दोस्त की बीवी के साथ मस्ती

तो मई आपको बोर ना करते हुए स्टोरी पर आता हूँ. ये बात 2019 की है. मई 2018 इंडिया की ट्रिप से वापस आ रहा था. तब मेरे दोस्त ने मुझे कहा की आते वक़्त उसकी वाइफ को भी मेरे साथ लेलू क्यू के वो फर्स्ट टाइम आ रही थी. तो उसने मेरे साथ उसकी टिकेट बुक कर ली.

हन भाभी का नाम सुमन था और मेरे दोस्त का नाम डेपैश था. उनका एक बेटा था 1.5 यियर्ज़ का. भाभी गुड फिगर की थी फिट और ब्राउन कलर और मेरा दोस्त अराउंड 35 का था और भाभी 28 की थी. हमारी दोस्ती मेल्बर्न मे ही हुई थी और मेरे दोस्त की किस्मत क्या थी यार बोहुत मस्त माल है उनकी वाइफ. उनको देख किसका भी खाद हो जाए, बोहुत ही सेक्सी…

तो हम साथ मे आने लागे जब हम दोनो पास की सीट पर बैठ गई जहा सिर्फ़ दो सीट होते है. और बचे को बससीनेट मे सुला दिया. तो हम यहा वाहा की बाते करने लगे. बातो बातो मे हम बोहुत घुल मिल गये थे. तो उन्होने मुझे से पूछा की आपकी वाइफ को आपने क्यू ड्रॉप किया दिया? तो मैने कहा रीज़न फिर उन्होने कहा ओक…

फिर मैने कहा के डेपु भाई आपको बोहुत मिस करते थे. उसने भी कहा मई भी मिस करती थी उन्हे. उनके आँख मे आनसो आ गये कहते कहते तो मैने टिश्यू से वाइप काइया और थॅंक्स कहा. फिर कुछ टाइम बात हुँने डिन्नर काइया और सोने लगे.

हमारी नींद लग गई और नींद मे पता नही तब वो मेरे कंधे पर सिर रख कर सो रही थी. और मेरा हाथ उसके कंधे पर था और उसके बूब्स को टच कर रहा था. उसके बूब्स और गांद काफ़ी बड़ी थी.

कुछ टाइम बाद मेरी नींद जागी, मई देख कर एकद्ूम शॉक हो गया. पर मैने आख बंद ही रखे और अपना पूरा हाथ उसके बूब्स पर रख दिया.

कुछ टाइम बात भाभी जाग गई और अपने आपको को सेधा काइया और मई भी जागने का नाटक काइया. मैने उसे नाटक करते हुआ सॉरी सॉरी कहा पर उन्होने ने कहा नही मेरी ग़लती है सॉरी. मुझे पता ही नही चला मैने कब आपके कंधे पर सर रख दिया.

फिर कुछ टाइम बाद उनके बचे को दूध पिलाना था तो मुझसे कहा के अगर आप ब्लंकेट होल्ड करलेंगे तो कोई नई देखेगा. तो मैने ब्लंकेट उनके उपेर उधा कर इधेर उधेर देखना लगा.

उनका लड़का रो रहा था तो वो उसे समझकर दूड पीला रही थी. तो अचानक मेरी नज़र उनके बूब्स पर पढ़ी. वा क्या बूब्स थे यार अमेज़िंग!

दूधे पिलाने के बाद हम फिर से बात करने लगे. तब उसने पूछा की मेरे हज़्बेंड ने कुछ वेट लॉस काइया या अभी भी सेम वैसे ही मोटे है? तो मैने कहा और थोड़े मोटे हो गये क्यू के वो बोहुत मोटा था. तो वो एकद्ूम से शांत हो गई उदासी मे. मैने कहा क्या हुआ आपको? तो उसने कुछ नही कहा. मैने उसे फोर्स काइया तो उसने कहा फिर कभी बतौँगी.

फिर मैने उससे पूछा क्या मई आपका अछा दोस्त बन सकता हूँ? तो वो मान गई और कहने लगी आप बोहुत आचे हो ई वुड लोवे तो बे युवर फ्रेंड.

मैने उससे उसका व्हातसाप नंबर माँगा क्यू के उसके पास था और फ़ेसबुक ईद माँगी. तो उसने कहा ऑफ कोर्स और हमने अपना नंबर एक्सचेंज काइया.

उसने मुझे कहा की आप मुझे मेसेज ना करना ना ही कॉल करना क्यूकी मेरे हज़्बेंड को पता नही चलना चाहिए. और उसने कहा जब बात करना हो, फ्री रहे जब मेसेज कर लिया करेंगे.

हम काफ़ी घुल मिल गये थे और कुछ टाइम बात हमारी प्लेन लॅंडिंग का समय आ गया. उसने मुझे कहा शी एंजाय थे गुड टाइम वित मे इल बे इन टच वित योउ. बुत उसने कहा था की उसके हज़्बेंड से मत कहना के आपके पास मेरा नंबर है. सो मैने कहा इल कीप एवेरितिंग वेरी सीक्रेट्ली.

हम एरपोर्ट से बाहर आए और वो उसके हज़्बेंड के साथ चले गयी और मई घर आ गया. रात भर मैने उसके बारे मे सोच कर काफ़ी बार मूठ मारी. उसकी बॉडी आसम है यार!

नेक्स्ट दे मॉर्निंग मई लाते उठा था. मैने फोन चेक काइया तो उसका मेसेज था.

शी- ही फ़ज़्ज़ हाउ अरे योउ?

मैने रिप्लाइ किया – ई आम गुड हाउ र उ?

उसने तुरंत रिप्लाइ किया- ई आम गुड बुत बीत टाइयर्ड.

मैने कहा बॉडी पाईं टाइयर्ड हो तो डेपु से मसाज लेलो. शी से काश वो घर पर हॉट,ए उनको तो जॉब जाना था हमेशा जॉब जॉब जॉब..

मैने कहा श सॉरी ई नो हे इस मनी माइंडेड.

उसने कहा- एस.

फिर उसने कहा बाइ वी टॉक लेटर.

मई- ओक बाइ.

फिर रात के 12 बजे मेसेज आया- ही सो रहे हो क्या आप?

मैने कहा- ही, नही.

मे- योउ स्टिल अवेक?

शी- जी नींद नही आ रही.

मे- ओक, क्यू डेपु कहा है?

शी- हे वाज़ टाइयर्ड नाउ स्लीपिंग.

शी- सॉरी आपको डिस्टर्ब किया इतनी रात को.

मे- नही नही ई वाज़ अवेक और मुझे भी नींद नही आ रही.

कुछ मेसेजस के बाद मैने पूछा- उस दिन आप प्लेन पर कुछ कहते कहते खामोश हो गई थी.

शी- कुछ नही.

तो मैने फोर्स काइया तो उसने बोला अभी हम उतने आचे दोस्त नही हुए, कुछ टाइम बाद बताओँगी.

मे- ओक बुत आप मुझ पर ट्रस्ट नई करती क्या?

शी- नो नो वैसी बात नही, मई अभी नही बता सकती.

शी- बाइ टॉक तो योउ टुमॉरो.

मे- बाइ.


कुछ दिन बीट गये यूही, फिर एक दिन डेपु का कॉल आया मुझे और उसने मुझे डिन्नर पर इन्वाइट काइया था वीकेंड मे. तो मेरी जॉब थी उस दिन मैने कहा इल ट्राइ प्लीज़.

उस दिन मुझे भाभी का मेसेज आया बोला ही हेलो फिर पूछा आप आ रहे ना सॅटर्डे को डिन्नर पर? मैने कहा जॉब है उस दिन. पर उन्होने मुझे फोर्स काइया प्लीज़ आपको आना ही होगा. मैने डेपु से कह कर डिन्न्नेर प्लान काइया प्लीज़ आएगा ज़रूर. फिर मई सोचा और कहा ओक मई ज़रूर आओंगा.

फिर सॅटर्डे आया और मई डिन्नर की पार्टी के लिए रेडी हुआ और उन सब के लिए कुछ गिफ्ट लिया और उनके पास पहुँच गया. डेपु के लिए टीए ली और बचे के लिए टाय्स और भाभी जी के लिए पर्फ्यूम लिया था.

मई वाहा पहुँचा और बेल बजाई, डेपु ने डोर ओपन काइया और हमारा ही हेलो हुआ और हम लाउंज रूम मे बैठ गये. डेपु ने कहा तेरी भाभी रेडी हो रही है, वो कुछ देर मे आएगी.

थोड़ी देर बाद वो आ गयी, वाउ क्या मस्त माल लग रही थी ब्लॅक सारी स्लीव लेस डीप ब्लाउस और सारी ट्रॅन्स्परेंट थी! जिससे उनके थोड़े से बूब्स दिख रहे थे.

अचानक डेपु को कॉल आया तो वो बाहर गया कॉल पर बात करने. भाभी पास आए मुझे ही बोला और मुझसे हॅंड शेक की. वाउ क्या सॉफ्ट थे हॅंड्ज़, मई बस उन्हे घूरे जेया रहा था और उन्होने कहा मेरा हाथ तो छोड़ो. मैने कहा सॉरी और हाथ छोड़ दिया. और भाभी स्माइल की और बैठ गई और मैने उन्हे गिफ्ट दिया, डेपु अभी भी फोन पर था.

आयेज की स्टोरी अगले पार्ट मे थॅंक्स, प्लीज़ लेट मे नो आपको कैसा लगा पार्ट 1.

यह कहानी भी पड़े  किरायेदार भाभी की कामुकता

error: Content is protected !!