कभी कभी मौसी की लड़की भी आ जाती थी। मेरी मौसी की लड़की का नाम प्रिया है, वो मुझे 4 साल बड़ी है। वो एक दम मस्त और हॉट लड़की है। उसका फिगर 36-28-34 है। वो बहुत गोरी, चिकनी और मस्त है। उसकी गांड और बोबे बहुत बड़े है और रसीले है। कोई भी लड़का उसे देखकर चोदना ज़रूर चाहूँगा और मुट्ठ ज़रूर मारेगा।
बात तब की है जब में 12 क्लास के बाद की गर्मी की छुट्टी के लिए मामा के यहाँ था। प्रिया दीदी भी आ गयी थी। हम दोनॊ के बीच अच्छी बनती थी। हम वह दिन भर टाइम पास करते थे। Tv देखना और गाने सुन्ना हम दोनों को ही काफी पसंद था। हम दोनों बचपन से हमेशा छुट्टियों में घर घर, डॉक्टर डॉक्टर और कई अन्य खेल खेलते थे। हम दोनों घर घर में हमेशा पति-पत्नी बनते थे। खेल खेलते समय मेरा शरीर कई बार दीदी के शरीर से छु जाता था। हम एक दुसरे के गालो पर किस भी करते थे। और साथ में ही नाहते थे। जब में 12 क्लास पास हुआ तब में जवान हो रहा था। मेरा लंड बड़ा हो गया था। सेक्सी चीजे देखकर मेरा लंड जल्दी खड़ा हो जाता था।
एक दिन में नहा रहा था। में पीछे वाले आँगन में नहा रहा था। वो खुला था। में सिर्फ अंडरवियर में था। मेरे सामने नानी कपडे धो रही थी। मेरी नानी का नाम कमला है। नानी सिर्फ पेटीकोट और ब्लाउज में थी। नानी बहुत हॉट और जबराट है। नानी के बोबे और गांड बहुत बड़े है। वो 55 साल की है पर एक दम मस्त और सेक्सी है। हर कोई उन्हें एक बार ज़रूर चोदना चाहेगा। नानी नीचे बैठकर कपडे धो रही थी। उनके बोबे और टाँगे साफ़ दिख रही थी ,वो बहुत सेक्सी लग रही थी। मेरा लंड खड़ा था पूरा। में
धीरे धीरे नह रहा था और नानी को घूर रहा था। दीदी छुपके मुझे देख रही थी।

मुझे नानी को चोदने का मन कर रहा था। मेने नाटक किया। में चिल्लाने लगा। नानी – क्या हुआ राजा।
में- नानी वो मुझे चड्डी के अन्दर जलन हो रही है।
नानी मेरे पास आई । और बोली कहा।
में- अन्दर चड्डी के अन्दर।
नानी नीचे बैठ गयी मेरे सामने।
नानी- मुझे बता में देखती हु क्या दिक्कत है?
में शर्माने लगा और लंड पर हाथ रख लिए।
नानी- अरे बेटा जब तू छोटा था तब नंगा ही घूमता रहता था। मेने तुझे बहुत बार नहलाया है। मुझसे क्या शर्माना।
नानी ने मेरे हाथ हटा दिए और मेरा अंडरवियर उतार दिया। मेरा 6 इंच का खड़ा लंड नानी के मुह के सामने हिलने लगा।
नानी- अरे बाप रे इतना बड़ा हो गया तेरा नुन्ने। पहले तो छोटा सा और मुलायम था। अब तो इतना बड़ा और कड़क हो गया है मेरे राजा का नुन्ने। चल मेरे राजा का नुन्ने देखते है क्या हुआ है।
नानी ने लंड पकड़ा, मेरे शरीर में कर्रेंट दौड़ गया। नानी ने लंड पकड़ा और हिलाने लगी, इधर उधर हाथ फेरकर लंड पर हाथ फेरने लगी।
नानी- कहा जलन हो रही है।
मेने लंड की तरफ इशारा किया। नानी ने लंड पर पानी डाला।
नानी- आराम मिला
में- नाही
नानी लंड पकडे हुई थी और हिल रही थी। में लंड को नानी के मुह के पास ले गया और एक बार उनके होठो से छुआ दिया। नानी मुस्कुराई। लंड हिलती रही।
नानी- अब क्या करे इसका।
फिर नानी लंड हिलती रही और उस पर किस करने लगी। मुझे मजा आने लगा।
नानी- अच्छा लगा राजा?
में- हां। नानी और करो न अच्छे से।
फिर नानी लंड को हिलती और चूमती रही। उसके बाद नानी ने लंड मुह में लिया और चूसने लगी। मुझे बहुत मजा आया। मेने नानी का सर लंड की तरफ दबाया। नानी चूसती रही। फिर मेंने नानी के शरीर पर हाथ फेरा और बोबे दबाने लगा। नानी खड़ी हुई। मेने नानी पेट और बोबे दबाये। फिर मेने नानी का ब्लाउज खोल दिया। नानी खड़ी रही। नानी के बोबे मेरे सामने थे। मेने उन्हें दबाया। और चूसा। फिर मेने नानी का पेटीकोट खोल दिया। नानी ने पेंटी नहीं पहनी थी। नानी पूरी नंगी हो गयी। अब हम दोनों नंगे हो गए। नानी लंड को पकड़कर हिलती रही। मेने नानी को रूम में चलने को कहा। हम रूम में गए। दीदी ने हमारा पीछा किया और छुपके रूम में घुस कर छुप गयी और हमे देखने लगी।

यह कहानी भी पड़े  मुस्लिम कज़िन बहें को रात मे चोदा

loading…

नानी और में पलंग पर लेट गए। मेने नानी की टांगो को चूमना और चाटना शुरू किया।10 min तक चाटने के बाद मेने नानी को उल्टा लेटाया और पूरी पीठ और गांड पर किस किया और चाटा। फिर मेने नानी को सीधा किया और पेट को चाटा। सबसे ज्यादा आनंद पेट को चाटने में ही आता है। फिर मैंने नानी के बोबे चुसे। उसके बाद हमने लिप किस किया। फिर मेने नानी की टांगो को फैलाया और चूत को चाटा 10 min तक। नानी की चूत कई बार चुदी होगी, उनकी चूत चिकनी और मस्त थी और ढीली थी। फिर नानी में मुझे लेटाया और मेरे पुरे शरीर को चूमा चाटा, लंड चूसा। हम एक दुसरे को चूमते , चाटते रहे और एक दुसरे से लिपटे रहे 1 घंटे तक। फिर मेने नानी की चूत में लंड डाला। मेरा पहलीबार था पर नानी की चूत तो फटी ही थी। लंड आराम से अन्दर चला गया। मेने झटके मारने शुरू किये और नानी को 15min तक चोदा। हम दोनों 69 की पोजीशन में आये और एक दुसरे को चाटा। फिर मेने नानी को घोड़ी बना के चोद। फिर मेने नानी को अलग अलग पोजीशन में 30min. तक चोदा। नानी को भी बड़ा मजा आया। मुझे से आनाद मिल गया था अपनी नानी को चोदकर। फिर हम दोनों चिपककर सो गए।
मेरी दीदी यह सब देख रही थी। और चुपचाप बहार चली गयी।
शाम हुई। गर्मी थी हम यानि में नानी, में और दीदी छत पर सोते थे। में दीदी और नानी के बीच सोता था।
सोने के पहले शाम को यु हुआ की दीदी और हम बहार घूम रहे थे घर के पीछे वाले खेत। दीदी – आज चल हम घर घर खेलते है यार बहुत दिन हो गये।
में- ठीक है पर अलग तरीके से खेलेंगे।
दीदी-हां। चल अभी से स्टार्ट करते है।
फिर हम रूम में गए। हमे खेल में सगाई और शादी की। ये सब टाइमपास 20 min तक चला। फिर हमने खाना खाया। खाने के बाद दीदी बोली- अब शादी के बाद सुहागरात मनाएंगे रात को नानी के सोने के बाद।
सोने का टाइम होगया। में और दीदी सोने का नाटक करने लगे। नानी आकर मेरे पास लेती। नानी फिर मुझसे चिपककर सो गयी और लंड हिलाने लगी। मेने भी उनके बोबे चुसे और चुत में ऊँगली की। फिर मेने नानी को सोने के लिए कहा और बोल हम कल सेक्स करेंगे अभी नहीं। फिर नानी मेरी तरफ पीठ करके ओड़कर सो गयी। में दीदी की तरफ गया।
मेने दीदी को जगाया और कहा की नानी सो गयी है।
दीदी- अरे पागल मुझे दीदी क्यों बोल रहा है। हम घर घर खेल रहे है ना, में तेरी बीवी हु।
में-हां मेरी जान चल सुहागरात मानते है, पर मुझे कुछ पता नहीं है।
दीदी- अरे गधे, चल में जो कहु करते जाना ,ठीक है।
फिर दीदी मुझसे चिपककर लेट गयी और मुझे गले लगाया। मेने दीदी को कसके पकड़ा और पीठ पर हाथ फेरा। फिर दीदी ने मेरे गाल और चेहरे पर किस किया। मेने भी दीदी के गाल पर किस किये। फिर दीदी ने अपने गुलाबी नरम रसीले होठ मेरे होठो पर रखे और चूसने लगी।
में पीछे हठा और कहा – दीदी आप ये क्या कर रही है?
दीदी- अरे पागल पति पत्नी रात को यही करते है मेने मम्मी पापा को करते हुए देखा है।
(दरअसल मेरी दीदी का एक किस्सा है की एक बार वो अपने बॉयफ्रेंड के साथ घर में दोपहर को पकड़ी गयी थी। उन्होंने कुछ किया नहीं था बस घर वालो ने डाटा और दीदी की प्यास अधूरी रह गयी। इसलिए वो मुझसे ज्यादा चिपक रही थी।)

loading…

फिर मेने कहा ठीक है दीदी। फिर से दीदी ने मेरे होठो को चूसा, मेने भी उनका साथ दिया। और हमने 5 min तक लिप किस किया। फिर दीदी मेरे ऊपर आ गयी और मुझे किस करने लगी। हम यह सब चुप चाप कर रहे थे। फिर दीदी ने मेरी शर्ट और लोअर उतर दिया और ऊपर से नीचे तक पूरी बॉडी पर किस किया, चूमा, चाटा, 10 min तक। उसके बाद दीदी ने अपने सारे कपडे खोल दिए और सिर्फ ब्रा और पेंटी में आ गयी। फिर में उसके ऊपर चढ़ गया और उसकी टांगो को चूमना शुरू किया। उसकी लम्बी टांगे एक दम गोरी, मुलायम, चिकनी और मस्त थी। मेने उसकी जांघ तक उसके पैरो को चूमा छठा आधे घंटे तक। फिर मेने उसे उल्टा लेटाया और पूरी पीठ को चाटा। क्या गजब की पीठ थी जैसे की प्रियंका की हो। 5 min पीठ चाटने के बाद । उसने मुज्झे ब्रा और पेंटी उतरने को कहा। मेने उसकी ब्रा के हुक खोले और उसने ब्रा उतर दी और फिर मेने उसकी पेंटी निचे सरका के उतार दी। मेने उसकी गांड को चूमा और 10 min तक चाटा। फिर सीढ़ी लेट गयी। उसने अपनी टाँगे फैला दी। मुझे उसकी कचूत साफ़ दिखाई दे रही थी। वो वर्जिन थी इसलिए उसकी चूत गुलाबी, नरम और रसीली थी। फिर उसने मुझे चाटने को कहा। में झट से उसकी चूत की तरफ गया। उस पर हाथ फेरा, दीदी ने आह किया और मेरा सर अपनी चूत की तरफ दबाया। फिर मेने उनकी चूत को आधे घंटे तक चाटा। इस दौरान दीदी ने मुझे एक गोली दी और खुद ने भी एक गोली खा ली। फिर में दीदी के बोबो की तरफ बड़ा। में दीदी के बड़े, गोल, रसीले, मुलायम बोबो को देखकर पागल हो गया और उन पर टूट पड़ा। मेने दीदी की बोबे दबाये और चूसे 5 min तक। दीदी भी पागल हुए जा रही थी। फिर दीदी ने मुझे सीधा लेटाया और मेरा अंडरवियर उतरा और मेरे लंड को हिलाने लगी और फिर मुह में लेकर चूसने लगी। कुछ देर बाद हम 69 की पोजीशन में आये और खूब चाटा और चूमा। फिर मेने दीदी को सीधा लेटाया और टांगे फैला दी। दीदी ने मुझे अन्दर डालने को कहा। मेने दीदी से कहा पक्का डाल दू। दीदी ने कहा हां मेरे पति दाल दे तभी तो खेल पूरा होगा। मेने अपना लंड दीदी की चूत पर रखा और धीरे धीरे अन्दर डालने लगा। दीदी को और मुझे दर्द हो रहा था। हमने लिप किस किया और मेरा पूरा लंड दीदी की चूत में डाल दिया। फिर में झटके मारने लगा और दीदी को ज़ोरदार चोदते रहा,उनके बोबे चूसता रहा और किस करता रहा। फिर मेने उन्हें घोड़ी बनाकर पीछे से चोदा। उसके बाद हमने कई पोजीशन में सेक्स किया। 1 घंटे चोदा दीदी को मेने और उनकी चूत में झड गया। दीदी भी झड गयी। हम दोनों एक दुसरे को किस करते रहे, चाटते रहे, एक दुसरे की बहो में चिपककर लेते रहे। रात भर हमने मजे किये। वो मेरी ज़िन्दगी की सबसे हसीं रात थी। सुबह जल्दी हम दोनों साथ में नहाये और कपडे पहने। नानी उठ गयी। हमने खाना खाया। फिर पिछले दिन की तरह नानी कपडे धो रही थी। में नहा रहा था। आज दीदी भी आई। उन्होंने अपनी सलवार कुर्ती उतार दी और सिर्फ ब्रा पेंटी में बैठकर नहाने लगी। फिर नानी ने मुझसे कहा की मेरी पीठ पर साबुन लगा के मसल दे। में नानी की तरफ गया। मेने नानी से कहा की में ब्लाउज पर साबुन कैसे लागाऊ तो नानी ने अपना ब्लाउज उतारा और ऊपर से नंगी हो गयी। में उनके बोबे देखकर मस्त हो गया। दीदी भी यह सब देख रही थी। में नानी की पीठ पर साबुन लगा के मसलने लगा। मेने नानी के बोबे पर भी साबुन लगाया और मसला। मेने नानी के ऊपर के पूरे शरीर पर साबुन लगा के मसला और मजे किये, फिर नानी के ऊपर पानी डालकर नेहला दिया। नानी ने फिर पेतिकोल उतरा अउर पूरी नंगी हो गयी और बैठकर नहाने लगी। में और दीदी नानी को देख रहे थे। दीदी भी गरम हो रही थी। दीदी ने कहा- यार मेरी भी पीठ मसल दे ना प्लीज। और दीदी ने ब्रा खोल दी। मेने दीदी की सेक्सी पीठ पर साबून लगाया और मसला। नानी बोली- प्रिय तेरे बोबे तो बहुत बड़े हो गए है तू अब बहुत जवान हो गयी है अब तेरी शादी करवानी पड़ेगी। दीदी हसने लगी। मेने दीदी के बोबे भी मसले। फिर में खुद नहाया।

यह कहानी भी पड़े  नौकरानी की जवानी को जमकर चोदा

उसके बाद मेने नानी को 35 बार और दीदी 85 बार से ज्यादा चोद चूका हु। अब भी जब मौका मिलता है मैं उन्हें चोदता हु। वो मेरे लंड की दीवानी है और में उनके जिस्म और बोबो का। B.A क्लास मेने मामा के यहाँ रहकर ही की। मेने पापा मम्मी से जिद की के में यही रहूँगा। दीदी भी वही रही। हम दोनों वही रहने लगे। और रोज़ कभी दीदी को कभी नानी को चदता रहा। दीदी सब जानती थी पर नानी नहीं जानती थी की में दीदी को चोदता हु।
पिछले साल ये कहानी मेने एक रिश्ते में ताऊ लगने वाले की बेटी, अंजू , जो मुझसे 2 साल बड़ी, सेक्सी हॉट लड़की है, उसे सुनाई और उसे गरम करके खूब चोद। उसे में 13 बार चोद चूका हु।
फिर ये कहानी मेने अपनी एक चाची को सुनआइ और उन्हें भी ख़ूब चोद। इसे करते करते में अब तक 18 औरतो को चोद चूका हु, सबको बड़े प्यार और मर्ज़ी से चोद मेने। खूब मजा आया।
पर कुछ भी हो सबसे ज्यादा मजा तब आएगा जब में अपनी सेक्सी माँ को चोदुंगा,मेरी माँ 40-32-40 की है। उनकी उम्र 39 साल है। वो बहुत सेक्सी और हॉट है। कई बार में उन्हें नंगी नहाते हुए और पापा से चुदते हुए देख चूका हु। मेरी माँ को सेक्स बहुत पसंद है। वो मेरे चाचा, मामा, पापा के दोस्त, प्लम्बर और डॉक्टर से चुदवा चुकी है। वो हर बार घर में चुदती है जब पापा कुछ दिनों के लिए बाहर जाते है। अब कोई अच्छा मौका देखकर उन्हें खूब चोदुंगा।



error: Content is protected !!