कॉलेज फ्रेंड की रग़ाद-रग़ाद कर चुदाई

मेरा एक दोस्त था सोहैल. जब उससे पता चला था की मैं गे हू, तो तोड़ा शरमाता था. तो एक दिन मैने उसको हॉर्नी करके लंड चूसा था, और गांद मरवाई थी. उसके बाद से वो बहुत बार मुझे छोड़ता था. उसको मेरी गांद का नशा हो गया था. कॉलेज में भी मेरे साथ बैठा करता था.

उसमे हवस बहुत थी. वो मेरी गांद का दीवाना था. जब भी मिलता था तो मेरी गांद पे थप्पड़ मार के मुझसे बात करता था. वो जनवरो की तरह मेरी गांद मारता था. एक बार उसने हमारे दोस्तों के सामने मेरी खुल्ले में गांद मारी.

एक बार हम एक दोस्त के घर पे थे. हम 4 लोग थे, उसमे वो भी था. हम उस दोस्त के घर के टेरेस पे थे. और वो हॉर्नी था.

बातों-बातों में उसको मेरी गांद के साथ खेलते-खेलते हवस चढ़ गयी. फिर वो पंत से अपना 5 इंच का खड़ा लंड निकाल कर हम सभी को दिखाने लगा, ख़ास कर मुझे.

सोहैल (लंड पंत से निकालते हुए): आए हाए, मेरा खड़ा है. देख लो मेरा लंड. ये देख राज तेरी मोटी गांद देख कर मेरा लंड कैसा खड़ा है.

मैं: अर्रे वाह, अभी से हॉर्नी हुहह.

फिर मैं उसके लंड को अपने हाथो में लेकर हिलता हू.

मेरे दूसरे दोस्त: आबे क्या कर रहे हो तुम दोनो? पागल हो गये हो क्या? कोई देख लेगा.

मैं: देख लेने दे आज सब को हार्ड करके रखूँगा.

फिर मैं सब के सामने उसका लंड मूह में लेकर चूसने लगा. फुल रंडियों वाले एक्सप्रेशन देते हुए उसका लंड चूस रहा था. मेरे बाकी के दोस्त शॉक में घूर-घूर कर देख रहा थे. फिर मैने पंत खोली, और सोहैल ने अपना लंड मेरे च्छेद में घुसा दिया.

उफफफ्फ़ क्या छोड़ता है साला. उसका 5 इंच का लंड एक-दूं पर्फेक्ट अंदर घुसता था. ऐसा लगता था मेरा च्छेद उसके ही लंड के लिए बना हो. पूरा अंदर तक जाता था, और ज़ोरो से छोड़ता था. फुल रफ चुदाई करता था मेरी. गांद से ठप ठप करने की आवाज़ आती थी.

उसने मुझे घोड़ी बना के सब के सामने पेला. गांद में अपना माल भी निकाला. उसका माल भी बहुत ज़्यादा निकलता था. च्छेद से क्रेआमपीए लीक करता था मेरा. उफफफ्फ़, उसकी चुदाई में मज़ा था.

एक दोस्त का तो लंड खड़ा हो गया मुझे चूड़ते देख. वो घूर-घूर कर मेरी मोटी गांद को देख रहा था, और उसका लंड भी खड़ा हो गया था.

मैं: क्यूँ बे, मेरी चुदाई देख के खड़ा हो गया तेरा.

वो दोस्त: हॅट, मैं ये सब नही करता.

ये बोल कर वो चला गया. मुझे पता था वो स्ट्रेट होने का नाटक कर रहा था. पर अब वो मेरे बारे सोच कर मूठ मारेगा. मेरी और सोहैल की चुदाई खूब चलती थी. वो इतना छोड़ता था, और अपना माल इतनी बार मेरी गांद के च्छेद में निकाला, की अगर मैं औरत होता, तो उसे 10 बच्चे पैदा करके दे देता. उसका भी टीमेपस्स होता था मेरी गांद मारने में.

एक बार हम कॉलेज में थे, और एक सेमिनार चल रहा था. मैं कॉलेज तोड़ा लाते पहुँचा तो वो लास्ट बेंच में अकेला बैठा था. मैं जेया कर उसके पास बैठ गया. देखा तो वो मेरी फोटोस को टेबल के नीचे रख के पंत के उपर से अपना लंड मसल रहा था. मैने उसके थाइस पर अपना हाथ रखा.

सोहैल: अर्रे रंडी तू आ गया. इतनी देर कहा लगा दी? आज कोई फिर लंड देने आया था तुझे, हा?

मैं: अर्रे ट्रॅफिक था तो देर हो गया.

सोहैल: अछा देख तेरी याद में मेरे लंड की हालत. आज माल पिएगा या अपनी गांद में लेगा?

और फिर उसने टेबल के नीचे अपनी ज़िप खोल कर अपना खड़ा टाइट लंड बाहर निकाला. मैं उसका लंड पकड़ कर हिलने लग गया. उसके लंड को मसल ही रहा था मैं, की सेकेंड लास्ट बेंच पे बैठा एक लड़का हमे देख रहा था. वो जानने की कोशिश कर रहा था की हम लोग टेबल के नीचे कर क्या रहे थे.

क्लासरूम बड़ा था, और 100+ स्टूडेंट्स थे वाहा. तो टीचर का भी ध्यान नही था हम पर. फिर उसका लंड इतना टाइट था की मैं भी हॉर्नी हो गया. वो मेरी पंत के अंदर हाथ डाल कर मेरी गांद चू रहा था. फिर मैं चुप-छाप टेबल के नीचे गया, और उसके लंड को थूक लगा कर चूसने लगा. उसका मोटा टाइट लंड को रंडियों वाले एक्सप्रेशन देते हुए चूस रहा था मैं.

सोहैल: आअहह, चूस मेरा लंड साली रंडी, चूस.

मैं: उम्म्म उम्म.

वो दूसरा लड़का हमे देखने के लिए चुपके से पीछे वाले बेंच पे आ गया, और सोहैल की बगल वाली सीट पे बैठ गया.

वो लड़का: आबे तुम लोग क्या कर रहे हो. लिव क्लास छल्ल रही है. कोई देख लिया तो निकाल देंगे तुम दोनो को.

सोहैल: चुप भोंसड़ी के. देख नही रहा रंडी लंड चूस रही है. आज इसकी गांद फाड़ुँगा. मेरा लंड इसके च्छेद के लिए तरस रहा है. चूस मदारचोड़ चूस मेरा लंड ( मेरे सर के बाल पकड़ कर मूह छोड़ रहा था).

वो लड़का: तूने इसकी गांद मारी है?

सोहैल: अर्रे छोड़-छोड़ के च्छेद बड़ा कर दिया हू इसका.

वो लड़का: वाह, सही है. इसकी गांद मस्त मटकती है जब ये चलता है. क्लास में सारी लड़कियों से भी मस्त गांद है इसकी. पीछे से पूरा नोरा फतेही लगता है ये साला.

सोहैल: सही बोला भाई, इसकी मोटी गांद मारने का जो मज़ा है ना, कोई लड़की उतना मज़ा नही देगी. इसकी गांद मारेगा बोल?

वो लड़का: ज़रूर-ज़रूर.

फिर मैं उस लड़के की पंत पे हाथ फेरने लगा. मेरे मूह में ऑलरेडी सोहैल का लंड था. वो लड़के का भी लंड टाइट था. फिर वो लड़का ने भी ज़िप खोल कर अपना खड़ा लंड बाहर निकाला. एक-दूं 5 से 6 इंच का काला लंड था. मैने उसके लंड को मसल-मसल कर हिलाया और थूक लगाई और चूसना शुरू किया.

वो लड़का: आअहह उफफफ्फ़ यार, क्या मस्त मज़ा देता है ये बेहन का लोड्‍ा.

मैं दोनो के लंड को बारी-बारी चूस रहा था. दोनो का लंड मेरी थूक से गीला हो गया था. फुल रंडियों की तरह चूज़ जेया रहा था. थोड़े ही देर में सोहैल झाड़ गया, और मेरे मूह के अंदर अपना माल छ्चोढ़ दिया. मैं पूरा चूस के पी गया. फिर वो लड़के का चूस्टे-चूस्टे उसका भी कम पी गया. दोनो ऑर्गॅज़म में आँखें बंद कर लिए थे.

अछा हुआ क्लास बहुत बड़ी थी, और कोई बुधिया जैसी मेडम थी. तो उसका और बाकी स्टूडेंट्स का ध्यान हम पर नही गया. मैने उन दोनो का लंड मस्त चूसा, और दोनो का स्पर्म पी गया.

फिर कुछ देर बाद वो सेमिनार ख़तम हुआ और हम कॅंटीन की तरफ गये. फिर और भी दोस्तों से मिले. उन लोगों को कुछ पता नही था, की मैं लास्ट बेंच पर 2-2 लंड चूस कर स्पर्म पी गया था. फिर जब ब्रेक ख़तम हुआ, और हम क्लास की तरफ जेया रहे थे. वो दूसरा लड़का मेरा हाथ पकड़ लिया और मुझे बुलाने लगा.

सोहैल भी ये देखा और हम तीनो रुक गये. सभी के जाने के बाद हम कॅंटीन के पीछे एक छ्होटी सी गली (लाने) है, वाहा कोई आता-जाता नही था. वो लड़का मेरी गांद पे ज़ोर का थप्पड़ मारा. फिर सोहैल भी मेरी गांद को पकड़ के दबाने लगा.

सोहैल: चल रंडी पंत खोल, आज तुझे छोड़-छोड़ के तुझे प्रेग्नेंट करूँगा.

मैने अपनी पंत खोली, और सोहैल ने मेरे अंडरवेर को पकड़ कर फाड़ दिया. फिर मेरी गांद के च्छेद में उंगली घुसने लग गया. वो लड़के ने अपना लंड निकाला, और मैं चूसने लग गया. फिर पीछे से सोहैल मेरी गांद में उंगली करते हुए जीभ मेरे च्छेद में डाल रहा था. वो मेरे च्छेद को गीला कर रहा था.

फिर सोहैल ने मेरी गांद के च्छेद में लंड सेट किया, और एक शॉट में पूरा अंदर तक चला गया. उसके बाद जो चुदाई हुई, घपा-घाप एक-दूं. गांद में से ठप ठप ठप ठप करके ज़ोर-ज़ोर से आवाज़ आ रही थी. दूसरी तरफ वो लड़का मेरा मूह छोढ़ रहा था. इसमे मैं हॉर्नी हो गया आंड मज़े से चूड़ने लगा.

क्या चुदाई हो रही थी, दोनो तरफ से दोनो च्छेद भर रहे थे. फिर थोड़ी देर बाद दोनो ने जगह स्विच की, और छोड़ने लगे. सोहैल मेरा मूह छोड़ा, और वो दूसरा लड़का मेरी गांद का च्छेद. उसका भी लंड मेरी गांद चियर रहा था, और बहुत मज़ा आ रहा था. ऐसे ही चुदाई हुई, और फिर सोहैल ने आइडिया दिया की साथ में बारी-बारी छोड़ते है.

वाहा पुरानी ऑफीस चेर्स और टेबल्स रखे थे. तो एक रिवॉल्विंग चेर पे मुझे डॉगी स्टाइल में खड़ा करवाया, और एक-एक शॉट बारी-बारी करके मेरी गांद को छोड़ा. पूरा अंदर तक डाल के निकालता था. गांद पे थप्पड़ भी मारता था, और ज़ोरो से छोड़ता था.

ऐसे ही रफ चुदाई के बाद सोहैल ने डबल पेनेट्रेशन का आइडिया दिया. मैं दर्र गया. मैं सोचा अंदर 2 गये तो गांद सच में फटत जाएगी. मैने माना किया, पर सोहैल ने मुझे थप्पड़ मारा और कहा-

सोहैल: चुप मदारचोड़. नही चूड़ेगा ना तो तेरे घर में घुस के तेरी मा को छोड़ूँगा.

फिर सोहैल यूयेसेस चेर पर बैठा, और मैं उसकी गोद में. मेरी गांद में लंड डाल दिया उसने, और 3- 4 शॉट मार दिए. फिर वो दूसरा लड़का आया, और मेरी गांद में लंड घुसने लगा. शुरू में बहुत दर्द हुआ. आँखों में आँसू आ गये 2 लंड साथ में लेने में. पर जैसे-तैसे दोनो ने एक साथ घुसेध दिया.

सोहैल मेरे मूह में हाथ रखा था की मैं चिल्लौ नही. दोनो का लंड मेरी गांद चीरते अंदर तक छोड़ रहा था. दोनो ने एक साथ छोड़ा, और फिर जब दोनो ने लंड निकाला, मेरा च्छेद और चौड़ा हो गया था. गांद की स्किन तोड़ा जल रही थी, और दर्द भी हो रहा था. फिर दोनो ने मुझे घुटनो के बाल बिताया, और मेरे मूह के पास हिलने लगे. फिर दोनो झाड़ गये.

मेरे पुर फेस पे दोनो का मूठ भर गया. फिर दोनो का लंड चूस्टे हुए सॉफ किया, और सारे कम के ड्रॉपलेट्स चूस कर पी गया. ऐसे हुई थी मेरी रफ चुदाई. मैं मेरे दोस्त को पहली बार मेन्षन कर रहा हू. क्यूंकी मुझे उसकी पर्मिशन चाहिए थी.

ये कहानी मुझे 2 दिन लगे लिखने में. और आपको जान कर मज़ा आएगा की ये सॅकी कहानी मेरी और सोहैल की मैने सोहैल को पढ़ने दी. और वो इतना हॉर्नी हो गया की ये स्टोरी पढ़ कर मुझे अपने घर पे छोड़ने लगा. अभी वो मेरे मूह पे झाड़ गया है, और मैं उसका लंड चूस का सॉफ कर रहा हू. अभी ये लास्ट पॅरग्रॅफ उसका लंड मूह में लेकर लिख रहा हू.

आप लोग जब ये पढ़ोगे तो अपना लंड हिलना ज़रूर, और मेरे नाम की मूठ मारना ज़रूर. आप इमॅजिन कर सकते हो की मेरी चुदाई होते हुए मैने ये कहानी लिखी है. अपना लंड हिला-हिला कर मेरी गांद छोड़िए. मेरी गांद का च्छेद चूड़ने के लिए ज़्यादा बना है. मुझे ये रंडी बनने में बहुत मज़ा आ रहा है. आप लोग भी मुझे अपनी रंडी बना सकते हो. मुझे मेसेज करने के लिए.

इंटेस्टाइनल.टूट86@गमाल.कॉम पर मेसेज ज़रूर करे. आपका राज आपका लंड चूस्टे हुए बाइ-बाइ बोलता है. और भी अपनी साची कहानी लिखूंगा, और मेरे नाम का माल आपके लंड से निकालओौनगा.

यह कहानी भी पड़े  Chut Chod Maje Dene Ki Naukri


error: Content is protected !!