दो बहनो ने गालियों भरा सेक्स करके चूत शांत की

हेलो दोस्तों, मेरा नाम रीना है, और मेरी उमर 20 है. मैं आमेडबॅड से हू. अगर कोई आमेडबॅड से है, और अगर लेज़्बीयन सेक्स में इंट्रेस्टेड हो, तो मैल या फीडबॅक ज़रूर देना. और पिछली स्टोरी पर कोई फीडबॅक ही नही मिला है, तो इस कहानी पर फीडबॅक ज़रूर देना. पिछली कहानी में आपने पढ़ा की कैसे मैने पूजा को पकड़ा पॉर्न देखते हुए और अब आयेज की कहानी.

मे: ह्म, और करो डार्लिंग. चूसो, ऐसे ही चूस-चूस के लाल कर दो.

पूजा: आज मेरे बेहन की छूट का भोंसड़ा बना दूँगी.

मे: नही छूट में नही प्लीज़. वाहा बहुत दर्द होता है.

पूजा: चुप रे, वरना तेरी मा को भी मेरे बाप के लंड से छुड़वा दूँगी बहनचोड़. और तुझे कैसे पता छूट पर दुख़्ता है? तूने पहले किसी का लंड लिया है क्या छूट में?

मे: नही लिया है, पर मुझे किसी ने बताया था. इसलिए बोला पूजा. और मेरी मा तेरी मौसी है. ऐसा मत बोल.

पूजा: चुप रे छिनाल. तुझे क्या पता तेरी मा कितनी बड़ी रंडी है. क्या पता तेरे पापा की पीठ पीछे किसके साथ चुड़वति होगी. तू आजा मेरी रानी. आज तेरे बदन का सारा रस्स पीना है, और पिलाना भी है. तेरा बदन बहुत सेक्सी है रे रंडी. अगर मैं लड़का होती, तो तेरी मा और तुझे दोनो को छोड़ देती. मेरी रखैल बना के रखती. आजा तेरे बूब्स दिखा जानेमन. देखे तो कितने बड़े है.

फिर पूजा ने मेरे कपड़े उतारने स्टार्ट किए, और मेरे होंठो पर किस करते हुए मेरे कपड़े एक-एक करके उतार दिए. कभी वो मेरे होंठ चूस्टी, कभी मेरी पनटी के उपर से छूट मसालती.

मे: पूजा, और करो. मत रूको. प्लीज़ पूजा मेरी बहनचोड़ पूजा.

पूजा: हा साली तुझे भी जोश चढ़ रहा है. ला तेरे बूब्स चूस लू. काट के खा जौंगी ऐसे नारंगी जैसे है. बड़े है काफ़ी.

मे: हा पर तेरे से बड़े नही होंगे. तेरे भी दिखा ना. तेरे भी काफ़ी बड़े है. मा से भी बड़े होंगे पूजा तेरे बूब्स.

अब मुझे भी धीरे-धीरे जोश चढ़ने लगा था. मैं भी अब हॉर्नी होने लगी थी. मुझे भी चाहिए था की कोई मेरी छूट मसले और उसका रस्स पिए. कोई इस छूट का भोंसड़ा बना दे.

पूजा: हा देख ले. चूस ले इन्हे. आजा छिनाल चूस. मेरी रंडी बेहन.

मे: पूजा कितने बड़े है. क्या मामा जी तेरे बूब्स की मालिश करते है? ओह पूजा, मॅन कर रहा है इस दूध की छाई बना लू.

पूजा और गरम हो गयी, और मुझे बेड पर ले गयी. फिर फेंक दिया मुझे बेड पर. उसके बाद वो पागलों की तरह किस करने लगी मुझे, और मेरे कपड़े उतारने लगी. मैं सिसकारियाँ ले रही थी-

मे: श पूजा, ऐसे ही करो, हा ऐसे ही. और करो पूजा, ई लोवे योउ यार. मेरी छूट को अपनी जीभ से छोड़ो. अंदर डाल दो अपनी जीभ इस मदारचोड़ छूट में.

पूजा: हा रे छिनाल. आज तेरी मा फाड़ दूँगी. तेरी छूट में से खून निकाल दूँगी. बेहन की लोदी.

फिर पूजा मेरी छूट चाटने लगी, और एक हाथ मेरे बूब्स पर दबाने लगी. पूजा ने इतने ज़ोर से दबाया की मेरी चीख निकल गयी.

पूजा: धीरे चिल्ला रंडी. वरना मेरा बाप उठ जाएगा. अगर उसे पता चल गया तो हम दोनो को रंडी की बना के छोड़ देगा यही पर.

मे: ठीक है, सॉरी पूजा.

(लेज़्बीयन गर्ल बेफिकर हो कर मेसेज कर सकती है, और अभी तक जिसकी छूट गीली हो चुकी है, और लंड खड़ा हो चुका है, वो मुझे फीडबॅक ज़रूर देना)

पूजा अपनी जीभ से कुट्टी की तरह छूट चाट रही थी. वो एक हाथ की 2 उंगलियाँ मेरे मूह में डाल के चुस्वा रही थी. आह पूजा डार्लिंग, ज़ोर से करो ना.

पूजा: इतना तो ज़ोर से कर रही हू. अब क्या मेरे बाप का लंड लाउ छोड़ने के लिए?

मुझे इतना सेक्स चढ़ गया था, की मैने बोला: ला दे, मामा से भी छुड़वा लूँगी अब. मामा जी का तो लंड भी बड़ा होगा. इतनी सेक्सी बॉडी है मामा जी की.

पूजा: मेरे बाप को ऐसी नज़र से कब से देखती है रे तू रंडी साली?

(मुझे बहुत से लेज़्बीयन गर्ल्स की मेल्स आई है. आंड थे अरे हॅपी. सो मेसेज मे और फीडबॅक तो ज़रूर देना. )

मे: बस अभी से तूने इतना गरम कर दिया है, की क्या ही बतौ.

फिर पूजा ने दूसरे हाथ की अंगूठा मेरी गांद के च्छेद में डाला. ओह मी गोद, मेरी जान ही निकल गयी.

मे: उउईई मा, पूजा आस में नही. पूजा रूको, गांद मत मारो.

पूजा: चुप कर, पहले दर्द होगा, फिर बाद में तू ही बोलेगी पूरा हाथ डालने के लिए. चुप-छाप ले मेरा अंगूठा, वरना बाजू डाल दूँगी.

फिर पूजा ऐसे ही कुछ देर करने के बाद मेरे पास आई और किस करने लगी. आहह उम्म्म टेस्टी.

पूजा ने कहा: अब तू मेरी छूट छत.

मैने भी उसकी बात मानी, और वो घोड़ी बन गयी. फिर मैने उसकी छूट चाटना स्टार्ट किया. बहुत ही टेस्टी छूट थी हाए, बिना झांतो वाली छूट. मैने चाट-चाट के सारा सॉफ कर दिया.

पूजा: क्या बात है, तू तो मस्त चाट-ती है. आज से रोज़ चत्वौुनगी मेरी छूट. और कर, रुक मत मदारचोड़. और कर रंडी. मेरी छिनाल बेहन.

फिर मुझे पता नही क्या हुआ, और मैं पूजा का अशोल चाटने लगी. पूजा तो मानो खुश हो गयी, और बोलने लगी-

पूजा: ओह मेरी रंडी सीख गयी. और कर, चाट मेरी गांद को सॉफ कर दे.

मैं मेरी जीभ से चाट रही थी, और एक हाथ से फिंगरिंग कर रही थी. पूजा बहुत ही एग्ज़ाइटेड हो गयी.

पूजा: आहह रीना, और ज़ोर से कर. फाड़ दे मेरी गांद को.

फिर पूजा ज़ोर से चिल्लाई, और बोल रही थी: मैं झड़ने वाली हू, मत रुकना. ऐसे ही करती रहो बहनचोड़ रीना. और कर मेरी बेहन.

फिर पूजा झाड़ गयी, और मुझे पलट के किस करने लगी. वो मेरी छूट पर हाथ रख कर ज़ोर-ज़ोर से मसालने लगी. मैं भी एग्ज़ाइटेड हो गयी.

मे: ओह पूजा आह, मेरा निकालने वाला है. पूजा हाथ डाल दे चलेगा, पर रुकना मत. ऑश ह पूजा.

और मैं भी झाड़ गयी. फिर हम लेट गयी बेड पर, और किस करने लगी.

आयेज की स्टोरी में पढ़िए की कैसे हम दोनो को मामा ने पकड़ा, और फिर कैसे हम दोनो को रंडी की तरह छोड़ा. तब तक के लिए थॅंक योउ.

इस स्टोरी का फीडबॅक आप क्राज़्ीबल्ल893@गमाल.कॉम इस ईद पर दे सकते है. बाइ.

यह कहानी भी पड़े  माँ बेटे की समुंदर मे चुदाई


error: Content is protected !!