कामवाली बाई की जवान लड़की को चोदा

हैल्लो फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सभी ? मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम अंकुश है और मैं मुंबई में रहता हूँ | मेरी उम्र 20 साल है और मैं दिखने में बहुत काला हूँ | मेरे पापा पुलिस ऑफिसर हैं इसलिए पापा को बंगला प्रोवाइड कराइ है सरकार ने | मैं शुरू से अच्छे इंग्लिश मध्यम में पढाई किया हूँ और अभी कॉलेज की पढाई भी अच्छे कॉलेज से कर रहा हूँ | मेरी मम्मी एक स्कूल टीचर हैं | मैं अपने घरवालो का अकेला बेटा हूँ | दोस्तों, वैसे तो मैंने कई बार चुदाई की कहानिया पढ़ी हैं तो आज मैंने सोचा कि क्यों न मैं भी अपनी एक कहानी लिख के बाताऊ कि कैसे मैंने अपनी काम वाली बाई की बेटी की चुदाई की | तो चलो मैंने आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूँगा और अब सीधा कहानी शुरू करता हूँ |

मैं अपने स्कूल का सबसे शरारती बच्चा हुआ करता था और कॉलेज में आने के बाद मैं और भी बिगड़ गया था | मैं बियर पीने का बहुत शौक़ीन हूँ और मैं डेली एक बियर पीता हूँ | आप लोग सोच रहे होंगे कि मैं एक पुलिस ऑफिसर का बेटा हूँ तो मैं अपने पापा से डरता हूँ | पर दोस्तों ऐसा नहीं है | मेरे पापा दूसरो के लिए कड़क हैं पर मेरे लिए बिलकुल अच्छे हैं | क्यूंकि उनका केहना है कि यही तो उम्र है सब कुछ करने की लेकिन अपने आप को इतना मत बिगड़ लेना कि सुधरने का मौका ही ना मिले | मैं अपने पापा का ये सिद्धांत मानता आ रहा हूँ हमेशा से | मैं अपने स्कूल का टोपर था | कॉलेज के अभी में भी मेरे 80 प्रतिशत के ऊपर ही मार्क्स आते हैं | मैं बिगड़ा जरुर हूँ पर पढाई के प्रति इमानदार भी हूँ | दोस्तों, हमारे घर में एक कामवाली बाई है जिसका नाम बन्नो है | उसके उम्र करीब 48 साल है | वो हमारे घर में बहुत पुरानी नौकरानी है तो उसे हमने कभी अपने से अलग नही किया | हम उसे अपने परिवार के एक हिस्सा मानते हैं और उसे जितना मेहताना देना चाहिए उससे ज्यादा देते हैं क्यूंकि उसकी एक बेटी है जिसका नाम मांडवी है | वो एक 18 साल की लड़की है | दिखने में वो गोरी है और उसका फिगर भी अच्छा है | उसे देख कर बिलकुल भी नहीं लगत्ता कि वो बन्नो की बेटी है | उसने स्कूल के बाद स्कूल की पढाई छोड़ दी थी | तो मेरे पापा ने उसे कॉलेज में दाखिला दिलाया और उससे कहा कि अपनी मजबूरियों को अपने ऊपर हावी मत होने दो |

एक दिन की बात हैं दोस्तों, सब अपने अपने काम के लिए निकल गये | मैं घर पर अकेला था | बन्नो सुबह 10 बजे आती थी | पर उस दिन वो नहीं आई उसकी जगह उसकी बेटी आई तो मैंने उससे पूछा कि आज तुम आई हो कॉलेज नहीं गयी क्या तुम्हारी आई कहाँ है ? तो उसने बताई कि आई की तबियत ख़राब है और मैं कॉलेज इसलिए नहीं गयी क्यूंकि स्कूल में कुछ फंक्शन्स चल रहे हैं | तो मुझे ही आना पड़ा | तो मैंने कहा कि क्या हुआ है तुम्हारी आई को ? तो उसने बताया कि मेरी आई को सर्दी बुखार हुआ है | फिर मैंने कहा ठीक है अगर किसी भी चीज़ की जरुरत हो तो बता देना | उसने कहा ठीक है और अपने काम में लग गयी | मैं भी अपने काम में लग गया | जब वो बर्तन धो रही थी तो मैं उसके समाने से निकला | मेरी नजर उस पर गयी तो मैंने देखा कि उसके दूध दिख रहे थे | पूरे नही थोड़े से | उसके गोर गोर दूध देख कर मेरा लंड खड़ा हो गया | अब मजें उसे टुकुर टुकुर देखा जा रहा था | उसने भी मुझे ऐसा करते हुए देख लिया था | पर वो कुछ नहीं बोली बस अपने दूध को छुपाने की कोशिश करने लगी | ये देख कर मैं वहां से चला गया और फिर वो अपने काम में लग गयी |

यह कहानी भी पड़े  दोस्त के साथ मिल कर हाईफाई औरत की चूत गांड की चुदाई की-2

कुछ देर बाद वो जब प्रेस( स्त्री ) कर रही थी तब भी उसके दूध के दर्शन हो रहे थे | मैं फिर से देखने लगा तो उसने मुस्कुरा दिया | मैं समझ गया कि इसका भी मन होने लगा क्यूंकि वो छुपा नही रही थी | फिर मैं उसके पास गया और उससे कहा कि क्या तुम्हे 5000 रूपए चाहिए ? तो उसने हाँ में सिर हिला दी | तो मैंने तुरंत ही अपनी जेब से उसे पैसे निकाल कर दे दिए और उससे कहा कि तुम्हे जब भी पैसे की जरुरत हो तो मुझसे कह देना | उसने भी हाँ कह दिया | उसके बाद मैंने उससे कहा कि तुमने पूछा नहीं कि मैं ये पैसे तुम्हे क्यूँ दे रहा हूँ ? तो उसने कहा कि मैं समझ चुकी थी इसलिए | फिर मैंने पूछा क्या समझी तुम ? तो उसने कहा कि आप मेरे साथ सेक्स करना चाहते हैं | मैं एक दम से चौंक गया और खुश भी हो गया था क्यूंकि मुझे कुछ करना नहीं पड़ा उसे सेक्स के लिए मनाने में | उसके बाद मैंने उसके होंठ में अपने होंठ रख दिए | तो वो अलग हुई और प्रेस को बंद कर के रख दी | उसके बाद उसने मेरे होंठ में अपने होंठ रख दी और मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं भी उसका साथ देते हुए उसके होंठ को चूसने लगा | हम दोनों ने करीब 10 मिनट तक एक दूसरे के होंठ चूसे थे | उसके बाद मैंने अपनी टी-शर्ट उतार दिया और उसकी सलवार भी उतार दी | अब हम दोनों आधे नंगे ही एक दुसरे के समाने खड़े थे | अब मैं उसके दूध को ब्रा के ऊपर से ही दूध दबाने लगा और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मेरे हाँथ को सहलाने लगी |

फिर मैंने उसकी ब्रा को उतार दिया | अब मैं उसके दूध को अपने हाँथ में ले कर चूसने लगा दबाते हुए | वो भी मजे लेते हुए आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ कर के सिस्कारिया लेने लगी | मैं उसके दूध को जोर जोर से दबाते हुए चूस रहा था और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मेरे सिर के बाल को सहला रही थी | कुछ देर के बाद मैंने उसे मेरा लंड चूसने को कहा तो वो अपने घुटने के बल बैठ कर मेरे लोअर और अंडरवियर को उतार दिया | अब वो मेरे लंड को हाँथ में ले कर हिलाते हुए चाटने लगी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए आन्हे भर रहा था | फिर उसने लंड को चाटने के बाद मेरे लंड को अपने मुंह में ले ली और उसे जोर जोर से चूसने लगी | मैं भी आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हए मजे ले रहा था |

यह कहानी भी पड़े  भोपाल की एक औरत को चुदाई का सुख दिया

वो मेरे लंड को जोर जोर से चूसने लगी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारियां लेंने लगा | उसने मेरे लंड को 10 मिनट तक चूसा था | फिर मैंने उसका पायजामा उतारा और फिर पेंटी | उसकी चूत पर बाल थे | मैं उसे वहीँ लेटा कर उसकी चूत को चाटने लगा और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड हिलाने लगी | मैं उसकी चूत को अपनी जीभ से रगड़ रगड़ के चाटने लगा और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मेरे सिर को अपनी चूत में दबाने लगी | कुछ देर उसकी चूत चाटने के बाद मैंने उसकी टाँगे चौड़ी की और अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया | अब मैं जोर जोर से उसे चोदने लगा और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवा रही थी | मैं उसकी चूत को जोर जोर से चोदने लगा उसके दूध दबाते हुए और वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारियाले रही थी | कुछ देर उसकी चूत को चोदने के बाद मैं उसकी चूत के ऊपर ही झड़ गया |

उसके बाद मैंने उससे कहा मेरा लंड फिर से चूसो और उसने वैसा ही किया | अब मेरा लंड फिर से तैयार हो गया और उसकी गांड के अन्दर घुस गया | वो भी मज़े से चुदी और आज भी चुदती है |



error: Content is protected !!