Category «हिंदी सेक्स कहानियाँ»

मौसम की करवट

यह कहानी एकदम सच्ची है और मेरी अपनी है जो मेरे साथ तब घटी जब मेरा लंड जवान हो रहा था। यह कहानी मेरे प्यार की कहानी है, उम्मीद करता हूँ कि आपको पसंद आएगी… आप अपनी राय मुझे मेल करके जरूर बताईयेगा… अन्य लड़कों की तरह मैं भी अपने लंड को लेके काफी आकर्षित …

प्राकृतिक आपदा – 2

तो विक्रम ने कंगना को कोकिला के साथ जा कर सोने को कहा, कि उधर से रागिनी को भेज दो. कंगना चुपचाप उठ कर पहली सीट पर फिसल गई और रागिनी खिसक कर विक्रम के पहलू में आ गई. विक्रम ने मेरे चूतड़ पर चिकोटी काटते हुए इशारा बनाया, तो मैं भी यह कह कर …

मामी को दो मर्दों ने चोदा

मेरा नाम यश है, मैं 19 साल का हूँ और यूनिवर्सिटी में पढ़ता हूँ। मैं अपने घर से दूर अपनी मामी-मामा के पास रहता हूँ। मैं आपको अपनी मामी की एक सच्ची घटना के बारे में बताने से पहले, यह बता देता हूँ कि कैसे एक औरत सैक्स के लिए क्या क्या नहीं कर गुजरती …

मेरी सास बनी मेरी दूसरी पत्नी ये कैसे हुआ

मैं मनोज झा, दिल्ली में रहता हूँ, आपको मैं अपनी कहानी बता रहा हु, कैसे मेरी सास मेरे से चुदने लगी और बाद में वो मेरे साथ शादी कर ली, मेरी पत्नी २१ साल की है और मेरी सास ३९ साल की, मैं गुडगाँव के एक कंपनी का टीम मैनेजर हु, मेरी शादी कानपूर में …

मौसेरी बहन सविता की चुदाई

शाम को हम सब एक साथ डिनर कर रहे थे। मेरी नज़र बार बार सविता की चूची पर जा रही थी जो कि उसके नाईट सूट से बाहर आने को बेताब थी। दोस्तों उसकी फ़िगर 34-28-34 हैं। उसके चूंची अपनी मां की ही तरह सभी को बहुत तड़पाती होंगी। खाना खाने के बाद निशा (छोटी …

परजाई ने कहाँ सिर्फ लंड चूसूंगी

हाई दोस्तों, मेरा नाम समशेर हैं और मैं पंजाब का रहने वाला हूँ. यह कहानी मेरी और मेरे दोस्त की बीवी यानी मेरी परजाई प्रिती की हैं. वो मेरा लंड चूसने आई थी लेकिन मैंने परजाई की चुदाई ही कर दी थी. प्रिती मेरे दोस्त सूरी की बीवी हैं और वो हर एंगल से एक …

शहर की चिकनी गांड और गाँव का प्रचंड लंड

मेरे घर के ऊपर वाले हिस्से में किराये पर पास एक गाँव से एक परिवार रहने आया । उसमे एक पिंकू नाम का लड़का था जो मुझसे उमर में लगभग तीन साल बड़ा था। मैं उसे पिंकू भैय्या पुकारता था लेकिन हम दोनों बहुत अच्छे दोस्त थे और हर विषय पर खुल कर बात होती …

लाजवन्ती की चुदाई उसी की जुबानी

यह कहानी मैं अपनी सहेली लाजवन्ती की तरफ़ से उसी के शब्दों में लिख रही हूँ। मेरा नाम है लाजवन्ती, उम्र तेईस साल, रंग गोरा, अंग अंग मानो भगवान् ने अकेले बैठकर तराशा हो, लहराता जिस्म, पतली सी कमर, आग लगा देने वाली छाती बिल्कुल गोल-मोल और सेक्सी, किसी मर्द का, किसी लड़के का उन …

error: Content is protected !!