लूकमान के सामने उसकी बीवी को चोदा

हाई दोस्तों मेरा नाम अजय हे और मैं मुंबई से हूँ. मैं एक सर्विस मेल हूँ जो पैसे के लिए दुसरो की चूत को मारना पड़ता हे. आप को लगता होगा की बड़े मजे का काम हे चूत भी मिलती हे और पैसे भी. लेकिन उतना भी इजी नहीं होता हे. 90% से ऊपर ऐसी लड़कियां और औरतें मिलती हे जो चुदास का सागर होती हे. और छोटे, और कमजोर लंड वालो का तो पेशा ही नहीं हे इस खेल में. आंटी या भाभी मिल गई तो उन्हें तो घंटो चोदना पड़ता हे क्यूंकि उनकी प्यास कुछ हट के ही होती हे! पति के ऊपर गुस्से हुई लेडिज गिगोलो को गुलाम समझती हे. जैसे की बीवी की मार खाने वाला आदमी रंडी के ली जालिम होता हे! खेर गन्दा हे पर धंधा हे!

एक बार मुझे मेरे मोबाइल के ऊपर कॉल आई. ट्रू कॉलर में लुकमान लिखा हुआ आया. मैंने पिक किया. सामने जो आदमी था उसने कहा, हल्लो आप सर्विस देते हो?

मैंने कहा, हां.

वो बोला मुझे अपनी वाईफ के लिए चाहिए.

मुझे डाउट हुआ और मैंने उसे कहा की एडवांस पेमेंट और मैं घर पर नहीं आता हूँ. वो बोला आप कहो वहां पर मैं अपनी वाइफ को ड्राप कर दूंगा.

मैंने उसे कहा की होटल यशिका पेलेस में आप रूम बुक कर लो मैं वहाँ मिल लूँगा.

वो बोला, क्या मैं भी वहां बैठ सकता हूँ?

मैंने कहा, क्यूँ नहीं.

उसने मुझे शाम को एक जगह पर बुला के पे कर दिया. फिर दुसरे दिन उसने मुझे 1 बजे होटल के लिए कहा. जब मैं गया तो उसने ही कमरे का दरवाजा खोला. मैंने देखा की उसकी वाइफ सेक्सी स्काई ब्ल्यू सलवार स्यूट में सोफे के ऊपर बैठी हुई थी. लुकमान ने कहा, ये मेरी वाइफ हे इमराना. मैंने उसे स्माइल दी. वो भी स्माइल दे के मुझे देखने लगी. उसने फिर कहा, इसको अपने बड़े लंड से ऐसे चोदो की उसकी चूत फाड़ दो. मैं देखना चाहता हूँ आज अपनी बीवी की भयंकर चुदाई को.

यह कहानी भी पड़े  Ek Chhoti Si Love Story

और वो औरत बार बार मेरी पेंट के तरफ ही देख रही थी. जैसे उसे मेरे लंड का ही बहार आने का इंतजार सा था. फिर वो बोली, आप रेडी हो क्या?

मैंने कहा, मैं तो घर से ही रेडी हो के आता हूँ.

इतना सुनते ही इमराना मेरे पास आ गई और मेरी जांघो के ऊपर हाथ रख दिया उसने. मैंने भी अपने हाथ को उसके बड़े बूब्स के ऊपर रख के दबा दिया. उसके बूब्स इतने बड़े थे की एक हाथ में एक चुन्ची का आना भी मुश्किल था. लुकमान हमारे पास आया और उसने अपनी बीवी की सलवार और कमीज को उतारा. अन्दर ब्लेक ब्रा पेंटी थी जिसके अन्दर ये सेक्सी भाभी की बॉडी शाइन कर रही थी. मैंने अपने हाथ को उसकी चूत के ऊपर रख के दबाया. उसकी चूत पहले से ही गीली थी. मैंने पेंटी की डोरी को खिंचा और उस स्टाइलिश पेंटी को निकाल दिया. इमराना ने अपने हाथ से ब्रा के हुक्स खोले और वो अब मेरे सामने पूरी के पूरी नंगी थी.

लुकमान ने अपने लंड को निकाला. एक पल के लिए तो मैं हंसने को ही हो गया था. उसका लंड खड़ा होने पर भी सिर्फ 4 इंच का था और काफी पतला भी. अब मैं समझ गया की क्यूँ वो अपनी बीवी के लिए मुझे बुला के लाया था. इमराना के सामने जब मैंने अपने लंड को निकाला तो उसे देख के उसकी आँखों में एक अलग ही चमक आ गई. वो बार बार मेरे और अपने हसबंड के लंड को देख रही थी जैसे कम्पेर कर रही हो साइज को. मैं उसके पास गया और उसके बूब्स के ऊपर अपनी जबान को लगा दिया. मैंने सर्कल बना रहा था उसके निपल्स के ऊपर और वो मेरे माथे को चुचियों के ऊपर दबा रही थी. मैंने उसके सेक्सी दूध से बहरे हुए जग्स को खूब चूसा!

यह कहानी भी पड़े  मम्मी मैं आदमी वाला काम करूंगा तेरे साथ--1

वो जोर जोर से सिसकियाँ ले रही थी अह्ह्ह्ह अह्ह्ह धीरे से प्लीज़ अह्ह्ह्ह उईइ माँ. और फिर मैंने एक हाथ से उसकी सेक्सी चिकनी गांड को दबाई और उसे सहलाने लगा. और फिर मैंने निपल बदल दी. पहले वाली लाल हो गई थी और कडक भी. फिर मैंने दूसरी को अपने मुहं में डाल के चुसना चालू कर दिया.

और फिर मैंने उसे सोफे के ऊपर डाला. इमराना ने अपनी दोनों टांगो को खोला और अपनी चूत मेरे लिए पेश कर दी. लुकमान जोर जोर से लंड को हिला रहा था और उसने कहा, इमराना की चाट दो प्लीज!

मैंने मन ही मन कहा, साले तू मुझे मेरा काम मत दिखा.

मैंने अपने होंठो को जैसे ही इमराना के चूत की पलकों पर रखा तो वो जैसे पिगलने लगी थी. उसके मुहं से एकदम जोर की सिसकी निकल पड़ी और उसने मेरे माथे को अपने भोसड़े के ऊपर दबा दिया. उसकी बॉडी कांपने भी लगी थी. और मैंने देखा की लुक्मान की मुठ निकल गई थी. मैंने फिर से चूत की तरफ ध्यान लगाया और उसे अपनी लम्बी जबान से चाटने लगा. मैं पांच मिनिट तक अपनी जबान को उसके ऊपर घुमा के मजे से चूसता रहा. इमराना उस बिच एक बार झड़ चुकी थी. और उसने मुझे कहा की आज से पहले ऐसा ओरल सेक्स उसे किसी ने नहीं दिया!

और मजेदार सेक्सी कहानियाँ:

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!