हुई मेरी हॉट गर्लफ्रेंड की हॉट चुदाई

हुई मेरी हॉट गर्लफ्रेंड की हॉट चुदाई

College Hot Girlfriend ki Chudai Sex kahani

College Hot Girlfriend ki Chudai Sex kahani

इसलिए मोनिटर बनने के Kamukta बाद सर ने मुझे एन सी सी वाले कमरे ही चाभी दे दी। चाभी मिलते ही मेरे दिमाग में आइडिया आया की क्यूँ न अपने क्लास रूम का ताला खोलकर उसी में अपनी माल रिया को चोदा जाए। कुछ दिन बाद २६ जनवरी का फंक्शन था। सारे स्टूडेंट्स बड़े हाल में बैठे थे। वहां कॉलेज फेस्ट चल रहा था। तरह तरह के डांसिंग और सिंगिंग प्रोग्राम्स चल रहे थे।

‘जान !! अपने क्लासरूम की चाभी मेरे पास है!! तुम्हारा मूड हो तो बताओ??” मैंने टीना से पूछा और उसकी चाभी दिखाई

‘अनुज !! कबसे मैं तुमको पाना चाहती हूँ ! चलो क्लास रूम में चलते है!’ टीना बोली

मैं उसको कमरे में ले आया। हम दोनों एक दुसरे ली लिपट गये और देर तक चुम्मा चाटी करने लगा। टीना ने मेरे सीने पर एक प्यार भरा मुक्का मारा।

“कितने दिनों में मैं तुमसे कह रही हूँ की मुझे चोदो !! पर तुमको तो पढाई और एन सी सी से फुर्सत नही है” टीना शिकायत के लहजे में बोली

“..ऐसा नही है जान !! मेरे लिए तुम सबसे जादा इम्पोर्टेन्ट हो। उसके बाद कुछ और मैंने कहा।

फिर दोस्तों हम दोनों पागल प्रेमी एक दुसरे के लब चूमने लगे। मेरी गर्लफ्रेंड टीना बहुत ही खूबसूरत थे। वो इतनी गोरी और सफ़ेद रखी थी की मेरी क्लास के सब लड़के पड़ते कम थे, उसे ही हमेशा ताड़ा करते थे। टीना को देखकर सभी लड़को के लंड खड़े हो जाते थे। और सभी उसे कम से कम एक बार चोदना चाहते थे। मैं टीना को लेकर अपनी क्लास में आ गया। यहाँ पर फर्श पर बड़े बड़े चिकने टाइल्स पर वाले पत्थर लगे थे जो टीना की ठुकाई करने के लिए बिलकुल सही जगह थे। धीरे धीरे हम दोनो ने एक एक करके अपने कपड़े निकाल दिए। मेरे क्लास मेट्स २६ जनवरी का प्रोग्राम देख रहे थे। और मैं टीना को लेकर यहाँ क्लास रूम में आ गया था। जैसे ही उसने कपड़े निकाले मेरा दिल उस पर आ गया।

सिर से पाँव तक टीना बहुत ही चिकना माल थी। हम दोनों एक दुसरे के साथ फ्रेंच किस करने लगे। हम एक दुसरे के होठो से होठ सटाकर किस करने लगे और एक दूसरे के मुँह में जीभ डालकर एक दुसरे की लार पीने लगे। मैं जोर जोर से टीना जैसी मस्त माल के होठ पुरे मन से पीने लगा। हमारे फ्रेंच किस में एक अजीब जादू, एक शक्ति और एक विचित्र नशा था। मैं टीना के नीचे वाले होठ को अपने दांत से काटने लगा। उसका पूरा जिस्म बहुत गर्म हो गया। टीना ने मुझे बाहों में भर लिया और मेरे गले में अपने दोनों हाथ डाल दिए। दोस्तों, हम दोनों अपने आने कपड़े निकाल चुके थे और नग्न हो चुके थे। मैंने टीना की कमर में हाथ डाल दिया और उसके साथ फ्रेंच किस करता रहा। हम दुसरे के होठ और जीभ चूसते रहे। टीना बहुत जादा गर्म हो गयी तो मैंने उसे अपनी क्लास रूम के चिकने फर्श पर लिटा दिया। मैं भी टीना पर लेट गया और उसे दोनों बाहों में भर लिया मैंने उसे। दोस्तों मुझे तो टीना दुनिया की सबसे मस्त माल लगती थी। उसके चेहरा बहुत खूबसूरत था। सधी हुई नाक थी, ऊँची और काली काली भौहें थी, वो बहुत सुंदर लड़की थी। टीना के बूब्स और चूत की मैं जितनी तारीफ़ करूँ कम है। मैंने उसके उपर लेट गया और उसके बूब्स पीने लगा।

यह कहानी भी पड़े  आंटी के गोरे गोरे गोलगोल मम्मे

“जान कह दो की अनुज मुझे एक बार कसके चोद दो!!” मैंने टीना से कहा

वो कुछ देर तक कुछ नही बोली फिर बोली की अनुज मुझ को चोद दो। मुझे टीना की इस अदा पर प्यार आ गया और मैंने उसकी चूत पर आ गया और जीभ लगाकर उसकी चूत की चाटते लगा। दोस्तों, मैं जोर जोर से किसी कुत्ते की तरह उसकी बुर चाट रहा था। टीना को बड़ा मजा मिलने लगा। वो मजे से मुझे अपनी बुर पिलाने लगी। उसके दूध को बहुत ही जादा सुंदर थे। मैं बार बार उसके बूब्स को अपने हाथ से सहला देता था। जैसे जैसे मेरी जीभ टीना केभोसड़े पर घुमने लगी उसकी चूत और भी जादा रसीली होंने लगी। उसकी चूत का माल बाहर निकलने लगा जिसे मैं तुरंत चाट जाता था। टीना ने मेरे कंधे पकड़ लिए और बैठकर मुझे अपनी चूत पिलाने लगी। मैं जल्दी जल्दी अपनी जीभ उसकी लाल लाल चूत पर घुमाने लगा। उसे बहुत सुख मिल रहा था

“प्लीस !!! अनुज !! मेरी जान ! मेरी चूत तो ऊँगली करो ना प्लीस!! मुझे बहुत अच्छा लगाता है!” टीना बोली

‘जान !! तुम्हारा हुक्म सर आँखों पर!” मैंने कहा और अपने सीधे हाथ की बीच वाली लम्बी ऊँगली मैंने बड़े प्यार से टीना के भोसड़े में डाल दी। एक ज़माने में टीना को चूत बिलकुल फ्रेश हुआ करती थी, पर जब मैंने उसे कॉलेज की छत पर जाकर पेला था तो उसकी चूत ढीली हो गयी थी। उसके बाद ने मैंने उसे इतनी बार ठोंका था की टीना की चूत पूरी तरह से फट गयी थी। इसलिए दोस्तों, आज जब मैंने उसकी गुलाबी मक्खन जैसी बुर में ऊँगली डाली तो बड़े आराम से अंदर चली गयी और मैं जल्दी जल्दी टीना की चूत फेटने लगा। उसे ऐसा नशीला नशा चढ़ा की उसके पेट में मरोड़ पड़ने लगे। मुझे ये देखकर और जादा मजा मिलने लगा और मैं जोर जोर से अपना सीधा हाथ उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा। टीना के पुरे जिस्म में आग लग गयी। वो मोनिंग करने लगी। कराहने लगी।

यह कहानी भी पड़े  रजिया फंसी गुंडों मैं पार्ट -3

टीना बहुत गर्म गर्म आहें भरने लगी। ये देखकर मुझे और रोमांच होने लगा और मैं अपनी क्लासरूम में ही अपनी माल टीना की चूत को अपने हाथ से चोदने लगा। दोस्तों, मुझे लगा रहा था मैंने किसी गर्म अंगीठी में हाथ डाल दिया हो। जैसे जैसे मैं टीना के खूबसूरत भोसड़े में हाथ डालने लगा वो और जादा गर्म होने लगी। उसे इतनी जादा यौन उतेज्जना हो रही थी की वो क्लासरूम के फर्श पर लेट न सकी और दोनों हाथो के सहारे से आधी बैठ गयी और पीछे की ओर दोनों हाथो पर झुक गयी। मैंने अपना मुँह टीना की चूत में लगा दिया और ऊँगली करते करते ही मैं उसकी चूत पीने लगा।

Pages: 1 2

error: Content is protected !!