भाभी की बहेन को पटा के चोदा

भाभी की बहें को पटा के चोदामेरे घर के पास ही मेरा भाई और भाभी रहते हैं। Stories एक दिन मैं कॉलेज से लौटा तो देखा भय्या-भाभी के घर एक बहुत सुन्दर सेक्सी लड़की आई है तो जल्दी से मैंने बुक्स अपने घर रखी और पहुँच गया भाभी के घर, वहाँ भाभी भय्या और वो लड़की बैठी थी।
पता चला कि यह भाभी की चचेरी बहन है। वो लड़की बहुत बहुत सेक्सी थी, गुलाबी लब, गोरा रंग, टाइट गोल गोल बूब्स. उस लड़की ने जो सूट पहन रखा था उसके गले से उसके बूब्स वाली लाइन बाहर साफ़ दिखाई देती थी, मेरी तो नज़रें ही रुक गई थी।

अपने आप को संभालते हुए मैं भाभी और भय्या से बात करने लगा तो भाभी ने उस लड़की के साथ मेरी पहचान करवाई उसका नाम संगीता था।
मैं काफी टाइम वहीं पर बैठा उनसे बात करता रहा, संगीता अब मेरे से काफी खुल कर बात करने लगी थी, वो एग्जाम देकर आई थी।
उसे एक माह की छुट्टियाँ थी सो वो 10 दिन के लिए यहाँ पर आई थी।
मैं संगीता को अपने घर आने का कह कर घर चला गया।

उस रात मैं तो सो ही नहीं पाया और संगीता के बूब्स देख चुका था यारो, तो उस रात मैंने संगीता के नाम की 2 बार मुठ मारी थी।

अगले दिन छुट्टी थी तो मैं कॉलेज नहीं गया और सुबह होते ही पहुँच गया भाभी के घर. 8:30 का टाइम था, भय्या अभी सोये हुये थे और भाभी पूजा कर रही थी।
मेरी नज़र संगीता को ढूंढ रही थी, मैं भाभी के पास बैठा ही बात कर रहा था।
थोड़ी देर बाद मैंने देखा कि संगीता ऊपर वाले रूम से आ रही थी।
दोस्तो, अभी वो सो कर आई ही थी, उसने नाइट सूट पहन रखा था, पतली सी शर्ट सफ़ेद रंग की पहन रखी थी, शर्ट के नीचे उसने ब्रा नहीं पहनी थी, शर्ट पतली होने की वजह से उसके दोनों बूब्स के निप्पल बाहर साफ़ दिखाई दे रहे थे।
अब तो वो और ज़्यादा सेक्सी लग रही थी, मन कर रहा था इसकी शर्ट मैं अपना मुँह घुसा कर इसके मम्मों को खूब चूसूँ और सारा दुग्ध पी जाऊँ.
मेरा लंड भी हरकत में आ गया था, लोहे की तरह अकड़ गया था, गर्म भी हो गया था।
मैंने लंड पर हाथ रखा हुआ था, कहीं सभी को मालूम ना चल जाए इस लिये।
अब ना तो मैं खड़ा होने की हालत में था, ना बैठ सकने की. मैंने ट्राउज़र और लोंग शर्ट पहनी थी, मैंने शर्ट बाहर निकाल ली जो पहले अंदर थी।

यह कहानी भी पड़े  बीवी की ग़लती से पापा से चुदाई

loading…

संगीता ने जैसे ही मुझे देखा उसके मुख पर भी स्माइल आ गई, बोली- गुड मॉर्निंग विशाल!
मैंने भी जवाब दे दिया।
वो मुँह धोने और फ्रेश होने के लिए बाथरूम गई और थोड़ी देर में आई, काफ़ी गीली हो गई थी, कुछ पानी उसके शर्ट के ऊपर बूब्स वाली जगह पर भी पड़ गया था, उसके बूब्स वहाँ से साफ नज़र आ रहे थे।
पहले तो मेरी नज़र वहाँ पर गई, बाद में ऊपर देखा तो वो तो मेरी तरफ़ ही देख रही बोली- क्या हुआ विशाल?

मैं बोला कुछ नहीं. वो मेरे पास आ गई।
भाभी नहाने के लिए चली गई और वो मेरे पास बैठ गई, काफी देर इधर उधर की बात करते रहे, बाद में बात कॉलेज की चल पड़ी। उसने मेरी गर्लफ्रेंड के बारे मैं पूछा तो मैंने मना किया कि कोई नहीं है।
जब उससे पूछा तो उसने भी मना किया और बोली- अभी मिला नहीं!काफी देर इसी टॉपिक पर बात चली।

मैं घर चला गया, उसने मुझे कहा कि वो घर पर बोर हो जाएगी तो वो नहा कर मेरे घर आयेगी।
मम्मी को आज गाँव जाना था तो वो चली गई और पापा ऑफ़िस चले गये थे।
मैं अक्सर ही, जब घर कोई नहीं होता था, मैं सेक्सी मूवी लगा कर मूठ मारता था। मैंने वैसे ही किया, सीडी लगाई और देखने लगा। मुठ मार कर मैंने जल्दी मैं सीडी बंद नहीं की लेकिन टीवी को रिमोट से ही बंद किया और नहाने के लिए बाथरूम में आ गया।

कुछ देर ही हुई थी, बाहर से किसी ने बेल मार दी, बाहर देखा तो देखता रह गया, मेरे सामने संगीता खड़ी थी, मैं उसे अंदर ले आया। और फिर उसे ड्रॉईंग रूम मैं बैठा कर मैं नहाने के लिए बाथरूम में चला गया।

यह कहानी भी पड़े  भतीजे ने चूत और गांड में उगली करके चरम सुख दिया

उसने मेरे जाने के बाद टीवी ऑन किया, सीडी ऑटोमॅटिक चल पड़ी, वो तो बस देखती रह गई, मैं तो बाथरूम में ही था।
वो चोरी चोरी सीडी देख रही थी, मेरे आने की आहट पर उसने टीवी बंद कर दिया, उसने मुझे एहसास ही नहीं होने दिया कि उसने कुछ देखा है।

काफी देर बात करते रहे, मुझे लगा कि वो बोर हो रही तो मैंने टीवी लगाने का प्रोग्राम बनाया। मैंने पहले सीडी बंद की और केबल चलाने लगा।
उसे मेरी तरह इंग्लिश मूवी पसंद थी, स्टार मूवीस पर कोई इंग्लिश मूवी आ रही थी।
थोड़ी देर बाद उसमे सेक्सी सीन आ गया, मुझे देखते देखते शर्म सी आ रही थी वो भी मुंह में ही मंद मंद मैं हंस रही थी।
मैंने उसकी तरफ और उसने मेरी तरफ़ देखा. और आँखें चार हो गई।

Pages: 1 2 3

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!