दुल्हन बनी औरत की ज़बरदस्त चुदाई की कहानी

सोनिया: मेरे राजा जी. आप मेरी यही वेट करो. जब मैं कॉल करूँगी, तब आप आ जाना. और हा, आज भूल जाना मैं डॉक्टर हू. मुझे अपनी स्लेव, रखैल या कुटिया समझना ओक.

मैं: ओक मेरे रानी. तुम जाओ रेडी हो जाओ.

अब आयेज.

उसके बाद सोनिया रूम में चली गयी. मैं वही बैठा रहा रेस्टोरेंट में. सोनिया ने मुझे 1 अवर बाद कॉल किया और बोली-

सोनिया: मेरे पातिदेव जी. आपकी दुल्हन आपका वेट कर रही है. जल्दी से आ जाओ.

मैं: ओक मेरी जान.

फिर मैं जल्दी से रूम में गया. मैने अंदर देखा उसने बेड को बहुत आचे से डेकरेट करवाया था. बिल्कुल सुहग्रात वाला बेड बनाया था. बेड पेर गुलाब के फूल बिछा रखे थे. और मेरी दुल्हन बेड पर बैठी हुई थी.

सोनिया ने घूँघट किया हुआ था. मैं धीरे से उसके पास गया, और बेड पर बैठ गया. सोनिया ने अपनी गर्दन नीचे की हुई थी. मैं सोनिया का घूँघट उठाने को बढ़ा, तो उसने मुझसे कहा-

सोनिया: सुनिए, पहले ये सिंदूर मेरी माँग में भर दो. मुझे आज की रात अपनी पत्नी बना लो.

मैं: बेबी, लेकिन मैं कैसे ये कर सकता हू? मैं एक कॉल बॉय हू.

सोनिया: तो क्या हुआ? हम कों सा सॅकी वाली शादी कर रहे है. बस सुहग्रात को पति बन के मुझे फील दो. हमे कों सा यहा कोई देख रहा है. आज आप मेरे पति बन जाओ, प्लीज़.

मैं: ओक बेबी.

फिर मैने उसकी माँग में सिंदूर भर दिया, और उसका घूँघट हटा दिया.

सोनिया आज बहुत खूबसूरत औरत लग रही थी. जिसे देख कर मेरा लंड टाइट हो गया. उसने रेड सारी और रेड ब्लाउस पहना हुआ था. उसके बाल कमर तक खुले हुए थे. होंठो पर रेड लिपस्टिक लगी हुई थी.

सोनिया के बदन से मादक खुश्बू आ रही थी. उसने पूरा दुल्हन वाला मेकप किया हुआ था. ग़ज़ब की खूबसूरत लग रही थी. जब उसकी माँग में सिंदूर भरा, तो वो बोली.

सोनिया: रोहित, अब आप मेरे आज के पति हुए. ये लो अब आप केसर वाला दूध पियो. और आज मैं सिर्फ़ आपकी हू. आप मुझे खूब छोड़ो. बेबी, मैं आपको आज अपना बदन देती हू. इसे आपको जैसे उसे करना है करो.

सोनिया की गरम बातें मुझे और एक्शिटेड कर रही थी. मैने उसे कहा-

मैं: मेरी सेक्सी पत्नी. आज तुझे छोड़-छोड़ कर रुला दूँगा. आज आपकी गांद का बाजा बजा दूँगा.

सोनिया: सब आपका है. आपको जैसा अछा लगे वैसा करो.

मैने दूध पी कर ख़तम किया. सोनिया को उठा कर, अपनी गोद में लेके, स्के गरम और रेड होंठो को किस करने लगा. वो बस आँखें बंद किए हुए मेरी किस्सस का मज़ा ले रही थी.

फिर मैने सोनिया को बेड पेर पीठ के बाल कर दिया. उसके बाद उसके गोरे और मादक बदन पर आ गया. उसने हाथो में चूड़ियाँ पहन रखी थी. मैं उसके हाथो को पकड़ कर उसके लिप्स को चूसने लगा. वो बस आँखें बंद करके मेरे गरम होंठो का मज़ा ले रही थी. मैं उसके पुर गोरे फेस को चूमने लगा. वो बस हल्की और गरम सिसकियाँ लेने लगी.

सोनिया: उहह आह श रोहित. बहुत मज़ा आता है आपके साथ. कितना अछा प्यार करते हो. आह बेबी करते रहो.

मैं सोनिया के गोरे गले को चाटने लगा. सोनिया अपने हाथो को मेरे बालों में घूमने लगी. जब सोनिया अपने हाथ मेरे बालो में फेरती, तो चूड़ियों की मीठी आवाज़ आने लगती. सोनिया मेरे किस्सस से बहुत गरम हो गयी. फिर उसने मेरी शर्ट उतार दी, और मेरे उपर आ कर मेरी चेस्ट को अपने मुलायम होंठो से चाटने लगी.

सोनिया की गरम ज़ुबान मेरे निपल को चाटने लगती, तो मैं भी गरम हो गया. उसकी प्यारी प्यारी सिसकियाँ और गरम ज़ुबान मुझे जोश दिला रही थी. सोनिया गरम सिसकियाँ निकाल के बोली-

सोनिया: ऑश उहह बेबी, आपकी चेस्ट चाटने में बहुत मज़ा आ रहा है. कितने प्यारे हो आप.

अब मैने भी सोनिया का रेड ब्लाउस निकाल दिया. वो अब खुले बालो में, और रेड ब्रा में मेरे उपर थी. खुले बालों में उसकी वासना भारी आँखें मुझे देख रही थी. मुझे देखते हुए उसने अपने होंठ मेरे होंठो पर रख कर मुझे चूसने लगी.

मैं भी सोनिया के लाल होंठो को चूस कर सारी लिपस्टिक चाट गया. फिर उसका लीप काट लिया, जिससे उसकी सिसकी निकल गयी.

सोनिया: आ उफ़फ्फ़.

अब मुझसे रहा नही गया. मैने सोनिया की कमर पकड़ कर उसे अपने नीचे किया, और उसकी रेड ब्रा एक बार में खींच कर फाड़ दी. वो मुझे देख स्माइल देने लगी और बोली-

सोनिया: ऑश बेबी, आप आ गये अब अपने हरामी-पन्न पक़्र.

मैं: मेरे जान, तुझे देख कर मुझसे अब रहा नही जेया रहा है.

सोनिया: तो किसने रहने को बोला है? करो ना जो मॅन करे मेरे साथ.

सोनिया के गोरे-गोरे बूब्स मेरे सामने थे. मैं उसके एक बूब को मूह में लेके चूसने लगा, और दूसरे को ज़ोर से दबाने लगा. फिर दूसरे को चूस्टा, और पहले बूब को मसालने लगा. इससे उसकी आवाज़ निकल गयी.

सोनिया: आ ऑश उहह श. मेरे राजा जी. क्या मस्त चूस्टे हो. और चूसो ना अपनी इस रंडी को. पूरा निपल खा जाओ. आह उफ़फ्फ़ निचोढ़ दो इन्हे आज.

उसकी गरम जोश भारी बातें मुझे जोश दिला रही थी. मैं सोनिया के दोनो बूब्स को पकड़ कर दोनो को चाटने लगा. सोनिया बेड पर मचलने लगी. वो अपने हाथो को मेरे सर पर रख कर बूब्स में दबाने लगी. मैं बूब्स के एक ब्राउन निपल को मूह में लेके दांतो से काटने लगा. जिससे निपल का माज़ कट्ट गया, और उसकी चीख निकल गयी.

सोनिया: आह आह मार डाला.

मैने उसकी बिना सुने उसके बूब्स को मसालते हुए चूसने लगा. वो भी मेरा साथ दे रही थी. मेरा मूह में अपना बूब दबाने लगी. मैं उसके मोटे बूब्स को अपने मूह में लेने लगा. सोनिया के बूब्स पर मेरे दाटो के निशान गड़ गये.

करीब 20 मिनिट मैने उसके बूब्स को खूब मसला. जिससे उसके निपल्स और बूब्स लाल हो गये. लेकिन सोनिया के चेहरे पर खुशी थी, और आँखों में आँसू थे. सोनिया मुझे स्माइल देते हुए बोली-

सोनिया: पातिदेव, आमाप बहुत ज़ालिम हो. मेरे बूब्स लाल कर दिए है. रात भर पता नही क्या-क्या लाल करोगे.

मैं: मेरी जान, तुझे तो मज़ा आ रहा है ना?

सोनिया: हा बाबू. जब आप मेरे बूब्स चूस्टे हो, मेरी छूट में आग लग जाती है. बेबी, अब आप पुर नंगे हो जाओ. आपका हथियार देखना है, और मुझे भी एक्सपोज़ कर दो.

मैने अपने सारे कपड़े निकाल दिए. मेरा 7 इंच का लंड सोनिया को देख कर उछालने लगा. फिर मैने जल्दी से सोनिया की लाल सारी और पेटीकोत निकाल दिया. डॉक्टर सोनिया मेरे सामने एक छ्होटी पतली रेड पेंटी में थी. मैने अपने दाँत पनटी पर लगा दिए. मेरे छूने से उसके बदन में बिजली दौड़ गयी, और मूह से सिसकी निकल गयी.

सोनिया: श आह.

मैने उसकी पनटी दांतो से पकड़ कर निकाल फेंका. वो भी अब मेरे सामने बेड पर नंगी लेती थी. उसका गोरा चिकना बदन मेरे सामने था. छूट के च्छेद के उपर एक टॅटू बना हुआ था. छूट के उपर उसने रोहित नामे का टॅटू बनाया था. मैने टॅटू देख के उसे कहा-

मैं: बेबी, ते कब किया तुमने?

सोनिया: माल में बनवाया था. ये आपके लिए आज का सर्प्राइज़ है. आपने मुझे बहुत खुश किया है. बेबी आपको पसंद आया ना? मुझे आपकी बीवी बनना था आज. इसलिए मैने ये बनवा लिया.

मैं: थॅंक्स बेबी, बहुत खूबसूरत लग रही है छूट.

सोनिया की क्लीन शेव्ड गीली छूट मुझे अपने पास बुला रही थी. मेरी नज़रो को सोनिया ने पढ़ लिया. फिर उसने अपनी टांगे फैला कर डोर कर दी. मुझे छूट चाटने का ऑफर कर रही थी वो. मैने भी उसकी टाँगे पकड़ कर हवा में करते हुए उसकी गोरी गुलाबी छूट पर अपनी गरम ज़ुबान रख दी. मैं ज़ुबान से टॅटू से लेके छूट के च्छेद तक चाटने लगा. मेरे चाटने से उसका बदन हिल गया, और सोनिया की गरम सिसकियाँ निकल गयी.

सोनिया: उहह श आह. हे राम, क्या छूट चाट-ते हो तुम रोहित. बदन में आग लगा देते हो.

सोनिया की छूट से गरम लावा निकल रहा था. वो छूट में मेरा सर दबा रही थी. मैं उसकी छूट के माज़ को चाटने और चूसने लगा. मेरे चाटने से सोनिया बेड पर कमर उछालने लगी. वो मेरा सर ज़ोर-ज़ोर से छूट में दबा रही थी. रूम का माहौल गरम हो चुका था. सोनिया और मैं भी गरम थे.

छूट का गरम पानी मेरे मूह में आ रहा था. मैं ज़ोर-ज़ोर से छूट में ज़ुबान घुमा रहा था. सोनिया अपनी कमर उपर उठा कर मेरे सर को दबा के बोली-

सोनिया: आह ऑश उफ़फ्फ़. मेरे रोहित, और छातो, छातो ज़ोर से बेबी. मैं गयी आह.

2 मिनिट बाद सोनिया ज़ोर की चीख निकली, और वो नेरए मूह में झाड़ गयी. उसका ढेर सारा पानी निकला, जिसे मैं चाट-चाट कर पी गया. फिर सोनिया बेडशीट को पकड़ कर आँखें बंद करके ज़ोर-ज़ोर से साँसे ले रही थी. उसकी सांसो से बूब्स हिल रहे थे. मेरा मूह छूट में अभी भी दबा हुआ था. मैं उसकी छूट चाट-चाट कर सॉफ करने लगा. छूट से जब मैने मूह निकाला, तो सोनिया ने आँखें खोली और बोली-

सोनिया: आह मेरे राजा. तुम बहुत गरम सेक्स करते हो. मैं आज खूब आचे से झाड़ गयी हू. बहुत मज़ा आया है आज. मुझे बेबी आपके साथ लाइफ्टाइम सेक्स करना है. कल तुम चले जाओगे. आज रात मुझे खूब प्यार देना.

मैं: मेरी रानी, आज तुझे खुश करके ही जौंगा. तू मेरे लंड की दीवानी बन जाएगी.

सोनिया: आपके लंड की दीवानी तो में पहले से हू. अब तो मैं आपकी भी दीवानी बन गयी हू. काश आप मेरे साथ हमेशा पति बन के रहते.

फिर मैं उसके लिप्स को चूमते हुए बोला-

मैं: बेबी, जब भी मॅन करे, मुझे बुला लेना. मैं तेरी छूट की सेवा करने आ जौंगा.

अभी चुदाई बाकी है, मेरे दोस्तों. वो नेक्स्ट पार्ट में पढ़िए.

किसी भाभी, आंटी, गर्ल, डाइवोर्स लेडी को, रियल और सेक्यूर सेक्स चाहिए तो मुझे मैल करे. आपकी सभी डीटेल्स सेक्यूर रखी जाएँगी. आप मुझसे गूगले छत पर बातें कर सकते हो.

यह कहानी भी पड़े  Savita Chachi Aur Pados Ki Chudasi Auntiyan- Part 1


error: Content is protected !!