इरफना भाभी की चुदाई

हेलो फ्रेंड्स, मेरा नाम अरहन है ये मेरी पहली हॉट भाभी की चुदाई स्टोरी है विद भाभी, मैं बी.टेक स्टूडेंट हूँ, एज 23,लॅंड का साइज़ 6 इंच, हाइट 5.10 कलर फेयर, मैं हैदराबाद के करीब डिस्ट्रिक्ट का रहने वाला हू. अगर कोई लड़की.

आंटी या हाउस वाइफ मुझसे चुदवाना चाहती हो तो मुझे मैल ज़रूर करे मैं उन्हे चोदना पसंद करूँगा. और मैं उनको मज़े से चोद कर उनकी चूत की प्यास ज़रूर बूजाऊंगा.

तो चलिए स्टोरी पर आते है ये मेरी फर्स्ट सेक्स स्टोरी है विद भाभी के साथ. उनका नाम इरफना है. एज 25. हाइट 5.8. फिगर 32-30-36. फेयर कलर. काफ़ी खूबसूरत हैं. जो कोई भी उन्हे देखेगा बस चोदने की ख्वाइश करेगा.

बात कुछ 1 साल पहले की है तब मेरे भाई की शादी हुई और भाभी घर पर आई. उस टाइम मैने भाभी को देखा और देखता ही रहे गया. वो क्या माल लग रही थी. उनको देख कर मेरा लॅंड खड़ा हो गया था.

मेरे दिल मे ख़याल आया की कब उनको चोदुन्गा. तबसे मैने ठान लिया के मुझे भाभी को कैसे भी कर के चोदना है. उनके रसीले होंठ. उनकी बड़ी गांड. और बड़े बड़े बूब्स ऊफ़फ्फ़ और उनका फिगर ओहो. हमारी जॉइंट फैमिली है घर पर मैं और मम्मी पापा. भईया और भाभी रहेते हैं. भईया सिविल इंजिनियर हैं और वो ज़्यादातार बाहर ही रहते है.

मैने प्लान किया के मैं भाभी को रोज़ फोन पर बात करूँगा. ताकि उन्हे आदत सी हो जाए फोन पर बात करने की. मैं उन्हे रोज़ फोन करता और इधर उधर की बाते करता. वो कुछ दीनो मे मुझसे बहोत फ्री हो गई. और मैं यही चाहता था. ये कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

भाभी भी मुझसे चुदवाना चाहती थी पर बोलती नही थी. एक दिन भाभी ने कहा के तुम्हारी कोई गर्लफ्रेंड नही है. तो मैने कहा भाभी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नही है.

यह कहानी भी पड़े  मामी मेरे बिज से प्रेग्नेंट हो गई

वो कहने लगी तुम इतने हैंडसम और तुम्हारी नो गर्लफ्रेंड ऐसा नही हो सकता. मैने कहा सच मे भाभी मेरी कोई गर्लफ्रेंड नही है. उन्होने कहा क्यूँ नही है. तो मैने कहा के कोई अच्छी लड़की मिली नही.

वो बोली कैसी लड़की चाहिए. मैं मौके का इंतेज़ार कर रहा था और मैने कहा के भाभी मुझे आप जैसी लड़की चाहिए. वो हसी. और कहने लगी मुझमे ऐसा क्या हैं जो आपको मेरे जैसी लड़की चाहिए बताओ भला. मैने कहा भाभी मुझे आपकी हर चीज़ अच्छी लगती हैं जैसे आपके बाल आपकी आँखें आपकी स्माइल आपके होंठ आपका फिगर.
वो हसने लगी सच में मेरी जान, मुझे ग्रीन सिग्नल मिला और ऐसा लगा के वो भी चुदाई करना चाहती हैं. मैं खुश हो गया क्यूँ के मेरा रास्ता साफ था उनकी चुदाई करने का. दूसरे दिन मम्मी पापा को चार दिन के लिए गाओ जाना था दीदी के पास कम से कम और वो चले गये. सुबह मैं उठा देखा के भईया भी घर पर नही थे.

मैं खुश हो गया मैने भाभी को आवाज़ दी. भाभी आप कहाँ हो. उन्होने आवाज़ दी मैं बेडरूम मे हूँ. मैं भी सीधा उनके बेडरूम मे चला गया और देखा के भाभी नहा के बाल पोच रही थी उफ़फ्फ़ क्या लग रही थी.

मेरा लॅंड खड़ा हो गया. आज मौका अच्छा था चुदाई करने का. मैं बेड पर बैठ कर उन्हे ही देख रहा था और बाते कर रहा था भाभी ये सब आईने से देख रही थी मैने बोला के भाभी एक बात पुह्चु. बोलने लगी पूछो फिर मैने कहा मारोगी तो नही. वो बोली नही मारूँगी बताओ तो सही.

यह कहानी भी पड़े  सेक्सी किरायेदार भाभी की चालाकी

तो मैने बोला भाभी कल आपने मुझे जान कहा. उन्होने स्माइल दी और बोली उसमे क्या है, फिर मैने भी कहा के मुझे किस चाहिए डोगी क्या.

वो शॉक हो गई बोली पागल हो गये हो क्या. ऐसा नही हो सकता तो मैने कहा क्यूँ नही हो सकता. वो बोली एक बार कहदिया नही हो सकता तो नही हो सकता, वो चुदाई के फूल मूड मे थी. पर मुझसे बोल नही रही थी. फिर मैने फोर्स किया तो बोली बस एक बार. मैने कहा ठीक है.

मैं खुश हो गया, मैं उठा और उनको पीछे से पकड़ कर नेक पर किस करने लगा. वो कहने लगी यह क्या कर रहे हो, तो मैने कुछ नही कहा बस किस्सिंग करने लगा, थोड़ी देर बाद वो भी मेरा साथ देने लगी.

करीब 10मिंट किस्सिंग करने के बाद वो गरम हो गयी थी. मैने अपना हाथ उनके चुचो पर रखा और दबाने लगा, वो साड़ी मे थी. कसम से क्या लग रही थी.

फिर मैने उनका ब्लाउस उतारा उउफफफफ्फ़ क्या चुचे थे. वो बाहर निकलने के लिए मचल रहे थे. मैने उनको आज़ाद किया और ज़ोर से दबाने और चूसने लगा. वो आअहह आअहह करने लगी.

वो गरम हो गई. उनकी नज़र मेरे पेंट पर गई. वो मेरा लॅंड सहेलाने लगी पेंट के उप्पर से और कहने लगी तुम्हारा लॅंड तो काफ़ी बड़ा और दमदार लगता है, मैने कहा बेबी ये चुदाई भी दमदार करेगा.

Pages: 1 2

error: Content is protected !!