चूत पेलाइ पार्टी वाली भाभी की

ही फ्रेंड्स, फ़ज़िल बॅक वित न्यू पार्ट. होप आप लोग को मेरा फर्स्ट पार्ट बहुत पसंद आया होगा. एवेरिवन हू मेस्सगेड मे बाइ एमाइल, थॅंक्स फॉर युवर रेस्पॉन्स. इफ़ अन्य विमन और गर्ल्स वॉंट तो मेसेज मे, प्लीज़ एमाइल मे अट फ़ज़िल20008@गमाल.कॉम. अब स्टोरी पर आते है.

जैसा की आपने पढ़ा था, पार्टी फिनिश होने लगी. मैं तो अपनी फॅमिली के साथ डेपु के घर रुकने ही वाला था. डेपु काफ़ी ड्रंक था, तो मैं ही नौशी को वापस घर छ्चोढने जेया रहा था.

हम कार में निकले नौशी के घर. उसके दोनो किड्स सो गये थे. वो बॅक सीट पर ही अपने किड्स को लेकर बैठ गयी, और मुझे देखने लगी, और मैं भी उसे मिरर से देख रहा था.

नौशी बोली: मैं आपको पसंद तो आई ना. माना सुमन जैसे खूबसूरत नही.

मैने कहा: सुमन अपनी जगह हसीन है, और आप अपनी जगह सेक्सी है. और आपका जिस्म बहुत हॉट है. हर चीज़ आपकी बड़ी और मस्त है.

नौशी शर्मा गयी और बोली: आपकी हाइट और आपका काफ़ी हार्ड और बड़ा है. ई रियली लीके इट. मेरा तो मॅन था की मैं बातरूम में ही आपका सक करू. पर आपकी वाइफ ने आपको बुला लिया.

मैं: अर्रे कोई नही. मैं कों सा कल ही वापस जेया रहा हू ऑस्ट्रेलिया. अभी काफ़ी टाइम है. वी कॅन प्लान सम अदर टाइम.

फिर हम उसके अपार्टमेंट पहुँच गये, गाड़ी पार्क की, और मैं एक किड को और उसने दूसरे किड को उठा लिया, और उसके अपार्टमेंट को गये. उसने डोर ओपन किया, और उसके किड्स को बेडरूम में डाल दिया.

फिर हम बाहर हॉल में आए तो मैने कहा: ई’ल्ल गो नाउ.

तो उसने मेरा हाथ पकड़ कर इन्सिस्ट्स किया: कॉफी पी कर जाओ.

मैने कहा: ओक.

और वो फिर किचन में चली गयी. तभी मेरी वाइफ की कॉल आई.

वाइफ ने मुझसे पूछा: आप कहा हो? अभी तक नही आए.

तो मैने एक बहाना बनाते हुए कह दिया. अभी हम नही पहुँचे उसके घर. गाड़ी पंक्चर हो गयी रास्ते में. तो मैं टाइयर चेंज करके उसको छ्चोढ़ कर आता हू.

तभी वाइफ ने कहा: ओक, टके युवर टाइम. मैं सोने जेया रही हू. जब हो जाए तब आ जाना. बाइ

नौशी ने मेरी बात सुन ली थी, और वो नॉटी स्माइल देते हुए कॉफी लेकर आई, और बैठ कर कॉफी पी.

नौशी ने कहा: तुम बैठो, मैं थोड़ी देर में फ्रेश हो कर आती हू.

वो अंदर गयी, और फ्रेश हो कर 10 मिनिट्स बाद एक छ्होटी सी निघट्य में आ गयी मेरे सामने. मैं उसको देख कर डांग रह गया. वो काफ़ी हॉट लग रही थी. मैं जल्दी से उसके पास गया और उसको हग करके किस करने लगा.

वो भी मुझे कस्स कर लिपट कर किस करने लगी. इसी तरह हम किस करते-करते उसके एक और बेडरूम में पहुँच गये, और हम दोनो नेकेड हो गये. फिर एक दूसरे के जिस्म को किस करने लगे. मैं उसके बूब्स को मसल-मसल के चूसने ने लगा.

वो ज़ोर-ज़ोर से आवाज़ो से मज़े लेने लगी. उसके बूब्स सक करते-करते मैं उसकी छूट की क्लिट से खेलने लगा. उसकी छूट काफ़ी गीली हो चुकी थी, और वो कहने लगी-

नौशी: थॅंक्स फ़ज़्ज़, मुझे आज काफ़ी टाइम बाद इस छूट को मसालने वाला मिला है. जब सुमन ने तुम्हारे और तुम्हारे लंड के बारे में बोला था, मैं तो डेली सोच रही थी तुम्हारे बारे में, और सोच कर अपनी छूट को सहला रही थी.

उसके बाद मैं उसकी छूट को चाटने लगा जो की मुझे सबसे ज़्यादा पसंद है, औरतो की छूट को आचे से लीक करना. मैं उसकी छूट को पागलों की तरह चाट रहा था, और उसे बहुत मज़ा आ रहा था. उसी समय वो मेरे सर को अपनी छूट में दबा रही थी. फिर वो झाड़ गयी, और मैं उसकी छूट का सारा पानी पी गया.

फिर उसने मेरा लंड चूसना शुरू किया. काफ़ी मज़े से वो मेरा लंड सक कर रही थी, जैसे की कोई आइस क्रीम आचे से खाता है. वैसे वो कभी मेरी बॉल्स, और कभी मेरा लंड चूज़ जेया रही थी.

कुछ देर के बाद मैने कहा: लेट’स एंजाय 69 पोज़िशन.

फिर मैं उसके उपर आ गया. मैं उसकी छूट और वो मेरा लंड मूह में लेकर मज़े ले रहे थे. कुछ देर ऐसे ही चलता रहा.

फिर उसने कहा: फ़ज़्ज़ यार, बस अब प्लीज़ जल्दी मेरी छूट में डाल दो प्लीज़. मैं बहुत प्यासी हू, और बर्दाश्त नही हो रहा है मुझसे.

तभी मैने कहा: फर्स्ट ई’ल्ल फक योउ इन डॉगी, देन मिशनरी पोज़िशन.

उसने कहा: ठीक है. और आप मुझे बिना कॉंडम के छोड़ेंगे प्लीज़.

मैने कहा: नो, क्यूंकी सेफ्टी इंपॉर्टेंट है.

उसको ये मंज़ूर था.फिर मैने उसको डॉगी पोज़िशन में बनाया, और अपना लंड पीछे से स्लोली उसकी छूट पर रख कर सहलाने लगा. उसकी छूट काफ़ी टाइट थी क्यूंकी उसने 3 यियर्ज़ से कोई लंड नही लिया था छूट में.

फिर जैसे ही मैने तोड़ा सा अंदर डाला, उसकी तो चीख निकल गयी, और उसने कहा-

नौशी: प्लीज़ निकालो, निकालो.

पर मैं सुनने वाला कहा था. मैने एक और धक्का मारा, और आधा लंड अंदर गया. उसकी आँखों से आँसू निकल पड़े. फिर मैने स्लोली-स्लोली करके पूरा लंड अंदर डाल दिया, और वो चीखने लगी.

थोड़ी देर बाद वो चीख मज़े में बदल गयी, और वो आह आह आह वाउ आह आह करने लगी.

वो कहने लगी: नाइस, प्लीज़ ऐसे ही छोड़ो. बहुत मज़ा आ रहा है. पहली बार कोई मुझे डॉगी में छोड़ रहा है, और मुझे बहुत मज़ा आ रहा है.

मैने और स्पीड बढ़ा दी, और थोड़ी देर ऐसे करने के बाद वो झाड़ गयी. फिर हमने पोज़िशन चेंज की, और वो नीचे लेट गयी, और मैं उसके उपर आ गया. उसकी छूट में मेरा लंड अब आसानी से चला गया. अब मैं काफ़ी स्पीड से उसे छोड़ रहा था, और वो बहुत मज़ा ले रही थी.

नौशी: आहा हा आह वाउ और ज़ोर से छोड़ो. काफ़ी टाइम बाद कोई लंड मिला है मेरी छूट को. प्लीज़, बहुत मज़ा आ रहा है. और छोड़ो ऐसे ही.

थोड़ी देर छोड़ने के बाद हम दोनो झाड़ गये और एक-दूसरे को किस करते-करते लेते रहे. तभी मेरी नज़र वॉच पर पढ़ी तो 2 घंटे हो गये थे. तभी मैं जल्दी से उठा, और कपड़े पहने.

उसने मुझे हग किया, किस किया, और बोली: थॅंक योउ सो मच रुकने के लिए और मुझे बहुत मज़ा देने के लिए.

मैने भी उसे थॅंक योउ कहा, और मैने कहा: आपका जिस्म काफ़ी मस्त है, थॅंक योउ.

फिर मैं डेपु के घर आ गया, और सोने चले गया. जब तक हयदेराबाद में था, तब तक वीक में दो बार नौशी के जिस्म के साथ काफ़ी मज़ा किया. थॅंक्स फॉर रीडिंग मी स्टोरी.

यह कहानी भी पड़े  पड़ोस में रहने वाली भाभी के साथ चुदाई


error: Content is protected !!