अंजाने मे मोम की चुदाई

हेलो, ई आम सन्नी फ्रॉम वडोडरा, गुजरात. मी आगे 23. मूज़े पॉर्न देखने का खूब शौख है रोज पॉर्न देख कर मूठ मरता हू. सेक्स स्टोरी पढ़ का भी मज़ा आता है ज़्यादा तार मै रिस्तो वाली स्टोरी और सामूहिक चुदाई ही ज़्यादा पढ़ता हु.

ये चुदाई स्टोरी मेरी मों की है. मेरी मॉं टीचर है. उनका नाम नीता है और वो 45 साल की है. वो दिखने मई इतनी खूबसूरत नई है फिर भी औरत है यही काफ़ी है लोगो को सिर्फ़ औरत मई चुत और गॅंड चाहिए ये सब एक औरत के पास होता है. उनका फिगर 34 30 36 है अंदाज़ा लगा सकते है आप की फिगर केसा होगा.

वो हमेशा सारी पहनती है क्यूकी हम गुजराती है. मेरे डॅड का ट्रांसफर हो गया है देल्ही इसी लिए अब वो वाहा रहते है और घर मै अब हम तीन लोग ही रह गये है मई मेरी मॉं और मेरी सिस्टर. तो अब मई स्टोरी पे आता हू.

ये तब की बात है जब मेरे भाई के घर उसके जेठ क लड़के की शादी थी तब हमे भरूच जाना था. जेसे की मेने कहा की मेरे डॅड का ट्रांफर देल्ही होने की वजह से वो आ नही सकते शादी मै और मेरी बाहें की एग्ज़ॅम चल रही थी तो वो ब नही आ सकती थी तो मॉं और मेने डिसाइड किया की मेरी बहेन मेरी मासी के घर रहेगी और मै और मोम शादी मै जाएगे.

हम शादी के अगले दिन चले गये एक नाइट वाहा रुकने का प्रोग्राम बना लिए क्यू की शादी मै अगले दिन रात को ड्ज वगेरा होता है. हम वडोडरा से भरूच ट्रेन मै गये मोम क साथ उस दिन भी मोम ने सारी ही पहेनी थी येल्लो कलर की नाभि के काफ़ी नीचे पहनी थी पूरी नाभि बहुत सेक्सी लग रही थी मोम का पेट और कमर पूरी दिख रही थी.

यह कहानी भी पड़े  माँ की गांड का दीवाना

मोम सारी मई काफ़ी सेक्सी लग रही थी. हम साम को 6 बजे पहुचे भरूच. भरूच स्टेशन से ऑटो ले के हम बुआ क घर पहुचे वाहा पे काफ़ी सारे रिलेटिव्स मिले सब लोग एंजाय कर रहे थे मोम भी सब क साथ बात करने मै लग गई क्यू की अक्सर शादी मै ही रिलेटिव्स ज़्यादा तार मिलते है और मै भी मेरे बुआ के लड़के क साथ काम मै हाथ बताने चला गया.

फिर रात को डिन्नर हम सब ने साथ मै किया और डिन्नर के बाद डी जे पार्टी थी. फिर मेरे बुआ क जेठ का बड़ा लड़का है किरण उसके साथ हम सब चले मेने मोम को बोला की मै जाता हू आप बेतिए वो हमे बियर पीने ले गया वाहा बियर पी के हम 1 घंटे बाद वापस आए तो डी जे पार्टी चालू हो गई थी सब नाच रहे थे मै नाच ने लगा.

थोड़ी देर बाद मै मोम को ढूँढ ने लगा दिख ही नई रही थी उसके बाद मेने बुआ से पूछा तो बुआ ने बोला की वो किसी रिलेटिव क साथ घर जाते हुए उन्होने देखा है तो मेने बोला ठीक है फिर मै ब अपनी मस्ती मई नाचने लगा फिर मूज़े भी मूतना था तो मै भी घर की तरफ चला गया डी जे पार्टी जहा थी वाहा से घर 5 घर 6 छोड़ के था.

मे गया सीधा उपर क फ्लोर पे वाहा कुछ लोग थे जो दारू पी रहे थे मे जाके मूत क वापस आया फिर मोम को ढूँढा नही थी वाहा पर उसके बाद मे टेरेसए पे जा के देखने का सोचा जब मे टेरेसए पे गया तो उपर डोर लॉक था वाहा से जब मे नीचे अरहा था तब मुझे किरण का फ्रेंड जतिन मिल गया उसने बोला की भाई चल उपर मेने बोला की बँध है भाई.

यह कहानी भी पड़े  पति के दोस्त ने रंडी बनाया

तो वो बोला चल मे खुलवता हू वाहा पे हम सब पीने बेत है तो मे उसके साथ चला गया मेने देखा तो उपर बिल्कुल अंधेरा था वाहा पर किरण के फ्रेंड्स जो की मुझे भी जानते थे निकुल,सुनील,वैभव थे वाहा जाते ही उन्हो ने मुझे एक बियर की बोतल डेडी मे भी उनके साथ बैठ गे वाहा पे मोबाइल की टॉर्च चालू की हुई थी इसी लिए थोड़ा दिख रहा था.

तब जातीं बोला की अंकित कहा गया तो वो सब बोले एक रंडी लाए है वो टंकी के पीछे उसे चोद रहा है टंकी 2000 लिटेर की थी बड़ी थी इसी लिए कुछ दिख नही रहा थे और अंधेरा भी था डी जे चल रहा था इसी लिए आवाज़ भी नही सुनाई दे रही थी की क्या हो रहा है.

5 मीं क बाद अंकित आया बोला यार साली पक्की रंडी है मज़ा आ गया और उसकी वाइफ का फ़ोन आया वो चला गया सुनील बोला की मेरी भी बीवी का फ़ोन आ जाएगा पहले मै जाता हू तो सब ने बोला ठीक है.

15 मीं बाद वो भी चोद के आ गया और नीचे चला गया अब हम निकुल, वैभव, जातीं और मै चार लोग थे अब मै उत्साहित था की रंडी चोद्ने को मिलने वाली थी जतिन को किरण का फ़ोन आया तो वो भी बोला की भाई मै पहले जा के आता हू तो वो भी चला गया 10 मीं बाद चोद के आ गया और नीचे चला गया.

Pages: 1 2 3

error: Content is protected !!