पालनपुर हाइवे पे मिली एक हॉट टीचर

हेलो फ्रेंड्स कैसे हो सारे? मेरा नामे आकाश आगे 35, 6फ्ट लंबा चौड़ा हू. बुत दिखने मे नॉर्मल, लंड की साइज़ 7इंच लंबा, 2 इंच मोटा. आ पाओ पालनपुर लेने के लिए तो मैल करना मुझे, अब आता हू स्टोरी पे.

मेरा खुद का काम है यहा पालनपुर अक्सर काम के सिलसिले मे दीसा जाना होता है. जो यहा से 28 केयेम की दूरी पर है, खुद की कार है तो अकेला ही कार ड्राइव करके दीसा जाक़ता रहता हू. 4-5 घंटे का दीसा का काम ख़तम करके फिर से रिटर्न पालनपुर आ जाता हू.

तो हुआ यूँ की कुछ टाइम पहले मे जेया रहा था दीसा तो वही हाइवे पर बहुत से लोग अक्सर लिफ्ट माँगते है दीसा जाने के लिए.

पर मई किसी को लिफ्ट देता नही, मुझे पसंद नही की कोई मेरी कार मे आए. और मेरी प्राइवसी को डिस्टर्ब करे. मुझे अकेले रहना ही ज़्यादा पसंद है. शायद इसलिए उस दिन भी मई कार नही खड़ी करता अगर वो शिल्पा बीच मे ना आती तो.

अब ये शिल्पा कौन है??

तो अब ये भी बताता हू कौन है ये शिल्पा?

मई कार से निकला घर से हाइवे आया दीसा वाला. बहुत लोग खड़े थे लिफ्ट के लिए, मई कही नही रुका और चलता रहा. करीब 500मीटर आयेज चलते हुए एक लेडी पे मेरा ढयन गया.

अकेली खड़ी थी उस लेडी ने लाइट ब्लू कलर की बहुत मस्त सारी पहनी हुई थी. आँखे पे गॉगल्स थे, चेहरा पूरा बँधा हुआ था, लंबी भी थी सयद 5’7 फ्ट भरे भरे जिस्म वाली.

पता नही क्यू मुझे लगा उसे लिफ्ट देनी चाहिए. मैने कार स्लो की और उसकी और मोड़ कर जेया रहा था. की उसने लिफ्ट देने के लिए हाथ उठाया. बस फिर तो क्या था, मैने उसके पास जाकर कार रोकी और पूछा कहा जाना है? उसने कहा दीसा. उफफफ्फ़ दोस्तो उसका आवाज़, इतना मीठा था की मैने उसे तुरंत अपनी कार मे आयेज बैठने को कहा और वो बैठ गयी.

कार चली…

नैने पूछा आपको दीसा क्यू जाना है? उसने कहा वो वाहा दीसा के पास एक छोटे से विलेज मे टीचर है. और वो वाहा जेया रही है. मैने कहा अभी तो कोविद की वजह से तो स्कूल बंद है ना? तो फिर क्यू स्कूल?

उसने कहा कुछ पेपर वर्क करना होता ही है तो 10-15 दिन मे कभी कभी जाना पड़ता है. इतना बोल कर उसने अपना रुमाल जो उसने बंद रखा था उसे खोलने लगी. और साथ ही उसने पहले अपना गॉगल्स अपनी आँखो से निकल कर कार की डॅशबोर्ड पे रखा.

फिर रुमाल खोला और मैने उसे देखा तो बस देखता ही रह गया. कार कार की जगह चल रही थी और मे बस उसे एक तक देख रहा था.

कुछ 7-8 सेकेंड्स तक मैने उसे एक तक देख रहा था. तो उसने भी मुझे देखा की मे बस उसे ही देख रहा हू. उसने मुझे झट से कहा की ऊ मिस्टर कार चलते टाइम कार ही चलते है. आस पास देखने से आक्सिडेंट्स हो सकता है. तब कही जाकर मुझे कुछ ऐसा लगा की मे कार ड्राइव कर रहा हू.

दोस्तो उसका चेहरा देख कर मानो मई फ्रीज़ हो गया था. इतना अट्रॅक्टिव है उसका फेस बिल्कुल नज़र ही नही हट रही थी उसके फेस से.

मस्त बड़ी बड़ी स्लाइट लाइट भूरी भूरी जिसे देख कर नशा हो जाए ऐसी आँखें वो भी बड़ी बड़ी. उसका लंबा सा फेस जो बिल्कुल कियारा आडवाणी जैसी लग रही थी. उसके लिप्स हॉलीवुड आक्ट्रेस आंजेलीना जोली जैसी लंबे चौड़े, जिसे देख कर मेरा मॅन उसी वक़्त उसके लिप्स पे टूट पड़ना चाहा.

लेकिन कंट्रोल किया खुद को क्यूकी इसके साथ मेरी ये 1 मुलाकात है. तो कैसे टूट पदू मे इसके उपर…

कार ड्राइव करते हुए मैने उसका नामे पूछा तो उसने बताया उसका नामे शिल्पा है. मैने उसकी आगे पूछी तो उसने अपनी आगे 31 कही. फिर मैने उसे कहा क्यू झूठ बोल रहे हो, आपकी आगे थोड़ी ना 31 है. आपकी आगे ज़्यादा से ज़्यादा 25-26 होगी.

मैने ऐसा कहा उसे तो उसने कहा मेरी आगे सच मे 31 है. और दूसरी बात मे क्यू आपको झूठ आगे कहूँगी मेरी. तो मैने कहा ठीक है चलो…

आकाश – शिल्पा जी आप बुरा मत लगाना लेकिन आप बहुत खूबसूरत हो सच मे बिल्कुल किसी बोल्लयऊूद की आक्ट्रेस जैसी.

शिल्पा – आकाश आप मज़ाक अच्छा कर लेते हो.

आकाश – नही शिल्पा जी, सच मे अगर आप मॉदेलिंग करे तो मुझे पक्का यकीन है की आपका चान्स म्र्स इंडिया मे तो लग ही जाएगा.

शिल्पा – ऊ मिस्टर आपका नामे क्या है?

आकाश – जी मेरा नामे आकाश है शिल्पा जी.

शिल्पा – तो सुनिए आकाश जी मुझे कोई शौनख नही है मॉदेलिंग करने का. और नही म्र्स इंडिया बनने का. मई मेरे काम से खुश हू. और मुझे मेरे बच्चे भी संभालने है, ना की मॉडेल बनना है, ठीक है.

आकाश – शिल्पा जी आपके बच्चे???

शिल्पा – हंजी मेरे बच्चे, 2-2 बच्चे है एक लड़का 8 साल का एक लड़की 6 साल की.

आकाश – शिल्पा जी सच मे अपने आप को बहुत ही अच्छी तरह से मेनटेन किया हुआ है. तो पता ही नही चला की आपके 2-2 बच्चे भी होंगे.

शिल्पा – थॅंक योउ आकाश जी…

आकाश – शिल्पा जी आपके हज़्बेंड क्या करते है?

शिल्पा – जी वो एक मल्टिनॅश्नल्स कंपनी मे मॅनेजर है. जो की आमेडबॅड मे है, वही रहते है और वीकेंड पे आते है.

आकाश – वा शिल्पा जी आपके तो दोनो हाथ मे लड्डू हू. एक आप जॉब कर रहे हो गवर्नमेंट और एक आपके हज़्बेंड मल्टिनॅश्नल्स कंपनी मे वा क्या बात है.

शिल्पा – जी वो तो है ही.. बुत कभी कभी…

इतना बोल कर शिल्पा चुप हो गयी और कार के बाहर देखने लगी…

आकाश – क्या हुआ शिल्पा जी आप एकदम से इतने चुप और साद क्यू हो गये?

शिल्पा – कुछ नही आकाश जी बस ऐसे ही.

आकाश – मुझे लगता ज़रूर कुछ तो बात है.

शिल्पा – जी ऐसा कुछ भी नही है आकाश जी,

आकाश – जैसी आपकी मर्ज़ी शिल्पा जी मत कहिए आप आपकी पर्सनल बात.

शिल्पा – जी ऐसा कुछ भी नही है आकाश जी…

आकाश – कोई बात नही शिल्पा जी रिलॅक्स.

शिल्पा – वैसे क्या आपका रोजाना आना जाना रहता है दीसा मे?

आकाश – जी हा शिल्पा जी मेरा अक्सर आना जाना होता है दीसा मे. और 5-6 घंटे का काम होता है उसके बाद मे वापस पालनपुर को आ जाता हू.

शिल्पा – ठीक है आकाश जी आपके साथ अच्छा लगा मुझे.

और इतने मे दीसा भी आ गया तो मैने उसे जिस जगह से उसके विलेज की गाड़ी जहा से भरते है वाहा उतारा. मैने उसे कहा जिस जगह उसे जाना है वाहा मे उतार डू. लेकिन उसने मुझे माना किया फोर्स्फुली और कहा मे अपने आप चली जौंगी, रोजाना मेरा आना जाना होता है.

दोस्तो कहानी बहुत लंबी है धीरे धीरे मज़ा आएगा. इतनी जल्दी मज़ा नही आएगा आपको, तोड़ा तोड़ा करके मज़ा दूँगा. जैसे मुझे मज़ा मिला वैसे, तब तक के लिए वेट कीजिए.

यह कहानी भी पड़े  मकानमालिक मुझे खूब चोदता हे

थॅंक्स फ्रेंड्स. ओर भी जवान भाभी लड़किया ओर आंटी को हॉट बाते करना ही तो आप मैल करे [email protected] आप की सारी डीटेल्स एक दम सीक्रेट रहेंगी उससे आप लोग बेफ़िक्र रहे.


error: Content is protected !!