अंजन आंटी को प्यार से चोदा

नमस्कार दोस्तो मई कोकीन आपके सामने फिर से हाज़िर हू अपनी नयी स्टोरी लेके. मेरा नामे कोकीन, आगे 27, साइज़ 6.5 इंच. ये स्टोरी मेरे और एक आंटी के बीच की हुई सेक्स स्टोरी है.

आंटी का नामे था ममता, उसकी हाइट है 5.3 इंच और साइज़ मे नॉर्मल थी. बिल्कुल हाइट के हिसाब से उसकी चुचिया गोल और गांद एक दूं मस्त है. आंटी से मेरी मुलाक़ात एक बार मार्केट मे हुई. हुआ ये की मुझे खाने का शोक है. तो मैने फास्ट फुड से मोमॉस लिए और पैसे देना भूल गया. मई 5 मिंट बाद वापस जब फुड वेल को पैसे देने गया तब वो आंटी वही थी. तो मैने पैसे दिए तो वो फास्ट फुड वेल ने बोला..

भैया थॅंक्स मई ब भूल गया था पैसे लेना.

तो मैने कहा की कोई नही हो जाता है. तब उसकी नज़र मुझ पर पड़ी और उसने स्माइल दी फिर मई लाइन मारते हुए चला गया.

फिर नेक्स्ट दे फिर मिल गया तो उस फुड वेल से बात हुई तो इस तरह वो क्लोज़ हो गया. तो मई कभी कभी उसकी दुकान पर उसकी हेल्प कर देता तो अक्सर मिलती मुझे तो थोड़ी मोटी बात होती थी. बस धीरे धीरे धीरे उससे बात हुई.

एक दिन उसने ऑनलाइन पेमेंट करी तब मेरे पास उसका नंबर आ गया. तो उस दिन मैने म्स्ग कर दिया तब रिप्लाइ आया-

मई – हिी.

ममता – हिी कों?

मई – कोकीन जो फुड शॉप पर था.

ममता – श अक्चा बोलो?

मई – कुछ न्ही यूही म्स्ग कर दिया.

ममता – ओक और ब्ताओ?

मई – बस सब ठीक है आप बताओ?

ममता – मई भी ठीक हू.

मई – कैसे लगे मोमॉस मेरे हाथ के बनाए हुए थे?

ममता – अकचे बनाते हो वैसे आप.

मई – प्यार से बनाते हू इसलिए अकचे लगे आपको.

ममता – श ऐसा है क्या और क्या क्या बनाते हो प्यार से?

मई – सब कुछ ब्स गर्लफ्रेंड न्ही बनता.

ममता – ऑश ऐसा तो न्ही है बनाई तो होगी हर कोई बन जाती होगी.

मई – न्ही कोई ब नि बनती मेरी गर्लफ्रेंड.

ममता – क्यू?

मई – बस न्ही बन पति.

ममता – कोई नही ट्राइ तो करो क्या टा कोई बन जाए.

मई – कोसिस कर रहा हू पर वो शादीशुदा है.

ममता – कों है वो?

मई – आप.

ममता – मुझे क्यू बनाना है?

मई – मुझे आक्ची लगी आप.

ममता – श थॅंक्स बुत मई शादीशुदा हू..

मई – तो क्या हुआ?

ममता – न्ही कुछ नही बस यूही मई मॅरीड हू ना इसलिए.

मई – तो क्या हुआ इसमे दिल तो सबके पास है और ये सब नेचर पर डिपेंड है.

ममता – नेचर तो आपका ब अक्चा है वैसे.

अब मई साँझ गया की लाइन क्लियर है.

मैने फिर यूही उससे बाते करता रहा और एक दिन मैने बोल ही दिया की मई आपको लीके करता हू, आप क्या सोचती हो मेरे बारे मे?

ममता – अकचे तो मुझे ब लगे लेकिन…

मई – सुनो अगर आपकी तरफ से हन है तो बताओ आयेज मई बताता हू क्या करना है.

ममता – ओक बुत कुछ प्राब्लम हुई तो??

मई – न्ही होगी आप साथ देना मेरा आंड ई लोवे योउ.

ममता – ओहक ई लोवे योउ.

बस फिर मेरी महीनो बात हुई उससे धीरे धीरे हम डटे करते रहे एक दूसरे को.

एक दिन अचानक ह्म दोनो दोनो वेगास माल जो द्वारका मे है वहाँ मिले. तब मैने उसको रेस्टोरेंट मे किस कर दिया जो की एक कपल रेस्टोरेंट था. तो वो तोड़ा शर्मा गयी और ह्म जाने क लिए ह्म कार मे बैठे तो वो नर्वस थी थोड़ी.

मैने उसे समझाया फिर वो तोड़ा सही हुई और इसी बीच मैने उसकी थाई पर हाथ रख कर सहलाया. वो तोड़ा गरम हो गयी और हमने 5 मिंट तक स्मूच किया. उसके लिप्स बिल्कुल रसीले थे और उसको गरम कर दिया. और हाथ उसके टाइट पाजामी वेल सूट पर से ही उसकी छूट पर हाथ ल्गा दिया.

वो बहुत गरम हो गयी, उसने मुझे हग कर लिया और तभी मैने उसकी नच पर किस शुरू की. वो और क्लोज़ हो गयी और फिर काफ़ी देर मई उसके लिप्स को चूस्ता रहा और उसकी छूट को सहलाता रहा. शायद उसकी छूट ने पानी छ्चोड़ दिया.. और फिर ह्म नॉर्मल हुए और घर आ गये.

घर जाने क बाद उसको मैने म्स्ग किया लेकिन उसने कोई रिप्लाइ न्ही किया.

तो 3 दिन बाद रिप्लाइ आया की सॉरी वो सब जो हुआ उसे भूल जाओ. मई तुरंत मान गया और कहा की कोई बात न्ही अब ह्म न्ही करेंगे कुछ ऐसा वैसा.

कुछ दिन मैने उसे सेक्स क बारे मे या रोमॅन्स कुछ नि किया.

फिर उनके घर मे किसी लड़की की शादी थी तो उसने मुझे इन्वाइट किया और उस शादी मे मई उसे देख कर बावला हो गया. ब्लॅक कलर क ब्लाउस मे और बिल्कुल गोरी कमर और गहरी नाभि. मई तो बस फ्लॅट हो गया!

उसने मुझे कहा की ब्राइडल मेकप क लिए ले जाना है दुल्हन को भी और मुझे भी, आप चलोगे मेरे साथ?

मई तुरंत हाँ बोल दिया और मैने कार निकली और चल दिया. उसको ब्यूटी पार्लर ले गया और वहाँ (उसकी चाची सास की लड़की की शादी थी.) पर ह्म अंदर गये तो उसने पूछा की ये कों है भाभी?

तब भाभी ने बताया की ये मेरा फ्रेंड है और ह्म अंदर गये. तो उसकी ननद तो रेडी होने क लिए अंदर गयी क्यूकी उसका मेकप होना था और उस वेटिंग रूम मे मई और ममता ही बचे थे.

फिर मई मानता क करीब गया और हाथ पकड़ कर उसको ई लोवे योउ कहा और उसे किस करने ल्गा. वो भी रेडी ही थी और ह्म दोनो स्मूच करने ल्गे.

मैने उसके ब्लाउस मे हाथ दल कर उसकी चुचिया सहलाने ल्गा और उसको गरम करने ल्गा. फिर मैने उसकी नेक पर किस किया जिससे वो मदहोश होने लगी.

उसके बाद मैने उसके बूब्स को बाहर निकल कर उसके बूब्स को मूह मे भर लिया. उसके बूब्स बिल्कुल गोल और हल्के काले निपल थे. उनको मूह मे लेते ही उसकी आँखे बंद हो गयी और मई उसके बूब्स चूस्ता रहा.

वो बिल्कुल ढीली हो गयी. वहीं पर एक टेबल लगी हुई थी, मैने ममता को टेबल पर बैठाया और उसकी सारी मे डाल डाल कर उसको चूसने ल्गा और नीचे से उसकी छूट मे उंगली डाल दी.

तो बे कंटिन्यूड…

आयेज की स्टोरी नेक्स्ट पार्ट मे बतौँगा की क्या क्या किया मैने उस पार्लर मे तब तक क लिए तोड़ा वेट करो.

जिसको मेरी स्टोरी पसंद आई हो तो लीके ज़रूर करे और कॉमेंट भी. जो भाभी, आंटी, मुझसे जुड़ना और चूड़ना चाहती है सीक्रेट्ली उसका मोस्ट वेलकम. प्राइवसी की गॅरेंटी रहेगी.

और हा देल्ही मे रहने वाली मेरी कोई भाभी जो सीक्रेट्ली मेरे साथ सेक्स करना चाहती है. या फोन पर वीडियो कॉल चाहती है, तो मुझे मैल करे. मेरी मैल ईद है:

धन्यवाद.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त की बीवी को नंगी देखा

error: Content is protected !!