गोवा में बिच पर मार्था को चोदा

martha-ke-sath-beach-sexपूरा हफ्ता काम बड़ा ही बोरिंग रहा था. बदन थक के चूर हो गया था जैसे. मुझे एक ब्रेक की जरूरत थी अपने आप को फिर से प्रफुल्लित करने के लिए. तो मैंने सोचा की गोवा ही हो के आ जाता हु. यहाँ से कुछ डेढ़ घंटे की ही ड्राइव थी. अपनी बेग में मैंने कपडे डाले, गाडी निकाली और सोंग्स सुनते ही निकल गया.

मैं 5 फिट 11 इंच का जवान लौंडा हु. पैसे बहुत कमाता हूँ लेकिन वर्क का प्रेशर भी वैसा ही हे. मैंने गोवा में एक 5 स्टार होटल में बुकिंग ले ली थी निकलने से पहले ही. बिच शॉर्ट्स और टी शर्ट पहन के मैं पुल के पास गया. पुल के पास में ही एक बार भी था. मैंने अपने लिए एक बियर ऑर्डर किया और पुल के अन्दर नहाते हुए लोगों को देखने लगा. पुल में कुछ विदेशी रशियन लडकियाँ भी थी. और वो सब बिकिनी के अन्दर एकदम सेक्सी लग रही थी.

मैं उन लड़कियों को देख के अपने बियर के सिप पी रहा था. तभी किसी ने आके नारियल पानी के साथ वोडका ऑर्डर किया. मैं आवाज की तरफ मुडा तो मेरे पुरे बदन में जैसे करंट की एक लहर दौड़ गई. वो एक बड़ी ही सेक्सी और हॉट औरत थी. उसका चहरा एकदम हसीन था और चमड़ी गोरी थी.

उसने एक फटी फेशन का जींस का शोर्ट पहना था जिसके अन्दर उसकी दूध के जैसी सफ़ेद जांघे एकदम हॉट लग रही थी. ऊपर उसने एक रेड ब्रा पहनी थी. जिसके अन्दर उसके मस्त शेप वाले बूब्स दिख रहे थे. ऊपर उसने नाम का ही एक सफ़ेद शर्ट पहना था जिसके सब के सब बटन खुले हुए थे.

मैं उसे देखता ही रह गया. उसकी नजर मेरेर ऊपर पड़ी और उसने मुझे हाई कहा. मैं पकड़ा गया था ऐसे लगा मुझे और मुश्किल से मेरे मुहं से वापस हाई निकला.

यह कहानी भी पड़े  दुकान मे बूब्स दबाए और घर मे चुदाई की

वो मेरी इस कैफियत को देख के खुद को हंसने से रोक नहीं सकी. मैंने फिर गला साफ़ कर के खुद को उस से इंट्रोड्यूस किया. उसने भी अपना नाम मार्था बताया. बात करने पर पता चला की वो एक सोलो ट्रिप के लिए गोवा आई थी. कुछ देर में हम दोनों जैसे एक दुसरे के साथ कम्फ़र्टेबल से हो गए थे.

अँधेरा होने लगा था. और मार्था ने मुझे कहा की यहाँ पुल के पास बैठ के बोरियत लग रही हे. मैने कहा, फिर हम लोग बिच पर वाक के लिए जा सकते हे. इस रिसोर्ट में ही एक प्राइवेट बिच था. और उसने वाल्किंग के लिए हां कह दिया. मैंने साथ में एक बोतल वाइन ले ली.

कुछ ही देर में हम दोनों बिच की रेत में चल रहे थे. और बोटल में से हम लोग सिप भी करते जा रहे थे. उसका सेक्सी बदन बार बार मेरे जहन को हिला रहा था. उसके बूब्स हिलते थे चलते वक्त और वो ऐसे बाउंस होते थे की मेरे लंड में एक अजब सा खिंचाव सा होता था. अँधेरा धीरे धीरे बढ़ता जा रहा था.

तभी उसने मुझे कहा की वो अभी नहाना चाहती हे. मैंने उसे कहा की अँधेरा हे और मौजे भी तेज हे. लेकिन उसने मेरी एक नहीं सुनी और वो मुझे खिंच के अपने साथ पानी में ले गई. और एक बड़ी मौज आई पानी में जिस से हम दोनों पुरे भीग गए. उसका सफ़ेद शर्ट अब आईने के जैसे अन्दर का सब कुछ दिखा रहा था!

वो एक सेक्स की देवी लग रही थी. उसके बूब्स भीगे हुए शर्ट में एकदम सेक्सी लग रहे थे. मैं उसके ऊपर से अपनी आँखों को हटा ही नहीं सका.

उसने भी मुझे अपने बूब्स को घूरते हुए देख लिया था. उसने मुझे पूछा की क्या देख रहे हो लेकिन मेरे पास इस सवाल का कोई जवाब नहीं था.

यह कहानी भी पड़े  प्रिंसिपल सर के साथ मस्ती

फिर वो बोली की मुझे पता हे की तुम क्या देख रहे हो! और ये कहते ही उसकी आँखो में एक वासना का अहसास दिखा मुझे. उसने मेरी टी शर्ट पकड के मुझे अपनी तरफ खिंचा और मैं उसके पास में गिर गया. हमारे ऊपर से पानी की वेव्स जा रही थी.

जैसे ही मैं निचे गिरा उसने अपने होंठो को मेरे होंठो के ऊपर रख के किस करना चालू कर दिया. मेरे हाथ उसकी कमर के ऊपर चले गया और मैं उसके होंठो को जोर से चूसने लगा. उसने मुझे और भी करीब खिंचा और मैंने भी उसकी गांड को अपने हाथ से दबा दी. उसने अपने गर्म हाथो को मेरी छाती के ऊपर रख दिया.

वो अपनी उँगलियों से मेरी मेल निपल्स को दबा रही थी. और मैंने अपनी जबान को उसके मुहं में डाल दी. उसकी और मेरी जबान की कुश्ती चालु हो गई थी जैसे. दरिया के अन्दर सेक्स का ये मेरा पहला अनुभव था जिस से मैं एकदम रोमांचित हुआ था.

फिर हमने किस तोड़ी और पानी के बहार आ गए. वो वही पर एक नारियल के झाड के साथ लग के खड़ी हो गई. और वो अपने शर्ट को उतारने लगी. मैंने फिर से उसके होंठो को चूसा और उसके शोर्ट के बटन को खोल दिए. मेरा लंड अब शोर्ट के ऊपर से एकदम उसकी चूत के ऊपर लगा हुआ था. मैंने उसकी गांड के दोनों कूल्हों को एकदम जोर से दबाया और मेरे लंड को उसकी चूत के ऊपर घिस सा दिया. फिर मैंने बड़े ही सेक्सी ढंग से उसके कुल्हे के ऊपर स्पैंक किया. उसने एकदम नोटी अंदाज में कहा, और मारो मुझे!

Pages: 1 2

error: Content is protected !!