असंतुष्ट फ्रेंड को दिया चरम-सुख

प्यारे दोस्तों, कैसे हो आप सब? आशा है आप सब ठीक होंगे, और अपनी सेक्स लाइफ एंजाय करते होंगे. मैं माही आपकी खिदमत में हाज़िर आपके लिए मेरी लाइफ की एक सॅकी घटना लेके आया हू, जो आज से 1 साल पहले की है.

मैं माही 26 साल का आवरेज गाइ हू, वित गुड फिज़ीक. और सेक्स की बात हो तो तूफान मचाता हू. मेरी स्टोरी की हेरोयिन का नाम जनवी है, वित हॉट फिगर. योउ कॅन इमॅजिन आ कश्मीरी गर्ल वित कर्वी बॉडी, रेड आपल जैसे गाल, और जुवैसी लिप्स.

चलिए अब स्टोरी पे. ये स्टोरी मेरी क्लासमेट की है. हम बचपन से इकट्ठे पढ़ते थे, स्कूल लाइफ हो या कॉलेज लाइफ. हम इकट्ठे कॉलेज भी जाते थे, और स्कूल भी. बात कॉलेज की है, जब हम दोनो कॉलेज जाते थे. सब हमे घूरते थे “वाह यार माही की क्या किस्मत है. क्या पटाखा मिला है इसको. किस्मत वाला है ये”.

जनवी को क्लास में सब घूरते रहते थे, और चान्स ढूँढते थे उससे बात करने को. वो किसी को भाव नही देती थी. कॉलेज कंप्लीट करने के बाद हम दोनो का आपस में मिलना ऑलमोस्ट बंद हो गया था. हम कभी-कभी फोन पे बात कर लेते थे.

फिर एक दिन जनवी ने मुझे कॉल की, और बताया: घर वाले मेरी शादी कर रहे है.

मैने बोला: आप राज़ी हो?

तो उसने बोला: घर वालो की मर्ज़ी है. मैं क्या कर सकती हू?

और फोन काट दिया. उसका नंबर फिर स्विच ऑफ आ रहा था. करीब 4 मंत के बाद उसका काल आया मुझे अननोन नंबर से, वो भी आधी रात को. मैने फोन उठाया. मीठी वाय्स सुन के मैं मदहोश हुआ, और पूछा-

मे: कों?

मेसेज: जनवी हू यार.

बस ये सुन के ही मेरी खुशी का मानो ठिकाना ही नही था.

मे: क्या हाल है? शादी में मज़ा आ रहा है तुम्हे?

जनवी धीमी सी आवाज़ में बोली: यार हा सब ठीक है.

मायूस की आवाज़ लग रही थी जनवी की.

मे: जनवी क्या हाल है? सब ख़ैरियत तो है? आपका मूड क्यूँ खराब है?

जनवी: कुछ नही यार, मेरी लाइफ खराब हो गयी.

फिर मेरे ज़िद करने पे वो बोली: देखो यार, मैं आपसे सब शेर करती हू. बुत मेरी लाइफ तबाह और बर्बाद हो गयी शादी के बाद.

मे: क्यूँ यार, ऐसी क्या बात हो गयी?

जनवी: माही मेरे हज़्बेंड का किसी और लड़की के साथ अफेर है. वो मेरी तरफ देखता भी नही है. मुझे टाइम भी नही देता है. मेरी लाइफ बर्बाद हो गयी.

और ये बोल कर वो रोने लगी. मेरे लाख समझने के बाद वो चुप हुई और बोलने लगी-

जनवी: माही मुझे आप से मिलना है. प्लीज़ कल मिलने आ जाओ.

मैने भी जवाब हा में दिया, और दूसरे दिन मिलने तो तैयार हो गया. सुबा 10 बजे मैं अपनी गाड़ी लेके निकला, और उसको घर के बाहर से पिक किया. फिर मैने उससे पूछा-

मे: जनवी कहा चलना है?

जनवी: यार वाहा ले जाओ, जहा मैं आप से सारी बातें कर साकु, और कोई भी ना हो वाहा पे डिस्टर्ब करने वाला.

मैने भी गाड़ी स्टार्ट कर ली, और ड्राइव करने लगा. लोंग ड्राइव पे चलते-चलते हमने बहुत सारी बातें की. आख़िर मैने अपनी गाड़ी एक सुनसान जगह पार्क की, जहा किसी का आना जाना नही होता दिन भर.

जनवी: यार मेरे लाइफ बर्बाद हो गयी. मेरे हज़्बेंड का किसी और लड़की से अफेर है. नाइट वो उसके सात बीतता है. मुझे खुश भी नही करता. ना मेरे साथ सोता है.

और वो एमोशनल होके रोने लगी. मैने उसको बहुत समझाया. वो रोटी जेया रही थी. तभी मैं अपने हाथो से उसके आँसू पोंछने लगा. आँसू पोंछते-पोंछते फिर मैं उसके दोनो गालों पे अपने हाथ रख कर दिलासा देने लगा. बातें करते-करते मैं उसकी लिप्स पे अपने लिप्स रख कर किस करने लगा.

पहले उसने विरोध किया, बुत मैं उसके लिप्स को टाइट चूमने लगा. अब उसकी साँसे भी तेज़ होने लगी, और उसका विरोध कम हो गया. अब वो भी मेरा साथ देने लगी. मैने अब कार की सीट पीछे की, और उसको ज़ोर से हग करने लगा. वो भी अब साथ देने लगी, और उफ़फ्फ़ ह ओह या करने लगी.

मैं उसको फिरसे किस करने लगा और दूसरे हाथ से उसके मोटे-मोटे बूब्स को दबाने लगा. वो अब एंजाय करने लगी, और उफफफ्फ़ अहाआ आ करने लगी और चिल्लाने लगी-

जनवी: माही कम ओं चूसो, और दब्ाओ मेरे बूब्स. मेरी आज प्यास बुझा दो. प्लीज़ सक मी बूब्स.

फिर मैने उसका टॉप निकाला, और ब्रा भी निकाल दी. उसके बूब्स ने मेरा स्वागत किया. मैं उसके लेफ्ट बूब को मूह में भर के सक करने लगा, और उसके मूह से आ आ की आवाज़ निकली. वो चिल्लाने लगी-

जनवी: काटो मेरे बूब्स को, खा जाओ. आज मेरे प्यास मिटा दे. ऑश आहाा ऑश य्ाआआ कम-ओं आह ऑश याअ.

अब मैं एक बूब को चूसने लगा, और दूसरे हाथ से उसकी छूट को मसालने लगा. उसकी छूट ऑलरेडी गीली हो चुकी थी. वो कह रही थी-

जनवी: माही छोड़ो मुझे.

अब मैने उसकी पनटी भी उतार दी, और उसकी छूट को सक करने लगा. वाह क्या पिंक छूट थी. वो तड़पने लगी, जैसे बिना पानी की मछली. वो श आह याअ कर रही थी. मैं भी सक कर रहा था. वो मेरी कमर को नाख़ून चूबो रही थी, और बोल रही थी-

जनवी: माही, प्लीज़ अब तड़पाव मत प्लीज़ मुझे.

मैं कंटिन्यू सक कर रहा था. उतने में हम 69 पोज़िशन में आए. वो मेरा लंड चूसने लगी, और मैं उसकी छूट को चाट रहा था. वो 2 बार झाड़ चुकी थी, और सेक्सी आवाज़े निकल रही थी-

जनवी: आह ओह मज़ा आ रहा है. आज आपने मुझे जन्नत दिखा दी. अया ओह याअ मेरी जान आज के बाद मैं आपकी रंडी बन के रहूंगी.

इतने में उसको घर वालो की कॉल आई, तो हमने जल्दी कपड़े वापस लगाए. नेक्स्ट स्टोरी में मैं आपको बतौँगा, की कैसे हमने फिर चुदाई की. उससे पहले आपके कॉँमेटस का इंतेज़ार रहेगा. अगर कोई गर्ल या भाभी कश्मीर से छुड़वाना चाहती है, वो मैल कर सकती है. 100%सीक्रेट रहेगा हम दोनो के बीच. मैल मे अट होत्कश्मीरी@याहू.कॉम

कोई लड़की सेक्स छत भी करना चाहती हो, तो उसका भी मोस्ट वेलकम.

यह कहानी भी पड़े  चूत चुदवा कर प्रमोशन लेने की कहानी


error: Content is protected !!