जिम में मोम दाद और बेटे का हुआ थ्रीसम

ही दोस्तो, मेरा नाम राहुल है और मैं 20 साल का हू. मेरे घर पे मेरे दाद (45 यियर्ज़) आंड फुल जिम टाइट बॉडी है और हमारा खुद का जिम है जहा वो ट्रेनर है. मेरी मों (42 यियर्ज़) जो बोहोट जिम फ्रीक है लेकिन थोड़ी चब्बी सा फिगर गोरा रंग और बेहाध खूबसूरत.

अब मेरी बात बतौ तो मैं तोड़ा मोटा हू हाला की मेरे मों दाद बिल्कुल फिट है. वो मुझे पिछले कई सालो से कह रहे है की जिम शुरू कर बॉडी बना फिर लड़किया तेरे पीछे पागल होंगी. लेकिन मुझे इतना शोक नही था, लेकिन पिछले कुछ दीनो से मेरी मों के कहने पर मैने जिम जाना शुरू किया.

हूमें कभी मौका मिलता तो हम तीनो ही साथ जिम करते, वरना जिसको जैसा टाइम सूट होता है वैसे. तो ये बात है कुछ दिन पहले की जो सनडे का दिन था. और क्यू की मेरे मों दाद बोहोट ज़्यादा फिटनेस को मानते है, उन्होने कहा की चलो हम तीनो जिम में वर्काउट कर लेते है और उसके बाद स्टीम लेकर फिर घर आ जाएँगे.

उसी तरह पापा ने उनका नॉर्मल ट्रॅक्स और टशहिर्त पहना, मैने शॉर्ट्स और टशहिर्त पहना, और मेरी मों ने ब्लॅक मत कलर का टाइट लेगैंग्स पहना था और उपर स्लीव्ले ग्रे टांक टॉपवैसे मेरे मों दाद बोहोट मॉडर्न ख़यालात के है और ओपन माइंडेड है नेचर से. तो हम पोचे जिम, और हुँने पहले कार्दीओ करने का सोचा. करीब 10 मिनिट हुए, और एसी का कूलिंग हुआ नही तो हुँने सोचा की इसे रिपेर करना पड़ेगा.

तो पापा और मम्मी के कहने पर मैं पास ही के एक टेक्नीशियन को बुलाने चला गया. दूसरी तरफ मों दाद बोहोट रोमॅंटिक कपल है शादी के 22 साल बाद भी.

वहाँ उनका शायद मूड बन गया था जहा पहले तो पापा मम्मी के साथ ट्रेड मिल पे पीछे से आ गये, और दोनो एक साथ वॉक करने लगे. पापा ने मम्मी के सेक्सी कमर पे हाथ रखा और उनके बालों को स्लाइड करते हुए उनके गले पे किस करना शुरू किया.

मों – क्या बात है? आज सुबह सुबह मूड बन गया आपका?

दाद – मूड का कोई वक़्त थोड़ी होता है मेरी जान. और वैसे भी तुम स्वेटी होती हो तो और ज़्यादा हॉट लगती हो.

(और पापा उनको गले से लीक करने लगे)

मों – रूको ज़रा. सब्र करो. आज रत का तो प्लान है ही ना.

दाद – हा लेकिन अभी क्विकी कर ले क्या?

मों – जान, राहुल और वो टेक्नीशियन आ जाएँगे तो?

दाद – क्विकी तो कह रहा हू. आंड योउ नो, मैने कल ही टेक्नीशियन को बोला दिया था एसी रिपेर के लिए. वो बाहर गया है और 3 दिन बाद आएगा.

मों – नॉटी. फिर राहुल को क्यू भगाया.

दाद – अब ये भी संजना पड़ेगा मेरी जान? उसके आने से पहले हो जाएगा.

मों – सोच लीजिए. मुझे आधे में छोड़ोगे तो रत को नही दूँगी फिर. और आज सनडे है तो याद है ना?

दाद – हा मेरी जान. आज के दिन तुम मुझे अपनी गांद जो देती हो. मेरा तो सोच के ही मान हो जाता है सुबह सुबह से.

मों – हा तो बस. सीधे रत को दूँगी. और अभी मैने अनल प्लग लगा रखा है.

दाद – मुझे अभी चूत चाहिए बेबी.

और दाद मों को गले पे और शोल्डर्स पे चाटने लगे. अब मों ने भी रेज़िस्ट करना छोड़ दिया था और वो भी साथ देने लगी थी. मों ने पापा के टशहिर्त उतार दी थी और वो एक बेंच पे बैठ कर दाद के निपल्स चूस रही थी. पापा मों के बलों को सहला रहे थे. जैसे ही मों ने नीचे जाना शुरू किया किस करते हुए, पापा खड़े हुए और मों ने पापा की ट्रॅक्स उतार दिए और फिर फेक दिए. जैसे की कोई नये नये कपल्स हो और फर्स्ट टाइम सेक्स का एक्सपीरियेन्स ले रहे हो फुल गरम.

नीचे पापा ने ब्लॅक अंडरवेर पहनी थी जिसके उपर से मों पापा के लंड को सहलाती हुई किस करने लगी. और किस करते करते कब दोनो ने एक दूसरे के मूह में जीभ डाली और चूसने लगे पता ही नही लगा. उसके बाद बेंच के उपर ही मम्मी पापा के गोद में बैठ कर लिपट गयी और पापा मों के आस पे हाथ रख के स्पॅंक करने लगे.

उसके बाद मों ने अपनी स्लीव्ले टांक टॉप उतार के फेक दी जिसके अंदर मम्मी ने सेक्सी सी ब्लॅक ब्रा पहनी हुई थी. दूसरी तरफ मुझे जब पता चला की टेक्नीशियन अवेलबल नही है मैं रिटर्न आने के लिए निकल चुका था और पोछने वाला था.

फिर जिम में पापा ने मम्मी को बेंच पे लेता दिया और उनको किस करते हुए पापा नीचे जाने लगे पूरी तरह उनकी बॉडी को चाटते हुए. यार किसी ने सोचा नही होगा की स्वेटी बॉडी में मों’स कितनी हॉट और गरम दिखती है. उसके उपर से फिगर भी जब तोड़ा चब्बी और गोरा सा हो.

वाहा पापा मम्मी को उपर से ही चाटने में लगे थे और नीचे जाते हुए, मों की नाभि को चाटने लगे.

मों – अब उतार के अंदर भी चतोगे? या राहुल के आने का इंतेज़ार करना है?

दाद – तुम ऐसे सेक्सी बातें करती हो तो कितना अछा लगता है.

मों – अछा मेरे पति देव, क्या आप मेरी बालों वाली गुलाबी छूट के दर्शन कर के चाटने का प्रबंध करेंगे?

ये कहते ही मम्मी पापा दोनो हास पड़े और मम्मी ने अपनी कमर उठा दी जिसके बाद पापा ने उनके टाइट लेगैंग्स उतार दिए. वाहा अंदर मम्मी सिर्फ़ हॉट ब्लॅक ब्रा और नीचे डार्क ब्लू कलर की पनटी पहनी थी जिसपे डॉट्स डॉट्स के डिज़ाइन थे.

वाहा मैं भी बस पॉच चुका था और अंदर जाने लगा था. जहा अंदर पहले से ही दोनो एक दूसरे के प्यार में मस्त थे. वाहा मम्मी ने पापा से कहा

मों – पहले आपका चूस देती हू, फिर सीधे अंदर दल देना मेरी जान.

दाद – जैसा तुम ठीक संजो बेबी.

उसके बाद मम्मी ने वैसे ही बैठे बैठे पापा का अंडरवेर बाद तोड़ा नीचे किया जिससे उनका लंड बाहर आ सके और झुक के मम्मी चूसने लगी. उसी दौरान मेरा ध्यान ना होते हुए मैं अपने धुन में सीधे अंदर घुस गया और जाकर ये नज़ारा देखा जिसके बाद हम तीनो शॉक हो गये.

मुझे थोड़ी शरम सी आई और मैने दूसरी तरफ मूह कर लिया. वहाँ पापा ने अपनी अंडरवेर पहें ली थी और हुँने थोड़े ऑक्वर्डनेस के साथ बातें करना शुरू किया.

दाद – इतनी जल्दी आ गये राहुल?

राहुल – हा वो टेक्नीशियन कुछ दिन बाद आएगा.

मों – अछा तो इसमें वहाँ मूह कर के क्यू खड़े हो?

राहुल – नई वो आप दोनो ने कपड़े नही पहने थे ना इसलिए शरम के मारे

मों – अरे घूम तो बेटा, देख पहने तो है हुँने.

और मैं धीरे धीरे उनकी तरफ मुड़ा तो मम्मी बिकिनी में थी और पापा अंडरवेर में.

राहुल – लेकिन ऐसे? उपर के कपड़े क्यू उतार दिए?

मों – अरे बेटा वो गरम इतना हो रहा था की क्या बतौ.

राहुल – और वो आप क्या कर रही थी झुक कर? जहा पापा की अंडरवेर भी नीचे उतरी हुई थी.

दाद – अरे बेटा वो कुछ….(मों बात को काटते हुए)

मों – अरे वो पापा जिम कर रहे थे थे तो उनको थोड़ी चोट लग गयी थी वहाँ, इसलिए मैं चेक कर के फुक मार रही थी

दाद – हा बेटा.

राहुल – ओके मम्मी

मों – लेकिन डॉन’त वरी बेटा, पापा अभी बिल्कुल ठीक है (मम्मी ने मेरे सामने पापा के लंड पे 2 ताप किया) . क्यू जी?

दाद – हा बिल्कुल ठीक बेटा, बस थोड़ी सूजन है.

मों – तो चले वर्काउट कंटिन्यू करें?

राहुल – हा ओके मों.

हुँने अपने अपने तरीके से वर्काउट शुरू किया और मों दाद ने कपड़े पहें आ ज़रूरी नही संजा. उसके बाद मों दाद आखों आखों में कुछ इशारा कर रहे थे जो मुझे पहले तो समाज नही आया. फिर कुछ देर बाद मों बोली

मों – राहुल, कम ओं कपड़े उतार के करो. पापा तुम्हारा फॉर्म ठीक करेंगे.

राहुल – बुत ई आम ओके मम्मा.

दाद – सुना नही बेटा. तुम्हारी मम्मी ने क्या कहा.

राहुल – ओके दाद. (और मैं उनकी बात सुनते सुनते अपना शॉर्ट्स और टशहिर्त उतार दिया. अब मैं भी सिर्फ़ अंडरवेर में था)

पापा मुझे फॉर्म संजने लगे और मम्मी हम बाप बिटो का प्यार देख कर मान ही मान मुस्कुरा रही थी. और मों को ऐसे पहली बार देख कर मुझे अजीब सा लगने लगा था. लेकिन मुझे खुशी थी की मेरे मों दाद इतने कूल है. उसके बाद पापा मुझे पुषूपस दिखा रहे थे जो मैं काफ़ी ग़लत कर रहा था.

उसके बाद पापा ने खुद मेरे सामने पुश उप किए और मुझे दिखाने लगे. साथ में मम्मी ने भी कहा की मैं उनको देखु और सीखू. मतलब मैं खड़ा हू और मेरे सामने मम्मी इस तरह दो कपड़ो में पुषूपस मार रही थी जहा उनकी पीठ फुल पसीने से भीग चुकी थी और वो बोहोट सुंदर लग रही थी. जब मैं फिर भी ग़लत कर रहा था तो मम्मी बोली.

मों – अछा सुनिए, इसे हमारा स्पेशल वाला पुश उप सिखाइए. शायद सिख जाए

दाद – स्पेशल वाला? राहुल के सामने?

मों – हा तो क्या हुआ. 20 का तो है हमारा बेटा.

और यहा मुझे कुछ समाज नही आ रहा था. उसके बाद मों नीचे फ्लोर पे लेट गयी और उनके उपर पापा ने पोज़िशन ले ली. फिर वो पुश उपस के पोज़िशन में नीचे जाते, मों और दाद लिप्स टच करते जस्ट आ सॉफ्ट किस, और उनके चेस्ट और बूब्स आपस में टच होते . कुछ रिपिटेशन्स के बाद, मों बोली

मों – समाज आया बेटा?

राहुल – हा मम्मी. लेकिन मैं किसके साथ ऐसे करू?

मों – अरे मैं हू ना. तुम्हारी मोटिवेशन, आओ बेटा. कर के दिखाओ क्या सीखा

मैं दर के मारे दाद को देखने लगा जहा दाद मुझे देख कर मुस्कुरा रहे थे . और उन्होने इशारा दिया की मैं जौ और करू पुषूपस जैसा उन्होने किया

उसके बाद मैं तोड़ा घबराते हुए मों के उपर लेता, और कुछ रिपिटेशन्स किए जहा मैं मों को किस तो नही उनके साइड में मूह ले जा रहा था लेकिन हमारे चेस्ट और उनके सॉफ्ट बूब्स टच हो रहे थे.

मों – बेटा मूह सीधा रख. सीधे मेरे लिप्स पे. साइड में नही

राहुल – ओके मम्मा.

उसके बाद हुँने कुछ 7 – 8 किस किया और उसके बाद मैं तक चुका था. तो मैं सीधे मों के उपर ही गिर गया. दाद मुझे उठाने आए लेकिन मों ने कहा

मों – अरे कोई नही. फर्स्ट टाइम है. होगा ऐसे. लेट हिं रेस्ट जान

फिर मों ने मेरे पीठ पे हाथ रखा और हाथ घुमा के मुझे सहलाने लगी. मुझे ये बोहोट अछा लग रहा था और जो पसीना मुझे पसंद नही था वो मों का स्वेट स्मेल बोहोट अछा लगने लगा था. कुछ देर बाद मैं उठ के बैठा .

मों – अब ठीक है राहुल?

राहुल – हा मम्मी.

मों – सुनिए, एक लेवेल बढ़ाए? ताकि ये और मोटीवेट हो

दाद – सीरियस्ली? बेटा है हमारा और उसके सामने?

मों – कोई बात नई. आज सीखेगा तभी तो कल आगे बढ़ेगा मेरा बेटा

दाद – शुवर?

मों – हा बेबी, मेरे बेटे के लिए कुछ भी.

दाद – अछा देखो बेटा, अब ध्यान से. ये पुश उप तोड़ा स्पेशल है और अलग. लेकिन ये किसी और के साथ ट्राइ नही कर सकते तुम ठीक है?

राहुल – ओके दाद

मों – राहुल, वॉच क्लोस्ली.

उसके बाद मों फिर नीचे लेट गयी, और इस बार उन्होने कमर उठाई और अपनी डार्क ब्लू पॅंटीस उतार दी जिसे देख कर मैं शॉक हो गया और मुझे शरम आने लगी. दूसरी तरफ पापा ने मेरे सामने उनकी अंडरवेर उतार दी और उनका बड़ा सा लंड देख कर मैं हैरान हो गया की मम्मी ये सूजन की बातें कर रही थी.

दाद – अरे इसमें शर्मा मत बेटा. यहा हम बस घरवाले ही तो है.

मों – राहुल, ठीक से नही देखेगा तो करेगा कैसे?

राहुल – हा मम्मी देख रहा हू.

मों – ये तो हूमें पता नही था की ऐसा कुछ होगा, इसलिए मैने शेव नही किया है. लेकिन तेरे पापा को ऐसा जंगल ही पसंद है. लेकिन तेरी वाइफ होगी ना तो जैसा तुझे पसंद हो वो वैसे रखेगी. ये हज़्बेंड वाइफ के बीच वाली बातें है. ठीक है?

राहुल – मम्मी लेकिन आपकी ये ऐसे ही सुंदर लग रही है

मों – जैसा बाप वैसा बेटा. दोनो को बाल इतने क्यू पसंद है पता नई. आइए शुरू कीजिए.

उसके बाद पापा ने मम्मी के उपर पोज़िशन बनाई और पहले तो मम्मी ने तोड़ा थूक लिया हाथ में और पापा के बड़े लंड पे मसल दिया. फिर दूसरी बार, उनकी छूट पे रग़ाद दिया. और उसके बाद पापा रेडी थे. फिर पापा ने नीचे जाते हुए, इस बार फर्स्ट स्टेप के हिसाब से अपना लंड मम्मी के छूट पे टच किया.

मों – राहुल, खड़े होके क्या पापा की गंद देखेगा? टॅंगो के बीच जाके सामने से देख ना बेटा

मैने उनकी बात मानते हुए टॅंगो के बीच से देखने लगा. जहा पापा नीचे आते ही अपना लंड मम्मी के छूट पे टच करते और उसके बाद वो ज़ोर देके, अपना लंड की स्किन को स्ट्रोक्स से ही उपर करते.

मुझे ये देख कर बोहोट मज़ा आने लगा था. उसके बाद पापा ने उनका टॉप पोर्षन मम्मी के छूट पे रखा, और फिर आगे से नीचे जाते टाइम वो मम्मी के छूट में दल रहे थे. मतलब सोचो की मम्मी पापा मेरे सामने सेक्स कर रहे हो. बोहोट नसीब वालो को ये नज़ारा नसीब होता है.

मों – देख लिया राहुल? आओ अब तुम्हारी बारी.

वाहा से दाद उठे और साइड में बैठ गये और मैं मों के उपर लेटने जा रहा था की..

आयेज की कहानी अगले पार्ट मे.

तो दोस्तो आपको ये कहानी कैसी लगी, मुझे नीचे दिए गये मैल द्वारा ज़रूर बताए..

यह कहानी भी पड़े  रसीली सालियां की चुदाई कहानिया - 2

error: Content is protected !!