बेटे के सामने मा के गंगबांग की कहानी

इसमे सभी बातें (डाइलॉग) पंजाबी में थे. पर मैने उन्हे ट्रॅनस्लेट करके हिन्दी में कॉनवर्ट किया है. मेरे पिता जी पस्पक्ल में जे थे. तो उनकी पेन्षन से घर का खर्चा चलता था.

मेरा कोई भाई-बेहन नही था, इसलिए मैं और मा सिर्फ़ अकेले ही घर में रहते थे. हमने नया (न्यू) घर बनाया था 3 साल पहले. एक न्यू बस रही कॉलोनी में, जहा अभी लोग घर बना रहे थे, और कॉलोनी के घर सभी ने ज़्यादातर एक-दूसरे से हॅट कर ही बनाए थे. हमारा घर भी हॅट कर ही बना था. मतलब हम चाहे जितना भी चिल्लाए, किसी को कोई आवाज़ नही पहुँचती थी.

अब बात करते है मेरी मा की. मा की हाइट 5’7″, रंग पूरा गोरा (वाइट) था. गोरा तो मैं भी था, पर मेरी मा का रंग तो जैसे दूध हो. और फिगर 36-30-34 था. फेस कट जैसे हेरोयिन जैसा. जो भी मा को देखता वो देखता ही रह जाता. मा सिर्फ़ सलवार कमीज़ ही पहनती थी, जिससे उनके बूब्स बाहर, पेट अंदर, और गांद पीछे से दिखती थी.

मा हर रोज़ मुझे रात को सोने से पहले दूध देती थी. पर उस दिन मैने कुछ ज़्यादा ही खा लिया था, तो दूध पीने का मॅन नही किया, और 11 पीयेम तक मैं सो चुका था. फिर मुझे कुछ देर में कुत्टो की आवाज़ आई तो मेरी नींद खुल गयी. मैं देखने जेया रहा था की 3 लड़के करीब 28-32 साल के होंगे.

मैं ये सब अपने रूम से ही देख रहा था. क्यूंकी मैने लाइट ऑफ रखी थी अपने रूम की, तो बाहर पता नही चल रहा था, की मैं जाग रहा था. उनको मा सोफे पे बिता कर पानी पीला रही थी. मैं पहले तो जेया कर पूछने लगा की वो कों थे, पर इतने में ही मा ने उनको जूस ला कर दे दिया.

इससे मुझे लगा की ऐसी कोई बात नही शायद हमारे कोई रिश्तेदार होंगे, या न्यू रेंट वाले भी हो सकते थे. क्यूंकी हमारे घर का उपर वाला पोषण (मंज़िल) खाली था, और मा ने बताया था की रेंट पर रहने के लिए कोई आएगा.

वो तीनो लड़के सोफे पर बैठे थे. और मा उनके सामने खड़ी थी, और उनसे बातें कर रही थी. तभी बीच में बैठे लड़के ने मा को हाथ से पकड़ा और सोफे पे अपने साथ बिता लिया. मैं ये देख कर उन्हे रोकने लगा, तो देखा की मा खुश हो रही थी उनके साथ बैठ कर.

फिर मैं रुक गया और देखने लगा की मा ने उन्हे कुछ क्यूँ नही कहा. मा की एक साइड 2 लड़के और एक साइड 1 लड़का था. और करीब 20 मिनिट तक मा उनसे मुस्कुराते हुए बात कर थी. फिर तभी 1 लड़के ने मा का हाथ पकड़ कर अपने लंड पर रख दिया.

मा ने कुछ नही कहा, और मा पंत के उपर से ही लड़के के लंड को सहला रही थी. फिर दूसरे लड़के ने भी मा का हाथ पकड़ा, और अपने लंड पर रख दिया. अब मा दोनो लड़कों का लंड पंत के उपर से सहला रही थी, और उनमे से एक के साथ लीप किस कर रही थी. फिर मा उठ कर जाने लगी तो तीनो लड़के भी मा के पीछे ही जाने लगे.

फिर मा और वो तीनो लड़के मा के बेडरूम में चले गये, और मैं भी चुपके से मा के रूम में देखने लगा. दरवाज़े पर परदा था, तो मैं पर्दे में से सब देख रहा था. मैं तोड़ा लाते पहुँचा था, तो देखा की मा की कमीज़ उतार दी गयी थी, और मा उपर से पूरी तरह नंगी थी.

मा के बड़े-बड़े बूब्स दिख रहे थे. दो लड़के मा के बूब्स को चाट रहे थे, और मा खुश हो रही थी. ये देख कर मेरा लंड भी खड़ा हो गया.

फिर उन्होने मा को घुटनो के बाल किया, और मा उनमे से एक की पंत खोल रही थी.

वो बाकियों को बोल रही थी: तुम दोनो भी कपड़े उतरो.

फिर वो दोनो पूरी तरह से नंगे हो जाते है. मा लंड को चूस्टी जाती है, और फिर दूसरे, फिर तीसरे का, सब का लंड बारी-बारी से चूस्टी है. उन सब लड़कों का लंड 6-6 इंच का था, और एक का तो 7.5 का होगा.

वो मा के मूह में लंड डाल कर सर को पीछे से अपने लंड की तरफ दबा रहा था. मा पूरा लंड नही ले पा रही थी, करीब 1.5 इंच लंड बाहर था.

फिर वो लड़का बोलता है: पूरा लंड ले साली रांड़.

मा लंड को मूह से बाहर निकालने की कोशिश करती है, पर वो नही निकालता. लेकिन फिर मा उसको धक्का मार्टी है, और लंड मूह से बाहर निकाल लेती है. फिर मा खाँसने लगती है. मा का मूह और चमक रहा था, क्यूंकी पुर मूह पर थूक था. फिर वो लड़का मा के पास आता है, और मा को लाफा (स्लॅप) मारता है. पर मा मुस्कुराने लगती है.

मा नीचे बैठी थी, तो पीछे से एक लड़का मा की दोनो बाजू (आर्म्स) पकड़ लेता है. और 7.5 इंच लंड वाला लड़का मा के मूह में लंड डाल देता है, और सर को पीछे से पकड़ कर लंड को मूह में पूरा डालने की कोशिश करता है. फिर पूरा लंड किसी ना किसी तरह से मूह मैं डाल ही देता है. मा के मूह ह्म ह्म की आवाज़े आ रही थी.

फिर वो लड़का दूसरे को कहता है: इसका नाक बंद कर.

और वो मा का नाक बंद कर देता है. मा उससे छूटने की कोशिश करती है, पर कोई बस नही चलता. वो 1 मिनिट तक ऐसे ही रही, और जब उसने लंड निकाला तो मा ज़ोर-ज़ोर से साँस लेने लगी, और फिर तीनो लड़कों की तरफ उपर देख कर मुस्कुराने लगी.

फिर तीनो लड़कों ने मा को ज़ोर-ज़ोर से 2-2 लाफे लगाए, और मा बोलने लगी एक बार और एक बार और. फिर मा ने खुद ही अपनी बाजू पीछे करी, और लड़के ने फिरसे मा की दोनो बाजू पकड़ ली. उसके बाद वैसे ही 1 मिनिट तक 7.5 इंच का पूरा लंड मा के मूह में, और नाक बंद.

फिर बारी-बारी से मा ने सब का लंड 1-1 मिनिट के लिए मूह में लिया. उसके बाद एक लड़के ने मा को खड़ा किया, और नीचे हो कर मा की सलवार खोल दी. अब मा पूरी तरह नंगी थी, और उनकी गांद पीछे से दिख रही थी. मेरा भी मॅन कर रहा था की मैं भी मुठिया पेल डू, पर मैने ऐसा नही किया.

फिर उसने मा को घुमाया, और मा की छूट में उंगली करने लगा. मैने देखा मा की छूट बिल्कुल सॉफ थी. कोई बाल नही था कही भी, ना ही गांद पे कोई बाल था. फिर मा को एक कोने (कॉर्नर) पर घोड़ी बना दिया गया, और मा का मूह और छाती (ब्रेस्ट) चमक रही थी. क्यूंकी लंड चूसने की वजह से सारा थूक मा के मूह और छाती (ब्रेस्ट) पर आ चुका था. पर ऐसे मा और भी सेक्सी लग रही थी.

फिर तीनो लड़के मा को बेड पर घोड़ी बना कर मा की गांद पर लाफे (स्लॅप) मारने लगे. मा कह रही थी-

मा: और ज़ोर से, और ज़ोर से मारो. बस इतना ही दूं है.

फिर एक लड़का अपनी पंत से बेल्ट निकाल कर लता है, और मा की गांद पर ज़ोर से बेल्ट मारता है. मा एक-दूं से चिल्लाई आहह, और पीछे देखती है और कहती है-

मा: हा-हा, बेल्ट मार. मारो, और मेरी गांद लाल कर दो.

फिर तीनो बेल्ट मार-मार कर मा की गांद लाल सेब की तरह कर देते है. उसके बाद मा को सीधा करके लड़का मा की छूट चाटने लगा. मा फिर आ आहह की आवाज़े निकालती है. फिर एक लड़का मा के सर को पकड़ कर बेड की दूसरी तरफ से मा के मूह में लंड डाल देता है.

वो बोलता है: अब आवाज़ निकाल साली रंडी.

फिर 5 मिनिट छूट चाटने के बाद वो लड़का मा की छूट में अपना लंड डाल देता है.

लड़का: आज तो तेरी गांद भी मारेंगे.

फिर मा तीसरे लड़के का लंड हाथो में ले कर हिलने लगती है. ऐसे ही फिर 5-6 मिनिट के बाद बारी-बारी से सभी अपनी-अपनी पोज़िशन चेंज करते चले गये, और सब ने 30-40 मिनिट ऐसे ही छोड़ा मा को. फिर मा की टांगे बेड से नीचे करवाई, और दोनो हाथ बेड पर कर दिए.

तभी एक लड़का बोलता है: अब तेरी गांद फादनी है.

मा: पहले धीरे से डालना. बाद में चाहे ज़ोर से करना. लड़के ने हाथ पर थूक लगा कर मा की गांद को लगाया, और गांद में लंड डालने लगा.

मा: धीरे से, आहिस्ते से जाने दो.

लड़का: इसका मूह बंद कर साली का.

फिर दूसरा लड़का बेड के उपर आ कर मा के मूह में लंड डाल देता है. और फिर पहला लड़का मा को पीछे से ज़ोर से पकड़ लेता है, और लंड को ज़ोर से डाल देता है. मा की दोनो टांगे आयेज बढ़ने की कोशिश करती है, पर उसने मा को पकड़ा था, जिससे वो हिल नही पाती. फिर ऐसे ही मा को बारी-बारी से सब घोड़ी बना कर गांद मारते है.

आयेज की कहानी नेक्स्ट चॅप्टर में.


यह कहानी भी पड़े  कॉलेज की लड़की के ऑटो वाले से चूड़ने की हॉट कहानी


error: Content is protected !!