भाभी की चिकनी चूत की चुदाई

डिअर फ्रेंड मेरा Kamukta नाम अमर है. आज में आपको एक ऐसी कहानी लिखने जा रहा हु जिसको पढ़के आपका लंड इतनी माल झड़ेगा की पूरा हाथ भर जाएगा. क्यों की आज की कहानी बड़ी ही हॉट है, मैं भी आपके तरह का डेली का विजिटर हु, तो ये कहानी मेरी भाभी की है जिनका नाम सोनी है. वो मेरी कहानी की हेरोयिन हैं. आप उनके फिगर के बारे में सोचकर ही लंड हाथ में ले लेंगे मैं आपको उनका फिगर बतता हू. वो नही ज़्यादा पतली हैं और ना ही ज़्यादा मोटी. पर एक चीज़ उनकी ज़रूर मोटी है. उनकी गांड वो जब चलती है तो उनकी गांड ऐसे मटकती है की बस खा जाओ. उनका फिगर 34 26 26 है. गोरी और होठ गुलाबी है देखते ही लगता है की चूसते ही रहे.

तो दोस्तों अब आते हैं कहानी की तरफ. मेरी भाभी की शादी को बस पाँच साल हुए हैं. जब वो हमारे घर आई तो मेरे मन में उनके लिए कोई फीलिंग्स नही थी. कुछ महीने तक उनकी मोटी गांड को देख के मैने सोच लिया की इसको तो चोद के ही रहूँगा. हम आपस में बहूत बाते करते थे. वो मुझसे पूछा करती थी की मेरी कोई लड़की मित्र है क्या? मैं बोलता था की आप जैसी कोई मिली ही नही. मैं रोज़ उनके नाम की मूठ मारा करता था. मुझे लगता था की कोई मुझे बाहर से हस्थमैथुन करते हुए देख रही है कीहोल से और भाभी की चोदने के बाद पता चला की वो मुझे रोज़ देखा करती थी. एक दिन भैया बाहर गये हुए थे तो भाभी ने मुझे मार्केट चलने को कहा.

तो मैने उन्हे अपनी मोटर साइकिल पे बैठाया और हम चल दिए. रास्ते में मैं जान के ब्रेक मरता था. ताकि उनकी चूचियाँ मेरे पीठ से चिपकता रहे और शायद ये भाभी को पता था. हम मार्केट में जनरल स्टोर पे गये तो भाभी वहाँ से ब्रा पनटी खरीद रही थी. ये सब देख कर मेरा लॅंड सातवे आसमान पे पहुंच गया. वापस आते हुए बारिश हो गयी और हम दोनो भीग गये. भाभी की सारे पूरी भीग गयी और उनके नाभि और ब्रा का पोजीशन साफ़ साफ़ झलक रहे थे. भाभी को ठंड लगने लगी तो मैने कहा की आप मुझसे ज़ोर से पकड़ लो. उनकी बॉडी फील करके मुझे बहूत जोश चढ़ रहा था. हम घर पहुंचे तो मैं उनके साथ रूम में चला गया. बातरूम बिज़ी था तो भाभी ने मुझे आँखें बंद करने के लिए कहा जिससे वो चेंज कर सके.

यह कहानी भी पड़े  मामी मेरे बिज से प्रेग्नेंट हो गई

में तो हरामी था मैं चुपके से भाभी को देख रा था. उनको पूरा नंगा देख कर मेरा लौड़ा खड़ा हो गया. ये देख कर भाभी स्माइल करने लगी और कहा नॉटी भाभी को देख रहे हो. जब मैने इनकार किया तो उन्होने बोला की तुम्हारा टॉय बता रा है मुझे की तुम मुझे देख रहेथे, चलो कोई बात नही, भाभी देवर मेी तो ये सब होता रहता है. उस रात मैने उनके नाम की मूठ मार और माल निचे गिरा दिया और सो गया.

कुछ दिन बाद जब में कॉलेज से आया तो देखा की भाभी मेरे रूम में लॅपटॉप पर पॉर्न वीडियोस देख रही हैं साथ ही साथ अपनी चूत भी सहला रही हैं. ये देख कर मैं जोश में गया. मुझे देखकर भाभी बोली ये कैसे वीडियोस हैं तुम्हारे लॅपटॉप में??

भाभी : क्या डाल रखा है लॅपटॉप में??(स्माइल करते हुए)

मैं : कुछ नही भाभी बस दोस्त ने दे दिया था

भाभी : मैं आज कल के बच्चो को जानती हू, शादी तक रुका नही जाता तुमसे.

मैं : नही भाभी कंट्रोल नही होता.

भाभी : ये सब छोड़ो और पढ़ाई में मन लगाओ

ये कहके भाभी चली गयी. उसी दिन भैया मेरे पास आए (मैने सोचा की भाभी ने उन्हे सब बता दिया है.) भैया ने मुझे कहा की आज उन्हे अर्जेंट्ली मीटिंग में जाना है मुंबई तो मैं रात को भाभी के साथ सो को क्यूकी उन्हे रात को दर लगता है.मैने कहा ओक. मेरे मॅन में तो लड्डू फुट र्हे थे. मैने सोच लिया की आज सेक्स का मज़ा लेकर ही रहूँगा. और जो रोज रोज मूठ मार के निचे गिरता था आज भाभी के चूत में ही गिराऊंगा.

यह कहानी भी पड़े  बहन के साथ मम्मी और बुआ की प्यास बुझाई

फिर रात को में भाभी के रूम में गया तो भाभी ने लो कट नाइट सूट पहना हुआ था जिससे उनका बहूत ज़्यादा क्लीवेज दिख रहा था. हम टीवी देखने लगे उसमे एक चॅनेल पर ब ग्रेड का मूवी आ रही थी तो मैने वही लगा दी. वो मूव के बीच में रूम में गर्मी बाद गयी थी. भाभी अब गरम हो रही थी. वो अपनी चूत पे हाथ फेर रही थी. मैने उनका हाथ हटाया और चूत पे हाथ फेरने लगा. वो मोन करने लगी म्‍म्म्मममम आअहह. फिर हमने जोरदार किस की करीब 4-5 मिनिट तक.

मैने उसके बूब कपड़ो पे से हटाए. उसने मेरे मोटे लंड को पकड़ लिया और सहलाने लगी. मैने उसकी नाइटी उतरी तो देखा की उसने वही ब्रा पहनी थी जो उसने मेरे साथ मार्केट में खरीदी थी. फिर उसने मेरी टी-शर्ट और बरमुंडा उतारी. अब हम दो सिर्फ़ अंडरगार्मेंट्स में थे. मैने अपने मूह से उसकी पेंटी उतारी तो देखा की चूत बिल्कुल चिकनी और साफ़ थी एक भी बाल नही था. फिर उसने मेरा अंडरवेर उतरा. मेरा बड़ा सा लंड देख के वो चौक गयी और बोली की इतना बड़ा तो तुम्हारे भैया का भी नही है आज तो तेरा लंड मेरा चूत का सत्यानाश कर देगा.

Pages: 1 2

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!